Showing posts with label Mcf. Show all posts
Showing posts with label Mcf. Show all posts

Sunday, 9 December 2018

नगर निगम ने सेक्टर-48 केे जेडपार्क सोसायटी मैं वसूली कैप में लगभग छह लाख रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ

नगर निगम ने सेक्टर-48 केे जेडपार्क सोसायटी मैं वसूली कैप में लगभग छह लाख रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ

फरीदाबाद  10  दिसंबर ।। फरीदाबाद नगर निगम द्वारा आज यहां सेक्टर-48 केे जेडपार्क सोसायटी एवं लेख व्यू अपार्टमेन्ट में लगाए गए संपत्ति कर वसूली कै प में लगभग छह लाख रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ। इस कै प की विशेषता यह रही कि नगर निगम के संपत्ति कर नेटवर्क में 500 नई इकाईयों का इजाफा हो गया। निगम के एनआईटी जोन-द्वितीय की क्षेत्रीय एवं कर अधिकारी सुमन मल्होत्रा के नेतृत्व में लगाए गए इस कै प में अन्य के अलावा निरीक्षक संजीव, अजयबीर व  अनूप सिंह, टेकचंद,  परविन्द्र , करन, दिलीप, पवन, सुरेन्द्र ने भी भाग लिया। कै प के आयोजन को सफल बनाने में आरडब्ल्यूए और आम नागरिकों का भरपूर सहयोग रहा। इसके अतिरिक्त नगर निगम द्वारा 16 दिस बर को चार्मवुड इरोज विला में, 23 दिस बर को सैनिक कालोनी और 30 दिस बर को सेक्टर-45 में संपत्ति कर की वसूली के लिए कै पों का आयोजन किया जाएगा।

नगर निगम के क्षेत्रीय एवं कर अधिकारी (मु0) रतन लाल रोहिल्ला ने आज यहां जारी एक प्रैस विज्ञप्ति में यह जानकारी देते हुए बताया कि इस तरह के संपत्ति कर व टे्रड लाईसेंस की वसूली के लिए निगम के द्वारा आगामी 31 मार्च तक निरन्तर कै प लगाए जाएंगे। इसी कड़ी में कल 10 दिस बर को नगर निगम सभागार एनआईटी फरीदाबाद, ओल्ड फरीदाबाद के क्षेत्रीय कार्यालय व बल्लबगढ़  के सेक्टर-59 प्लाट नंबर-110 एचएसआईडीटी (पोलीमेन्ट कंपनी) के पीछे ट्रेड लाईसेंस की वसूली के लिए प्रात: 10 बजे से सायं 4.00 बजे तक कै प लगाए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2010-2011 से लेकर 2017-2018 तक की अवधि का बकाया संपत्ति कर जमा कराने वाले करदाताओं को संपत्ति कर के ब्याज में 30 प्रतिशत की छूट 31 दिस बर तक दी जाएगी। उन्होंने बताया कि संपत्ति कर व ट्रेड लाईसेंस के बड़े बकायेदारों ने यदि बिना किसी देरी के अपने बकायों का भुगतान नहीं किया तो निगम के द्वारा कड़ी कार्यवाही करते हुए ऐसे बकायादारों की इकाईयों को सील करने का अभियान शुरू किया जाएगा।

Tuesday, 23 October 2018

 नगर निगम ने तीन बकायेदारों की संपत्ति को सील किया

नगर निगम ने तीन बकायेदारों की संपत्ति को सील किया

फरीदाबाद, 23 अक्टूबर। निग्मायुक्त मोहम्मद शाइन के निर्देष पर संपत्ति कर की बकाया लगभग 9 लाख रूपये की राषि की वसूली के लिए फरीदाबाद नगर निगम की क्षेत्रिय एवं कर अधिकारी सुमन मल्होत्रा के नेतृत्व में नगर निगम एनआईटी जोन-।। की टीम ने आज बड़खल एक्सटेंषन और संजय गांधी मैमोरियल नगर में तीन बकायेदारों की संपत्ति को सील कर दिया। 

मल्होत्रा ने आज यहां बताया कि दुकान नंबर- 810, बडखल एक्सटेंषन पर 280396, दुकान नंबर-964 बड़खल एक्सटेंषन पर 541611 तथा दुकान नंबर-70-बी, एसजीएम नगर पर 64736 की संपत्ति कर राषि पिछले कई वर्षों से बकाया है, जिन्हें बार-बार नोटिस देने के बाद भी इनके द्वारा संपत्ति कर की राषि जमा नहीं करवाई जा रही थी। जिसके चलते चलते यह सीलिंग की कार्यवाही की गई है। उन्होंने बताया कि कर वसूली में लापरवाही किसी भी तरह से बर्दाष्त नहीं की जाएगी। 

Sunday, 21 October 2018

रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल मैं लगा कांग्रेस राजनीति नेताओ का सियासी तड़का

रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल मैं लगा कांग्रेस राजनीति नेताओ का सियासी तड़का

फरीदाबाद 21 अक्टूबर I हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड वर्कर यूनियन ( हरियाणा कर्मचारी महासंघ ) के मीडिया प्रभारी लेखराज चौधरी ने बताया कि हरियाणा प्रदेश के बिजली विभाग में प्रादेशिक बिजली कर्मचारियों की एक अरसे से निगम में पेन्डिंग पड़ी माँगों को लेकर हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड वर्कर यूनियन काफी संघर्षरत है व कर्मचारियों की इन मुख्य माँगों के प्रति संगठन द्वारा घोषित प्रदर्शनों श्रृंखला में के दौर के प्रदर्शन किये गये जिनमे सबडिवीजन स्तर से लेकर जिला उपायुक्त के माध्यम से सरकार को अवगत भी कराया गया किन्तु सरकार के कानों पर कर्मचारियों की मांगों को लेकर जूं नही रेंगी । 

जिसके विरोधस्वरूप प्रदेश के हज़ारों बिजली कर्मचारीयों ने एकमत होकर केंद्रीय कमेटी के तत्वाधान में यह फैसला लिया कि हरियाणा कर्मचारी महासंघ का समर्थन पहले से ही रोडवेज तालमेल कमेटी को है और अब प्रदेश का बिजली कर्मचारी भी अपनी हड़ताल को अनिश्चितकालीन कर रोडवेज के मानसम्मान की लड़ाई में कन्धे से कन्धा मिलाकर मैदान में उतर आया है और बिजली बोर्ड की हड़ताल को भी रोडवेज के कर्मचारियों के साथ करने को बाध्य हुआ है यदि प्रदेश सरकार आज कर्मचारियों की जायज मांगों को तत्परता से नही मनती व यूनियन से बात नही करती है तो प्रदेश में ब्लैक आउट होने स्वभाविक है 

यह बिजली कर्मियों की यह हड़ताल जो कि आज रात से जारी कर दी जायेगी और कहा कि जब तक मुख्यमंत्री रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल का समाधान नही करते बिजली वालों की हड़ताल भी जारी रहेगी । आज बल्लभगढ़ रोडवेज पर सत्ता विपक्ष ने भी बिजली कर्मचारियों व रोडवेज के कर्मचारियों का समर्थन किया है जिसमे काँग्रेस से विधायक ललित नागर, विधायक उदयभान, पूर्व संसदीय सचिव कुमारी शारदा राठौर, वरिष्ठ काँग्रेसी नेता लखन कुमार सिंगला, एनएसयूआई से छात्रसंघ प्रधान कृष्ण अत्रि आदि नेताओं ने कर्मचारियों के समर्थन में रोडवेज डीपो पर पहुँचे जिसमे विधायक ललित नागर ने सरकार पर आरोपों की झड़ी लगते हुए कहा कि प्रदेश की यह झूठी सरकार जिसने सिर्फ और सिर्फ प्रदेश के लाखों कर्मचारियों को झूठे वायदे ही किये हैं ना कि उन्हें पूरा करने का कोई भी एक वादा किया हो जिसके विरोध स्वरूप आज प्रदेश का कर्मचारी इस सरकार से त्रस्त है व भाजपा के मंत्री इन महकमों को अपने चहेते मंत्रियों के बहकावे में आकर इन सरकारी विभागों का बंटाधार करने पर तुली है 

यह सभी विभाग आमजन की सुविधाओं के लिये बनाये गये थे ना कि बनिये की दुकान समझ इन नेताओं ने इन्हें व्यापार में लाना चाहती है यह सरकार पूंजी पतियों की सरकार बन कर राह गई है इन्हें कर्मचारी, आम नागरिक, किसान, छात्र, मजदूर के हित से कुछ लेना देना नही सिर्फ और सिर्फ निजीकरण कर सरकारी तंत्र को लूटने में लगी है और कहा कि हम आपसे वायदा करते हैं प्रदेश में हमारी सरकार आने पर हम युवाओं को रोजगार, विभागों के निजीकरण पर पूर्णत प्रतिबंध लगाने का काम करेंगे ।और ये विश्वास दिलाते हैं किसी भी कर्मचारी का शोषण नही होने दिया जाएगा जो आज यह प्रदेश की भाजपा की खट्टर सरकार कर रही है । 

जो निजी हाथों में इन विभागों को थोपने का काम कर भाजपा के मंत्री अपनी खुद की बसें रोडवेज के बेड़े में लाकर मुनाफे के लिये 720 बसों का किलोमीटर स्कीम लेकर इन कर्मचारियों के पेट पर लात मार रही है जिसमे फरीदाबाद के भाजपा मंत्रियों, सांसदों के रिश्तेदारों की खुद बसें अब भी मथुरा, पलवल व अन्य जिलों अथवा राज्यों में इस सरकार की मिली भगत से रोडवेज के ही रंग लेप कर फर्जी तौर से फिलहाल चल रही हैं जिन्हें मैंने पहले भी संसद सत्र के मानसून में मुद्दा उठाया था । 

उन्होंने बताया कि बिजली कर्मचारियों अपनी जायज माँगों को लेकर आज टूल व पेन डाऊन करने पर विवश हो गए सरकार के खोखले वायदों से कहीं ऐसा ना हो कि प्रदेश सरकार को काली दिवाली मनानी पड़ेगी । आगे त्यौहारों का मौसम है प्रदेश का बिजली कर्मचारी आमजन में अशांति फैलाना नही चाहता है लेकिन सूबे की वायदा रहित भाजपा सरकार व बिजली निगम के आला अधिकारी प्रदेश के बिजली कर्मचारीयों की जायज माँगे को ना मानकर आंदोलन करने और सड़कों पर उतरने के लिये इन्हें मजबूर कर रहे हैं । प्रदेश सरकार व बिजली निगम अपने कर्मचारियों के धैय की परीक्षा ना ले अन्यथा कर्मचारियों की यह परीक्षा इन्हें काफी महँगी पड़ सकती है । 

बिजली कर्मचारी यूनियन के साथ बिजली निगम एवम सरकार के इसी अवरोध के चलते प्रदेश में हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड वर्कर यूनियन की राज्यव्यापी हड़ताल को कहीं काले दिवस में तब्दील ना कर दे इसके लिये कर्मचारी यूनियन के शीर्ष नेतृत्व से जल्द बात करे और यदि कर्मियों की जायज माँगों के अनुरूप अभी भी सरकार नही चेतती है तो आगामी हड़ताल का सामना करने के लिये तैयार रहें इस बार बिजली कर्मचारी पीछे नही हटेगा चाहे इसके लिये यह हड़ताल अनिश्चितकालीन ही क्यों ना करनी पड़े । इस विरोध प्रदर्शन में कर्मबीर यादव, जयभगवान अंतिल, मदनगोपाल, राजबीर, शेरसिंह, बृजपाल तँवर, बलबीर कटारिया, विनोद शर्मा, मौजेलाल, पन्नलाल, सुधीर कौशिक आदि हजारों कर्मचारी मौजूद रहे ।

Tuesday, 28 August 2018

इको ग्रीन कंपनी से नाराज सेक्टर 3 के निवासियों ने नगर निगम मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया

इको ग्रीन कंपनी से नाराज सेक्टर 3 के निवासियों ने नगर निगम मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया

फरीदाबाद,28 अगस्त। इको ग्रीन कंपनी द्वारा की जा रही अवैध वसूली व नागरिकों के साथ किए जा रहे दुर्व्यवहार से नाराज सेक्टर 3 के नागरिकों ने सोमवार को नगर निगम मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन कर संयुक्त आयुक्त का घेराव किया। फेडरेशन के प्रधान सुभाष लांबा ने  चेतावनी दी कि अगर 15 दिन में की गई अवैध वसूली वापिस नहीं की गई और अवैध वसूली करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं की तो फेडरेशन बड़ा आंदोलन करने पर मजबूर होगी। 

संयुक्त आयुक्त ने फेडरेशन के शिष्टमंडल को अवैध वसूली करने वालों के खिलाफ शीघ्र कड़ी कार्रवाई करने का भरोसा दिया है।फेडरेशन का आरोप है कि नगर निगम प्रशासन की मिलीभगत से इको ग्रीन कंपनी के कारिंदे नागरिकों से 24 रूपये की जगह 50 रूपये की अवैध वसूली कर रहे हैं । अवैध वसूली का विरोध करने पर नागरिकों को धमकाया जा रहा है और उनका कूड़ा नहीं उठाया जा रहा। सारे  मामले की जानकारी होते हुए भी जन प्रतिनिधियों की चुप्पी पर भी नागरिकों ने दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कड़ी आलोचना की और उनसे चुप्पी तोड़ने का अनुरोध किया। सेक्टर-3 रेजिडेंट वेलफेयर फेडरेशन के बैनर तले आयोजित इस प्रदर्शन का नेतृत्व फेडरेशन के प्रधान सुभाष लांबा , सचिव रतनलाल राणा , मुस्तकीम,सुरेंद्र चौहान धरणीधर , आवास कल्याण समिति के प्रधान राजेंद्र सिंह भाटी, आरडब्ल्यूए के प्रधान धर्मपाल चहल, आवास कल्याण समिति के प्रधान राजेंद्र सिंह भाटी, प्रगतिशील वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान सुरेश गौतम व सचिव सत्यम आदि नेता कर रहे थे।

    फेडरेशनके प्रधान सुभाष लांबा व सचिव रतनलाल राणा ने बताया कि फेडरेशन का शिष्टमंडल 17 जुलाई को निगम के सहायक आयुक्त से मिला था और अवैध वसूली की शिकायत लिखित में की थी ।  उन्होंने शीघ्र कार्रवाई का भरोसा दिया था । लेकिन जब कोई कार्यवाही अमल में नहीं लाई गई तो शिष्टमंडल ने 18 अगस्त को निगम आयुक्त को नोटिस देकर प्रदर्शन करने का ऐलान किया था। लेकिन इसके बावजूद नगर निगम प्रशासन ने कोई कार्यवाही नहीं की ।इससे स्वत ही स्पष्ट हो जाता है कि इको ग्रीन के कारिंदे अवैध वसूली नगर निगम प्रशासन की मिलीभगत से ही कर रहे हैं । उन्होंने बताया कि आर्थिक रुप से कमजोर वर्गों को दिए गए 36 वर्ग गज के मकानों से ₹5 और अन्य मकानों से ₹24 कूड़ा उठाने का चार्ज एग्रीमेंट के हिसाब से लिया जाना चाहिए । लेकिन ईको ग्रीन के कारिंदे धड़ल्ले से प्रति घर₹50 वसूल रहे हैं। इसका विरोध करने पर वह खुलेआम नागरिकों के साथ दुर्व्यवहार ही नहीं कर रहे बल्कि उनका कूड़ा भी नहीं उठा रहे । इस सारे मामले की जानकारी नगर निगम प्रशासन व जनप्रतिनिधियों को होने के बावजूद पूरी तरह इनकी चुप्पी से सेक्टर 3 के नागरिकों में भारी आक्रोश है । उन्होंने आरोप लगाया कि सेक्टर 3 में ही नहीं अन्य सेक्टरों व कालोनियों में भी अवैध वसूली करने का धंधा जोरों पर है । उन्होंने कहा कि शीघ्र इसकी शिकायत मुख्यमंत्री ,मुख्य सचिव, निकाय विभाग के प्रधान सचिव व निदेशक से भी की जाएगी।

प्रदर्शन में दिनेश शर्मा उर्फ बबलू, बलविंदर सिंह, हरीश, चोरवाणी ,दिवाकर ,एस सी सक्सेना ,मनोज भारद्वाज, सरफराज ,प्रेम वत्स राजेश ,अवधेश सिंह, एस सी शर्मा, नरेंद्र श्रीवास्तव, जय नंद अवकाश, विनय, फिलिप्स वीर सिंह रावत ,राजेंद्र शर्मा, महबूब खान, मुकेश बेनीवाल ,रमेश बेनीवाल व सतवीर सिंह आदि उपस्थित थे।

Saturday, 21 July 2018

पॉलिथीन का प्रयोग अपने भविष्य के साथ खिलवाड़ :आयुक्त मोहम्मद साइन

पॉलिथीन का प्रयोग अपने भविष्य के साथ खिलवाड़ :आयुक्त मोहम्मद साइन

फरीदाबाद 21 जुलाई । नगर निगम आयुक्त मोहम्मद साइन ने जिले भर की स्वयंसेवी संस्थाओं का आव्हान किया है कि अपने भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए पॉलिथीन के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान को एक जन आंदोलन बनाने में फरीदाबाद नगर निगम एवं सरकार का सहयोग करें निगमायुक्त के अनुसार आज यह बात किसी को समझाने की जरूरत नहीं है कि पॉलिथीन का प्रयोग अपने भविष्य के साथ खिलवाड़ है 

निगमायुक्त मोहम्मद शाइन आज फरीदाबाद नगर निगम सभागार में जिले भर की स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों को संबोधित कर रहे थे मोहम्मद साइन का कहना था कि कोई भी अभियान तब तक सफल नहीं हो सकता जब तक आम आदमी उसमें स्वयं रुचि ना लें पॉलिथीन रोकने का अभियान भी कुछ इसी प्रकार का बयान है और इस अभियान की सफलता के लिए यह जरूरी है कि हर आदमी इसको अपनी जिम्मेदारी समझते हुए सबसे पहले इस अभियान को अपने ऊपर लागू करें और यदि हर व्यक्ति केवल एक प्रण ले ले कि वह स्वयं पॉलिथीन का प्रयोग नहीं करेगा तो इस अभियान की सफलता तय है निगमायुक्त ने स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों से कहा की पॉलिथीन रोकने के लिए हम सभी को मिलकर एक जन जागरण अभियान चलाना होगा जिसके तहत लोगों को यह बताया जाए कि पॉलिथीन एक ऐसा तत्व है

 जो कभी नष्ट नहीं होता और यह हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए एक नासूर बन कर रह जाएगा निगमायुक्त के अनुसार इस जन जागरण अभियान के साथ-साथ निगम का पॉलिथीन रोको अभियान शक्ति के रूप में भी जारी रहेगा उन्होंने कहा कि निगम अब सब्जी मंडियों में उन दुकानदारों के खिलाफ चालान अभियान भी चलाएगा जो कि पॉलिथीन का प्रयोग करते हैं इस मौके पर स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने निगम द्वारा चलाए जा रहे पॉलिथीन रोको अभियान को 11 अच्छा वह जनप्रिय आंदोलन बताते हुए निगमायुक्त की इस बात के लिए तारीफ भी की कि उन्होंने इस अभियान में शहर भर की स्वयंसेवी संस्थाओं को जोड़ने का निर्णय लिया है इन संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने निगमायुक्त को आश्वस्त किया कि पॉलिथीन के कुप्रभावों के खिलाफ वह अपने अपने स्तर पर जन जागरण अभियान चलाएंगे और कहीं भी उनको निगम की सहायता की जरूरत पड़ी तो वह निगम अधिकारियों को भी इस बारे में सूचित करेंगे

Thursday, 21 June 2018

पेयजल माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देष : मौहम्मद शाइन नगर निगम आयुक्त

पेयजल माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देष : मौहम्मद शाइन नगर निगम आयुक्त

फरीदाबाद, 21 जून। नगर निगम आयुक्त मौहम्मद शाइन ने तीनों जोनों के संयुक्त आयुक्त, कार्यकारी अभियन्ताओं व सहायक अभियंताओं को पानी माफियाओं द्वारा बड़े पैमाने पर पेयजल की अवैध बिक्री को रोकने और प्राइवेट टैंकर माफियाओं द्वारा पानी चोरी के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देष दिए है। गर्मी के सीजन को देखते हुए  निगमायुक्त ने अधिकारियों को निगम क्षेत्र के प्रत्येक वार्ड में पानी की सप्लाई को और बड़े पैमाने पर दुरूस्त करने और  जिन-जिन क्षेत्रों में बूस्टिंग स्टेषन, रैनीवैल कुएं और ओवरहेड रिजर्वोइजर है उनकी प्रतिदिन जांच व चालू अवस्था में रहने के निर्देष दिए।

निगमायुक्त ने आम जनता से अपील की है कि निगम द्वारा प्रतिदिन सप्लाई होने वाले पानी का सदुपयोग करें न कि सड़कों और घरों के बाहर छिड़काव व गाड़ियां धोने में वेस्ट करें। उन्होंने कहा कि निगम क्षेत्र में अगर कोई प्राइवेट टैंकर अवैध पेयजल बिक्री करता है, या निगम के जलस्त्रोतों से पानी की चोरी करता है तो उसकी सूचना तुरन्त निगम के मोबाइल नंबर-9599780898 पर दे। जिस पर तुरन्त कार्यवाही की जाएगी और सूचना देने वाले व्यक्ति का का नाम गुप्त रखा जाएगा।

निगमायुक्त मौहम्मद शाइन ने निगम अधिकारियों को निर्देष दिए कि दिन-प्रतिदिन आई षिकायतों से खुलासा हुआ है कि बड़े पैमाने पर पेयजल की अवैध बिक्री नगर निगम के जलस्रोतों जैसे बूस्टिंग स्टेषनों, रैनीवैल के कुएं और ओवरहेड रिजर्वोइयर से की जा रही है और निगम के कुछ कर्मचारियों के साथ टैंकर मालिक मिलीभगत करके पानी चोरी कर आम जनता को बेच रहे है। उन्होंने कार्यकारी अभियंताओं, सहायक अभियंताओं को तीनों जोनों में जिन-जिन क्षेत्रों में बूस्टिंग स्टेषन है। उन बूस्टिंग स्टेषनों पर बाहरी लोगों से सख्ती से और पीने के पानी को प्रतिबंधित कर निजी आपूर्तिकत्र्ताओं को पीने के पानी को तत्काल बंद करने के निर्देष दिए । निगमायुक्त ने निगम के संयुक्त आयुक्तों  को विषेष रूप से उद्योगों, बड़े वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों, स्कूलों, होटलों और अन्य वाणिज्यिक उपयोगों के मामले में जहां भी पानी चोरी हो रही है या निगम के कर्मचारी इसमें संलिप्त हैं तो उनके खिलाफ कठोर कार्यवाही करने और एफआईआर दर्ज करने के भी निर्देष दिए।


नगर निगम मुख्यालय के बाहर निगम जलापूर्ति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्षन

नगर निगम मुख्यालय के बाहर निगम जलापूर्ति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्षन

फरीदाबाद, 21 जून। जलापूर्ति के कार्य को ठेके पर देकर कर्मचारियों को सरपल्स करने के नगर निगम प्रषासन के निर्णय के विरोध में निगम के सैकड़ों जलापूर्ति कर्मचारियों ने आज यहां निगम मुख्यालय स्थित मुख्य अभियन्ता के कार्यालय के बाहर जोरदार प्रदर्षन किया। इससे पूर्व इन कर्मचारियों ने निगम अधिकारियों व ठेकेदारी प्रथा के विरोध में नारेबाजी करते हुए जुलूस भी निकाला। म्युनिस्पिल कारपोरेषन ईम्पलाईज फैडरेषन वर्कर्स यूनियन से संबंधित नगर निगम मैकेनिकल वर्कर्स यूनियन के तत्वावधान में आयोजित किए गए इस प्रदर्षन का नेतृत्व फेडरेषन के अध्यक्ष रमेष जागलान व  नगर निगम मैकेनिकल वर्कर्स यूनियन के  प्रधान अतर सिंह भडाना ने की। यूनियन नेताओं ने प्रदर्षनकारियों को संबोधित करते हुए आरोप लगाया कि निगम के जलापूर्ति विभाग में कर्मचारियों की बहुतायत होने के बावजूद जलापूर्ति कार्य को ठेके पर देने के निर्णय में स्पष्ट रूप से भ्रष्टाचार की बू आ रही है। उन्होंने चेतावनी दी है कि निगम प्रषासन के इस तुगलकी व तानाषाही पूर्ण फरमान को कर्मचारी बर्दाष्त नहीं करेंगे और इसका डटकर विरोध किया जाएगा।



 यूनियन प्रधान अतर सिंह भडाना व सचिव महेन्द्र पाल ने आज यहां जारी एक प्रैस विज्ञप्ति में यह जानकारी देते हुए बताया कि जब बूस्टिंग व नलकूप का ठेका दिया जा रहा है तो हमारे कर्मचारी सरपल्स कैसे हो सकते है इसलिए हमारे कर्मचारियों को नलकूप व बूस्टिंगों एवं डिस्पोजल पर लगाया जाए उसके बाद अगर एरिया बचते है तो नई आॅपरेटरों की भर्ती की जाए। इन नेताओं ने निगम प्रषासन के उक्त निर्णय के विरोध में सोमवार को प्रातः 11 बजे निगम आयुक्त कार्यालय पर प्रदर्षन करने का भी ऐलान किया है। आज के इस प्रदर्षन को अन्य के अलावा कर्मचारी नेता शाबिर खान, रण सिंह भडाना, नेत्रपाल शर्मा, षिवराज भडाना, दषरथ, मोहन देषवाल, रमेष पहलवान, राजबीर बैंसला, प्रमोद रोहिल्ला भी विषेष रूप से उपस्थित थे।

Tuesday, 10 April 2018

पानी की सप्लाई न होने को लेकर इलाके की महिलाओ ने किया नगर निगम एग्जिकियूटिव इंजिनियर का घेराव

पानी की सप्लाई न होने को लेकर इलाके की महिलाओ ने किया नगर निगम एग्जिकियूटिव इंजिनियर का घेराव

फरीदाबाद 10 अप्रैल। पिछले छह महीने से पानी की समस्या से जूझ रही एसजीएम नगर की महिलाओ के सब्र का बाँध आज टूट गया और महिलाये अपने घर का चूल्हा चौखा छोड़कर नगर निगम मुख्यालय पहुंच गयी और एग्जिकियूटिव इंजिनियर के कार्यालय का घेराव कर डाला और जमकर नारेबाजी की. महिलाओ ने साफ़ किया की आज वह तब तक घर वापिस नहीं जाएंगी जब तक उनके सूखे नलों में पानी नहीं आ जाता।  गौरतलब है की  इस इलाके में पिछले कई महीनो से स्थानीय लोगो को पानी खरीदकर अपना गुजारा करना पड़  रहा है।  लाख शिकायते करने के बावजूद समस्या का हल नहीं हुआ जिसके चलती आज निगम अधिकारियों को महिलाओ का गुस्सा झेलना पड़ा. 

नगर निगम मुख्यालय पर एग्जिकियूटिव इंजिनियर का घेराव करती और नारेबाजी करती दिखाई दे रही यह महिलाये एसजीएम नगर की रहने वाली है जो पिछले छह महीने से पानी की सप्लाई न होने से परेशान है. महिलाओ ने बताया की पिछले छह महीने से उनके क्षेत्र में पानी नहीं आ रहा. जिसको लेकर उन्होंने नगर निगम में कई बार शिकायते की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई बल्कि कोरे आश्वासन मिलते रहे. मजबूरन उन्हें साढ़े पांच सौ रूपये के टैंकर खरीदकर अपना गुजारा करना पड़ता है. आज मजबूर होकर उन्हें यहाँ प्रदर्शन करना पड़ा. महिलाओ ने साफ़ किया की आज वह यहाँ से नहीं जाएंगी जब तक उनके नलों में पानी नहीं आ जाता। हालांकि प्रदर्शनकारी महिलाओ से घिरे एग्जिकियूटिव इंजिनियर उन्हें समझाने की कोशिश करते रहे लेकिन  महिलाओ ने उनकी एक नहीं सुनी और उन्होंने उनके कार्यालय का घेराव कर दिया। 

एसजीएम नगर के आरडब्यूंए के प्रधान लज्जाराम ने बताया की पिछले छह महीने से इलाके में पानी की सप्लाई ठप  पड़ी है और इलाके के ट्यूब वेल खराब पड़े हुए है और लोग पानी खरीदकर अपना गुजारा करने को मजबूर है. मजबूरन दुखी होकर उन्हें घेराव करना पड़ा है. उन्होंने साफ़ किया की जब तक पानी की सप्लाई शुरू नहीं हो जाती तब तक वह यहाँ डटे रहेंगे। हालांकि एग्जिकियूटिव इंजिनियर ने इलाके में जेई को भेज देने की बात कही है लेकिन उन्हें निगम अफसरों पर कोई भरोसा नहीं है. 

Friday, 9 February 2018

सरकार की वायदा खिलाफी के खिलाफ नपा के प्रधान शास्त्री ने किया आन्दोलन का ऐलान

सरकार की वायदा खिलाफी के खिलाफ नपा के प्रधान शास्त्री ने किया आन्दोलन का ऐलान

फरीदाबाद, 9 फरवरी। नगर निगम कर्मचारियों की आम सभा में विगत कल निगमायुक्त आयुक्त व संघ के बीच हुए समझौते को विस्तृत रूप से बताते हुए नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने कहा है कि निगमायुक्त द्वारा सभी मानी गई मांगों को 688 कर्मचारियों को निगम रोल पर रखने और सहित अन्य मांगों को एक माह में लागू नहीं किया तो संघ निगम मुख्यालय पर दोबारा आन्दोलन शुरू कर देगा।

शास्त्री ने कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सरकार की वायदा खिलाफी के खिलाफ व कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने, सातवें वेतन आयोग का एरियर देने, क्षेत्रफल आबादी के अनुरूप भर्ती करने, पालिका, परिषदों व निगमों से ठेका समाप्त करने सहित सभी कर्मचारियों को पक्का करने, आऊटसोर्सिंग के तहत फायर विभाग में लगे कर्मचारियों को नियम-2016 में छूट देकर पक्का करने व अन्य राज्य स्तरीय मांगों को लेकर सभी जिलों में 13 फरवरी से 28 फरवरी तक तिथिवार जिला उपायुक्त कार्यालयों पर धरने एवं प्रदर्शन करते हुए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपे जाएगें। 

सात व आठ मार्च को प्रदेश की सभी 80 शहरों में झाडू प्रदर्शन किए जाएगें तथा 16 मार्च को सरकार व चाईनीज कम्पनी ईको ग्रीन का पुतला दहन किया जाएगा और इसके पश्चात स्थानीय निकाय मंत्री श्रीमती कविता जैन के सोनीपत स्थित आवास पर एक दिवसीय राज्य स्तरीय धरना देते हुए घेराव किया जाएगा। यदि सरकार ने इसके पश्चात भी कर्मचारियों की मांगों का समाधान नहीं किया तो संघ आर-पार के आन्दोलन की घोषणा करेगा।

नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के जिला सचिव नानकचंद खैरालिया, सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर, श्रीनंद ढकोलिया, परशराम अधाना, वेदभड़ाना, रामकिशोर त्यागी, रोहताश रेढू, सतीश पहलवान, योगेश शर्मा ने एक स्वर में कहा कि  निगमायुक्त ने मानी हुई मांगों को निर्धारित समय एक माह के अंदर लागू नहीं किया तो निगम कर्मचारी पुन: आन्दोलन शुरू कर देगें। निगम के नेताओं ने संघ के आन्दोलन को सफल बनाने के लिए कई टीमों का गठन कर दिया है। यह टीमें सभी स्टोरों, हाजरी स्थलों व सभी कार्यालयों में जाकर कर्मचारियों से मुलाकात कर आन्दोलन के बारे में अवगत कराएगी। 

Tuesday, 16 January 2018

मण्डलायुक्त डा. जी. अनुपमा ने अपने कार्यालय में कार्यभार सम्भाला

मण्डलायुक्त डा. जी. अनुपमा ने अपने कार्यालय में कार्यभार सम्भाला

फरीदाबाद, 16 जनवरी। हरियाणा सरकार द्वारा गठित मण्डल फरीदाबाद की पहली नवनियुक्ति मण्डलायुक्त डा. जी. अनुपमा ने आज यहां स्थानीय सैक्टर-16 ए स्थित कैनाल रैस्ट हाउस में बनाए गए अपने कार्यालय में कार्यभार सम्भाला। जिला प्रशासन की ओर से उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी ने सम्बन्धित अधिकारियों की टीम सहित प्रमुख रूप से मण्डलायुक्त को पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत करते हुए अगवानी की। रैस्ट हाउस परिसर पहुंचते ही पुलिस की तैनात टुकड़ी ने डा. अनुपमा को गार्ड आफ आॅनर दिया। टुकड़ी के निरीक्षण के उपरान्त डा. अनुपमा ने जिला प्रशासन के अधिकारियों की बैठक लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए और वह जिला के मीडिया प्रतिनिधियों से भी रूबरू हुई।

इस अवसर पर फरीदाबाद के एसडीएम एवं हुडा सम्पदा अधिकारी प्रताप सिंह, जिला राजस्व अधिकारी पी.डी. शर्मा, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी जरनैल सिंह, फरीदाबाद नगर निगम के वरिष्ठ नगर योजनाकार सतीश पराशर तथा सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियन्ता राजीव बत्रा प्रमुख रूप से उपस्थित थे। 

डा. अनुपमा ने अधिकारियों से कहा कि जनता से जुड़ी सभी प्रकार की जनसमस्याओं का निपटारा सम्बन्धित विभाग के अधिकारी तत्परता से करें ताकि लोगों को समय रहते सुविधाओं का लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री घोषणाओं सहित अन्य सभी प्रकार के निर्माणाधीन विकास कार्यो को भी निर्धारित समय सीमा के भीतर पूरा किया जाये और इस बारे सम्बन्धित अधिकारी किसी प्रकार की ढील न बरतें। 

डा. अनुपमा ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा कि नये मण्डल फरीदाबाद में इस जिले के अलावा पलवल व नूंह जिला भी शामिल हैं। उनके सामने इन जिलों में बढ़ते हुए शहरीकरण के साथ-साथ ग्रामीण परिवेश से जुड़ी समस्याओं का निराकरण करना भी एक चुनौती रहेगी। जहां एक ओर अधिकांश शहरीकरण में विकसित जिला फरीदाबाद है तो वहीं दूसरी ओर ग्रामीण बाहुल्य जिला नूंह और पलवल भी हैं। अतः ग्रामीण व शहरी स्तर के सभी प्रकार के समुचित विकास पर विशेष रूप से ध्यान दिया जायेगा। समूचे मण्डल को वे मण्डल के निवासियों तथा मीडिया प्रतिनिधियों के सहयोग से पूरा करने का सफल प्रयास करेंगी।

उन्होंने कहा कि विकास की दृष्टि से फरीदाबाद शहरीकरण की ओर तेजी से आगे बढ़ रहा है। अतः लोगों को विकास सम्बन्धी गुणवत्तापरक जीवन शैली से जुड़ी सुविधाएं देने के लिए प्रशासन की ओर से हर सम्भव प्रयास किए जायेंगे। 

उन्होंने मीडिया प्रतिनिधियों से जनहित में सभी प्रकार की सम्बन्धित खबरों के जन प्रचार प्रसार के लिए आग्रह करते हुए पत्रकारों को नव वर्ष एवं मकर संक्रांति पर्व की शुभकामनाएं दी। 

Sunday, 14 January 2018

केबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने फ्लाईओवर की दीवारों पर पेंटिंग प्रतियोगिता का किया शुभारम्भ

केबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने फ्लाईओवर की दीवारों पर पेंटिंग प्रतियोगिता का किया शुभारम्भ

फरीदाबाद 14 जनवरी। केबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने फ्लाईओवर की दीवारों पर पेंटिंग प्रतियोगिता का किया शुभारम्भ - अपने हाथो के छापे लगाकर प्रतियोगिता का किया शुभारम्भ -  विभिन्न प्रदेशो के सौ कलाकार और यूनिवर्सिटिस के छात्र ले रहे है हिस्सा। नगर निगम की नई पहल के तहत आज नेशनल हाइवे पर बने उपरगामी पुलो की दीवारों पर करवाई जा रही पेंटिंग प्रतियोगिता में विभिन्न प्रदेशो के कलाकारों और यूनिवर्सिटिस के छात्रों द्वारा जोर शोर से हिस्सा लिया गया. यह प्रतियोगिता आज सुबह आठ बजे शुरू हुई जिसका शुभारम्भ केबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने पुल  की दीवार पर पेंट से अपने हाथ रंगकर पंजा लगाकर किया। इस प्रतियोगिता में कलाकारों की करीब सौ टीमें हिस्सा ले रही है. पहले चरण में ओल्ड फरीदाबाद ओर बड़खल फ्लाईओवर को पेंटिंग के लिए चुना गया है. इस प्रतियोगिता को लेकर कलाकारों में भारी उत्साह देखा जा रहा है. यह कलाकार अपनी कल्पना के चित्र पेंट  और ब्रश के माध्यम से पुल की दीवारों पर उकेरेंगे। उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने इस प्रतियोगिता का आयोजन करने पर प्रशासनिक अधिकारियों को बधाई दी.      

 नेशनल हाइवे पर आज दिखाई दे रहा यह नज़ारा किसी उत्सव से कम नहीं नज़र आ रहा है क्योंकि आज यहाँ शहर के सौंदर्यकर्ण को लेकर प्रशासन द्वारा ओपन पेंटिंग प्रतियोगिता करवाई जा रही है जिसमे  प्रतियोगिता में विभिन्न प्रदेशो के कलाकारों और यूनिवर्सिटिस के छात्रों द्वारा जोर शोर से हिस्सा लिया जा रहा है. प्रतियोगिता का शुभारम्भ करने पहुंचे केबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने पुल  की दीवार पर पेंट से अपने हाथ रंगकर पंजा लगाकर किया। इस प्रतियोगिता में कलाकारों की करीब सौ टीमें हिस्सा ले रही है. पहले चरण में ओल्ड फरीदाबाद ओर बड़खल फ्लाईओवर को पेंटिंग के लिए चुना गया है.

वीओ : पत्रकारों से बातचीत करते हुए केबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने कहा की प्रशासन द्वारा स्वछता और स्मार्टसिटी के तहत पेंटिंग प्रतियोगिता की जो पहल की जा रही है यह एक अच्छा कदम है इससे शहर का सौंदर्यकरण बढ़ेगा उन्होंने अपील की - की शहर को स्मार्ट बनाने के लिए सभी शहरवासी मिलकर इसी तरह सहयोग करे ताकि आने वाली पीढ़ी को हम एक स्वच्छ और सुन्दर शहर दे सके. इस मौके पर नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर पार्थ गुप्ता ने भी इस पेंटिंग प्रतियोगिता पर प्रकाश डाला।  

 विपुल गोयल - केबिनेट मंत्री 
 पार्थ गुप्ता - ज्वाइंट कमिश्नर 

 इस अवसर पर विभिन्न प्रदेशो से आये यूनिवर्सिटी के छात्र कलाकारों में भारी उत्साह देखा गया. अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से आयी युमन जफ़र छात्रा ने बताया की हम यहाँ आज वॉलपेन्टिंग करने आये है इससे पहले वह कुरुक्षेत्र में भी पेंटिंग प्रतियोगिता में हिस्सा ले चुकी है और एक कलाकार के नाते हम पेंटिंग को बहुत इंजॉय करते है और आज वह यहाँ अपने बचपन की नानी और दादी द्वारा सुनाई गयी कहानियों का चित्रण करते हुए अपने बचपन की यादों को ताज़ा करेंगी। वहीं जामिया यूनिवर्सिटी दिल्ली से आये रवि कुमार ने बताया की वह अपने पांच साथियो की टीम के साथ यहाँ पेंटिंग प्रतियोगिता में हिस्सा लेने आये है और वह आज यहाँ क्राउडिंग इन सिटी विषय पर पेंटिंग बनाएंगे। 

 युमन जफ़र - छात्रा कलाकार - अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी
 रवि कुमार - छात्र कलाकार - जामिया यूनिवर्सिटी - दिल्ली         

Sunday, 24 December 2017

नगर निगम कई बिल्डरों की संपतिया करेगा सील

नगर निगम कई बिल्डरों की संपतिया करेगा सील

फरीदाबाद, 24 दिसम्बर। । नगर निगम फरीदाबाद ने वर्ष 2013 में सराय ख्वाजा स्थित सेक्टर-41 में गु्रप हाउसिंग साईटस की नीलामी की थी और उक्त नीलामी में राईज प्रोजेक्टस प्राइवेट लिमिटेड, आईकोन-रियलकोन प्राइवेट लिमिटेड, मीनल हाउसिंग प्राइवेट लिमिटेड, अहिंसा बिल्डर्स प्राइवेट लिमिटेड, अरिहन्त इन्फ्राक्टचर्स रियलटर को प्लाट अलाॅट किए गए थे। उक्त कंपनियों ने  प्लाट अलाॅटमेंट के समय 25 प्रतिशत की रकम निगम में जमा करवा दी और बाकी की किश्ते की गई थी। उपरोक्त कंपनियों ने समब( के अनुसार किश्ते जमा नहीं कराई, हालांकि इस बारे में निगम के अधिकारियों के साथ मीटिंगस भी होती रही और निगम ने कारण बताओ नोटिस भी जारी किए लेकिन 4 साल की समयावधि बीतने के बाद भी उपरोक्त कंपनियां समय पर किश्त भरने में अनियमितताएं बरत रहे हैं। इस बात को नगर निगम के आयुक्त समीरपाल सरो ने गंभीरता से लिया।

  इसी दिशा में बड़ी कार्यवाही करते हुए  निगमायुक्त समीरपाल सरो ने  ग्रुप हाउसिंग सोसायटी के लिए जमीन लेने के बाद इसका 75 फीसदी बकाया भुगतान न करने पर  राईज प्रोजेक्टस प्राइवेट लिमिटेड, आईकोन-रियलकोन प्राइवेट लिमिटेड, मीनल हाउसिंग प्राइवेट लिमिटेड, अहिंसा बिल्डर्स प्राइवेट लिमिटेड, अरिहन्त इन्फ्राक्टचर्स रियलटर को  उनकी संपत्ति सील करने के नोटिस जारी किए।  उक्त कंपनियों से नगर निगम ने लगभग 170 करोड़ की वसूली करनी है। करोड़ों रूपये की वसूली के लिए भेजे गए नोटिस में स्पष्ट लिखा हुआ है कि  इस नोटिस की प्राप्ति की तारीख से 7 दिनों के अंदर अंदर उचित राशि जमा करने के लिए मानवता के आधार पर एक और मौका दिया जा रहा है इसके उपरांत निगम द्वारा उक्त कंपनियों की संपत्तियों को सील करने की कार्यवाही अमल में लाएगी।

 निगमायुक्त ने उक्त कंपनी मालिकों  को  3 दिसम्बर 2017 की बैठक में भी सख्त चेतावनी दी कि उक्त निगम में अपने बकायाजातों का भुगतान करें । अन्यथा उनकी अलाॅटमेंट रदद कर दी जाएगी, जमीन का कब्जा ले लिया जाएगा और जो पैसा उन्होंने निगम में जमा करवाया है उसको जब्त करते हुए उक्त प्लाटों की पुनः नीलामी करने की कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उसके बावजूद भी उक्त कंपनी मालिक अपनी ओर से बकाया रकम का भुगतान करने में असफल रहे।

 निगमायुक्त ने बताया कि उक्त पांचों कंपनियों की करोडों़ रूपए की बकाया राशि       दिनांक 12 अप्रैल 2015, 12 अक्टूबर 2015, 12 अप्रैल 2016, 12 अप्रैल 2017 और 12 अक्टूबर 2017 को 15 प्रतिशत ब्याज के साथ भुगतान करने के लिए समय निर्धारित किया गया था परन्तु पांचों कंपनी मालिकों द्वारा साईटों आवंटन की अवधि और शर्तों का अनुपालन न करने और देय तिथियों पर किश्तों के भुगतान में लापरवाही करने के मामले में हरियाणा नगर निगम अधिनियम 1994 की धारा 263 ए के तहत उक्त बिल्डरों की संपति सील करने बारे कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

Tuesday, 19 December 2017

नगर निगम कर्मचारियों को वेतन ना मिलने से दुसरे दिन भी तीनो जोनो में भी टूल डाॅउन

नगर निगम कर्मचारियों को वेतन ना मिलने से दुसरे दिन भी तीनो जोनो में भी टूल डाॅउन

फरीदाबाद, 19 दिसम्बर। म्युनिसिपल काॅरपोरेषन एम्पलाइज फेडरेषन द्वारा नवंबर माह के वेतन व सातवे वेतनमान के एरियर के भुगतान ना किए जाने पर नगर निगम की तीनो जोनो में आज दूसरे दिन भी टूल डाॅउन किया । विगत रहे कि नगर निगम द्वारा अभी तक नवम्बर माह के वेतन का भुगतान कर्मचारियों को नहीं किया है और न ही सातवे वेतन मान के एरियर का भुगतान कर्मचारियों को किया गया है। 

अतिरिक्त निगम आयुक्त द्वारा इस सन्दर्भ में 5 दिसम्बर व 13 दिसम्बर को फैडरेषन को वेतन बारे आष्वासन दिया गया था जो कि पूरा न होने के कारण व प्रषासन के ढुल-मुल रवैये के विरोध में निगम कर्मचारियों द्वारा म्युनिसिपल काॅरपोरेषन एम्पलाइज फेडरेषन के तत्वाधान में आज निगम के तीनों जोनो में टूल डाॅउन किया गया।  श्री जागलान द्वारा बताया गया कि निगम प्रषासन द्वारा कर्मचारियों को अभी तक नवम्बर माह के वेतन का भुगतान नहीं गया हैं जिससे कर्मचारियों व उनके परिवारों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। श्री रमेष जगलान ने यह भी कहाॅ कि प्रषासन द्वारा जब तक कर्मचारियों को नवंबर माह के वेतन का भुगतान नही किया जाता तब तक निगम की तीनो जोनो में टूल डाॅउन जारी रहेगा और जरूरत पडी तो फेडरेषन द्वारा इस सम्बन्ध में और कडा र्फैसला भी लिया जा सकता है।

Thursday, 14 December 2017

केंद्रीय राज्यमंत्री ने घर – घर से कूड़ा उठाने के लिए ईको ग्रीन योजना का किया शुभारम्भ

केंद्रीय राज्यमंत्री ने घर – घर से कूड़ा उठाने के लिए ईको ग्रीन योजना का किया शुभारम्भ

फरीदाबाद, 14 दिसम्बर। स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में आज से घर घर से कूड़ा उठाने के लिए शुरू की गयी ” इको ग्रीन”  योजना को राजयमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने हरी झंडी दिखाकर योजना का शुभारम्भ किया। इस योजना के तहत फरीदाबाद को कूड़ा मुक्त शहर बनाने का संकल्प लिया गया. लेकिन पहले से घरो से कूड़ा उठाने वाले सफाई कर्मचारियों को बेरोजगारी का डर  सताने लगा जिसको लेकर नगर निगम सफाई कर्मचारियों ने वहां पहुंचकर नारेबाजी करते हुए विरोध किया। इस पर राजयमंत्री कृषणपाल गुर्जर ने उन्हें आश्वासन दिया की पहले से कूड़ा उठा रहे सफाई कर्मचारियों को बेरोजगार नहीं होने दिया जाएगा और चाइनीज कंपनी के अधिकारियो के साथ बात करके समाधान निकाला जाएगा। इसके बाद केंद्रीय राज्य मंत्री ने कर्मचारियों को उनकी समस्याओ का समाधान करने का आश्वाशन देकर इस योजना को हरी झंडी दे कर इसका शुभारम्भ किया।

 नगर निगम आडिटोरियम में केंद्रीय राजयमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने आज  स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में आज से घर घर से कूड़ा उठाने के लिए शुरू की गयी ” इको ग्रीन”  योजना को हरी झंडी दिखाकर शुभारम्भ किया। हालांकि इस शुभारम्भ से पहले घरो से कूड़ा उठाने वाले सफाई कर्मचारियों को बेरोजगारी का डर  सताने लगा जिसको लेकर नगर निगम सफाई कर्मचारियों ने वहां पहुंचकर नारेबाजी करते हुए विरोध किया। इस पर राजयमंत्री कृषणपाल गुर्जर ने उन्हें आश्वासन दिया की पहले से कूड़ा उठा रहे सफाई कर्मचारियों को बेरोजगार नहीं होने दिया जाएगा। 

पत्रकारों से बातचीत करते हुए राजयमंत्री ने कहा की स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में ईको  ग्रीन योजना का शुभारम्भ किया गया है जिसके तहत चाइनीज कंपनी घर घर से गीला और सूखा कूड़ा उठाएगी और इस कूड़े को बन गाड़ियों में बंधवाड़ी प्लांट पर ले जाया जाएगा जहाँ इस कूड़े से बिजली का निर्माण होगा। उन्होंने कहा की पहले शहर का कूड़ा उठाकर इधर उधर खाली जगह पर डाल  दिया जाता था जिसके चलते शहर का कूड़ा शहर में ही रह जाता था लेकिन अब यह कूड़ा शहर से बाहर बंधवाड़ी स्थित प्लांट में लेजाया जाएगा जहाँ इस कूड़े से बिजली और खाद बनेगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा की फिलहाल इस योजना को आज पांच वार्डो में शुरू किया गया है जिसके तहत कंपनी की गाड़ियां दिन में तीन बार घरो और कमर्शियल क्षेत्रों से कूड़ा उठाएंगी। जिसमे गीला और सूखा कूड़ा अलग अलग उठाया जाएगा। उन्होंने कहा की आम घरो से कंपनी पचास रुपया महीना वसूलेगी जबकि स्लम क्षेत्रों को कोई पैसा नहीं देना होगा। 31 मार्च तक पूरे शहर का कूड़ा यह कंपनी उठाना शुरू कर देगी और फरीदाबाद जो पहले कूड़ा घर बन गया था उससे शहर को निजात मिलेगी।    

वेतन ना मिलने पर नगर निगम के तीनो जोनों में टूल डाॅउन किया जाएगा

वेतन ना मिलने पर नगर निगम के तीनो जोनों में टूल डाॅउन किया जाएगा

फरीदाबाद, 14 दिसम्बर। म्युनिसिपल कारपोरेषन एम्पलाइज फेडरेषन द्वारा अभी तक निगम में वेतन का भुगतान न किए जाने के विरोध में दिनाक 13.12.2017 को कार्यकरणी के बैठक बुलाई तथा यह निर्णय लिया गया कि यदि प्रषासन द्वारा शुक्रवार दिनंाक   15.12.2017 तक वेतन की अदायगी नहीं की गई तो मजबूरन सोमवार को निगम के तीनो जोनों में टूल डाॅउन किया जाएगा। बैठक की अध्यक्षता फैडरेषन के प्रधान श्री रमेष जगलान ने की तथा बैठक में फैडरेषन के वरिष्ठ उपप्रधान शाहबीर खान, महासचिव महेन्द्र कुमार, कार्यालय यूनियन के प्रधान लालाराम नरवत, वरि0 उप प्रधान नरेश बैसला, उप प्रधान धर्मवीर धामा, सचिव दषरथ, मैकेनिकल यूनियन के प्रधान अतर सिंह भड़ाना, राजवीर बैसला षिवराज भडाना, सुरजीत नागर, रमेष पहलवान, राजेन्दर बैंसला, सीताराम, सत्यनारायण मेहरा, फायर चालक विंग के प्रधान रवि ंचन्दीला सहित अन्य पदाधिकारीगण शामिल हुए। 

Tuesday, 12 December 2017

नगर निगम भवन व सड़क समिति की चेयरमैन  नियुक्त ममता चौधरी

नगर निगम भवन व सड़क समिति की चेयरमैन नियुक्त ममता चौधरी

फरीदाबाद: 13 दिसम्बर I दस माह के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार महापौर सुमन बाला ने नगर निगम की बकाया 14 समितियों को गठन कर दिया निगम एक्ट के अनुसार संविदा समिति सहित कुल 15 समितियां बनाई जाती हैं विद संविदा समिति का गठन महापौर ने 14 फरवरी को ही कर दिया था मगर बकाया 14 समितियों का गठन पिछले 10 माह से लटकया हुआ था नवगठित कमेटियों में से प्रभावी कमेटियों के चेयरमैन केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर समर्थक पार्षद को बनाया गया है सिर्फ एक प्रभावी समिति के चेयरमैन बडखल की विधायक सीमा त्रिखा के समर्थक पार्षद जसवंत सिंह को बनाया गया है

पार्षद जितेंद्र यादव और अजय बैसला महेंद्र सरपंच सहित निर्दलीय दीपक चौधरी को इन समितियों में हम स्थान मिला है पार्षद महिला ममता चौधरी ,गीता रक्षवाल , सुमन भारती, को भी तीन अलग-अलग समितियों का  चेयरपर्सन बनाया गया है भाजपा प्रत्याशी महेश गोयल को हराकर चुनाव जीते निर्दलीय पार्षद दीपक चौधरी को केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर खेल से संबंधित होने का फायदा मिला और उन्हें बल्लभगढ़ जोन में तोड़फोड़ समिति का चेयरमैन बनाया गया है 

ये बनी समितियां:

भवन व सड़क समिति अध्यक्ष बानने पर ममता चौधरी अध्यक्ष ने केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर  और विधायक सीमा त्रिखा ,मेयर सुमन बाला,जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा और सिनिएर डिप्टी मेयर देवेंदर चौधरी का धन्यवाद किया ममता चौधरी ने बताया की में इस पद की गरिमा बनाए रखते हुए अपने साथियों के साथ मिलकर शहर एव निगम के हित में काम करुगी  I 



भवन व सड़क समिति:  ममता चौधरी अध्यक्ष ,जयवीर खटाना उपाध्यक्ष ,विकास भारद्वाज, जितेंद्र भडाना  ,नरेश नंबरदार सदस्य व मुख्य अभियंता सचिव I

प्रशासनिक समिति : मनोज नासवा अध्यक्ष, छत्रपाल उपाध्यक्ष, मनवीर भडाना , प्रियंका चौधरी, जितेंद्र भड़ाना सदस्य एवं प्रशासनिक अधिकारी सचिव I  

समाज कल्याण समिति :वीर सिंह नैन अध्यक्ष, नरेश नंबरदार उपाध्यक्ष ,दीपक चौधरी, दीपक यादव, सुभाष आहूजा सदस्य I  

सतकर्ता समिति : जितेंद्र यादव अध्यक्ष, हेमा चौधरी उपाध्यक्ष ,और सदस्य सपना डागर, कुलबीर तेवतिया ,दीपक चौधरी, और सचिव रहेंगे मुख्य अभियंता I  
  
नगर निगम समाज कल्याण समिति के अध्यक्ष नियुक्त बीर सिंह नैन

नगर निगम समाज कल्याण समिति के अध्यक्ष नियुक्त बीर सिंह नैन

फरीदाबाद: 13 दिसम्बर I दस माह के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार महापौर सुमन बाला ने नगर निगम की बकाया 14 समितियों को गठन कर दिया निगम एक्ट के अनुसार संविदा समिति सहित कुल 15 समितियां बनाई जाती हैं विद संविदा समिति का गठन महापौर ने 14 फरवरी को ही कर दिया था मगर बकाया 14 समितियों का गठन पिछले 10 माह से लटकया हुआ था नवगठित कमेटियों में से प्रभावी कमेटियों के चेयरमैन केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर समर्थक पार्षद को बनाया गया है सिर्फ एक प्रभावी समिति के चेयरमैन बडखल की विधायक सीमा त्रिखा के समर्थक पार्षद जसवंत सिंह को बनाया गया है

पार्षद जितेंद्र यादव और अजय बैसला महेंद्र सरपंच सहित निर्दलीय दीपक चौधरी को इन समितियों में हम स्थान मिला है पार्षद महिला ममता चौधरी ,गीता रक्षवाल , सुमन भारती, को भी तीन अलग-अलग समितियों का  चेयरपर्सन बनाया गया है भाजपा प्रत्याशी महेश गोयल को हराकर चुनाव जीते निर्दलीय पार्षद दीपक चौधरी को केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर खेल से संबंधित होने का फायदा मिला और उन्हें बल्लभगढ़ जोन में तोड़फोड़ समिति का चेयरमैन बनाया गया है 

ये बनी समितियां:
समाज कल्याण समिति अध्यक्ष बानने पर बीर सिंह नैन ने केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर  और विधायक सीमा त्रिखा ,मेयर सुमन बाला और सिनिएर डिप्टी मेयर देवेंदर चौधरी , डिप्टी मेयर मनमोहन गर्ग का धन्यवाद किया वीर सिंह नैन ने बताया की में इस पद की गरिमा बनाए रखते हुए अपने साथियों के साथ मिलकर शहर एव निगम के हित में काम करूगा  I 


प्रशासनिक समिति : मनोज नासवा अध्यक्ष, छत्रपाल उपाध्यक्ष, मनवीर भडाना , प्रियंका चौधरी, जितेंद्र भड़ाना सदस्य एवं प्रशासनिक अधिकारी सचिव I  

समाज कल्याण समिति :वीर सिंह नैन अध्यक्ष, नरेश नंबरदार उपाध्यक्ष ,दीपक चौधरी, दीपक यादव, सुभाष आहूजा सदस्य I  

सतकर्ता समिति : जितेंद्र यादव अध्यक्ष, हेमा चौधरी उपाध्यक्ष ,और सदस्य सपना डागर, कुलबीर तेवतिया ,दीपक चौधरी, और सचिव रहेंगे मुख्य अभियंता I  

भवन वास सड़क समिति:  ममता चौधरी अध्यक्ष ,जयवीर खटाना उपाध्यक्ष ,विकास भारद्वाज, जितेंद्र भडाना  ,नरेश नंबरदार सदस्य व मुख्य अभियंता सचिव I  
नगर निगम प्रशासनिक समिति के अध्यक्ष नियुक्त मनोज नासवा

नगर निगम प्रशासनिक समिति के अध्यक्ष नियुक्त मनोज नासवा

फरीदाबाद: 13 दिसम्बर I दस माह के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार महापौर सुमन बाला ने नगर निगम की बकाया 14 समितियों को गठन कर दिया निगम एक्ट के अनुसार संविदा समिति सहित कुल 15 समितियां बनाई जाती हैं विद संविदा समिति का गठन महापौर ने 14 फरवरी को ही कर दिया था मगर बकाया 14 समितियों का गठन पिछले 10 माह से लटकया हुआ था नवगठित कमेटियों में से प्रभावी कमेटियों के चेयरमैन केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर समर्थक पार्षद को बनाया गया है सिर्फ एक प्रभावी समिति के चेयरमैन बडखल की विधायक सीमा त्रिखा के समर्थक पार्षद जसवंत सिंह को बनाया गया है

पार्षद जितेंद्र यादव और अजय बैसला महेंद्र सरपंच सहित निर्दलीय दीपक चौधरी को इन समितियों में हम स्थान मिला है पार्षद महिला ममता चौधरी ,गीता रक्षवाल , सुमन भारती, को भी तीन अलग-अलग समितियों का  चेयरपर्सन बनाया गया है भाजपा प्रत्याशी महेश गोयल को हराकर चुनाव जीते निर्दलीय पार्षद दीपक चौधरी को केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर खेल से संबंधित होने का फायदा मिला और उन्हें बल्लभगढ़ जोन में तोड़फोड़ समिति का चेयरमैन बनाया गया है 

ये बनी समितियां:

 प्रशासनिक समिति अध्यक्ष बानने पर मनोज नासवा ने केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर  और विधायक सीमा त्रिखा ,मेयर सुमन बाला और सिनिएर डिप्टी मेयर देवेंदर चौधरी ,दीप्ती मेयर मनमोहन गर्ग का धन्यवाद किया मनोज नासवा ने बताया की में इस पद की गरिमा बनाए रखते हुए अपने साथियों के साथ मिलकर शहर एव निगम के हित में काम करूगा  I 

इस मोके पर हरिकिशन वर्मा ,गुलशन भाटिया ,गौरव बत्रा ,कमल चंदना ,देवकी नंदन ,अनिल मेहदीरत्ता ,यशपाल गुगलानी ,संजय मखीजा , अमित आहूजा ,राजू शोय्रण ,हरीश दुआ ,सतीश खत्री इन सब ने मनोज नासवा को प्रशासनिक समिति अध्यक्ष बानने पर केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर  और विधायक सीमा त्रिखा ,मेयर सुमन बाला का धन्यवाद किया I  

प्रशासनिक समिति : मनोज नासवा अध्यक्ष, छत्रपाल उपाध्यक्ष, मनवीर भडाना , प्रियंका चौधरी, जितेंद्र भड़ाना सदस्य एवं प्रशासनिक अधिकारी सचिव

समाज कल्याण समिति :वीर सिंह नैन अध्यक्ष, नरेश नंबरदार उपाध्यक्ष ,दीपक चौधरी, दीपक यादव, सुभाष आहूजा सदस्य

सतकर्ता समिति : जितेंद्र यादव अध्यक्ष, हेमा चौधरी उपाध्यक्ष ,और सदस्य सपना डागर, कुलबीर तेवतिया ,दीपक चौधरी, और सचिव रहेंगे मुख्य अभियंता

भवन वास सड़क समिति:  ममता चौधरी अध्यक्ष ,जयवीर खटाना उपाध्यक्ष ,विकास भारद्वाज, जितेंद्र भडाना  ,नरेश नंबरदार सदस्य व मुख्य अभियंता सचिव

Friday, 1 December 2017

 सैनिक कालोनी में स्टिल्ड़ पार्किंग एरिया में बने अवैध फ्लैटों पर तोफ फोड़ की कार्यवाही जारी

सैनिक कालोनी में स्टिल्ड़ पार्किंग एरिया में बने अवैध फ्लैटों पर तोफ फोड़ की कार्यवाही जारी

फरीदाबाद: 1 दिसम्बर : फरीदाबाद नगर निगम ने आज सैनिक कालोनी में स्टिल्ड़ पार्किंग एरिया में अवैध रूप से बने घरो को तोड़ना शुरू कर दिया है. इस मौके पर प्रशासन के साथ भारी पुलिस बल मौजूद था. गौरतलब है की सैनिक कालोनी सोसाइटी ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर स्टिल्ड़ पार्किंग एरिया में बने अवैध फ्लैटों का मुद्दा उठाया था जिस पर हाईकोर्ट ने निगम प्रशासन को कार्यवाही करने के आदेश दिए थे. इन्ही आदेशों के तहत आज प्रशासन ने अवैध फ्लैटों पर कार्यवाही शुरू कर दी. 

अमरदीप जैन - एसडीएम  गौरतलब है की सैनिक कालोनी में प्रत्येक फ्लैट्स के नीचे स्टिल्ड़ पार्किंग एरिया छोड़ा गया था लेकिन बिल्डरों ने मुनाफ़ा कमाने के लिए स्टिल्ड़ पार्किंग एरिया में भी फ़्लैट बनाकर बैच दिए. जिसके चलते पूरी कालोनी का नक्शा ही बिगड़ गया. इस पर सैनिक कालोनी सोसाइटी ने  हाईकोर्ट में याचिका दायर कर स्टिल्ड़ पार्किंग एरिया में बने अवैध फ्लैटों का मुद्दा उठाया था जिस पर हाईकोर्ट ने निगम प्रशासन को कार्यवाही करने के आदेश दिए थे. इन्ही आदेशों के तहत आज प्रशासन ने अवैध फ्लैटों पर कार्यवाही शुरू कर दी. आज तोड़े जा रहे जायदातर वह फ्लैट्स है जो बंद पड़े थे और उनमे कोई नहीं रह रहा था. ऐसे फ्लैटों की संख्या हजारो में बतायी जा रही है और निगम द्वारा की जा रही यह एक बड़ी कार्यवाही मानी जा रही है. अभी ऐसे बहुत से पार्किंग एरिया में बने अवैध फ्लैट्स है जिनमे लोग रह रहे है ऐसे में इन लोगो में अपने आशियाना उजड़ने को लेकर हड़कंप मचा हुआ है. फिलहाल खाली पड़े फ्लैटों को ही तोड़ा जा रहा है और जब उन फ्लैटों पर कार्यवाही होगी जिनमे लोग रह रहे है तब विरोध की स्तिथि देखने को मिल सकती है. कार्यवाही कर रहे एसडीएम ने बताया की यह कार्यवाही हाईकोर्ट के आदेशों पर की जा रही है और यह तब तक जारी रहेगी जब तक सभी फ्लैटों को तोड़ नहीं दिया जाता। 


Tuesday, 21 November 2017

सफाई कर्मचारियों ने अधिकारियों पर लगाये आरोप कहा कि घर के काम करवालो या फिर शहर की सफाई करवा लो

सफाई कर्मचारियों ने अधिकारियों पर लगाये आरोप कहा कि घर के काम करवालो या फिर शहर की सफाई करवा लो

फरीदाबाद, 21 नवम्बर -नगर निगम फरीदाबाद के सफाई कर्मचारियों ने शहर में सफाई करने के लिये पर्याप्त उपकरणों और सफाई कर्मचारियों की मांग को लेकर पूर्व सीपीएस एवं बडखल विधायक सीमा त्रिखा के निवास पर हरियाणा सरकार के खिलाफ जोरदार प्रर्दशन किया, जहां उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि अधिकारी या तो उनसे अपने घरों में बच्चे खिलवालें, कुत्ते घुमवालें और घर का काम करवालें  या फिर शहर की सफाई करवालें, कर्मचारी सफाई करना चाहते हैं मगर उपकरण न होने और अधिकारियों के निजी काम करने की बजह से वो सफाई नहीं कर पा रहे हैं।

 देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत के सपने को अधिकारी पलीता लगा रहे है, अधिकारी नहीं चाहते कि देश में स्वच्छता रहे, ऐसा आरोप फरीदाबाद नगर निगम सफाई कर्मचारियों ने लगाते हुए पूर्व सीपीएस व बडखल विधानसभा क्षेत्र की विधायक सीमा त्रिखा के निवास पर हरियाणा सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की। कर्मचारियों ने सीमा त्रिखा की अनुपस्थिति में उनके पीए सतपाल छावडा को ज्ञापन सोंपा। कर्मचारियों ने शहर में सफाई करने के लिये पर्याप्त उपकरणों और सफाई कर्मचारियों की भर्ती की मांग को लेकर प्रदर्शन किया।

इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए नगर पालिका सफाई कर्मचारियों के प्रदेश अध्यक्ष नरेश शास्त्री ने कहा कि कर्मचारियों के शहर में सफाई करने के लिये न तो झाडू है और नही कस्सी व रैहडी, आखिर बिन उपकरणों के कर्मचारी कैसे सफाई करें और कैसे कूडे उठायें इतना ही नहीं कर्मचारियों की संख्या कम होने की बजह से शहर में सफाई नहीं हो पा रही है न तो सरकार कर्मचारियों की भर्ती कर रही है और न ही सफाई के उपकरण दे रही है। इतना ही नहीं शास्त्री ने अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि अधिकारी नहीं चाहते कि शहर की सफाई हो क्योंकि सैंकडों कर्मचारी तो अधिकारियों की कोठी और दफ्तरों में उनके पर्सनल काम कर रहे हैं। इस लिये उनकी मांग है कि उन्हें उपकरण दिलवाये जाये और कर्मचारियों की भर्ती की जाये। अगर जल्द उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो आगे वो केबिनेट मंत्री विपुल गोयल को ज्ञापन सोंपेगे।

 नरेश शास्त्री, नगर पालिका सफाई कर्मचारी प्रदेश अध्यक्ष।