Showing posts with label Haryana News. Show all posts
Showing posts with label Haryana News. Show all posts

Saturday 15 June 2024

 मानव रचना यूनिवर्सिटी- एनएआरएल, इसरो के सहयोग से जीएनएसएस रिसीवर स्थापित करने वाली देश की पहली प्राइवेट यूनिवर्सिटी बनी

मानव रचना यूनिवर्सिटी- एनएआरएल, इसरो के सहयोग से जीएनएसएस रिसीवर स्थापित करने वाली देश की पहली प्राइवेट यूनिवर्सिटी बनी

      यूनिवर्सिटी में ग्लोबल नेविगेशन सैटेलाइट सिस्टम (GNSS) रिसीवर और अंतरिक्ष अनुसंधान प्रयोगशाला की स्थापना की गई

      इसरो लैब के सहयोग से राष्ट्रीय वायुमंडलीय अनुसंधान प्रयोगशाला (एनएआरएल) के रिसीवरों की उत्तर-दक्षिण श्रृंखला का हिस्सा है ये पहल

      अतिथि व्याख्यान में इसरो साइंटिस्ट डॉ. निर्विकार दशोरा और श्री हिमांशु एस सेठी ने रखे विचार

फरीदाबाद, 15 जून 2024: मानव रचना यूनिवर्सिटी (एमआरयू) में स्कूल ऑफ साइंसेज के विज्ञान विभाग की ओर से शुक्रवार को “ग्लोबल नेविगेशन सैटेलाइट सिस्टम (GNSS) रिसीवर” की स्थापना की गई। ये प्रयोगशाला राष्ट्रीय वायुमंडलीय अनुसंधान प्रयोगशाला (एनएआरएल)-भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के सहयोग से स्थापित की गई है। इस दौरान एक गेस्ट लेक्चर का आयोजन भी हुआ, जिसका उद्देश्य वायुमंडलीय और अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र में अनुसंधान करने के लिए संकाय को प्रोत्साहित करना है।

एमआरयू जीएनएसएस रिसीवर की स्थापना करने वाला देश का पहला निजी शिक्षण संस्थान है, ऐसे में ये पहल अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र में एमआरयू की अनुसंधान क्षमताओं में बेहतरी को दर्शाती है। गेस्ट लेक्चर में में वैज्ञानिकों की एक प्रतिष्ठित टीम शामिल हुई, जिनमें डॉ. निर्विकार दशोरा (साइंटिस्ट/इंजीनियर-एसएफ, विभागाध्यक्ष आयनोस्फेयर एंड स्पेस फिजिक्स ग्रुप, एनएआरएल, गडांकी, एपी, अंतरिक्ष विभाग, भारत सरकार) और श्री हिमांशु एस सेठी (साइंटिस्ट/इंजीनियर-एसई, एनएआरएल-इसरो) शामिल रहे।

एमआरयू में जीएनएसएस रिसीवर की स्थापना इसरो के सहयोग से एनएआरएल के रिसीवरों की उत्तर-दक्षिण श्रृंखला का हिस्सा है। यह रणनीतिक साझेदारी वायुमंडलीय और आयनमंडलीय अनुसंधान को आगे बढ़ाने के लिए एमआरयू की प्रतिबद्धता को स्पष्ट करती है, जिसमें जीएनएसएस रिसीवर नेटवर्क के माध्यम से मौसम, जलवायु, अंतरिक्ष मौसम और ग्रहों के आयनमंडल पर महत्वपूर्ण अध्ययन शामिल हैं। यह सहयोगात्मक प्रयास न केवल मानव रचना के अनुसंधान बुनियादी ढांचे को मजबूत करता है, बल्कि इसे वायुमंडलीय और अंतरिक्ष अनुसंधान में अग्रणी बनाने में सहायक होगा ।

कार्यक्रम के दौरान, डॉ. निर्विकार दशोरा ने वास्तविक जीवन के क्षेत्रों में जीएनएसएस के विभिन्न अनुप्रयोगों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने आयनमंडल के मूल सिद्धांतों और विभिन्न वायुमंडलीय घटनाओं में इसकी भूमिका के बारे में विस्तार से बताया। प्रेजेंटेशन के ज़रिए उन्होंने अपने शोध के महत्व, उपयोग की जाने वाली पद्धतियों, अनुप्रयोगों और मुख्य विशेषताओं को भी प्रदर्शित किया। साथ ही उन्होंने जीपीएस सिस्टम से संबंधित चुनौतियों के बारे में भी जानकारी दी। इसके बाद प्रश्नोत्तर  सत्र में उन्होंने सभी सवालों के जवाब भी दिए।

ये होगा लाभ

एमआरयू में जीएनएसएस रिसीवर की स्थापना ने राष्ट्रीय और वैश्विक शैक्षणिक समुदायों में विश्वविद्यालय की स्थिति मजबूत की है। इससे विभिन्न वायुमंडलीय और अंतरिक्ष मापदंडों में बहु-पैरामीट्रिक डेटा संग्रह से वायुमंडलीय विज्ञान और संबंधित क्षेत्रों में अनुसंधान की क्षमताएं बढ़ेंगी| साथ ही रिसीवरों की एनएआरएल उत्तर-दक्षिण श्रृंखला का हिस्सा होने के नाते, एमआरयू अनुसंधान संस्थानों के व्यापक नेटवर्क से जुड़ेगा और राष्ट्रीय व वैश्विक स्तर पर सहयोग के अवसर बढ़ेंगे। विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग (ईसीई) और कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग (सीएसई) विभागों में छात्रों के विभिन्न परियोजनाओं में सीखने के अवसर बढ़ेंगे। साथ ही छात्रों को अत्याधुनिक तकनीक और वास्तविक समय के डेटा विश्लेषण के साथ व्यावहारिक अनुभव प्राप्त होगा। 

प्रो. (डॉ.) दीपेंद्र कुमार झा, कुलपति, एमआरयू ने कहा कि "एनएआरएल और इसरो के सहयोग से जीएनएसएस रिसीवर की स्थापना हमारी एक ऐतिहासिक उपलब्धि है। परिसर में स्थापित अंतरिक्ष अनुसंधान प्रयोगशाला संस्थान की, वायुमंडलीय और अंतरिक्ष अनुसंधान प्रगति में अग्रणी होने के प्रति प्रतिबद्धता को स्पष्ट करती है।"

डॉ. मीना कपाही, डीन, स्कूल ऑफ साइंसेज, एमआरयू ने कहा, "यह मानव रचना यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ साइंसेज के लिए बड़ी उपलब्धि है। यह अत्याधुनिक पहल वायुमंडलीय और अंतरिक्ष विज्ञान में हमारी शोध क्षमताओं को बढ़ाती है और हमारे छात्रों को अत्याधुनिक तकनीक से जुड़ने के बेहतर अवसर प्रदान करती है।"

इस दौरान प्रो. (डॉ.) मीना कपाही, डीन स्कूल ऑफ साइंसेज; प्रो. डॉ. डी. के. शर्मा, डीन एग्जामिनेशन; डॉ. संदीप कुमार, हैड, स्कूल ऑफ साइंसेज; डॉ. अर्पित संड, प्रोग्राम हेड केमिस्ट्री; डॉ. अपर्णा व्यास, प्रोग्राम हेड मैथमेटिक्स सहित और साइंस एंड इंजीनियरिंग सहित विभिन्न विषयों के संकाय सदस्य मौजूद रहे।

एनएआरएल और इसरो के साथ इस स्थापना  समस्त कार्यक्रम को प्रोफ डॉ डी के शर्मा के समन्वय में डॉ अनन्ना बर्धनडॉ अंशुमान सहाय और दीप्ति मैखुरी के सहयोग से संपन्न हुआ |  

 जिला में रविवार को होने वाली यूपीएससी परीक्षाओं की सभी तैयारियां पुख्ता : एडीसी आनन्द शर्मा

जिला में रविवार को होने वाली यूपीएससी परीक्षाओं की सभी तैयारियां पुख्ता : एडीसी आनन्द शर्मा

- सिविल सर्विस परीक्षा के संचालन की ड्यूटी पर लगे अधिकारी देंगे उच्च अधिकारियों को जानकारी की अपडेट

 
- देश में यूपीएससी परीक्षाओं के सफल संचालन में टॉप पांच शहरों में फरीदाबाद का नाम

फरीदाबाद,15 जून। उपायुक्त विक्रम सिंह ने एडीसी आनंद शर्मा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। एडीसी आनन्द शर्मा ने कहा कि जिला में रविवार को होने वाली यूपीएससी परीक्षाओं की सभी तैयारियां पुख्ता कर ली गई हैं। सिविल सर्विस परीक्षा के संचालन की ड्यूटी पर लगे अधिकारी अपने अपने उच्च अधिकारियों को जानकारी की अपडेट देंगे। देश में यूपीएससी परीक्षाओं के सफल संचालन में पहले पांच शहरों में फरीदाबाद का नाम है।
  
युनियन पब्लिक सर्विस कमीशन की हिदायतों के अनुसार परीक्षाओं के सफल संचालन के लिए ड्यूटी पर लगे अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए गए हैं कि 16 जून रविवार को आयोजित सिविल सर्विस प्रीलिमिनरी की परीक्षाओं के लिए किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं होगी। परीक्षाओं में कोताही बरतने वाले लोगों के खिलाफ तुरंत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। परीक्षा केंद्रों में केवल ड्यूटी देने वाले अधिकारी अंदर  जा सकते हैं। इसके अलावा किसी भी अधिकारी को परीक्षा केंद्रों के अन्दर जाने पर यूपीएससी द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार पूर्णतया पाबंदी है।
 
अतिरिक्त उपायुक्त आनन्द शर्मा ने बताया कि यूपीएससी द्वारा सिविल सर्विस प्रीलिमिनरी लिखित परीक्षा 16 जून को सुबह 9:30 से 11:30 बजे और दोपहर 02:30 से 04:30 बजे दो चरणों में आयोजित की जाएंगी। परीक्षाओं के लिए जिला में 59 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा केंद्रों पर मूलभूत सुविधाएंबिजलीपंखेजैमरपेयजलशौचालय और साफ सफाई सहित अन्य उचित व्यवस्था के प्रबंध बारे भी सम्बंधित अधिकारी ध्यान द्वारा रखा गया है और सुरक्षा के दृष्टिगत ऐसी कोई भी परीक्षा सहयोगी सामग्री जो आपत्तिजनक हैउसको केंद्र में अंदर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी ।
 
उन्होंने सभी अधिकारियों को कहा कि वे भी अपनी -पनी तय जिम्मेदारी और दायित्व बारे जानकारी हासिल करके व्यवस्थित रूप से परीक्षाओं की योजना बनाकर उनको सही क्रियान्वयन करना सुनिश्चित करें। ट्रांजिट ऑफिसर को सेंसिटिव मटेरियल लाने व ले जाने की यूपीएससी हिदायतो की पूर्ण पालना सुनिश्चित करेंगे। क्यों कि यूपीएससी द्वारा जारी हिदायतों की पालना करना सभी अधिकारियों का नैतिक दायित्व हैऔर इस संबंध में किसी प्रकार की कोई कोताही नहीं बरती जाएगी। ऐसा करने वाले व दोषी पाए जाने वाला व्यक्ति इसके लिए खुद जिम्मेवार होगा।
 
अतिरिक्त उपायुक्त आनन्द शर्मा ने कहा कि यूपीएससी द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार परीक्षार्थी अपना ई-एडमिट कार्ड की वेरिफिकेशन के लिए पासपोर्टड्राइविंग लाइसेंसपहचान पत्रआधार कार्डपैन कार्ड या भारत सरकार द्वारा मान्य कोई भी दस्तावेज जिस पर उनकी फोटो हो साथ ला सकते है।

उन्होंने कहा कि ड्यूटी मजिस्ट्रेटट्रांजिट ऑफिसरलोकल इंस्पेक्टिंग ऑफिसर्ससुपरवाइजर्सइंविजिलेटर्सपुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को उनकी ज़िम्मेदारियों के बारे में विस्तार पूर्वक हिदायतें दी गई हैं।
 
यूपीएससी की परीक्षाओं की चेकिंग के लिए जिला में मण्डलायुक्त व उपायुक्त और दो यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा चार आब्जर्वर नियुक्त किए गए हैं।
 मैन्युफैक्चरर्स  एसोसिएशन फरीदाबाद  के प्रतिनिधिमण्डल  ने केंद्रीय राज्यमंत्री को बधाई दी : रमणीक प्रभाकर

मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन फरीदाबाद के प्रतिनिधिमण्डल ने केंद्रीय राज्यमंत्री को बधाई दी : रमणीक प्रभाकर

फरीदाबाद l  लगातार तीसरी बार जीत और केंद्र में मंत्री बनाये जाने पर फरीदाबाद से सांसद कृष्णपाल गुर्जर को केंद्रीय सहकारिता राज्यमंत्री बनाया गया है। मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन फरीदाबाद के उद्यमियों का  प्रतिनिधिमण्डल  केंद्रीय राज्यमंत्री श्री कृष्णपाल गुर्जर से मिलने सेक्टर 28 स्थित उनके कार्यालय पहुंचा और उन्हें सफलता की बधाई दी.


 श्री सुखदेव सिंह, प्रधान , MAF,  श्री रमणीक प्रभाकर , महासचिव, MAF व MAF के प्रतिनिमंडल श्री जगदीश शर्मा, श्री पुष्पिंदर सिंह , श्री प्रवीण गुप्ता व सुनील सचदेवा सभी ने कृष्णपाल गुर्जर जी को बुके देकर  जीत की और मंत्री बनने पर बधाई दी।

इस मौके पर कृष्णपाल गुर्जर जी ने सभी का तहे दिल से धन्यवाद करते हुए कहा की जनता का वह शुक्रगुज़ार है जिनके बदौलत उन्हें एक बार फिर फरीदाबाद की सेवा करने का मौका मिला है जिसे बखूबी निभाएंगे 

श्री सुखदेव सिंह जी  ने कहा कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से भाजपा सांसद कृष्णपाल गुर्जर जी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय सहकारिता राज्य मंत्री के पद से नवाजा है। यह हम सब के लिए गर्व की बात है। 
 श्री रमनीक प्रभाकर ने  कहा कि  लगातार तीसरा मौका है जब कृष्ण पाल गुर्जर मंत्री बने। यह फरीदाबाद के लिए गर्व की बात है। 
आपने कहा जैसे आपने अभी तक हमें सुना और समझा है आगे भी आपके इस सहयोग की कामना करते है ।

Tuesday 11 June 2024

 मनोहर लाल ने आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय के मंत्री के रूप में कार्यभार संभाला

मनोहर लाल ने आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय के मंत्री के रूप में कार्यभार संभाला

नई दिल्ली : आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय (एमओएचवाईए) में आज नए कैबिनेट मंत्री श्री मनोहर लाल और राज्य मंत्री श्री तोखन साहू ने पदभार ग्रहण किया। उन्होंने मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक संयुक्त समीक्षा बैठक की, जिसमें मंत्रालय के प्रमुख मिशनों पर प्रस्तुतियाँ दी गईं। इस अवसर पर पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी भी उपस्थित थे, जो अब तक पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस तथा एमओएचवाईए मंत्री का कार्यभार संभाल रहे थे।

श्री मनोहर लाल ने स्वच्छ और हरित शहरों को सुनिश्चित करने के लिए महत्वपूर्ण कार्य को आगे बढ़ाने की आवश्यकता पर बल दिया तथा सभी शहरों को 'कचरा मुक्त' बनाने के लिए मिशन के तहत अपशिष्ट को धन में परिवर्तित करने के स्वच्छ भारत मिशन के तहत किए जा रहे प्रयासों की सराहना की।

शहरों को जल सुरक्षित बनाने तथा 4,900 शहरी स्थानीय निकायों में जलापूर्ति की सर्वव्यापक कवरेज सुनिश्चित करने और 500 अमृत शहरों में सीवरेज एवं सेप्टेज प्रबंधन सुनिश्चित करने के लिए अमृत मिशन के उद्देश्यों की सराहना करते हुए उन्होंने अमृत परियोजनाओं में जन भागीदारी सुनिश्चित करने पर नए सिरे से ध्यान केंद्रित करने का आह्वान किया।

शहरों में यात्रा को सुविधाजनक बनाने में मेट्रो रेल के महत्व पर प्रकाश डालते हुए मंत्री ने कहा कि सभी मेट्रो परियोजनाओं को समय पर पूरा करने के लिए मंत्रालय के प्रयास दोगुने किए जाएंगे, क्योंकि मेट्रो परिवहन का पसंदीदा साधन बन गया है, जो समाज के सभी वर्गों के लिए सुविधाजनक और सुरक्षित है।

इसके अलावा, मंत्री ने कहा कि स्मार्ट सिटी मिशन के तहत पूरी की गई परियोजनाओं ने देश में शहरी नियोजन और शासन में नए मानक स्थापित किए हैं। इन शहरों में बेहतर शहरी प्रबंधन के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग बढ़ा है और 100 शहरों में से प्रत्येक में अपराध ट्रैकिंग, नागरिकों की सुरक्षा, परिवहन प्रबंधन, ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, जल आपूर्ति, आपदा प्रबंधन आदि जैसे शहरी सेवाओं के विविध क्षेत्रों में उल्लेखनीय सुधार हुआ है।

श्री मनोहर लाल ने देश के सभी हिस्सों में शहरी गरीबों तक पीएम स्वनिधि और डीएवाई-एनयूएलएम मिशनों के लाभ की पहुंच को और बढ़ाने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला, ताकि शहरी गरीबी के विभिन्न आयामों का समाधान किया जा सके और उनकी आय और आजीविका के स्रोत में सुधार किया जा सके।

सिर पर छत होने के महत्व के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि पीएमएवाई लाखों लोगों के जीवनभर के सपने को पूरा करने की दिशा में काम कर रहा है और इसलिए पीएमएवाई (शहरी) के तहत एक करोड़ और घर बनाने की प्रधानमंत्री की घोषणा मंत्रालय की प्रमुख प्राथमिकता होगी। उन्होंने आश्वासन दिया कि सभी आवास परियोजनाओं को समय पर पूरा करने के लिए समय-समय पर प्रभावी राज्य स्तरीय समीक्षा भी की जाएगी।

प्रदर्शन की समीक्षा के बाद, उन्होंने देश में सतत शहरी विकास के लिए रणनीतिक और व्यापक कार्ययोजना पर आशा व्यक्त की और समावेशी एवं विकसित भारत के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए विकास एजेंडे को नई गति के साथ आगे बढ़ाने का संकल्प लिया।

शोर्ट कंटेंट परोसना आज के युवाओं के लिए सबसे बड़ी चुनौती : राजीव जेटली

शोर्ट कंटेंट परोसना आज के युवाओं के लिए सबसे बड़ी चुनौती : राजीव जेटली

फरीदाबाद-11 जून। जे.सी.बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद में संचार एवं मीडिया तकनीकी विभाग द्वारा तृतीय समर इंटर्नशिप का आयोजन किया गया। यह इंटर्नशिप 11 जून से 10 जुलाई 2024 तक एक महीने तक चलेगी। इंटर्नशिप के उद्घाटन कार्यक्रम में हरियाणा मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जेटली, कुलपति प्रो एस.के.तोमर, रेडियो महारानी 89.6 एफएम की प्रमुख सपना सूरी और सीएमटी विभाग के अध्यक्ष डॉ. पवन सिंह, इंटर्नशिप कोऑर्डिनेटर डॉ तरुणा नरूला, सीनियर इंस्ट्रक्टर दुष्यंत त्यागी और प्रोडक्शन असिस्टेंट पंकज सैनी विशेष रूप से उपस्थित रहे।

मीडिया विभाग के स्टूडियो में आयोजित कार्यक्रम में तृतीय समर इंटर्नशिप-2024 का शुभारंभ हुआ। संचार एवं मीडिया तकनीकी विभाग के अध्यक्ष डॉ.पवन सिंह द्वारा अतिथियों के अभिवादन के साथ हुई। उन्होंने अपने स्वागत उद्बोधन में थ्योरिटिकल और व्यावहारिक कौशल के बीच अंतर को बताया। इंटर्नशिप के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और मीडिया के व्यवहारिक अनुभव प्रदान करने के लिए विश्वविद्यालय की प्रतिबद्धता पर प्रकाश डाला।

कुलपति प्रोफेसर एस.के.तोमर के शब्दों का अनुसरण करते हुए, जहां उन्होंने संचार एवं मीडिया प्रौद्योगिकी विभाग की उपलब्धियों पर गर्व व्यक्त किया। मीडिया के विद्यार्थियों को इंटर्नशिप कार्यक्रम द्वारा प्रदान किए गए अवसरों का अधिक लाभ उठाने के लिए प्रोत्साहित किया। इस समर इंटर्नशिप में शामिल सभी प्रशिक्षुओं के लिए एक समृद्ध अनुभव होने का वादा करती है, जिसमें व्यावहारिक सीखने और पेशेवर विकास पर ध्यान केंद्रित किया जाता है। पत्रकारिता में अपार संभावनाएं है। मीडिया विद्यार्थी को पर्यावरण क्षेत्र में गंभीरता से कार्यरत रहने की आवश्यकता है।

मुख्य अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी के मीडिया सलाहकार राजीव जेटली ने अपने उद्बोधन में डिजिटल युग में मीडिया और संचार के विकसित परिदृश्य पर चर्चा की। उन्होंने छात्रों को नई प्रौद्योगिकियों को अपनाने और बदलते मीडिया परिवेश के अनुरूप ढलने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा, "मीडिया उद्योग को आज ऐसे पेशेवरों की आवश्यकता है जो न केवल कुशल हों बल्कि अनुकूलनीय और इनोवेटिव भी हों।" आज समय की कमी के चलते सभी 30 सेकंड में ही दुनिया भर की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। इन्ही 30 सैकंड में कंटेंट परोसना आज के युवाओं के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। 

विशिष्ट अथिति के रूप में रेडियो महारानी प्रमुख सपना सूरी ने रेडियो प्रसारण में अपने विशेष अनुभव को विद्यार्थियों के साथ साझा किया। उन्होंने कहानी कहने की शक्ति और समाज पर मीडिया के प्रभाव के बारे में बात की। उन्होंने कहा, "रेडियो के पास लोगों से जुड़ने का एक अनोखा तरीका है और यह सामाजिक परिवर्तन लाने का एक शक्तिशाली एवं सरल माध्यम है।"

समारोह में डॉ. तरूणा नरूला ने अतिथियों और प्रतिभागियों को उनकी उपस्थिति और समर्थन के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, "यह इंटर्नशिप आपके कौशल को बढ़ाने और आपको अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मंच प्रदान करने के लिए डिज़ाइन की गई है।"

Monday 10 June 2024

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पेड़ लगाना जरुरी : एस एस बांगा

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पेड़ लगाना जरुरी : एस एस बांगा


- मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन फरीदाबाद के विशेष बैठक में उद्योगपतियों ने पर्यावरण सरंक्षण के लिए  लिया संकल्प 

- MAF के विशेष बैठक में बांटे गए 151 अमरुद, जामुन, गुलमोहर आदि के पौधे  

- एस एस बांगा सेल्फी विद प्लांटेशन ३.० के माध्यम से चला रहे अभियान 

- पर्यावरण सरंक्षण  व  स्वच्छ वातावरण के लिए  एकजुटता से कार्य करेंगे सभी उद्योगपति 

- एस एस बांगा ने  सभी औधोगिक इकाइओ और संगठनों को पेड़ लगाने के लिया किया अपील 


फरीदाबाद : पेड़ लगा कर अपने लिए ऑक्सीजन, छाया, फल, जड़ी-बूटियाँ,  पक्षियों लिए घर, अन्य जीव जन्तुओ  के लिए  भोजन,  शुद्ध वातावरण के लिए कार्बन डाइऑक्साइड जैसी हानिकारक गैसों का अवशोषण,  धरती के लिए जल संरक्षण जैसे अनेको फायदा मिलता है | भीषण गर्मी, असाध्य बीमारी जैसे अनेको प्रकोपों के माध्यम से प्रकृति खतरे की घंटी बजा रही है समय रहते हमे सचेत हो कर बड़ी संख्या में पेड़ लगाना ही एक मात्र समाधान है | उक्त बाते मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन फरीदाबाद के द्वारा सेंट्रल पार्क व्यू होटल में आयोजित  विशेष बैठक में बतौर विशेष अतिथि फरीदाबाद इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के क्लीन ग्रीन पैनल के चेयरमैन एस एस बांगा ने कही | बैठक में सभी सदस्यों को  एक एक पौधा  उपहार सवरूप दे कर उसे लगाने के साथ साथ उसका ध्यान रखने के लिए भी कहा गया | 

मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन फरीदाबाद के सभी सदस्यों का पर्यावरण के प्रति चिंता करते हुए पौधे लगाने का संकल्प  लेते हुए  विक्टोरा लाइफ फाउंडेशन द्वारा चलाये जा रहे सेल्फी विद प्लांटेशन ३.० में जुड़ कर हजारो पौधा लगा कर  हराभरा और प्रदूषण मुक्त फरीदाबाद बनाने के लिए आभार व्यक्त किया | 

एसोसिएशन के प्रधान श्री सुखदेव सिंह ने कहा की भारत विकासशील अर्त्ववस्था के रूप में उभर रहा है जिसके कारण भारत में कार्यरत औद्योगिक इकाइयों का भविष्य सुनहरी है। श्री सिंह ने बताया की एसोसिएशन अपने सदस्यो की समस्याओं को उठाने और उन्हें निपटने हेतु प्रयासरत है, एसोसिएशन द्वारा निरंतर ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है जो उन्हें नई तकनीक,समाजिक गतिविधियों और सरकारी तंत्र से संबंधित जानकारी प्रदान करने में सहायक हो।

एसोसिएशन के महासचिव श्री रमणीक प्रभाकर ने बताया की एसोसिएशन अपने सदस्यो को नई तकनीक के प्रति सजग करने हेतु अग्रसित है जिसके लिए उन्हें विश्व के विभिन्न व्यापारिक मेलो में भ्रमण हेतु निरंतर यात्राएं का क्रम जारी है। श्री प्रभाकर ने बताया की एसोसिएशन लगभग 7 व्यापारिक यात्राओं का आयोजन कर अपने सदस्यो को विश्व स्तर के औद्योगिकरण से जुड़ी जानकारी देने में अपना अहम योगदान दे रहा है और इस वर्ष भी सितंबर माह में  प्रतिनिधि मंडल को जर्मनी के जाने का कार्यक्रम है।

एसोसिएशन के पूर्व प्रधान श्री नरेश वर्मा ने बताया की एसोसिएशन सदैव पर्यावरण सरंक्षण हेतु तत्परता से कार्य करती रही है जिसके अंतर्गत सेक्टर 6 औद्योगिक क्षेत्र में सौंदर्यकरण में अपना अहम योगदान दिया।  एस एस बांगा द्वारा जारी अभियान की सराहना करते हुए सभी से  अपने सामाजिक और नैतिक दायित्व का निर्वाह करने की अपील किया | 
इस मौके पर ओ पी कंबोज, एस सी गर्ग,एम सी मालिक,ऋषि अग्रवाल,ऋषि त्यागी ,जगदीश शर्मा,राजकुमार शर्मा,  श्री भट्टी,शर्मा, बाली जी सहित अन्य उद्योगपति मौजूद रहे | 

Sunday 19 May 2024

 प्रधानमंत्री मोदी ने महिला लीडरशिप को डवलप किया है : जेपी नड्डा

प्रधानमंत्री मोदी ने महिला लीडरशिप को डवलप किया है : जेपी नड्डा

महिलाओं की मल्टि टॉस्किंग स्किल को पीएम मोदी ने पहचाना है : नड्डा


महिला मोर्चा सम्मेलन में नड्डा ने कहा - घमंडिया गठबंधन भ्रष्टाचारियों का गठबंधन है

फरीदाबाद, 19 मई। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महिला सशक्तिकरण के साथ-साथ महिला लीडरशिप को आगे बढ़ाने का काम किया हैं। उन्होंने महिलाओं की तारीफ करते हुए कहा कि महिलाओं के अंदर मल्टि टॉस्किंग स्किल होती है और इस स्किल को मोदी जी ने पहचाना है। महिला शक्तिकरण का परिणाम है कि संसद में 78 महिला सांसद हैं, जिनमें से 41 सांसद भाजपा की हैं। श्री नड्डा रविवार को फरीदाबाद सेक्टर-10 में महिला मोर्चा द्वारा आयोजित सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर श्री नड्डा ने महिला शक्ति से भाजपा प्रत्याशी कृष्णपाल गुर्जर की जीत को बड़ी जीत  में बदलने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि सभी महिला शक्ति घर-घर जाकर लोगों से वोटों की अपील करें और कृष्णपाल गुर्जर को 10 लाख से भी ज्यादा अंतर से जिताने में सहयोग करें।
श्री नड्डा ने कहा कि मोदी जी ने 2029 की लोकसभा के लिए नारी वंदन अधिनियम बनाकर महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने का काम किया। महिला सशक्तिकरण को आगे बढ़ाते हुए देश की डिफेंस मिनिस्टर और फाइननेंस मिनिस्टर और विदेश मंत्री बनाने का साहस देश में किसी ने किया तो नरेंद्र मोदी ने किया। नेशनल सिक्योरिटी की कमेटी में स्वर्गीय सुषमा स्वराज और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के रूप में किसी महिला को स्थान देने का काम नरेंद्र मोदी ने किया।
श्री नड्डा ने कहा कि नेशनल कमेटी से लेकर प्रदेश, जिला और मंडल तथा बूथ स्तर तक की कमेटी में महिलाओं को भागीदारी देने का काम भारतीय जनता पार्टी ने किया। उन्होंने कहा कि देश में सकारात्मक परिवर्तन लाने में महिलाओं का बहुत बड़ा योगदान रहा है। अगर विकास की दृष्टि से बात करें तो चाहे डिफेंस सेक्टर, कारपोरेट सेक्टर, स्टार्टटप में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्ति करने का काम पीएम मोदी ने किया है। उन्होंने आगे बढ़ते हुए कहा कि इसरो में ज्यादातर महिला वैज्ञानिक देश की सेवा में लगी हुई हैं। उन्होंने महिला शक्ति की तारीफ करते हुए कहा कि चंद्रायान की सफल लैंडिंग में महिला वैज्ञानिकों का पूर्ण सहयोग रहा है।
श्री नड्डा ने कहा कि मोदी सरकार ने जो भी नीतियां बनाई हैं उनमें महिलाओं की भागादारी और सशक्तिकरण ज्यादा से ज्यादा हो इसकी चिंता प्रधानमंत्री मोदी ने की है। भारत की प्रथम नागरिक महामहिम राष्ट्रपति द्रोपर्दी मूर्मू बनी है यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है। तीन करोड़ बहनों को लखपति दीदी बनाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि इकोनामिक ग्रोथ में महिलाओं का बहुत बड़ा योगदान है।
जेपी नड्डा ने कहा कि 12 करोड़ इज्जतघर, 10 करोड़ से ज्यादा महिलाओं को उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्शन, 4 करोड महिलाओं को पक्के घर और देश के लगभग 11 करोड़ परिवारों को पांच लाख रुपये तक का बीमा देने का काम मोदी सरकार ने इन 10 सालों में किया है। 11 करोड़ 78 लाख किसानों को किसान सम्मान निधि देने का काम पहली बार नरेंद्र मोदी ने किया है। हर घर में नल से स्वच्छ जल देने का काम भी देश में किसी ने किया है तो नरेंद्र मोदी सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि 80 करोड़ लोगों को गरीब कल्याण के तहत अनाज देने का काम मोदी सरकार अब कर रही है।
श्री नड्डा ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था को 11वें स्थान से पांचवें स्थान पर लाने का काम भी मोदी सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि गरीब कल्याण की नीतियों का परिणाम है कि 25 करोड़ से अधिक लोग गरीबी की रेखा उपर उठे हैं। कांग्रेस और घमंडिया गठबंधन पर हमला करते हुए श्री नडडा ने कहा कि ये तो परिवारवाद और भ्रष्टाचारियों का गठबंधन है।

सम्मेलन में बोलते हुए केंद्रीय संसदीय बोर्ड की सदस्य डा. सुधा यादव ने कहा कि महिलाओं के लिए जितने काम मोदी सरकार ने किए हैं, उतने काम पिछले 60 सालों में भी नहीं हुए। उन्होंने कहा कि हमारी बच्चियां आज देश की सेना में जाकर देश की सुरक्षा कर रही हैं और फाइटर प्लेन उड़ा रही हैं। यह विजन अगर किसी का है तो नरेंद्र भाई मोदी का है। उन्होंने कहा कि खेती की बात करें तो महिलाएं ड्रोन दीदी के रूप में अपने परिवार को सशक्त कर रही हैं। उन्होंने सभी महिलाओं से भाजपा प्रत्याशी कृष्णपाल गुर्जर के लिए घर-घर जाकर वोट मांगने की अपील की।
वहीं भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष उषा प्रियदर्शी ने कहा कि सही मायने में महिलाओं को जो आजादी मिली है वह मोदी सरकार में मिली है। महिलाओं को सक्षम बनाने का काम अगर किसी ने किया है तो मोदी सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि 10 सालों में जो सौगातें मोदी सरकार ने महिलाओं को दी है उससे निश्चित तौर पर महिलाएं सशक्त और स्वावलंबी बनी  हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक महिला कार्यकर्ता घर-घर जाकर महिलाओं को मतदान के लिए साथ लेकर जाना है और एक-एक वोट कमल का फूल का बटन दबाकर मोदी जी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाना है।
भाजपा संसदीय बोर्ड की सदस्य बहन सुधा यादव,  प्रदेश अध्यक्ष महिला मोर्चा उषा प्रियदर्शी, हरियाणा की शिक्षा मंत्री श्रीमति सीमा त्रिखा,  भाजपा जिला अध्यक्ष राजकुमार वोहरा,  विधायक नरेंद्र गुप्ता, फ़रीदाबाद की महापौर सुमन बाला, वरिष्ठ महिला नेत्री नीरा तोमर, ज़िला महिला मोर्चा अध्यक्ष राजबाला सरदाना, पलवल ज़िला  महिला मोर्चा अध्यक्ष  आशावती,  फरीदाबाद जिला प्रभारी महिला मोर्चा नीना राठी प्रदेश सचिव गीता रेक्सवाल,  ज़िला महामंत्री मनोज वशिष्ठ, प्रदेश कार्यालय सचिव महिला मोर्चा अनीता शर्मा, प्रदेश सोशल मीडिया पर मुख्य श्वेता शर्मा, आशा हुड्डा, राजराणा, जिला महामंत्री महिला मोर्चा फरीदाबाद सीमा भारद्वाज एवं अलका भाटिया, ज़िला मीडिया प्रभारी विनोद गुप्ता, युवा मोर्चा अध्यक्ष शोभित अरोड़ा, सह प्रभारी राज मदान मंडल अध्यक्ष नीरज मित्तल, कुलदीप साहनी आदि उपस्थित रहे|

Saturday 4 May 2024

 भाजपा उम्मीदवार मोहनलाल बडोली के पक्ष में विजय संकल्प रैली में मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर खूब साधा निशाना

भाजपा उम्मीदवार मोहनलाल बडोली के पक्ष में विजय संकल्प रैली में मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर खूब साधा निशाना

मोदी के नेतृत्व में देश सशक्त, मजबूत हुआ : नायब सैनी


मुख्यमंत्री ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, कहा- युवराज रायबरेली से भी चुनाव हारेंगे

हरियाणा की सभी लोकसभा सीट जीतकर फिर से इतिहास बनाएंगे : मुख्यमंत्री

खरखोदा (सोनीपत), 4 मई। हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने कहा है कि कांग्रेस के राज में उग्रवाद बढ़ने का सबसे बड़ा कारण यह था कि उस शासन में हमारी सेना को आतंकवादियों पर गोली चलाने की छूट नहीं थी। श्री सैनी ने कहा कि अगर कोई सैनिक गोली चलाता था तो उसे हिसाब देना पड़ता था और अगर हिसाब नहीं दे पता था तो उसका कोर्ट मार्शल किया जाता था,  लेकिन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैनिकों को पूरी छूट दे रखी है, जिसका परिणाम है कि आज सीमा पार से कोई आतंकवादी भारत में घुसने की कोशिश नहीं कर सकता।  
नायब सिंह सैनी शनिवार को यहां सोनीपत लोकसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार मोहनलाल बडोली के पक्ष में विजय संकल्प रैली को संबोधित कर रहे थे।  उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश को नई पहचान मिली है। देश सशक्त और मजबूत होकर एक नया भारत बना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के लोग झूठ बोलकर लोगों को बहकाने का काम करेंगे और हमारे कार्यकर्ताओं को न केवल उनके झूठ से बचना है बल्कि दूसरे लोगों को भी बचाना है। मुख्यमंत्री ने कांग्रेस के नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले राहुल गांधी अमेठी से चुनाव लड़ते थे, वहां से हारे तो वह भाग कर वायनाड पहुंचे और अब जब उन्हें लगा कि वायनाड सुरक्षित नहीं है तो वह भाग कर रायबरेली पहुंच गए। मुख्यमंत्री ने कहा की धारा 370 के माध्यम से देश में तीन परिवारों की राजनीति चलती थी लेकिन नरेंद्र मोदी ने   धारा 370 को खत्म करके इन तीन परिवारों की राजनीति पूरी तरह से खत्म कर दी है।
मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा एक झटके में गरीबी समाप्त करने का दावा करने पर तंज कसते हुए कहा कि उनके पास ऐसा कौन सा अलादीन का चिराग है जिसके माध्यम से वह एक झटके में देश से गरीबी समाप्त कर देंगे। उन्होंने कहा कि देश से गरीबी को खत्म करने की दिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जबरदस्त तरीके से काम किया है। 4 करोड़ मकान बना कर दिए। 11 करोड़ महिलाओं को उज्जवला स्कीम के अंतर्गत रसोई गैस के कनेक्शन दिए। हर घर में नल से स्वच्छ जल देना सुनिश्चित किया। 81 करोड़ परिवारों को मुफ्त राशन देने का काम कर रहे हैं।   केंद्र सरकार की नीतियों का परिणाम है कि 25 करोड लोग गरीबी की रेखा से बाहर निकलने में सफल हुए हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस की सरकार में केवल घोटाले होते थे, लेकिन वर्तमान में देश को मजबूत सरकार मिली है जिसने सड़क कनेक्टिविटी के माध्यम से पूरे देश में हर जिले को फोरलेन और नेशनल हाईवे से जोड़ने का काम किया है। उन्होंने कहा कि खरखोदा से दिल्ली जाने में पहले 4 घंटे लगते थे लेकिन आज 25 मिनट में दिल्ली पहुंच जाते हैं।
मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि कांग्रेस के झूठ का खुलासा करते हुए कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने राजस्थान में किसानों का कर्ज माफ करने का वादा कर उनका वोट तो हासिल कर लिया। उसके सहारे 5 साल सरकार भी चलाई लेकिन किसी भी एक व्यक्ति का एक भी रुपया माफ नहीं किया जिसका परिणाम यह निकला कि 16000 से ज्यादा किसानों की जमीन कुर्क हो गई और 4500 से ज्यादा किसानों ने आत्महत्या कर ली।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज हर जगह एक ही बात की चर्चा है कि 10 साल में नरेंद्र मोदी ने बहुत कार्य किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आज झूठ बोलकर लोगों का वोट हासिल करना चाहती है। कांग्रेस ने महिलाओं को एक-एक लाख रुपये देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि देश का बजट 46 लाख करोड़ रुपये का है और कांग्रेस की इसी घोषणा पर 50 लाख करोड़ रुपए खर्च होंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को यह बताना चाहिए कि वह अपनी इस घोषणा को कैसे पूरा करेगी? मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि कांग्रेस को अपने पिछले 60 साल का भी हिसाब देना चाहिए कि उसने इस दौरान कितनी घोषणाएं की और उनमें से कितनी घोषणाएं पूरी हुई। मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबों, महिलाओं, युवाओं और किसानों के लिए जितना काम नरेंद्र मोदी ने किया है पहले किसी भी सरकार ने नहीं किया। पहले देश में एक एम्स था। अटल जी ने इनकी संख्या चार की और आज नरेंद्र मोदी के शासनकाल में इनकी संख्या करीब दो दर्जन हो गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने हर योजना का विरोध किया और यहां तक कि कांग्रेस ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का भी विरोध किया, जबकि सरकार ने किसानों को हर साल 6000 रुपए देने का काम किया।
मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर गरजते हुए कहा कि कांग्रेस इस देश को बांटने का काम कर रही है। कांग्रेस ने हमेशा पिछड़ों और दलितों को एक वोट बैंक के रूप में माना है और उनका शोषण किया है। अब कर्नाटक में असंवैधानिक रूप से कांग्रेस ने धर्म के आधार पर आरक्षण देने का काम किया है, जिसे भाजपा किसी भी सूरत में सहन करने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि पिछड़ा वर्ग और दलितों को इस बात को समझना होगा कि कौन उनका शोषण करने वाला है और कौन उनकी रक्षा करने वाला है।

खबर में बॉक्स
आज पूरा देश अबकी बार 400 पार का नारा लगा रहा :मोहनलाल बडोली

सोनीपत लोकसभा से भाजपा उम्मीदवार मोहनलाल बडोली ने कहा कि लोगों को भाजपा के विकास कार्यों पर इतना विश्वास है कि वह अब किसी के बहकावे में आने वाली नहीं है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि वह सभी जगह नहीं जा सकते हैं। समय कम है और इलाका बड़ा है, लेकिन आप लोगों को मोहनलाल बडोली बनकर हर घर तक पहुंचना है और लोगों से वोट की अपील करनी है। उन्होंने कहा कि हरियाणा की सभी 10 लोकसभा सीटों पर कमल का फूल खिलने जा रहा है।
मोहनलाल बडोली ने कहा कि भाजपा के राज में विकास के कार्य पूरी गति से हो रहे हैं और इसीलिए आज पूरा देश अबकी बार 400 पार का नारा लगा रहा है। उन्होंने विरोधी दलों की नीयत पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि यह जातिवाद की बात करते हैं और लोगों को बांटने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी लोगों को अपने झांसे में लेने का काम करेंगे लेकिन लोगों को उनके बहकावे में नहीं आना है। यह चुनाव देश के निर्माण और देश को विश्व गुरु बनाने का चुनाव है।

खबर में बॉक्स
केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों के नाम पर भाजपा को वोट देंः धनखड़
 
भाजपा के राष्ट्रीय सचिव और पूर्व मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने किसानों के मसीहा सर छोटू राम का सम्मान किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी सांपला में आए और छोटू राम की प्रतिमा लोगों को समर्पित की। ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि  देश को आजादी के 75 साल बाद राम मंदिर मिल पाया। उन्होंने कहा की धारा 370 खत्म करने का काम कोई और नहीं कर सकता था। नरेन्द्र मोदी ने यह करके दिखाया। उन्होंने दिल्ली में बने वॉर मेमोरियल का जिक्र करते हुए कहा कि आज इस वॉर मेमोरियल में देश के हर शहीद का नाम लिखा हुआ है और यह पहली सरकार है जिसने देश के शहीदों को सम्मान देने का काम किया है। ओमप्रकाश धनखड़ ने केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों के नाम पर जनता से वोट की अपील की। साथ ही कहा कि कांग्रेसी कभी भारत माता की जय नहीं बोलते और इस जय की मदद के लिए भी देश के लोगों को भाजपा के पक्ष में वोट करना चाहिए।

यह रहे मौजूद
इस अवसर पर विधायक निर्मल चौधरी, कविता जैन, कृष्णा गहलावत, उमेश शर्मा, ललित बत्रा, धर्मपाल मलिक, जवाहर सैनी, जगबीर, ओम प्रकाश शास्त्री, बबीता दहिया, वीरेंद्र शांडिल्य, देवेंद्र कौशिक भी मौजूद थे।

Saturday 27 April 2024

भगवान ने दिया साधन, गुरु ने सिखाई युक्ति - स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य

भगवान ने दिया साधन, गुरु ने सिखाई युक्ति - स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य

फरीदाबाद। सूरजकुंड रोड स्थित श्री सिद्धदाता आश्रम में आज नामदान कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें जगदगुरु स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य महाराज ने सविधि दीक्षा की परंपरा को पूर्ण कर भक्तों को मंत्र प्रदान किया। आज यहारं देश भर से पहुंचे करीब 225 लोगों ने दीक्षा प्राप्त की।


इस अवसर पर स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य महाराज ने कहा कि दीक्षा प्राप्त कर आप परमात्मा के मार्ग पर चलने जा रहे हैं। क्योंकि आपको पता चल गया है कि आपके जीवन का लक्ष्य क्या है। आपको यह जीवन मुक्ति के लिए मिला है और मुक्ति दीक्षा से ही प्राप्त होती है। उन्होंने कहा कि एक समर्थ गुरु ही हमें मुक्ति का मार्ग दिखा सकता है। गुरुजी ने बताया कि कमाना, खाना, बच्चे पैदा करना आदि के बारे में तो पशुओं को भी पता है। यह सब भोग हैं। यदि हम भी पशुओं के जैसे भोग के पीछे ही भागे तो हमारे बीच अंतर क्या रह जाएगा।


हमें गुरुजन से ही पता चला है कि हम भगवान के अंश हैं, उनके पुत्र हैं। हम भगवान के यहां से आए हैं और उनके ही पास हमें जाना है। इसके लिए हमें गुरुज्ञान मिलता है और गुरु का ज्ञान दीक्षा से प्रारंभ होता है। उन्होंने बताया कि यह जीवन अनेकानेक जन्मों से कर्मों को भोगता आया है। लेकिन इन भोगों से मुक्ति के लिए मनुष्य का शरीर भगवान ने हमें दिया है। यह भगवान के बनाए सभी जन्मों में श्रेष्ठ जन्म है। यह भी हमें गुरुजन से ही पता चला है। उन्होंने कहा कि इस शरीर की महिमा रामायण में भी बताई गई है। जिसमें इस मानव शरीर को मोक्ष का साधन बताया गया है। लेकिन यह मोक्ष का साधन भगवान की करुणा कृपा से मिलता है। इस शरीर का महत्व गुरु बताते हैं और हमें गुरु के मार्ग पर चलाते हैं। स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य ने बताया कि आज से आपके आध्यात्मिक मार्ग की यात्रा शुरू हो गई है। मैं आप सभी के अच्छे जीवन के लिए प्रार्थना करता हूं।


इससे पहले उन्होंने सभी भक्तों को यज्ञ करवाया और उनके कंधों पर तप्त शंख एवं शक्र लगाए और उनके कान में मंत्र भी प्रदान किया। इसके साथ ही सभी को जनेऊ पहनाकर भगवान के शरणागत करवाया गया। बता दें कि श्री रामानुज संप्रदाय में दीक्षा का सर्वाधिक महत्व बताया गया है जिसमें कहा गया है कि भगवान के शंख चक्रों और उनके मंत्र को अपने अंदर स्वीकार करने वाले की मुक्ति में कोई संशय नहीं रह जाता है। इस अवसर पर मधुर भजनों की भी प्रस्तुति हुई।

पूरे विश्व में भारत की जो धाक है,वह भारत की मजबूती का प्रमाण: मनोहर लाल

पूरे विश्व में भारत की जो धाक है,वह भारत की मजबूती का प्रमाण: मनोहर लाल

गोहाना,   27 अप्रैल।   । हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है कि कांग्रेस झूठी घोषणाओं के सहारे अपने चुनावी नैया को पार लगाना चाहती है,लेकिन देश की जनता अब इस बात को भली प्रकार समझने लगी है कि कांग्रेस की घोषणाओं में कोई दम नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल शुक्रवार को सोनीपत लोकसभा उम्मीदवार के लिए विजय संकल्प रैली को संबोधित कर रहे थे।  

 गोहाना विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर जमकर निशाना लगाया। उन्होंने कहा कि जब से देश में चुनाव की घोषणा हुई है,कांग्रेस बौखलाई हुई है और पिछले कुछ दिनों में राहुल गांधी द्वारा दिए गए बयान से उनकी बौखलाहट साफ नजर आती है। ‌उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने महिलाओं को एक लाख रुपए प्रति वर्ष देने का वायदा किया है लेकिन कांग्रेस को यह बताना चाहिए कि वह महिलाओं को एक-एक लाख रुपए कैसे देंगे,क्योंकि अगर ऐसा किया जाता है तो देश का सारा बजट एक ही झटके में खत्म हो जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस आज गरीबी हटाने की बात करती है लेकिन कांग्रेस को अपने 60 साल के शासन में गरीबी हटाने की याद नहीं आई।
मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता और देश को भी मजबूत किया है। आज पूरे विश्व में भारत की जो धाक है वह भारत की मजबूती का प्रमाण है। आज पूरा विश्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने नतमस्तक होता है।
उन्होंने कहा कि भाजपा की नीति लोगों में पैसा बांटने की नहीं है बल्कि लोगों को स्वाबलंबी बनाने की है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को ट्रेनिंग के जरिए "ड्रोन दीदी" बनाया जा रहा है। महिलाओं को स्वावलंबी बनाया जा रहा है ताकि उन्हें किसी के सामने हाथ फैलाने की जरूरत नहीं पड़े। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार गरीबों को पैसा बांटने की बजाय सरकार स्टार्टअप और लघु उद्योगों और व्यापारों के माध्यम से उन्हें मजबूत करने का काम कर रही है।
 सोनीपत लोकसभा प्रत्याशी मोहनलाल बडोली को भारी मतों से जिताने की अपील करते हुए मनोहर लाल ने कहा कि देश में नरेंद्र मोदी को लेकर जबरदस्त लहर है और भारतीय जनता पार्टी लोकसभा चुनाव  मे रिकॉर्ड तोड़ सीट हासिल करने जा रही है।

Saturday 2 March 2024

 मानव रचना ने तीसरे ब्रिक्स काउंसिल ऑफ एक्सरसाइज एंड स्पोर्ट्स साइंस कॉन्फ्रेंस की मेज़बानी की

मानव रचना ने तीसरे ब्रिक्स काउंसिल ऑफ एक्सरसाइज एंड स्पोर्ट्स साइंस कॉन्फ्रेंस की मेज़बानी की

 कॉन्फ्रेंस में 20 अलग-अलग देशों के 450 करीब प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया

सम्मेलन के दौरान 103 पेपर और 75 पोस्टर प्रस्तुत किए गए

 

                                                                                                                                                                  02  मार्च, 2024, फ़रीदाबाद:  मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज़ (एमआरआईआईआरएसमें स्कूल ऑफ एलाइड हेल्थ साइंसेज की ओर से आयोजित ब्रिक्सेस 2024 सम्मेलन का समापन हो गया। बच्चों और युवाओं के लिए समग्र स्वास्थ्य और खेल में प्रगतिविज्ञान के जरिए नवाचारएकीकरण और स्थिरता विषय पर आयोजित हुए इस चार दिवसीय सम्मेलन में 20 देशों से आए करीब 450 प्रमुख विशेषज्ञोंविद्वानोंऔर पेशेवरों ने प्रभावशाली चर्चा की। इस सम्मेलन के दौरान कुल 103 पेपर और 75 पोस्टर प्रस्तुत किए गए। इसके साथ ही विभिन्न सत्रों में स्वास्थ्य और खेल विज्ञान के विभिन्न आयामों पर मुख्य भाषणइंटरैक्टिव पैनल डिस्कशन और व्यावहारिक कार्यशालाओं का आयोजन भी हुआ।

सम्मेलन को लेकर पूर्व कार्यशालाओं का आयोजन भी किया गयाजिसमें उपस्थित लोगों को स्वास्थ्य और खेल विज्ञान के विभिन्न पहलुओं पर व्यावहारिक कौशल प्रदान किया गया। सम्मेलन के दौरान ब्रिक्स काउंसिल ऑफ एक्सरसाइज एंड स्पोर्ट्स साइंस की एक्जीक्यूटिव काउंसिल की विशेष मौजूदगी रहीजिन्होंने विषय के विभिन्न आयामों पर अपना दृष्टिकोण पेश किया और विस्तार से चर्चा की।

 

चार दिवसीय सम्मेलन के दौरान प्रोफेसर हंस डी रिडरब्रिक्सेस के अध्यक्ष और फाउंडिंग सेक्रेट्ररी-जनरलप्रोमिंगकाई चिन (यूएसए),  फाउंडेशन फॉर ग्लोबल कम्युनिटी हेल्थ के संस्थापक और अध्यक्षडॉप्रशांत भल्लाअध्यक्ष एमआरईआई  संरक्षकब्रिक्सेसप्रोफेसर (डॉ.) जी.एलखन्नाएमआरआईआईआरएस के प्रति उप कुलपति और उपाध्यक्ष  फाउंडिंग मेंबर ब्रिक्सेस ; प्रोफेसर रिकार्डो आर अविन्हाफाउंडिंग मेंबर  सेक्रेटरी जनरल ब्रिक्सेस मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

 

 

सम्मेलन के दौरान मुख्य वक्ताओं के तौर पर प्रोफेसर डॉमरियम गुएरा-बालिकप्रोउरी शॉफ़रऔर मेयो क्लिनिकयूएसए के प्रोफेसर स्टीफन कोपेकी ने खेल विज्ञान के क्षेत्र पर बहुमूल्य विचार रखे और विषय पर अपना दृष्टिकोण साझा किया। विशेषज्ञों के तौर पर डॉधनंजय शॉडॉमोहित दुआ और डॉश्रीदीप चटर्जी ने चर्चा सत्र के दौरान बहुमूल्य प्रस्तुतियां दी और उपस्थित लोगों के बीच संवाद को प्रोत्साहित किया।

 

इस दौरान कई आमंत्रित वक्ताओं ने प्रभावशाली प्रस्तुतियां दी और सम्मेलन में शामिल किए गए विषयों पर  प्रकाश डाला। इनमें डॉएंटनिन क्यूबनप्रोगुशिना यूलियाडॉ.घनश्याम डोखरत; तुर्की से प्रोफेसर सेरप इनल ; सिंगापुर से प्रोजीबालसेकरनएशियन काउंसिल एंड एक्सरसाइज स्पोर्ट्स साइंस के अध्यक्ष  एसीएसएम हेल्थ फिटनेस डायरेक्टरमलेशिया से प्रोफेसर फूंग कीव ओईमलेशिया से गैरी कुआनसेक्रेटरी-जनरलएशियन-साउथ पैसिफिक एसोसिएशन ऑफ स्पोर्ट साइकोलॉजी   कार्यकारी बोर्ड सदस्य एशियन काउंसिल ऑफ एक्सरसाइज एंड स्पोर्ट्स साइंस (एसीईएसएस); ब्राजील से लारिसा पाइर्सहेल्थ साइंसेज फेडरल यूनिवर्सिटीभारत में यूनियन क्रिश्चियन ट्रेनिंग कॉलेज से डॉकिशोर मुखोपाध्याय आदि शामिल रहे।

 

सम्मेलन में "इंटरनेशनल हैंडबुक ऑफ स्पोर्ट्स एंड एक्सरसाइज साइंसनामक पुस्तक का अनावरण भी हुआ। विशेष रूप सेटर्किश जर्नल ऑफ फिजियोथेरेपी एंड रिहैबिलिटेशन ने 103 पेपर प्रकाशित किएजबकि जर्नल ऑफ एक्सरसाइज साइंस एंड फिजियोथेरेपी ने 49 प्रकाशित पेपर प्रकाशित किए।

 

सम्मेलन में पैनल चर्चाओं की एक श्रृंखला भी आयोजित की गईजिसमें विशेषज्ञों ने खेल विज्ञान में अंतःविषय दृष्टिकोणस्वास्थ्य शिक्षा में प्रौद्योगिकी के नवीन उपयोगदैनिक गतिविधियों में शारीरिक गतिविधि को नियमित रूप से एकीकृत करने की नीतियों जैसे विषयों पर वक्ताओं ने विचार रखते हुए व्यावहारिक चर्चा की।

 

एमआरईआई के अध्यक्ष डॉप्रशांत भल्ला ने खेल और स्वास्थ्य विज्ञान में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए आवश्यक सहयोगनवाचार और प्रतिभाओं के  पोषण जैसे मुद्दों पर मुख्य रूप से काम करने का सुझाव दिया। उन्होंने विकास के मार्ग पर आगे बढ़ते भारत की प्रगति पर चर्चा करते हुए कहा कि दुनिया की नजर हमारे देश पर है।

 

डॉजीएल खन्ना ने स्वास्थ्य और शारीरिक शिक्षा में समकालीन चुनौतियों से निपटने में शैक्षणिक संस्थानों की भूमिका पर व्यावहारिक दृष्टिकोण पेश किया।

 

सम्मेलन में फ्यूचर लर्निंग वालंटियर्स (एफएलवीकी ओर से आयोजित "ब्रेन ब्रेककार्यशाला विशेष सत्र रहाइसे विशेष रूप से छात्रों और उपस्थित लोगों दोनों को तरोताजा करने और प्रेरित करने के लिए तैयार किया गया था।

 

सम्मेलन के दौरान सामान्य अनुसंधान के विकासशैक्षणिक कार्यक्रमोंवैज्ञानिक तरीकों के आदान-प्रदान और आपसी हितों के लिए डॉसंजय श्रीवास्तवउप कुलपतिएमआरआईआईआरएस और प्रोफेसर (डॉ.) यूलिया गुशचिनाउप निदेशकअंतर्राष्ट्रीय मामलेआरयूएनडी पीपल्स यूनिवर्सिटीरूस ने मिलकर एक समझौता ज्ञापन पर भी हस्ताक्षर किए गए। इसके तहत भविष्य के लिए नीतियां तैयार की गई हैं। विज्ञान के वैश्विक मंच पर उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए प्रोफेसर मिंगकाई चिन (यूएसएको ब्रिक्सस के प्रेज़ीडेंस अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

 

कार्यक्रम के बीच इंडियाज  अमेरिकाज़ गॉट टैलेंट में प्रतिभा दिखाने वाली राहुल यादव और टीम ने सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश कर सभी का मनोरंजन किया। चार दिवसीय सम्मेलन ने अकादमिक उत्कृष्टता और ज्ञान के प्रचार-प्रसार के लिए एक मजबूत गठबंधन के मंच के तौर पर काम किया।  आकर्षक सत्रों में स्वास्थ्य और खेल विज्ञान के विभिन्न आयामों को शामिल किया गयाजिसमें प्रसिद्ध विशेषज्ञों के मुख्य भाषणइंटरैक्टिव पैनल चर्चाएं और व्यावहारिक कार्यशालाएं शामिल रहीं।