Showing posts with label Haryana News. Show all posts
Showing posts with label Haryana News. Show all posts

Friday, 13 September 2019

सोमांश सिंह की घातक गेंदबाजी से फरीदाबाद जीता

सोमांश सिंह की घातक गेंदबाजी से फरीदाबाद जीता

 फरीदाबाद  : 13 सितम्बर I  ग्रेटर फरीदाबाद स्लेजहेमर क्रिकेट मैदान पर इंटर डिस्ट्रिक्ट अंडर 14 क्रिकेट मैच प्रतियोगिता का आयोजन हुआ और फरीदाबाद और  महेंद्रगढ़ के बीच मैच खेला गया ,मैन ऑफ द मैच सोमांश सिंह  को दिया गया । 

 इस मौके पर डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन के प्रेसिडेंट रजत भाटिया और महासचिव राजीव यादव ने टीम को जीत की शुभकामनाएं दी डीसीए फरीदाबाद टीम के बीसीसीआई लेवल ए कोच पवन अधाना भी उपस्थित थे । 

यह मैच 50 - 50 ओवर का था I फरीदाबाद ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का निर्यण लिया टीम की ओर से बल्लेबाजी करते हुए टीम ने  50 ओवर में 5 विकेट पर 350 रन बनाए टीम की और बल्लेबाजी करते हुए जतिन ने नाबाद 77 रन , करन रुतेला ने नाबाद 73 , आलोक यादव ने 61 रन , संदीप परिहार ने 50 रन , यश अधाना ने 15 रन  बनाए । 

महेंद्रगढ़ की  और से गेंदबाजी करते हुए तिलक ने 2 विकेट ओर दीपांश ने 2 विकेट , देवराज ने 1 विकेट ली । 

इस लक्ष्य का पीछा करते हुए महेंद्रगढ़ की टीम ने 19 ओवर में 10 विकेट पर 40 रन बनाकर हार का सामना करना पड़ा । टीम की और से बल्लेबाजी करते हुए देवराज 12 रन , सोमाय ने 6 रन , निशांत ने 5 रन बनाए । फरीदाबाद की और से  गेंदबाजी करते हुए सोमांश सिंह ने 8 विकेट , लक्की खान और यश  ने 1-1 विकेट  ली   फरीदाबाद ने महेंद्रगढ़ को  310 रन से हराया ।
यातायात के नए नियमों के तहत फरीदाबाद पुलिस ने चलाया जागरूक अभियान : केके राव

यातायात के नए नियमों के तहत फरीदाबाद पुलिस ने चलाया जागरूक अभियान : केके राव

फरीदाबाद :13 सितंबर I जागरूक अभियान के तहत फरीदाबाद ट्रैफिक पुलिस आज दिनांक 13 से 15 सितंबर तक करेगी यातायात चालकों को जागरूक। माननीय पुलिस महानिदेशक हरियाणा श्री मनोज यादव के आदेश अनुसार एवं श्रीमान पुलिस आयुक्त श्री केके राव के निर्देश पर फरीदाबाद जिले में यातायात नियमों के प्रति चालकों को जागरूक करने का अभियान चलाया गया है।

अभियान के पहले दिन डीसीपी ट्रेफिक, एस एच ओ ट्रैफिक, ट्रैफिक ZO, एवं अन्य ट्रैफिक पुलिस कर्मियों ने रोड सेफ्टी ऑर्गेनाइजेशन कमेटी एवं अन्य सामाजिक संस्थाओं के साथ मिलकर यातायात के नए नियमों से संबंधित चालकों को जागरूक किया है।

जागरूक अभियान में ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाले चालकों को रोककर चालान करने की बजाय उनको हरियाणा मोटर अधिनियम 2019 के बारे में बताया जा रहा है।

ताकि वाहन चालक ऐसी गलतियों को दोबारा से ना दोहराए।

जागरूक अभियान के तहत ट्रैफिक पुलिसकर्मी एवं अन्य सामाजिक संस्थाएं ने फ्लेक्स बोर्ड, पेपर, सोशल मीडिया, रैली, इत्यादि के माध्यम से वाहन चालको को जागरूक कर रहे हैं।

जागरूकता के लिए कॉलेज के छात्र और अन्य प्रतिष्ठित व्यक्तियों को सड़कों पर ट्रैफिक चेक करते समय उल्लंघनकर्ताओं को शिक्षित करने में पुलिस की सहायता करने के लिए स्वैच्छिक आधार पर शामिल भी किया गया है।

पुलिस आयुक्त श्रीमान केके राव ने कहा कि हालांकि संशोधित अधिनियम के तहत नए प्रावधानों के बारे में काफी संख्या में लोग जागरूक भी हैं, फिर भी हमारा उद्देश्य फरीदाबाद में प्रत्येक वाहन चालक को कवर कर उन्हें नए मोटर वाहन अधिनियम के तहत नियमों के बदलाव बारे जागरूक करना है जोकि निश्चित रूप से वाहन चालकों को सभी प्रकार से अधिक सुरक्षा प्रदान करता है।
 
पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि आज अभियान का पहला दिन था यह अभियान दिनांक 15 सितंबर तक चलाया जाएगा।

Wednesday, 11 September 2019

DCP Sanjiv Yadav wins Bronze medal in Germany world masters shooting

DCP Sanjiv Yadav wins Bronze medal in Germany world masters shooting

 NEW DELHI : 12 SEPT : Delhi Police special cell's famous DCP Sanjeev Kumar Yadav has won a bronze medal in "World Masters Shooting Sports", achieving great success in shooting. This is the first World Masters Shooting Sports Championship going on in the "Suhl" city of Germany, and Sanjeev Yadav representing India. Shooters above the age of forty-five years are taking part in this competition from all over the world.

   Sanjeev Kumar Yadav won the Bronze medal in the 25 meter center fire pistol event with a score of 558 points, the gold medal of the event was won by Berlett Tolsten of Germany and the silver medal was won by Trulson Jon of Denmark. The competition will run from 8 to 15 September. Sanjeev Yadav will also participate in the 50 meter free pistol event tomorrow.

   Recently, the film "Batla House" was made on DCP Sanjeev Yadav which was a super hit at the box office, in this film John Abraham played the role of Sanjeev Kumar Yadav. These days Sanjeev is trying his hand at shooting sports also.
ऑल इंडिया रविंद्र फागना T-20 क्रिकेट टूर्नामेंट :  मैन ऑफ द मैच अंडर-19 प्लेयर मयंक डागर को मिला

ऑल इंडिया रविंद्र फागना T-20 क्रिकेट टूर्नामेंट : मैन ऑफ द मैच अंडर-19 प्लेयर मयंक डागर को मिला

फरीदाबाद : 11 सितम्बर  7th ऑल इंडिया रविंद्र फागना T-20 क्रिकेट टूर्नामेंट, पाली स्थित रविंद्र फागना क्रिकेट एकेडमी में इनकम टैक्स और फ्रेंड्स क्रिकेट क्लब (दिल्ली) के बीच खेला गया. फ्रेंड्स क्रिकेट क्लब ने 5 विकेट से इनकम टैक्स को हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया. और इस मैच के मैन ऑफ द मैच अंडर-19 प्लेयर मयंक डागर रहे.

फ्रेंड्स क्रिकेट क्लब ने टॉस जीता लेकिन पहले बल्लेबाजी का मौका इनकम टैक्स को दिया जिसने 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 147 रन बना पाया. टीम के बल्लेबाज जयंत यादव ने 41 रन बनाए और अरुण चपराना ने 26 रन बनाए. फ्रेंड्स क्रिकेट क्लब की तरफ से गेंदबाजी करते हुए मयंक डागर ने 4 ओवर में 15 रन देकर सबसे अधिक 4 विकेट लिए जबकि दीपक कुमार ने 4 ओवर में 27 रन देकर 2 विकेट लिए. फ्रेंड्स क्रिकेट क्लब ने बैटिंग करते हुए 19.2 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 150 रन बनाया. बल्लेबाज भारत सिंधवानी ने 54 रन बनाए और पारस डागर ने 35 रन बनाए. इनकम टैक्स की तरफ से गेंदबाजी करते हुए अरुण चपराना ने 2 विकेट लिए और अंकित चौधरी ने 1 विकेट लिए.



7th ऑल इंडिया रविंद्र फागना T-20 क्रिकेट टूर्नामेंट पाली के रविंद्र फागना क्रिकेट एकेडमी में वशिष्ठ विद्यासदन क्रिकेट क्लब और सेहगल एंड चौधरी एक्स आई के बीच खेले गए मैच में, वशिष्ठ विद्यासदन क्रिकेट क्लब ने 2 विकेट से मैच जीत कर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया और मैन ऑफ द मैच आकाश अंतिल को दिया गया.

सेहगल एंड चौधरी ने टॉस जीता लेकिन पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया, इसलिए वशिष्ठ विद्यासदन पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 226 रन बनाया. बल्लेबाज आकाश अंतिल ने 54 गेंदों पर 104 रनों की जबर्दस्त पारी खेले जबकि साथी खिलाड़ी चंद्रपाल सैनी ने 53 रन बनाए. सेहगल एंड चौधरी की तरफ से गेंदबाजी करते हुए विशाल चौधरी, आर्यन चौधरी, साकिब आलम और मोहम्मद सुल्तान अंसारी ने 1-1 विकेट लेने में सफलता हासिल की. सेहगल एंड चौधरी ने अपनी बारी खेलते हुए 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 224 रन बनाया. बल्लेबाज गौरव तोमर ने 49 गेंदों पर 90 रन बनाए जबकि मोहम्मद सुल्तान अंसारी ने 19 गेंदों पर 39 रन बनाए. विशिष्ट विद्यासदन क्रिकेट क्लब की तरफ से गेंदबाजी करते हुए कपिल राजपूत ने 41 रन देकर 2 विकेट लिए रोहित दुआ और आकाश अंतिल ने 1-1 विकेट लिए.

Sunday, 1 September 2019

मोटर वाहन अधिनियम में हुए नए बदलाव 1 सितंबर से लागू :  के के राव पुलिस आयुक्त

मोटर वाहन अधिनियम में हुए नए बदलाव 1 सितंबर से लागू : के के राव पुलिस आयुक्त

फरीदाबाद : 1 सिंतबर । कानून में हुए नए बदलाव  के लिए फरीदाबाद ट्रैफिक पुलिस द्वारा 1 सितंबर से 15 सितंबर तक लोगों को किया जाएगा जागरूक।

मीडिया के माध्यम से  सर्वसाधारण व वाहन चालकों  को सूचित किया जाता है कि जैसा कि आप जानते हैं, मोटर वाहन (संशोधन) अधिनियम 2019, जिसे 9 अगस्त 2019 को प्रख्यापित किया गया था,  आज 1-सितंबर -2019 से लागू होगा, जैसा कि भारत सरकार द्वारा अधिसूचित अधिसूचना 28-अगस्त  -2019 है।

 नए संशोधनों ने मूल अधिनियम को काफी हद तक बदल दिया है और कई दंडों के लिए जुर्माना भी बढ़ा दिया गया है।  इससे पुलिस विभाग की जिम्मेदारी बढ़ जाती है कि वह न केवल इसे उचित तरीके से लागू करे, बल्कि बड़े पैमाने पर लोगों को शिक्षित करने के साथ-साथ यातायात पुलिसकर्मियों को भी इसके बारे में बताए।

श्रीमान के के राव पुलिस आयुक्त महोदय के निर्देश अनुसार, मोटर व्हीकल एक्ट मे हुए नए कानूनी बदलाव के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए 1सितम्बर 2019 से 15 सितंबर  2019 तक , दो सप्ताह के लिए फरीदाबाद पुलिस व फरीदाबाद ट्रैफिक पुलिस द्वारा आरएसओ व अन्य कानून प्रिय बुद्धिजीवियों की सहायता से जन जागरूकता अभियान शुरू किया गया है।

साथ ही नए प्रावधानों के बारे में इस तरह के कर्तव्यों के लिए तैनात यातायात पुलिसकर्मियों के लिए शिक्षित किया जायेगा।

पुलिस प्रवक्ता की वाहन चालको से अपील, नए कानून लागू होने के बाद यातायात नियमों के उल्लंघन करने वालों को भारी आर्थिक दंड का सामना करना पड़ेगा, इसलिए आर्थिक दंड से बचने के लिए व स्वयं की सुरक्षा और अपने परिवार की खुशी के लिए यातायात नियमों का पालन करें।

Saturday, 31 August 2019

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के मशहूर डीसीपी सजीव कुमार यादव ने गोल्ड जीता

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के मशहूर डीसीपी सजीव कुमार यादव ने गोल्ड जीता

नई दिल्ली : 31 अगस्त I पैंतीसवीं दिल्ली स्टेट शूटिंग चैंपियनशिप की राइफल पिस्टल स्पर्द्धाओं का बीती शाम समापन हो गया। एशिया की सबसे बड़ी शूटिंग रेंज पर दिल्ली स्टेट राइफल एसोसिएशन ने इस प्रतियोगिता का आयोजन किया जिसमें युवा निशानेबाज़ों ने कई नए रिकॉर्ड कायम किये, अर्पित गोयल ने रैपिड फायर पिस्टल इवेंट में नैशनल रिकॉर्ड तोड़ते हुए 589 स्कोर किया। 

डीएसआरए के सचिव राजीव शर्मा ने बताया कि इस बार दिल्ली स्टेट शूटिंग में बारह सौ से ज़्यादा निशानेबाज़ों ने भाग लिया है, ये संख्या पिछले साल की तुलना में तकरीबन दोगुनी है। इस बार बारह साल से कम उम्र के बच्चों का मैच भी कराया गया है। दिल्ली में लगातार निशानेबाज़ी का क्रेज़ बढ़ रहा है, युवा निशानेबाज़ों में हर्ष गुप्ता ने तरह गोल्ड समेत मेडल जीते, शौर्य सरीन ने नौ गोल्ड सहित तरह मेडल जीते और अग्नेय कौशिक ने कुल दस मेडल जीतकर सबको आकर्षित किया।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के मशहूर डीसीपी सजीव कुमार यादव ने भी इस मुकाबले में एक गोल्ड समेत तीन मेडल जीते। उन पर बनी फिल्म बाटला हाउस हाल ही में रिलीज़ हुई है, जिसमें उनकी भूमिका जॉन अब्राहम ने निभाई है। संजीव अगले महीने जर्मनी में होने जा रही मास्टर्स शूटिंग चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करने जा रहे हैं। 

दिल्ली सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री हारून यूसुफ ने यहाँ निशानेबाज़ों को मेडल पहनाकर हौसला अफजाई की और खुद भी शूटिंग सीखने की इच्छा जताई। 

दिल्ली के राज्यसभा सांसद संजय सिंह यहां निशानेबाज़ों को सम्मानित करने पहुंचे तो निशानेबाज़ी में भी हाथ आज़माया, और राइफल से सटीक निशाना लगाया। उन्होंने कहा कि अभिनव बिंद्रा ने ओलिम्पिक में गोल्ड मेडल जीतकर देश को सम्मान दिलाया और लगातार भारत के निशानेबाज़ दुनियाभर में देश का नाम रौशन कर रहे हैं। 

दिल्ली राज्य राइफल संघ के संयुक्त सचिव और पत्रकार फरीद अली ने कहा कि दिल्ली में जिस तरह निशानेबाज़ी के खेल में नौजवान आगे आ रहे हैं और लगातार संख्या बढ़ रही है, हमें दिल्ली में और शूटिंग रेंज बनानी चाहिए। दिल्ली में डॉ कर्णी सिंह रेंज एक विश्व स्तर की शूटिंग रेंज है, लेकिन यहां आए दिन कोई न कोई प्रतियोगिता, या नैशनल ट्रेनिंग कैम्प चलते रहते हैं, साथ ही यहां देशभर से निशानेबाज़ ट्रेनिंग के लिए आते हैं, खास तौर से उत्तर भारत के राज्यों से। जिससे नए निशानेबाज़ों को अभ्यास करने में दिक्कत होती है। फरीद ने सांसद संजय सिंह से अपनी मांग रखते हुए कहा कि वो दिल्ली सरकार से एक और बड़ी शूटिंग रेंज बनाने की सिफारिश करें, जहाँ दिल्ली के निशानेबाज़ों को तरजीह दी जाए, ताकि दिल्ली से और ज़्यादा विश्व स्तरीय निशानेबाज़ तैयार हो सकें।

10 मीटर राइफल वुमन स्पर्धा में ऐश्वर्या गुप्ता ने 622.2 अंकों के साथ स्वर्ण पदक जीता, नियति खन्ना ने 617.7 अंकों के साथ रजत पदक जीता, तो पारुल शर्मा को 617.4 स्कोर पर कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। इस इवेंट की यूथ कैटेगरी में ऋतंबरा दास ने 609 स्कोर करके गोल्ड मेडल जीता, जबकि धारिणी शर्मा ने भी बराबर स्कोर किया लेकिन उन्हें रजत पदक मिला, दीक्षा माथुर 605.3 स्कोर करके ब्रोज़ मेडल जीत पायीं। 

10 मीटर पिस्टल मेन इवेंट में हर्ष गुप्ता ने 576, अनमोल अरोड़ा ने 575 और शौर्य सरीन ने 574 स्कोर करके क्रमशः गोल्ड, सिल्वर और ब्रॉन्ज़ मेडल जीता।

25 मीटर सेंटर फायर पिस्टल इवेंट में अर्पित गोयल ने गोल्ड मेडल, अग्नेय कौशिक ने सिल्वर और स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव कुमार यादव ने ब्रोज़ मेडल जीता, इन्होने क्रमशः 564, 559 और 556 स्कोर किया। 

25 मीटर स्पोर्ट पिस्टल इवेंट में इशिका सिंह ने स्वर्ण पदक जीता, लवलीन कौर ने रजत पदक और महिमा सिंह ने कांस्य पदक जीता, इनका स्कोर 566, 558 और 554 रहा। 

50 मीटर थ्री पोज़िशन राइफल मेन इवेंट में तरुण यादव, रितेश तंवर और अभी कुमार गोयल ने गोल्ड सिल्वर और ब्रॉन्ज़ मेडल जीते, इन तीनों ने 1146, 1132 और 1124 स्कोर किया। 

दिल्ली हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस मनमोहन सरीन, विधायक पवन शर्मा और पूर्व आईआरएस अधिकारी रहे पूरन चंद पांडे भी दिल्ली के निशानेबाज़ों की हौसला अफजाई के लिए यहाँ पहुंचे। डीएसआरए की वाइस चेयरमैन शकुन भुगरा, ट्रेजरर जसपाल सिंह मारवाह, गवर्निंग बॉडी मेंबर ईशविंदरजीत सिंह, अनुपम कमल, समरीन सैयद, फलक शेर आलम, गौरव सरीन, अचल सहगल, राजेंद्र शर्मा के साथ रेंज ऑफिसर दीपक कुमार दुबे, गंगाधर शर्मा, अमित कोसलिया, लवलीन कौर, नीता शर्मा, नरेश चौधरी और रविंदर कुमार भी पदक वितरण समारोह में मौजूद रहे। 

Wednesday, 28 August 2019

गौतम भारद्वाज ने 31 वी सब जूनियर मैन बॉक्सिंग चैंपियनशिप प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता

गौतम भारद्वाज ने 31 वी सब जूनियर मैन बॉक्सिंग चैंपियनशिप प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता

फरीदाबाद : 29 अगस्त I डीएवी एनटीपीसी के गौतम भारद्वाज ने 31 वी सब जूनियर मैन बॉक्सिंग चैंपियनशिप जोकि दुर्गापुर वेस्ट बंगाल में 19 अगस्त से 25 अगस्त तक हुई प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतकर अपने जिले व स्कूल का नाम रोशन किया है गौतम भारद्वाज डीएवी एनटीपीसी स्कूल का कक्षा 9 का छात्र है डीएवी एनटीपीसी की प्रिंसिपल अलका अरोड़ा ने गौतम भारद्वाज का सम्मान किया तथा उसके उज्जवल भविष्य की कामना की डीएवी एनटीपीसी की प्रिंसिपल अलका अरोड़ा ने बताया की डीएवी एनटीपीसी के बहुत से खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय स्तर पर अपना नाम रोशन किया है और गौतम भारद्वाज 3 सितंबर को होने वाले हरियाणा स्कूल गेम्स मैं भी भाग लेगा और इसी स्कूल के करण सेन तनीषा लांबा व कशिश मेहता भी डीएवी एनटीपीसी की तरफ से हरियाणा स्कूल गेम्स में भाग लेंगे I 

 उन्होंने बताया की इसी साल अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर राजीव गोदारा ने इसी स्कूल में शारीरिक शिक्षा अध्यापक के तौर पर स्कूल को ज्वाइन किया है और राजीव गोदारा अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर की वजह से हमारा स्कूल बॉक्सिंग में तथा अन्य गेम्स में आने वाले समय में बहुत सारे मेडल हमारे स्कूल की शोभा बढ़ाएंगे और उन्होंने बताया की डीएवी एनटीपीसी स्कूल में बच्चों के लिए खेल की सभी सुविधाएं उपलब्ध है और खिलाड़ियों को जो भी सुविधाएं चाहिए होती हैं वह हम उन्हें जल्द से जल्द प्राप्त करवाते हैं और उनकी शिक्षा का भी बहुत ध्यान रखा जाता है ताकि उनके खेल में किसी प्रकार का अवरोध उत्पन्न ना हो डीएवी एनटीपीसी स्कूल प्रिंसिपल अलका अरोड़ा जीने खिलाड़ियों के लिए स्कूल में बहुत सारी स्कीम्स बना रखी है जोकि बच्चों की आर्थिक सहायता मैं भी सहयोग मिलता है

Thursday, 8 August 2019

एशियन बना क्षेत्र का पहला अस्पताल जिसे मिली ब्रेन डेथ किडनी ट्रांसप्लांट की अनुमति

एशियन बना क्षेत्र का पहला अस्पताल जिसे मिली ब्रेन डेथ किडनी ट्रांसप्लांट की अनुमति

 फरीदाबाद  8 अगस्त 2019 - एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज अस्पताल को पीजीआई  रोहतक ने ब्रेन डेड यानि जिन लोगों का दिमाग मृत घोषित कर दिया जाता है ऐसे लोगों के परिवार जन  की आज्ञा से किडनी ट्रांसप्लांट करने की अनुमति दे दी गई है I

 एशियन अस्पताल में मरीज को ब्रेन डेड  घोषित करने के लिए एक कमिटी तैयार की जाएगी I व्यक्ति को ब्रेन स्ट्रोक या एक्सीडेंट की स्थिति में यह कमिटी दिमागी टेस्ट करके उससे ब्रेन डेड घोषित करेगी I इस कमिटी में अस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट, आई सी यु हेड, न्यूरोलॉजिस्ट, फिजिशियन, एनेस्थीसिया और जनरल सर्जन शामिल होंगे I 

ब्रेन डेड घोषित करने के बाद उसके परिवार जनो से अनुमति ली जाएगी, उनकी अनुमति पर अस्पताल उस व्यक्ति की किडनी किसी और मरीज (जिसकी किडनी फेल हो चुकी है ) उसे ट्रांसप्लांट कर सकता हैI 
जिले का कोई भी अस्पताल सरकारी या गैर सरकारी ब्रेन डेड व्यक्ति की जानकारी एशियन अस्पताल को दे सकता है, जानकारी मिलने के बाद एशियन अस्पताल की कमिटी  की टीम के डॉक्टर परिवार की अनुमति मिलने पर उनकी किडनी दान करा सकते हैं I 

क्या है ब्रेन डेड ?
ब्रेन डेथ एक ऐसे स्तिथि हैं जिसमे व्यक्ति का दिमाग काम करना बंद कर देता है लेकिन उसके शरीर के बाकी अंग सुचारु रूप से काम कर रहे होते हैं जिसे आम भाषा में कोमा की स्तिथि  कहा जाता है I

Sunday, 28 July 2019

सांसद अनिल बलूनी के प्रयासों से फरीदाबाद में बनेगा उत्तराखंड भवन - मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल खट्टर ने दी सहर्ष स्वीकृति

सांसद अनिल बलूनी के प्रयासों से फरीदाबाद में बनेगा उत्तराखंड भवन - मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल खट्टर ने दी सहर्ष स्वीकृति

नई दिल्ली 28 जुलाई I  उत्तराखंड से राज्यसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी और हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी की आज हरियाणा में निवास कर रहे प्रवासियों के विषयों पर दिल्ली में मुलाकात हुयी। श्री बलूनी ने मुख्यमंत्री खट्टर से अनुरोध किया कि फरीदाबाद और उसके निकट क्षेत्रों और हरियाणा के अन्य शहरों में भारी संख्या में उत्तराखंड के प्रवासी निवास करते हैं।

 सांसद बलूनी ने अनुरोध किया कि यहां के प्रवासी लंबे समय से अपने सामाजिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए "उत्तराखंड भवन" के निर्माण हेतु  प्रयासरत हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री जी से उक्त भवन हेतु भूखंड देने का अनुरोध किया, जिस पर तत्काल  मुख्यमंत्री श्री खट्टर ने सहमति प्रदान की।

        सांसद बलूनी ने फरीदाबाद से कोटद्वार और रामनगर तक बसों के संचालन हेतु मुख्यमंत्री खट्टर को धन्यवाद दिया। श्री खट्टर ने कहा की हरियाणा में रहने वाले प्रवासियों को  अगर अन्य नगरों तक भी बसों की आवश्यकता होगी तो विचार किया जाएगा।

             सांसद बलूनी ने कहा  कि कुछ दिन पूर्व  फरीदाबाद, पलवल बदरपुर बॉर्डर और बल्लभगढ़ के प्रवासियों ने फरीदाबाद से उत्तराखंड के लिए सीधे बस बस संचालन और  उत्तराखंड भवन हेतु भूमि दिलाने का आग्रह किया था, जिसके बाद कोटद्वार तक सीधी बस सेवा का संचालन प्रारंभ हो भी चुका है, जिसे कुछ दिन पूर्व सांसद बलूनी ने हरी झंडी दिखाई थी। 

           प्रवासी समाज की संस्थाओं ने सांसद बलूनी का आभार प्रकट किया है और सांसद बलूनी द्वारा प्रारंभ किए गए 'अपना वोट-अपने गांव' अभियान की भूरी -भूरी प्रशंसा की और कहा अपने गांव से जुड़ने के अभियान को प्रवासी समाज के बीच विस्तार दिया जाएगा। 
पौधों से बच्चों की तरह प्यार करें : मुख्यमंत्री मनोहर लाल

पौधों से बच्चों की तरह प्यार करें : मुख्यमंत्री मनोहर लाल

फरीदाबाद, 28 जुलाई। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि पिछले तीन वर्षों में पर्यावरण संरक्षण के लिए शुरू किए गए पौधगिरी अभियान को हरियाणा में बड़ी सफलता मिली है। इस योजना के तहत हमने प्रदेश के लाखों स्कूली बच्चों को पर्यावरण संरक्षण की इस मुहिम के साथ जोड़ा है। इस वर्ष भी हमने राजकीय व निजी स्कूलों में 22 लाख विद्यार्थियों को इस योजना से जोड़ने का संकल्प लिया है। श्री मनोहर लाल रविवार को जलशक्ति अभियान के तहत फरीदाबाद के हुडा कन्वैंशन सैन्टर में फरीदाबाद नवचेतना ट्रस्ट, एचएसवीपी, फरीदाबाद नगर निगम व भारत विकास परिषद द्वारा आयोजित वृक्षारोपण अभियान एवं कला समारोह में बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित कर रहे थे। 

श्री मनोहर लाल ने कहा कि पौधों से बच्चों की तरह प्यार करें और माता पिता की तरह सेवा करें। कुछ वर्ष पश्चात यही पौधे पेड़ बनकर आपकी जीवन भर सेवा करेंगे। उन्होंने कहा कि हमने इस अभियान से जुड़ने वाले सभी कक्षा छठी से बारहवीं तक के स्कूल बच्चों से आह्वान किया कि वे अपने रोपे गए पौधे की जियो टैगिंग कर फोटो भेजें। छः माह बाद इस पौधे के साथ दोबारा फोटो भेजेंगे तो सरकार उसके खाते में 50 रूपये भेजेगी। एक साल बाद वह फिर फोटो भेजें और यह सिलसिला तीन साल तक जारी रखेंगे तो प्रत्येक बच्चे के खाते में 600 रूपये पहुंच जायेंगे। छठी कक्षा वाला एक विद्यार्थी यह सिलसिला बारहवीं कक्षा तक जारी रख सकता है। ऐसे में खेल-खेल में हम पर्यावरण सुरक्षा का यह बड़ा काम करने जा रहे हैं। 

मुख्यमंत्री ने का कि हरियाणा में मौजूदा समय में मात्र 3.5 प्रतिशत वन क्षेत्र है। जबकि कई प्रदेशों में यह 25 से 30 प्रतिशत तक है। हमें विकास की गति के साथ-साथ प्रदेश में वन्य क्षेत्र को भी बढ़ाना है। उन्होंने फरीदाबाद नवचेतना ट्रस्ट द्वारा पिछले कई सालों से पौधे वितरित करने, उनका रोपण करने व देखरेख करने के लिए संस्था को बधाई दी और कहा कि यह मानवता और भावी पीढ़ियों के लिए एक बड़ा संकल्प है। उन्होंने कहा कि हमने 2015 में बेटो बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान और उसके बाद स्वच्छ भारत अभियान के कार्यक्रमों के जरिये प्रदेश में बेहतरीन शुरूआत की और अब हमें जल संरक्षण के लिए जलशक्ति अभियान को भी सफल बनाना है। 

कार्यक्रम में उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोह लाल के नेतृत्व में होडल से डबवाली और महेन्द्रगढ़ से यमुनानगर तक समान विकास हुआ है और इसी विकास के बल पर जनता के सहयोग से भाजपा इस बार विधानसभा चुनाव में 75 बार का संकल्प पूरा करेगी। पौधा रोपण अभियान को लेकर उन्होंने कहा कि हमने फरीदाबाद में कई वर्ष पहले यह अभियान शुरू किया था और इस बार भी अरावली पर्वत श्रंखला में करोड़ों बीज डालने के साथ हमने इसे आगे बढ़ाया है। हम ढाई लाख से ज्यादा पौधे संकल्प पत्र के साथ वितरित कर रहे हैं। उन्होंने शहर के सभी उद्योगपतियों, आरडबल्यूए, सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं व प्रशासनिक विभागों से इस अभियान में मिलकर आगे बढ़ने का आह्वान किया। 

भारत विकास परिषद के राष्ट्रीय मंत्री सुरेश जैन ने हरियाणा सरकार के पौधगिरी अभियान व पर्यावरण संरक्षण को लेकर उठाये गए कदमों की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह एक बेहतरीन शुरूआत है। उन्होंने कहा कि पौधगिरी अभियान हो या फिर जल ही जीवन अभियान के तहत धान की बजाय किसानों को मक्का, चना, अरहर सहित कम पानी  में पैदा होने वाली परम्परागत फसलों की तरफ रूझान करने का संकल्प हो। उन्होंने हरियाणा में आॅरगेनिक खेती की तरफ बढ़ रहे रूझान को और अधिक आगे ले जाने के लिए मिलकर काम करने को कहा। 

इससे पहले मुख्यमंत्री ने हजारों लोगों के साथ मिलकर टाउन पार्क सैक्टर-12 में त्रिवेणी लगाकर पौधरोपण अभियान की शुरूआत की। कार्यक्रम को भाजपा के जिलाध्यक्ष गोपाल शर्मा, नवचेतना ट्रस्ट के चेयरमैन प्रशान्त भल्ला ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर विधायक सीमा त्रिखा, टेक चन्द शर्मा, मूल चन्द शर्मा, नगेन्द्र भड़ाना, चेयरमैन अजय गौड, जिला परिषद के चेयरमैन विनोद चैधरी, उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी, नगर निगमायुक्त अनीता यादव, फरीदाबाद स्मार्ट सिटी की सीईओ गरिमा मित्तल, हुडा प्रशासक श्रीमती सोनल गोयल, अतिरितक्त उपायुक्त धर्मेन्द्र सिंह, उद्योगपति केसी लखानी, एचके बत्रा, एसके सैन, शम्मी कपूर, सहित कई अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। 

Wednesday, 17 July 2019

विद्यासागर कबड्डी अकादमी के खिलाड़ी का बेस्ट प्रो कबड्डी में हुआ चयन

विद्यासागर कबड्डी अकादमी के खिलाड़ी का बेस्ट प्रो कबड्डी में हुआ चयन

फरीदाबाद 18 जुलाई । विद्यासागर स्कूल की उपलब्ध्यिों में एक और उपलब्धि शामिल हो गई है। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल तिगांव के परिसर में चल रही विद्यासागर कबड्डी अकादमी के खिलाड़ी तरूण उपाध्याय का चयन टेन स्टोटर्स द्वारा स्पोंसर्ड बेस्ट प्रो कबड्डी में हुआ है। तरूण उपाध्याय सितंबर में गोवा में लगने वाले ट्रेनिंग कैंप में हिस्सा लेंगे। तरूण की इस कामयाबी पर स्कूल के चेयरमैन श्री धर्मपाल यादव ने उन्हें मिठाई खिलाकर शुभकामनाएं दीं और आगे भी अपनी मेहनत और लगन से उन्नति करने के लिए प्रोत्साहित किया। इससे पहले भी अकादमी के खिलाड़ी प्रशांत राजपूत का चयन जस्ट कबड्डी लीग में हो चुका है। 

इसके अतिरिक्त विद्यासागर कबड्डी अकादमी की टीम नेशनल कबड्डी लीग में द्वितीय स्थान प्राप्त कर चुकी है जिसका आयोजन आगरा में २३ से २५ जून तक हुआ। गौरतलब है कि विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के परिसर में विभिन्न खेल एकेडमी चलाई जाती हैं जिसमें विद्यासागर क्रिकेट एकेडमी, आर्चरी एकेडमी, ताइक्वांडो एकेडमी एवं कबड्डी एकेडमी शामिल हैं। सभी एकेडमियों में बच्चों के हुनर को निखारने और उन्हें राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर का खिलाड़ी बनाने के लिए सभी विश्वस्तरीय सुविधाएं, ट्रेनिंग इक्यूप्मेंट, कोच एवं कोचिंग इन्वायरमेंट उपलब्ध है। कबड्डी की तरह की आर्चरी एकेडमी के कई छात्र राष्ट्रीय स्तर पर बेहतर प्रदर्शन कर चुके हैं।

Saturday, 6 July 2019

मैट्रो अस्पताल फरीदाबाद ने न्यूरोइलेक्ट्रोफिजियोलोजी (मस्तिष्क जाँच लैब) यूनिट को बनाया और अधिक अत्याधुनिक

मैट्रो अस्पताल फरीदाबाद ने न्यूरोइलेक्ट्रोफिजियोलोजी (मस्तिष्क जाँच लैब) यूनिट को बनाया और अधिक अत्याधुनिक

फरीदाबाद 6 जुलाई : मैट्रो अस्पताल फरीदाबाद में न्यूरोइलेक्ट्रोफिजियोलोजी (मस्तिष्क जाँच लैब) यूनिट को और अधिक अत्याधुनिक बनाया गया है। यूनिट का उद्घाटन अस्पताल के सीनियर कार्डियोलोजिस्ट एवं मैनेजिंग डायरेक्टर डा.एस.एस बंसल, स्त्री रोग विशेषज्ञ एवं डायरेक्टर डा. सीमा बंसल, डा नीरज जैन सीनियर कार्डियोलोजिस्ट एवं मेडिकल डायरेक्टर, सीनियर विशेषज्ञ एवं एच.ओ.डी. मस्तिष्क रोग विभाग डा. सुषमा शर्मा एवं मस्तिष्क रोग विशेषज्ञ डा. पांडुरंगा एम.एस. ने किया। इस मौके पर डा एस.एस. बंसल ने कहा कि हम हमेशा अपने मरीजों को बेहतर चिकित्सा सेवा देने के लिए अस्पताल को अत्याधुनिक एवं नवीनतम तकनीकी संसाधनों से लैस करने की दिशा में अग्रसर है। हमारे पास मस्तिष्क रोग विशेषज्ञों की बेहतरीन टीम है जो मरीजों को प्राथमिक उपचार के साथ ही गंभीर परिस्थितियों में भी बेहतर स्वास्थ्य सेवायें देने के लिए कार्यरत है।



नई न्यूरोइलेक्ट्रोफिजियोलोजी (मस्तिष्क जाँच लैब) यूनिट में वीडियो ई.ई.जी.,(वीडियो टेलीमेटरी सुविधा), ई.एम.जी., एन.सी.वी. एवं इवोक पोटेसिंयल जोकि मिर्गी, न्यूरोपैथी, नसों की बीमारियों जैसी अनेको बीमारियों के निदान एवं उपचार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

अस्पताल की सीनियर विशेषज्ञ एवं एच.ओ.डी. मस्तिष्क रोग विभाग डा. सुषमा शर्मा ने बताया कि मैट्रो अस्पताल अंतराष्ट्रीय मानकों एवं तकनीक के द्वारा रोगी की पुरानी से पुरानी मस्तिष्क रोग से जुड़ी बीमारियों को पहचान कर उनका निदान करता है। इन बीमारियों में प्रमुखतः लकवा (स्ट्रोक), मिर्गी दौरे, एन्सेफैलोपैथिस (भ्रम की स्थिति), ज्यादा दिन तक आई.सी.यू. में रहने पर रोगियों में मस्तिष्क संबंधी समस्याएं, मस्तिष्क में सूजन, हाथ-पैर में कंपन होना आदि। कुशल विशेषज्ञों, नवीनतम तकनीक, अत्याधुनिक उपकरण एवं 100 बैड युक्त आईसी.यू. हमारे इस मस्तिष्क विभाग को सर्वश्रेष्ठ बनाती है। हम हमेशा अपने मरीजों कोे सस्ती मेडिकल सुविधायें अंतराष्ट्रीय मानक पर प्रदान करते है। हमारी इस न्यूरोइलेक्ट्रोफिजियोलोजी (मस्तिष्क जाँच लैब) यूनिट में कुछ महत्वपूर्ण सुविधायें है जैसे कि -

ई.ई.जी.:-  यह एक नाॅन-इनवेसिव जाँच है जिसका उपयोग मस्तिष्क की इलैक्ट्रीकल प्रक्रिया का पता लगाने और रिकार्ड करने के लिए किया जाता है। इसका उपयोग मिर्गी, मस्तिष्क ट्यूमर और भ्रम की स्थिति जैसे मस्तिष्क विकारों के निदान के लिये किया जाता है। भ्रम की स्थिति के रोगी यदि लंबे समय से बीमार है इसका कारण पता करने के लिए यह बेहद उपयोगी है। 

एन.सी.वी:- यह उपकरण हमारी माँसपेशियों में इलैक्ट्रीकल वेग मापने और रिकार्ड करने के लिए होता है इससे हमारी नसों में आवेग कितनी तेजी से बढ़ता है और उससे कितनी क्षति पहुँची है का पता चलता है।

ई.एम.जी.:- ई.एम.जी. परीक्षण हमारी मांसपेशियों के माध्यम से आगे बढ़ने वाले इलैक्ट्रीकल संकेतो को रिकार्ड करता है। यह किसी भी बीमारी की उपस्थिति, स्थान और सीमा को पता लगाने में मदद करता है जिसके कारण हमारी तंत्रिकाओं और माँसपेशियों को नुकसान पहुँचा है। 

वीडियो टेलीमेट्री:- यह परीक्षण विभिन्न प्रकार के दौरे के उपचार के निदान और योजना बनाने में बेहद उपयोगी होता है।

उपरोक्त उपकरणों के अलावा हमारे पास मस्तिष्क रोगियों के इलाज के लिए सी.टी. स्कैनर, एम.आई.आई और 3डी कैथ लैब भी है जो विभिन्न न्यूरोलाॅजिकल विकारों के इलाज और निगरानी में महत्वूपर्ण भूमिका निभागती है।

फरीदाबाद ने गुड़गांव को 75 रन से हराया

फरीदाबाद ने गुड़गांव को 75 रन से हराया

फरीदाबाद 6 जुलाई : गुरुग्राम टेरी क्रिकेट मैदान पर इंटर डिस्ट्रिक्ट अंडर 19 क्रिकेट मैच प्रतियोगिता का आयोजन हुआ और फरीदाबाद और  गुड़गांव के बीच मैच खेला गया 

 इस मौके पर डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन के प्रेसिडेंट रजत भाटिया और महासचिव राजीव यादव ने टीम को जीत की शुभकामनाएं दी डीसीए फरीदाबाद टीम के कोच हर्ष जाखड़ , कोच अनिकेत भी उपस्थित थे । 

यह मैच 50 - 50 ओवर का था I गुड़गांव ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाजी करने का निर्यण लिया फरीदाबाद टीम की ओर से बल्लेबाजी करते हुए टीम ने  48.4 ओवर में  10 विकेट पर  201  रन बनाए टीम की और बल्लेबाजी करते हुए  नमन ने 28 रन , हिमांशु कौशिक ने 26 रन , हर्षवर्धन सिंह ने 26 रन , कुलदीप ने 25 रन , मोहित मालिक ने 22 रन बनाए । 

गुड़गांव की और से गेंदबाजी करते हुए  अमान अल्वी   ने 4   विकेट , राघव सयाल ने 3 विकेट, संजीव ने 2 विकेट , जतिन सैनी ने 1 विकेट ली । 

इस लक्ष्य का पीछा करते हुए गुड़गांव की टीम ने  32.5 ओवर में 10 विकेट पर 126 रन बनाकर हार का सामना करना पड़ा  टीम की और से बल्लेबाजी करते हुए आर्यन कपूर ने 45 रन , अमान ने 27 रन , दक्षवीर ने 21 रन बनाएं । फरीदाबाद की और से  गेंदबाजी करते हुए आकाशदीप भाकर ओर हर्षवर्द्धन सिंह ने 3 - 3 विकेट ली , गौरव कुमार और कुलदीप ने 2-2 विकेट ली  । फरीदाबाद ने यह मैच 75 रन से जीता ।

Thursday, 20 June 2019

फरीदाबाद ने पलवल को 8 विकेट से हराया

फरीदाबाद ने पलवल को 8 विकेट से हराया

फरीदाबाद, 20 मई : भूपानी रावल क्रिकेट मैदान पर इंटर डिस्ट्रिक्ट  पटौदी ट्रॉफी  क्रिकेट मैच प्रतियोगिता का आयोजन हुआ और डीसीए फरीदाबाद और पलवल टीम के बीच मैच खेला गया  इस मौके पर डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन के प्रेसिडेंट रजत भाटिया और महासचिव राजीव यादव ने टीम को जीत की शुभकामनाएं दी डीसीए फरीदाबाद टीम के लेवल ए कोच सुनील चौधरी भी उपस्थित थे । 

यह मैच 50 - 50 ओवर का था I पलवल डिस्ट्रिक्ट टीम ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का निर्यण लिया  पलवल डिस्ट्रिक्ट टीम की ओर से बल्लेबाजी करते हुए टीम ने 49.3 ओवर में 10 विकेट पर 182 रन बनाए टीम की और बल्लेबाजी करते हुए अरुण पवार  ने 42 रन , ऋषभ ने  74 रन बनाए , धर्मेन्द्र ने 21 रन  बनाए । 

 फरीदाबाद टीम की और से गेंदबाजी करते हुए रवि बल्हारा ने 3 विकेट , अरुण चपराना ने 2 विकेट , दिनेश कबीरा , राहुल तेवतिया ओर राहुल डागर ने 1 - 1 विकेट ली । इस लक्ष्य का पीछा करते हुए फरीदाबाद की टीम ने  37 ओवर में  2  विकेट पर 183 रन  बना कर जीत हासिल की टीम की और से बल्लेबाजी करते हुए  राहुल दलाल ने 46 रन , आकाश अंतिल ने  72 रन , अनुभव आहूजा ने 36 रन , बनाए I पलवल  की और से गेंदबाजी करते हुए कृष्ण ने 1 विकेट , रोबिन ने 1 विकेट ने ली  । फरीदाबाद डिस्ट्रिक्ट टीम ने 8 विकेट से मैच जीता ।
क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ एन सी आर गुड़गांव टीम ने रेवाड़ी टीम को 6 विकेट से हराया

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ एन सी आर गुड़गांव टीम ने रेवाड़ी टीम को 6 विकेट से हराया

फरीदाबाद 20 जून  : : गुरुग्राम टेरी क्रिकेट मैदान पर इंटर डिस्ट्रिक्ट  पटौदी ट्रॉफी  क्रिकेट मैच प्रतियोगिता का आयोजन हुआ और क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव और  रेवाड़ी टीम के बीच मैच खेला गया I  क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव के सेक्रेटरी श्री ओ पी तनेजा ने बताया कि टीम के खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करके टीम को मजबूती दे रहे हैं इस मैच उपस्थित प्रेसीडेंट  श्री यू एस मान  , कोच तेजेन्द्र मान , रजनीश गौतम , प्रमोद सैनी थे । यह मैच 50 - 50 ओवर का था I रेवाड़ी डिस्ट्रिक्ट टीम ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी  करने का निर्यण लिया रेवाड़ी डिस्ट्रिक्ट टीम की ओर से बल्लेबाजी करते हुए टीम ने  50  ओवर में 9 विकेट पर  269 रन बनाए टीम की और बल्लेबाजी करते हुए जितेंद्र ने 46  रन , कमल सैनी ने 45 रन बनाए , कपिल कुमार   ने 38 रन , प्रियतोष ने 59 रन ,विकास यादव ने नाबाद 25 रन बनाए । 

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव टीम की और से गेंदबाजी करते हुए हितेश शर्मा ने 2 विकेट ,सुमित कुमार और जतिन सैनी ने 2 -2 विकेट ली , विनीत शर्मा ने 1ली । 

इस लक्ष्य का पीछा करते हुए क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव की टीम ने   49 ओवर में  4  विकेट पर 273   रन बना कर जीत हासिल की  टीम की और से बल्लेबाजी करते हुए कपिल ने 76 रन , विजयंत साहू ने 45 रन , कुलदीप देवतवाल ने  74  रन ओर सुमित कुमार ने  50  रन ।  रेवाड़ी की और से गेंदबाजी करते हुए राहुल यादव ने 2 विकेट ,  विशाल यादव और जितेंद्र ने 1- 1 विकेट ली । क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव  ने यह मैच 6 विकेट से जीता ।

Monday, 20 May 2019

 मानव रचना में पाँच दिवसीय ‘ईको कनसल्ट मीट’ का आयोजन

मानव रचना में पाँच दिवसीय ‘ईको कनसल्ट मीट’ का आयोजन

फरीदाबाद, 20 मई: सेंटर फॉर एडवांस वाटर टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट (CAWTM), मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज एनसीएसटीसी समर्थित और डीएसटी परियोजना के तहत मानव रचना कैंपस में पांच दिवसीय इको कंसल्ट मीट का आयोजन किया जा रहा है।  इस कार्यक्रम का उद्घाटन सीएडब्ल्यूटीएम (CAWTM) के अध्यक्ष डॉ. डीके चड्ढा. मानव रचना के डीजी डॉ. एनसी वाधवा, एमआरआईआईआरएस के प्रो-वीसी डॉ. एमके सोनी की अगुवाई में हुआ।  

डॉ. डीके चड्ढा ने इस दौरान सभी रिसरचर्स से आग्रह किया कि वह  पानी के महत्व और रेन वाटर हार्वेस्टिंग की आवश्यकता के बारे में लोगों में जागरुकता फैलाएं। वहीं, डॉ. एनसी वाधवा ने पानी के संरक्षण की आवश्यकता पर जोर दिया, ताकि आने वाली पीढ़ियों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध हो सके।

इस कार्यक्रम में अलग-अलग संस्थाओं के लोगों ने हिस्सा लिया, जिनमें एनजीओ, डॉक्टर्स, पीजी स्टूडेंट्स और नए रिसचर्स शामिल थे। इस परियोजना का मुख्य मकसद प्रतिरूप योग्य मॉडल वाटर एंड इको हेल्थ क्लीनिक की स्थापना करना है, ताकि पानी से संबंधित स्वास्थ्य जोखिम को कम करके समुदाय के लक्षित समूहों के साथ विज्ञान संचार स्थापित किया जा सके।

यह परियोजना जल साक्षरता, पानी की गुणवत्ता में सुधार, स्वच्छता, प्रौद्योगिकी के हस्तक्षेप के माध्यम से स्वच्छता की स्थिति और मांग की ओर से पर्यावरणीय स्वास्थ्य सुधार और आपूर्ति पक्ष के जल प्रबंधन के बारे में छात्रों को शिक्षित करना चाहती है। साथ ही समाज के भीतर विज्ञान संचार को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिभा शिकार के माध्यम से स्थायी स्थानीय नेतृत्व विकसित करने की भी परिकल्पना करती है।

Friday, 17 May 2019

Dr.Kasana - Expert homeopathic Doctor In Delhi

Dr.Kasana - Expert homeopathic Doctor In Delhi

डॉ.अभिषेक कसाना एम . डी  होम्योपैथी - एक प्रसिद्ध होम्योपैथ, एक प्रसिद्ध शिक्षाविद और प्रसिद्ध अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक, होम्योपैथी में उनके बड़ेयोगदान के लिए जाने जाते हैं। 

 एलर्जी, अस्थमा, राइनाइटिस, टॉन्सिलिटिस, साइनोसाइटिस, एडेनोइड्स, गठिया, स्पॉन्डिलाइटिस, बीपीएच- प्रोस्टेट,लिचेन, मौसा, सोरायसिस, रोसैसिया, एक्ने, हर्ज़ल, एक्जिमा, मोलस्कैम, यूरेटिसारिया, यूरेट्रिकेरिया, जैसे विभिन्न विकारों के उपचार में उनकीविशेषज्ञता। , बांझपन, इरेक्टाइल डिसफंक्शन, शीघ्रपतन, अवसाद, पार्किंसंस रोग, माइग्रेन, और अंतःस्रावी विकार जैसे मधुमेह आदि से संबंधित रोगउल्लेखनीय हैं।

 उन्होंने अपने 20 वर्षों के नैदानिक अभ्यास में कई रोगियों का सफलतापूर्वक इलाज किया है और भारत में अग्रणी होम्योपैथों में से एकहै। उन्होंने विभिन्न देशों में अब तक असंख्य अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार और कार्यशालाएं दी हैं और होम्योपैथी की गहन समझ और होम्योपैथी के आयामों से परेजाकर गहन कार्यक्रम बनाने के लिए एक संगठन की स्थापना की है।
वह होम्योपैथी और फाइंडिंग बेस्ट होम्योपैथिक मेडिसिन, क्लासिकल होम्योपैथी - होम्योपैथी में इसकी व्याख्या और व्यावहारिक अनुप्रयोग - के बारेमें अवधारणाओं और उपन्यास विचारों के लिए प्रसिद्ध है।

 मामलों को सुलझाने में उनके व्यावहारिक दृष्टिकोण ने उन्हें भारत और विदेशों में प्रशंसा औरप्रसिद्धि दिलाई है।
उनकी सफलता की कहानियों में से एक:
वह अपने मामलों को वैज्ञानिक दृष्टिकोण और बड़ी दक्षता के साथ हल करता है। यहां एक ऐसे मामले का उदाहरण दिया गया है जो उन्होंने मलेशिया मेंअंतर्राष्ट्रीय सेमिनार में प्रस्तुत किया था।
 एक पुरुष, जिसकी उम्र ५ ९ वर्ष है, वह पिछले ५ वर्षों से पतला और मधुमेह रोगी है।

 उनकी अन्य शिकायतों मेंबार-
बार पेशाब आना, सोरायसिस, पुरानी एसिडिटी, थायरॉयड, ऑस्टियोआर्थराइटिस और ब्रोंकाइटिस थे। रक्त की रिपोर्ट निम्नानुसार थी: उपवासरक्त शर्करा:
 190 मिलीग्राम / डीएल, पोस्ट प्रांडियल रक्त शर्करा: 223 मिलीग्राम / डीएल।

सज्जन एक चतुर व्यक्ति था, वह सभी के साथ पार था, किसी की बात नहीं मानता था, आहार प्रतिबंध या किसी भी अभ्यास का पालन नहीं करता था।
वह बहुत व्यंग्यात्मक और अक्सर अपमानजनक था, उसकी एक तेज जीभ थी।

 उनके व्यंग्यात्मक, तीखे व्यवहार और लक्षणों की अन्य समग्रता केआधार पर, उन्हें एसिड फॉस 0/1 निर्धारित किया गया था और 2-
3 साल की अवधि में इस मामले में सोरायसिस, थायराइड, रक्त रिपोर्ट सहित सभीस्तरों पर सुधार देखा गया था।

कृपया ध्यान दें कि होम्योपैथी दवा पूरी तरह से एक विशेषज्ञ डॉक्टर द्वारा लेने और विश्लेषण के बाद निर्धारित की जाती है। स्व दवा उचित नहीं है औरहानिकारक साबित हो सकती है।

डॉ कसाना एक बेहद सफल होम्योपैथ और होम्योपैथी की उन्नति के लिए एक महान योगदानकर्ता हैं। वह ऑरा होमियोपैथी इंडिया में एक विशेषज्ञपैनल डॉक्टर हैं, जो एक ऑनलाइन होम्योपैथिक स्वास्थ्य पोर्टल है जो लोगों की सेवा करने और उन्हें होम्योपैथी के साथ उनकी बीमारियों से राहतदिलाने का काम करता है।

 ऑरा होम्योपैथी इंडिया में सर्वश्रेष्ठ होम्योपैथिक डॉक्टरों का एक पैनल है जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसित हैं और उनकेकई वर्षों के सफल नैदानिक अनुभव हैं।

डॉ.अभिषेक कसाना एम. डी  होमियोपैथी) और ऐसे कई विशेषज्ञ होम्योपैथ्स ऑफ़ इंटरनैशनल रीप्यूट से परामर्श करने के लिए हमें 9873537001पर कॉल करे या Homeopathic Doctor In Delhi पर लॉग इन करे I 


Thursday, 16 May 2019

हरियाणा रणजी कोच विजय यादव बने इंडिया ए टीम के फील्डिंग कोच

हरियाणा रणजी कोच विजय यादव बने इंडिया ए टीम के फील्डिंग कोच

फरीदबाद 16 मई :   बीसीसीआई ने हरियाणा रणजी कोच विजय यादव को इंडिया ए टीम का कोच नियुक्त किया गया  है श्रीलंका ए के खिलाफ 5 एक दिवसीय मैचों के लिए पूर्व भारतीय खिलाडी विजय यादव को  फील्डिंग कोच नियुक्त किया गया है। पूर्व भारतीय क्रिकेटर विजय यादव पहले ऐसे कोच हैं। और पिछले साल भी इंडिया अंडर 23 के फील्डिंग कोचिंग थे और इस बार भी कोच है , और विजय यादव को भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए तैयार उभरते हुए क्रिकेटरों को संवारने की जिम्मेदारी सौंपी गई। इसके तहत ही पहले इंडिया ए टीम के विदेशी दौरे पर उनको विकेटकीपिंग-फिल्डिंग कोच के रूप में जा चुके है ।  और भारतीय इंडिया अंडर 19 टीम के कोच भी थे और पिछले साल भी अंडर 19 इंडिया टीम के साथ भी श्रीलंका के लिए टीम के साथ थे I

श्रीलंका ए टीम भारत दौरे पर आ रही है और इंडिया ए के साथ 25 मई से 15 जून तक दो टेस्ट मैच और 5 एकदिवस मैच खेले गई 


श्री विजय यादव 
हरियाणा रणजी प्रमुख कोच 
इंडिया ए टीम के फ़ील्डिंग कोच 
इंडिया 23 टीम कैंप के  फ़ील्डिंग कोच
इंडिया अंडर 19 टीम के  फ़ील्डिंग कोच


उनके साथ सीतांशु कोटक, नरेंद्र हिरवानी भी जिम्मेदारी निभाएंगे


जिला क्रिकेट एसोसिएशन एक्जुक्यूटिव प्रेजीडेंट रजत भाटिया ने उनकी इस नई जिम्मेदारी पर बधाई दी है। साथ ही विजय यादव ने अपनी इस उपलब्धि के लिए एचसीए का धन्यवाद किया है। यह सीरीज भारत मैं होगी और 25 मई से 15 जून तक चलेगी । जिसमें इंडिया ए टीम  टेस्ट मैच और वनडे मैच श्रीलंका ए  टीम के साथ खेले जाएंगे।

गौरतलब है कि पूर्व भारतीय क्रिकेटर विजय यादव पहले ऐसे कोच हैं। जोकि टीम के साथ जुड कर किसी दौरे पर जा रहे हैं। लेकिन विजय यादव को भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए तैयार उभरते हुए क्रिकेटरों को संवारने की जिम्मेदारी सौंपी गई। इसके तहत ही पहले इंडिया ए टीम के विदेशी दौरे पर उनको विकेटकीपिंग-फिल्डिंग कोच के रूप में जा चुके है । विजय यादव का कहना है कि वह टीम के साथ जा रहे हैं। उन्हें पूरी उम्मीद है कि यह टीम श्रीलंका में बेहतर प्रदर्शन करेगी। बता दें कि 52 वर्ष के विजय यादव लेवल-सी कोच है। उन्होने 1992-93 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहला वनडे और जिम्बाबे के खिलाफ एक मात्र टेस्ट खेला। यादव ने 19 वनडे में नाबाद 34 रन सर्वाधिक रकोर के साथ 118 रन बनाए और 12 कैच व 7 स्टंप अपने नाम किए। जबकि एकमात्र टेस्ट में 30 रन उनका सर्वाधिक रहा। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में यादव ने 89 मैच में 201सर्वाधिक स्कोर के साथ 3988 रन बनाए है। 237 कैच व 46  स्टंप इसमें शामिल हैं। लिस्ट ए में 67 मैच 85 हाई स्कोर के साथ  748 रन, 92 कैच व33 स्टंप का उनका रिकार्ड है। उनके इंटरनेशनल करियर और हरियाणा में लंबे कोचिंग अनुभव को देख कर ही उन्हें बीते वर्ष हरियाणा रणजी टीम को संवारने की जिम्मेदारी हरियाणा क्रिकेट एसोसिएशन ने सौंपी थीं। इंटरनेशनल क्रिकेटर मोहित शर्मा और आईपीएल क्रिकेटर राहुल तेवतिया उनके ही शिष्य हैं। और उनके प्रशिक्षण में ही हरियाणा रणजी टीम का बीते सत्र में प्रदर्शन बेहतर रहा।

Tuesday, 14 May 2019

Homeopathic Doctor In Faridabad For Hairloss Alopecia Areata : Dr. Abhishek Kasana

Homeopathic Doctor In Faridabad For Hairloss Alopecia Areata : Dr. Abhishek Kasana


Homeopathic Doctor In Faridabad For Hairloss Alopecia Areata

डॉ.अभिषेक कसाना M.D होम्योपैथी (Homeopathic Doctor In Faridabad)

एलोपेशिया आरैटा सलाह देता है: -एएस डॉ। अभिषेक के अनुसार, होम्योपैथिक उपचार के लिए सख्त व्यक्तिगतकरण की आवश्यकता होती है। अपने होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह के बिना कोई दवा न लें।

एलोपेशिया एरियाटा हेयर लोस
  • कारण,
  • लक्षण,
  • उपचार,
  • होम्योपैथी दवा और
  • खालित्य areata के होम्योपैथिक उपचार।
एलोपेशिया एरेटा को गंजे क्षेत्रों को बनाने वाले गोल पैच में अचानक बालों के झड़ने की विशेषता है। यह एक अत्यधिक अप्रत्याशित त्वचा रोग है जो खोपड़ी और शरीर के अन्य हिस्सों पर हो सकता है।

अन्य ऑटोइम्यून विकारों के साथ कुछ समानताओं के कारण, यह सुझाव दिया जाता है कि एलोपेसिया अरीता एक ऑटोइम्यून बीमारी है। बालों का झड़ना आमतौर पर खोपड़ी पर गंजापन के एक या अधिक छोटे, गोल, चिकने पैच से शुरू होता है जो खोपड़ी पर कुल बालों के झड़ने में प्रगति कर सकता है।

एलोपेशिया आरैटा का विभेदक निदान
  • तिन्या कैपिटास
  • कर्षण द्वारा खालित्य
  • खालित्य जन्मजात
  • एनाफिलेक्टिक द्वारा प्रेरित रासायनिक ट्राइकोटिलोमेनिया
  • इफ्लुवियम एलोपेसिया
  • Trichodystrophies
  • ल्यूपस एरिथेमेटोसस
  • Pseudopelade
  • काई
  • planopilaris
  • बुलर स्क्लेरोडर्मा
  • पेम्फिगॉइड
  • उपदंश
  • फॉलिकुलिटिस अलोपेसिया
  • नियोप्लास्टिक कूपिक श्लेष्मा
एलोपेसिया अरेटा जेनेटिक ग्रैनुलोमैटस विकारों की पूर्वसूचना एटियलजि - परिवार के इतिहास में ऑटोइम्यून रोग के साथ सहयोग की संभावना बढ़ जाती है - (थायराइड रोग, एडिसन रोग, विटिलिगो) एक ऑटोइम्यून उत्पत्ति का सुझाव देता है; एनाजोन हेयर फॉलिकल में और उसके आसपास लिम्फोसाइटिक घुसपैठ की उपस्थिति अतिरिक्त प्रमाण है। एलोपेसिया अरीटा अन्य ऑटोइम्यून बीमारियों से अलग है, जिसके परिणामस्वरूप लक्ष्य अंग के कार्य का पूर्ण नुकसान नहीं होता है, लेकिन बाल कूप की गतिविधि के एक अस्थायी परिवर्तन में, जो सामान्य में वापस आ सकता है। इससे पता चलता है कि लक्ष्य वृद्धि कारक या उसके रिसेप्टर को नियंत्रित कर सकता है।

कारण

सूक्ष्मजीव, तंत्रिकाजन्य उत्तेजना, भावनात्मक तनाव और खराब मैथुन कौशल की पहचान संभावित कारणों या ट्रिगर के रूप में की गई है।

एलोपेशिया आरैटा क्लिनिकल प्रेजेंटेशन के लक्षण और लक्षण बालों के झड़ने के छोटे-छोटे गोल पैच से लेकर क्रॉनिक लॉस तक भिन्न होते हैं, स्कैल्प, भौंहों, पलकों, नाक, दाढ़ी और शरीर के बालों की कुल नॉनसर्किंग, स्पॉन्टेनियस रिमिशन देख सकते हैं।

खालित्य Areata मनोवैज्ञानिक रूप से दर्दनाक हो सकता है। एक अज्ञात ट्रिगर के कारण हेयर फॉलिकल एनाजेन, डायस्ट्रोफिक एनाजेन हेयर, कैटजेन या हेयर टेलोजेन चरण बदलते हैं।

नाखून का डंक लग सकता है। अन्य ऑटोइम्यून बीमारियों जैसे कि हाशिमोटो के थायरॉयडिटिस और विटिलिगो के साथ संबंध की एक उच्च घटना बताई गई है।

खालित्य आर्यता के मामले में अनुसंधान विस्तृत इतिहास और शारीरिक परीक्षण नैदानिक उद्देश्यों के लिए महत्वपूर्ण उपकरण हैं; अंग विशिष्ट एंटीबॉडी का प्रदर्शन किया जा सकता है। किसी अन्य विकार को बाहर करने के लिए स्कैल्प बायोप्सी उपयोगी हो सकती है।

एलोपेशिया आरैटा का उपचार इस स्थिति के लिए उपचार के विकल्पों की एक किस्म उपलब्ध है, यदि छोटे बालों के झड़ने की पहचान पैच, यह बेहतर है कि प्रतीक्षा करें और बालों को अपने आप वापस बढ़ने दें। अन्य उपचार विकल्पों में मुख्य रूप से शामिल हैं: मजबूत सामयिक स्टेरॉयड के आवेदन, एक स्टेरॉयड का इंजेक्शन, मिनोक्सिडिल का उपयोग बालों के विकास को बढ़ावा देने के लिए किया गया है और कुछ मामलों में स्वभाव परिणाम दिखाया गया है।

बालों के विकास को प्रोत्साहित करने के लिए, बालों के झड़ने की साइट पर एक संपर्क जिल्द की सूजन, या जलन पैदा करने के लिए एक अन्य प्रकार का उपचार तैयार किया गया है। इन मामलों में रिलैप्स के साथ फोटो कीमोथेरेपी भी टेंपररी परिणाम दे सकती है।

अलोपेसिया अरेटा का आभा होम्योपैथिक उपचार: - होम्योपैथी चिकित्सा की सबसे लोकप्रिय समग्र प्रणालियों में से एक है। डॉ.अभिषेक कसाना एम। डी। आभा होम्योपैथी के अनुसार, होम्योपैथी एलोपेसिया अरीटा और अन्य ऑटिइम्यून रोगों के लिए सर्वश्रेष्ठ उपचार प्रदान करती है। एलोपेशिया आरैटा के लिए सर्वश्रेष्ठ होम्योपैथिक दवा का चयन एक समग्र दृष्टिकोण के उपयोग के माध्यम से वैयक्तिकरण के सिद्धांत और लक्षणों की समानता पर आधारित है। यह एकमात्र तरीका है जिसके माध्यम से आप उन सभी संकेतों और लक्षणों को दूर कर सकते हैं जो रोगी पूर्ण स्वास्थ्य की स्थिति से पीड़ित हैं। होम्योपैथी का लक्ष्य न केवल एलोपेसिया आरिएटा के उपचार के लिए है, बल्कि इसके अंतर्निहित कारण और व्यक्तिगत संवेदनशीलता को संबोधित करना है। उपचारात्मक दवाओं के संबंध में, खालित्य areata के उपचार के लिए कई उपचार उपलब्ध हैं जिन्हें दावों के कारण, संवेदनाओं और तौर-तरीकों के आधार पर चुना जा सकता है। व्यक्तिगत उपाय और उपचार के चयन के लिए, रोगी को अपने पास के सर्वश्रेष्ठ होम्योपैथिक चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए, या साइबर क्लिनिक की नियुक्ति का विकल्प चुनना चाहिए।


Alopecia areata के लिए कुछ सर्वश्रेष्ठ होम्योपैथिक दवा:

  • फेरम फॉस - एनीमिया के कारण सिर से बालों का झड़ना
  • एसिडम का आटा - बुजुर्गों की खालित्य या समय से पहले उम्र के साथ उपदंश, पैच में बालों का झड़ना, टाइफाइड बुखार के कारण बालों का गिरना
  • सीपिया - गर्भावस्था के दौरान बालों का झड़ना, दाद जैसे क्षेत्रों में, रूसी खोपड़ी की गंधक सल्फर - स्तनपान कराने वाली महिलाओं में बाल गिरते हैं, जब अच्छी तरह से चयनित दवाएं राहत देने में विफल रहती हैं।
  • सेलेनियम मिले - सिर, भौहें, पलकें और शरीर के अन्य हिस्से से बालों का झड़ना
  • नैट्रम म्यूर - बच्चे के जन्म के बाद बालों का झड़ना, एक बच्चे को उसके नर्सिंग से, पुराने सिरदर्द के बाद बालों का झड़ना
  • Mancinella - एक गंभीर तीव्र बीमारी के बाद बालों का झड़ना 
  • Vinca मामूली - बालों का झड़ना, मजबूत और अच्छी तरह से परिभाषित, परिचालित पैच जो नरम खोपड़ी को छोड़ देते हैं और सफेद या भूरे बाल सफेद ऊन जैसे गंजे क्षेत्रों में बढ़ सकते हैं।
  • फोस एसिड - एलोपेशिया आरैटा के लिए उल्लेखनीय उपाय, बालों का झड़ना एक गंभीर बीमारी के बाद गिरता है, बाल झड़ते हैं, भौंहें और पलकें गिरती हैं
  • लच्छी दाढ़ी के बाल झड़ते हैं - बाल झड़ते हैं
  • कार्बो वेग - गर्भावस्था के दौरान बाल गिरना

हमारे अन्य लेख बताते हैं कि होम्योपैथी के साथ इसका इलाज कैसे किया जाता है और एलोपेसिया अरीता के लिए सर्वश्रेष्ठ संकेतित होम्योपैथिक उपचार नीचे दिए गए हैं।


आभा होम्योपैथिक मेडिकल फाउंडेशन, फरीदाबाद, दिल्ली- NCR, भारत 31 अप्रैल 2018 और 17 अगस्त, 2018

© होम्योपैथिक मेडिकल फाउंडेशन ऑरा। सर्वाधिकार सुरक्षित।

ई-मेल: aurahomoeopathy@gmail.com

एलोपेशिया आरैटा सलाह देता है: -एएस डॉ। अभिषेक के अनुसार, होम्योपैथिक उपचार के लिए सख्त व्यक्तिगतकरण की आवश्यकता होती है। अपने होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह के बिना कोई दवा न लें।

मानव रचना डेंटल कॉलेज ने पीजी छात्रों का स्वागत किया

मानव रचना डेंटल कॉलेज ने पीजी छात्रों का स्वागत किया

फरीदाबाद, 15 मई: मानव रचना डेंटल कॉलेज में एमडीएस 2019-22 सत्र के छात्रों का स्वागत किया गया। ओरिएंटेशन प्रोग्राम की शुरुआत हवन के साथ की गई। इस दौरान मानव रचना के डीजी डॉ. एनसी वाधवा भी मौजूद रहे। ओरिएंटेशन प्रोग्राम के तहत छात्र एक दूसरे से रूबरू हुए। इस दौरान छात्रों को मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के बारे में जानकारी दी गई। मानव रचना डेंटल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. अरुणदीप सिंह ने सभी छात्रों का कॉलेज में स्वागत किया। उन्होंने उम्मीद जताई आने वाले तीन साल छात्रों को लिए उनके करियर के लिए बेहतरीन साबित होंगे। उन्होंने सभी छात्रों को सलाह दी कि इलाज के लिए आने वाले मरीजों की पूरी मदद करें और जितनी जल्दी हो उन्हें इलाज मुहैया करवाएं।

कार्यक्रम में मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के एमडी डॉ. संजय श्रीवास्तव भी मौजूद रहे। उन्होंने कहा, यह आने वाले तीन साल उनकी जिंदगी के आगे की दिशा तय करेंगे, इसलिए अपनी गलतियों से सीखने की कोशिश करें।  उन्होंने छात्रों को तीन टिप्स दिए- सीखना, हंसना और हमेशा सकारात्मक चीजों पर ध्यान देना।

आपको बता दें, इस साल डेंटल कॉलेज में देशभर के अलग-अलग कॉलेज में बीडीएस कर के आए छात्रों ने मानव रचना को चुना है। इस साल भी सभी सीट्स फुल रही। ओरिएंटेशन प्रोग्राम में एमआरडीसी के वाइस प्रिंसिपल डॉ. आशिम अग्रवाल, डॉ. श्रीधर कानन, डॉ. मनीष भार्गव, डॉ. पूजा पनवलकर समेत कई फैकल्टी मेंबर्स और छात्र शामिल रहे।