Showing posts with label Sonipat. Show all posts
Showing posts with label Sonipat. Show all posts

Tuesday, 28 April 2020

शेल्टर होम में रहने वाले श्रमिकों के लिए स्किल डेवल्पमेंट वर्कशॉप का आयोजन

शेल्टर होम में रहने वाले श्रमिकों के लिए स्किल डेवल्पमेंट वर्कशॉप का आयोजन

गन्नौर (सोनीपत),  28 अप्रैल।  एसडीएम स्वप्निल रविंद्र पाटिल के निर्देशानुसार सीसीएएस जैन गल्र्स कालेज में स्थापित शेल्टर होम में रहने वाले श्रमिकों के लिए मंगलवार को स्किल डेवल्पमेंट वर्कशॉप का सफल आयोजन किया गया। वर्कशॉप के आयोजक तहसीलदार रविंद्र हुड्डा ने कहा कि वर्कशॉप के माध्यम से श्रमिकों को स्व-रोजगार स्थापना की महत्वपूर्ण जानकारी दी गई।

तहसीलदार रविंद्र हुड्डा ने बताया कि शेल्टर होम में बहुत से श्रमिक ऐसे हैं जो फैक्ट्रियों में काम करते हैं। ऐसे श्रमिकों की कार्यक्षमता को विकसित करने व दक्षता बढ़ाने में यह कार्यशाला  कारगर साबित होगी। श्रमिकों ने कार्यशाला का पूरा लाभ उठाया है। श्रमिकों ने रूचिपूर्वक अपने व्यवसाय से संबंधित सवाल भी किये।  साथ ही उन्होंने खुद का रोजगार स्थापित करने के संदर्भ में भी विस्तार से जानकारी ली।

इस दौरान आईटीआई के ग्रुप अनुदेशक रामबीर सरोहा व मैकेनिकल विभाग के इंस्ट्रकटर सुमित पुनिया ने श्रमिकों को लाभकारी जानकारी दी। उन्होंने अपने विभागों से संबंधित जानकारी भी दी। साथ ही उन्होंने श्रमिकों को तकनीकी शिक्षा की जानकारी दी। श्रमिकों को प्रोत्साहित किया कि वे अपने बच्चों को तकनीकी शिक्षा दिलायें।

अनुदेशकों ने श्रमिकों को राष्ट्रसेवा का भी संदेश दिया। साथ ही उन्होंने कोविड-19 कोरोना वायरस के विषय में भी विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस वैश्विक महामारी से बचने के लिए लोगों को घरों में रहना चाहिए। इसलिए शेल्टर होम स्थापित किये गये ताकि प्रवासियों के ठहरने की उचित व्यवस्था की जा सके। साथ ही उन्होंने श्रमिकों को सफाई के महत्व से भी अवगत कराया। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए सफाई बेहद आवश्यक है। लोगों को दिन में बार-बार साबुन से हाथ धोने चाहिए। मास्क व सैनेटाईजर का विशेष रूप से प्रयोग करना चाहिए।
आम जनमानस लॉकडाउन की करें ईमानदारी से पूर्ण अनुपालना: सांसद रमेश कौशिक

आम जनमानस लॉकडाउन की करें ईमानदारी से पूर्ण अनुपालना: सांसद रमेश कौशिक

सोनीपत, 28 अप्रैल। सांसद रमेश कौशिक ने कहा कि विदेशों में पढ़ाई के लिए गए भारतीय विद्यार्थियों व कर्मचारियों को घर वापस लेकर आयेंगे। उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि वे अपने बच्चों तथा परिजनों की जानकारी जिला प्रशासन को मुहैया करायें। ऐसे लोगों की सूची तैयार की जाएगी। 

सांसद रमेश कौशिक मंगलवार को उपायुक्त कार्यालय में कोविड-19 कोरोना वायरस की रोकथाम व लॉकडाउन आदि विषयों को लेकर सोनीपत की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने इसके लिए प्रयास प्रारंभ कर दिए हैं। जो भारतीय विद्यार्थी तथा विदेशों में कार्यरत हिंदुस्तानी भारत आना चाहते हैं किंतु अंतर्राष्ट्रीय फ्लाईट्स रद्द करने की वजह से वे आ नहीं सकते। ऐसे विद्यार्थियों व लोगों की सूची तैयार कराई जा रही है। ताकि उन्हें स्वदेश लाया जा सके। आने के इच्छुक विद्यार्थियों व कर्मियों के परिजन जिला प्रशासन को इसकी जानकारी दें। 

सांसद कौशिक ने इस दौरान आम जनमानस का आह्वान किया कि वे लॉकडाउन की ईमानदारी से पूर्ण अनुपालना करें। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से बचाव के लिए लोगों को घरों में ही रहना चाहिए। ऐसा करके सरकार व जिला प्रशासन की मदद करें। जनता को इस समय पूर्ण सहयोग देना चाहिए। सरकार व जिला प्रशासन के निर्देशों की अनुपालना करनी चाहिए। उन्होंने आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति को लेकर भी जानकारी ली। साथ फल-सब्जियों की आम जनमानस को की जा रही आपूर्ति पर भी विस्तार से चर्चा की। 

इस मौके पर उपायुक्त डा. अंशज सिंह ने कहा कि आवश्यक वस्तुओं, दूध, फल-सब्जियों की आपूर्ति सुचारू रूप से की जा रही है। साथ ही जरूरतमंदों को राशन का वितरण भी नियमित रूप से किया जा रहा है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक जशनदीप सिंह रंधावा ने कानून एवं व्यवस्था की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की अनुपालना कराई जा रही है। लॉकडाउन का अनावश्यक रूप से उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। इस अवसर पर नगराधीश सुरेंंद्र सिंह दून भी मौजूद थे। 

Wednesday, 7 August 2019

मानसून में रखें साफ-सफाई का ध्यान : डॉ. राम चंद्र सोनी

मानसून में रखें साफ-सफाई का ध्यान : डॉ. राम चंद्र सोनी

फरीदाबाद : 8 अगस्त I  बारिश का झमाझम मौसम और पकौड़ों का स्वाद मन को खुशी तो देता है, लेकिन खान-पान के प्रति बरती जाने वाली लापरवाही कई बार गंभीर रूप धारण कर लेती है। बरसात का मौसम एक ओर तो गर्मी से निजात दिलाता है, लेकिन दूसरी ओर बीमारियों को पनपने का मौका भी देता है। बरसात के दिनों में वायरल इंफेक्शन आम बात है। इस मौसम में पेट से संबंधित बीमारियों के फैलने का भय बना रहता है। डॉ. राम सोनी ने बताया कि उनके पास पीलिया के मरीज भी बाद गए है रोज़ाना 3 -4 मरीज पीलिया के आ रहे हैं

एशियन अस्पताल के एचओडी गैस्ट्रोइंटेरोलॉजी डॉ. राम चंद्र सोनी का कहना है कि मानसून में पेट दर्द की समस्या आम बात है। उल्टी-दस्त, पेट दर्द आदि की समस्या को लेकर अस्पताल में आने वाले मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। इस मौसम में पेट से संबंधित बीमारियां ज्यादा होती है। इन बीमारियों के लक्षण भी कई प्रकार के होते हैं पेट में दर्द होना, उल्टी होना, बदन दर्द और कमर दर्द। डॉक्टर का कहना है कि इस मौसम में बैक्टीरिया ज्यादा प्रभावित होता है और संक्रमण फैलाता है। बाहर का खाना, तला हुुआ, बासी भोजन का सेवन करना, खुले में रखे भोजन का सेवन करने से  भी बीमारियों को फैलने का मौका मिलता है। इस प्रकार का खाना खाने के २४ घंटे के भीतर बीमारियों के लक्षण उभरने लगते हैं।

डॉ. सोनी का कहना है कि अगर हम स्वयं साफ-सफाई की ओर ज्यादा ध्यान दें तो बीमारियों से बचाव किया जा सकता है। फिल्टर्ड और उबला हुआ पानी पीना चाहिए। बासी या खुले में रखा खाना नहीं खाना चाहिए। फल व सब्जियों को धोकर खाना चाहिए। जंक फूड के सेवन से बचना चाहिए। तले व मसालेदार खाने के सेवन से बचना चाहिए। बार-बार हाथ धोने चाहिएं। संतुलित भोजन का सेवन करना चाहिए। 

डॉ. सोनी के अनुसार मानसून हेपेटाइटिस ए और ई के वायरस को प्रभावित करता है। इस बीमारी का प्रमुख कारण दूषित पानी है। खान-पान की लापरवाही लिवर को सबसे ज्यादा प्रभावित करती है।  इसके लक्षणों के पाए जाने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करके जांच करानी चाहिए। ताकि समय रहते बीमारी का पता लगाकर उचित इलाज किया जा सके। इसके अलावा इस रोग से बचने के लिए साफ-सफाई की ओर विशेष ध्यान देना चाहिए।

Sunday, 28 July 2019

सांसद अनिल बलूनी के प्रयासों से फरीदाबाद में बनेगा उत्तराखंड भवन - मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल खट्टर ने दी सहर्ष स्वीकृति

सांसद अनिल बलूनी के प्रयासों से फरीदाबाद में बनेगा उत्तराखंड भवन - मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल खट्टर ने दी सहर्ष स्वीकृति

नई दिल्ली 28 जुलाई I  उत्तराखंड से राज्यसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी और हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी की आज हरियाणा में निवास कर रहे प्रवासियों के विषयों पर दिल्ली में मुलाकात हुयी। श्री बलूनी ने मुख्यमंत्री खट्टर से अनुरोध किया कि फरीदाबाद और उसके निकट क्षेत्रों और हरियाणा के अन्य शहरों में भारी संख्या में उत्तराखंड के प्रवासी निवास करते हैं।

 सांसद बलूनी ने अनुरोध किया कि यहां के प्रवासी लंबे समय से अपने सामाजिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए "उत्तराखंड भवन" के निर्माण हेतु  प्रयासरत हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री जी से उक्त भवन हेतु भूखंड देने का अनुरोध किया, जिस पर तत्काल  मुख्यमंत्री श्री खट्टर ने सहमति प्रदान की।

        सांसद बलूनी ने फरीदाबाद से कोटद्वार और रामनगर तक बसों के संचालन हेतु मुख्यमंत्री खट्टर को धन्यवाद दिया। श्री खट्टर ने कहा की हरियाणा में रहने वाले प्रवासियों को  अगर अन्य नगरों तक भी बसों की आवश्यकता होगी तो विचार किया जाएगा।

             सांसद बलूनी ने कहा  कि कुछ दिन पूर्व  फरीदाबाद, पलवल बदरपुर बॉर्डर और बल्लभगढ़ के प्रवासियों ने फरीदाबाद से उत्तराखंड के लिए सीधे बस बस संचालन और  उत्तराखंड भवन हेतु भूमि दिलाने का आग्रह किया था, जिसके बाद कोटद्वार तक सीधी बस सेवा का संचालन प्रारंभ हो भी चुका है, जिसे कुछ दिन पूर्व सांसद बलूनी ने हरी झंडी दिखाई थी। 

           प्रवासी समाज की संस्थाओं ने सांसद बलूनी का आभार प्रकट किया है और सांसद बलूनी द्वारा प्रारंभ किए गए 'अपना वोट-अपने गांव' अभियान की भूरी -भूरी प्रशंसा की और कहा अपने गांव से जुड़ने के अभियान को प्रवासी समाज के बीच विस्तार दिया जाएगा। 

Sunday, 25 November 2018

रमणीक प्रभाकर को इन्डो नैपाल एकता अवार्ड 2018 से सम्मानित किया

रमणीक प्रभाकर को इन्डो नैपाल एकता अवार्ड 2018 से सम्मानित किया

फरीदाबाद 25 नवंबर ।  इंडो नैपाल समरसता मंच द्वारा रमणीक प्रभाकर को इन्डो नैपाल एकता(2018) अवार्ड, सोने का तगमा,शॉल व पग़ड़ी बाँध कर  से सम्मानित किया गया कार्यक्रम का आयोजन  ISIL ऑडिटोरियम, भगवान दास रोड़, नई दिल्ली में किया गया । 

इस कार्यक्रम में लगभग 500 लोगो ने हिस्सा लिया जिसमे 50 प्रतिभागियों को इन्डो नैपाल एकता अवार्ड 2018 से सम्मानित किया गया जो भारत के अलग अलग राज्यो से आए थे । इसमे अलग अलग देशो नेपाल, भूटान, श्रीलंका, व इत्यादि  से भी लोग आए हुए थे । 

 अंतराष्ट्रीय समरसता मंच एक गैर राजनेतिक, साहित्यिक, सांस्कृतिक व सामाजिक संस्था है जो सर्व धर्म समभाव की विचारधारा के अनुसार विश्व बंधुत्व की भावना से मानव सेवा हितार्थ सांस्कृतिक समन्वय एवं शोध कार्यो द्वारा मानवीय एकता व समरसता के लिए विभिन्न क्षेत्रो में कार्यरत व्यक्तियो का एक ऐसा समूह है जो स्व प्रेरणा एवं स्वम अनुशासन के माध्यम से जनहित के कार्यो के लिए सदस्य के रूप में कार्य करते है । मंच का कार्य अंतराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय सामाजिक व्यवस्था के अनुसार भारत नैपाल की वैदिक कालीन सांस्कृतिक का पूर्ण उत्थान हो, भारत पुनः वैदिक कालीन जगत गुरु के आसन पर पदस्थापित हो एवं संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद में वीटो पावर के साथ स्थाई सदस्यता दिलाने के उद्देश्य से राष्ट्र सदस्यो का मित्रवत सहयोग की आशा से चलाया जा रहा प्रेरित अभियान है । 

 मंच पर मुख्य रूप से उपस्थित प्रधान महावीर टोरडी, सांसद अमर सिंह, एडवोकेट ए. पी. सिंह, श्री लोकेन्द्र बहादुर चन्द, पूर्व प्रधानमंत्री नेपाल, मुख्य अतिथि टोप बहादुर रायमाझी, पूर्व उप प्रधानमंत्री नेपाल, सचिव कुलदीप शर्मा, एडवोकेट सर्वोच्य न्यायालय नेपाल द्वारा रमणीक प्रभाकर को इन्डो नैपाल एकता अवार्ड(2018) से सम्मानित किया गया ।

इसके अलावा कई राज्यो के गणमान्य लोगों ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया और कार्यक्रम को सफल बनाया ।