Showing posts with label faridabad. Show all posts
Showing posts with label faridabad. Show all posts

Sunday, 7 March 2021

Manav Rachna 14th Corporate Cricket Challenge : Architect Sprots Trust & NHAI WON MATCH

Manav Rachna 14th Corporate Cricket Challenge : Architect Sprots Trust & NHAI WON MATCH

 

    Faridabad : 7 MARCH I 1st Match of the day was played between Architect Sports Trust and Maruti Suzuki The Chief guest of the day was Mr. Sarkar Talwar, Director Sports, MRIIRS. Mr. Talwar gave Good Luck Message to both the teams and said that the sportsmanship must be maintained and to win, they must play their natural game. Captain of  Architect Sports Trust won the toss and elected to Bat  first. Architect Sprots Trust Scored 251/4         runs in 20 Overs. For Architect Sports Trust team, Mr. Jensil John  made 76 runs in 30 balls (3 fours, 9 Sixes), Ayush Bhardwaj  made 47 runs in 29 balls (2 Fours, 5 Sixes), Simarjeet Singh  made 44 runs  in 19 balls (2 Fours, 5 Sixes), Ayush Prakash made 32 runs in 14 balls (1 Four, 4 Sixes) and Amit Sharma made 27 runs in 22 balls respectively.For Maruti Suzuki team bowling Vidur Kaushik  (3-0-36-1), Gagan  (4-0-46-1) Sunny (2-0-22-1) for his team  In reply Maruti Suzuki team made only 53/10 runs in 8.3 Overs and Loose the Match by 198 Runs.  For maruti Suzuki Mr.  Manoj made 15 runs in 15 Balls (1 Four, 1 Six), Mukesh made 10 runs in 6 balls (2 Fours), Ankit made 9 runs in 13 balls (1 Four) for his team respectively.For Architect Sports Trust Bowling  Vivek (4-0-31-4), Sanjay Kumar Surya got hatrick (0.3-0-0-3), Sareen (3-0-14-1) for his team.Mr. Vivek of  Architect Sports Trust  team was declared ‘Man of the Match’ for his brilliant performance. He took 4 important wickets and given only 31 runs in 4 Overs for his team. The man of the match prize was given by Mr. Sarkar Talwar, Director Sports, MRIIRS.The 2nd match of the day was was played between NHAI and Hindustan Petroleum.  




The match was inaugurated by Mr. Mr. Sarkar Talwar Director Sports, MRIIRS. Captain of NHAI  won the toss and elected to Bat first. NHAI  Scored 308/7 runs in 20 Overs. For  NHAI team  Mr. Sandeep Dahiya played a brilliant inning he made 134 runs not out in 41 balls (8 Four, 15 Sixes), Rohit made 84 runs in 32 balls (6 Fours, 9 Sixes) Priyank Bharti made 40 runs in 20 balls (3 Fours, 3 Sixes) and Krishan Dalal made 17 runs in 14 balls (2 Sixes) for his team respectively.The Successful bowlers for Hindustan Petroleum team Mr. Anurag (4-0-49-4), Sunny Yadav (4-0-43-2) Amit (4-0-57-1)  for his team .In reply  Hinustan Petroleum team Made only 147/10  runs in 19.1 Overs and Loose the match by 161 Runs. For Hindustan Petroleum  team Mr. Sunny Yadav made 38 runs in 19 Balls (1 Four, 4 Sixes), Anil made 24 runs not out  in 21 balls (2 Fours, 1 Six) Amit made 20 runs  in 10 balls (1 Four, 2 Sixes) & Sainyum made 14 runs in 15 balls (1 Six)  for his team respectively.For NHAI Bowling Krishan Dalal (3.1-0-30-5), Harsh Gupta (4-0-26-3) Sandeep (4-0-16-1) Javed (4-0-51-1) for his team Mr. Sandeep Dahiya of  NHAI  team was declared ‘Man of the Match’ for his brilliant performance. He Scored 134 Runs not out  in 41 balls for his team. The man of the match prize given by Mr. Sarkar Talwar, Director Sports,MRIIRS. The 3rd match of the day was was played between Wave Infratech and Escorts Construction is in progress.

 

Saturday, 6 March 2021

किशनपाल के प्रयासों से ट्यूबल लगने का कार्य शुरू : कविंदर फागना

किशनपाल के प्रयासों से ट्यूबल लगने का कार्य शुरू : कविंदर फागना

   फरीदाबाद :  एनआईटी विधानसभा क्षेत्र के सेक्टर 50 में वार्ड नंबर 8 के,इ, ब्लॉक 8 महास्य धर्मशाला ,नजदीक गली चाचा दफ्तर गली में भाजपा मंडल के अध्यक्ष कविंदर चौधरी ने स्थानीय लोगों से ट्यूबल लगाने के कार्य का शुभारंभ करवाया I इस अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कविंद्र चौधरी ने कहा कि भाजपा के दिग्गज नेता एवं केंद्रीय राज्य मंत्री चौधरी कृष्णपाल गुर्जर के प्रयासों से एनआईटी विधानसभा क्षेत्र के वार्ड नंबर 8 में बड़े पैमाने पर विकास कार्य करवाए जा रहे हैं I  और उन्हों के आशीर्वाद से भी प्लान के तहत ट्यूबल लगाने के कार्य का शुभारंभ किया गया है I क्योंकि लोगों को इस क्षेत्र में पेयजल की भारी किल्लत थी यही नहीं आगे भीषण गर्मी भी है जिसको लेकर केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने लोगों की समस्याओं को देखते हुए तुरंत अधिकारियों को उक्त इलाके में ट्यूबवेल लगाने के कार्य का आदेश दिया है यही वजह से ही आज इस इलाके मैं ट्यूब लगाने का कार्य किया जा रहा है कविंद्र चौधरी ने कहा कि ट्यूबवेल लगाने से अब आसपास की गलियों में भी पानी की दिक्कत दूर हो सकेगी इस अवसर पर लोगों ने केंद्रीय राज्य मंत्री का आभार व्यक्त किया इस अवसर पर महास्य  , दुबे ,चतर सिंह, हरिओम ,बिजेंदर  सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे I 

Monday, 3 February 2020

 तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में अंतर्राष्ट्रीय किकबॉक्सिंग मैं  12 देशों के 1000  खिलाडी  भाग लेंगे

तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में अंतर्राष्ट्रीय किकबॉक्सिंग मैं 12 देशों के 1000 खिलाडी भाग लेंगे

फरीदाबाद 03 फ़रवरी I दिल्ली के तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में दिनांक 10 से 13 फरवरी तक आयोजित होने वाली 'इंडियन ओपन अंतर्राष्ट्रीय किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता' में फरीदाबाद के 25 खिलाडी, 5 प्रशिक्षक एवं 4 रेफ़री भाग लेंगे.



'फरीदाबाद जिला किकबॉक्सिंग संघ' एवं 'हरियाणा किकबॉक्सिंग संघ' के संस्थापक महासचिव श्री संतोष कुमार अग्रवाल ने बताया की 'विश्व किकबॉक्सिंग महासंघ' के निर्देशानुसार दिल्ली के तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में दिनांक 10 से 13 फरवरी तक 'इंडियन ओपन अंतर्राष्ट्रीय किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता'     में फरीदाबाद के 25 खिलाडी, 5 प्रशिक्षक एवं 4 रेफ़री भाग लेंगे.



फरीदाबाद जिले के खिलाडियों में ओम तेवतिया, भविष्य तोमर, सुजाता सोलंकी, रिद्धि तंवर, मेधांश सिंह, तन्मय शर्मा, रवीना शाह, निहाल सिंह रावत, स्वेता नागर, अंश मेंदीरत्ता, अमिति महाजन, ललिता, मोहित, निरल कुकरेजा, मोनल कुकरेजा, हिताली खत्री, योगिता कौशिक, हरवीन कौर, इशानी ग्रोवर, परिवेश धाकर, देव, डेलीशा बिस्वाल, गार्गी भटिआ, तत्त्व भरद्वाज, अंतरा बंसल, अमन हैं, एवं प्रशिक्षक के रूप में सचिन गुप्ता, अजय सैनी, अंजू शर्मा, भगीरथ शर्मा, योगेंदर, रेफ़री के तौर पर राजन राय, पुलकित भरद्वाज, सचिन एवं हरमनदीप कौर जाएंगे.



'वाको इंडिया किकबॉक्सिंग महासंघ' के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री संतोष कुमार अग्रवाल ने बताया इस प्रतियोगिता में भारत सहित विश्व के 12 देशों के लगभग 1000 चुनिंदा खिलाडी एवं अधिकारी भाग लेंगे.

भारत में पहली बार आयोजित होने वाली इस प्रतियोगिता को तकनिकी दृष्टि से सफलता पूर्वक आयोजित करने के लिए क्रोएशिया से "वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ़ किकबॉक्सिंग ओर्गनइजेशन्स" के विश्व तकनिकी समिति के चेयरमैन श्री रोमियो डेसा, विश्व निर्णायक समिति के चेयरमैन एस्तोनिया से श्री यूरी लखतिकोव एवं ग्रेट ब्रिटैन से श्री ब्रायन बेक को विशेष रूप  से आमंत्रित किया गया है.



श्री अग्रवाल ने यह भी बताया की इस प्रतियोगिता में भारतीय खिलाडियों को बेहतरीन अंतर्राष्ट्रीय अनुभव मिलेगा.



क्या है किकबॉक्सिंग:

किकबॉक्सिंग मार्शल आर्ट की एक आधुनिक हाइब्रिड शैली है जिसे पूर्व में फुल कांटेक्ट कराटे के नाम से जाना जाता था. कराटे की तकनीकों के साथ - साथ पश्चिमी मुक्केबाजी के आधार पर द्वितीय विश्व युद्ध के उपरांत विकसित हुई यह आधुनिक युद्धक कला आज एक विश्व व्यापी खेल का रूप ले चूका है. मार्शल आर्ट की इस आधुनिक शैली के विस्तार एवं नियंत्रण हेतु वर्ष 1977 में "वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ़ किकबॉक्सिंग ऑर्गनाइज़ेशन (वाको)" की स्थापना हुई जिसका मुख्यालय इटली में स्थित है. वाको द्वारा इस युद्धक कला के खेल प्रारूप को कुशलता पूर्वक विकसित किया गया जिसे युवाओं ने काफी तेजी से अपनाया और परिणाम स्वरुप आज विश्व के पाँचों महाद्वीपों के लगभग सभी देशों में वाको की राष्ट्रीय इकाइयां कार्यरत है. इसकी लोकप्रियता को देखते हुए 30 नवंबर 2018 को टोक्यो, जापान में आयोजित 'इंटरनेशनल ओलम्पिक कमिटी' की एग्जीक्यूटिव बोर्ड मीटिंग के दौरान वाको किकबॉक्सिंग खेल को मान्यता प्रदान कर दी गई जबकि 'इंटरनेशनल वर्ल्ड गेम्स एसोसिएशन (आई.डब्लू.जी.ए.)', 'ओलम्पिक कौंसिल ऑफ़ एशिया (ओ.सी.ए)', 'वर्ल्ड एंटी- डोपिंग एजेंसी (वाडा)', इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी स्पोर्ट्स फेडरेशन (फिसु)', तथा ग्लोबल एसोसिएशन ऑफ़ इंटरनेशनल स्पोर्ट्स फेडरेशन (जी.ए.आई.एस.एफ.) जैसी अंतर्राष्ट्रीय खेल संस्थाओं से किकबॉक्सिंग को पूर्व से ही मान्यता प्राप्त है.



भारत में किकबॉक्सिंग:

भारत में "वाको किकबॉक्सिंग" से सम्बंधित 'किकबॉक्सिंग खेल' की शरुआत वर्ष 1994 हुई और धीरे - धीरे इसने अपनी गति पकड़ी, अन्य देशों की तरह भारत में भी वाको की सम्बद्ध संस्था "वाको इंडिया किकबॉक्सिंग फेडरेशन" के नाम से कार्यरत है जिसके नेतृत्व में देश के 32 राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों में किकबॉक्सिंग की सम्बद्ध इकाइयां कार्य कर रही है.



वर्तमान में भारत में किकबॉक्सिंग खेल को राष्ट्रीय स्तर पर स्कूली खेलों एवं विश्वविद्यालय खेलो में शामिल कर लिया गया है.



"वाको इण्डिया किकबॉक्सिंग फेडरेशन" के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं भारत में "वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ़ किकबॉक्सिंग ऑर्गनाइज़ेशन (वाको)" के प्रतिनिधि श्री संतोष कुमार अग्रवाल ने बताया की पिछले दो वर्षों में किकबॉक्सिंग खेल के तकनिकी स्वरूप में काफी सुधार आया है, देश के खिलाडियों ने अंतररष्ट्रीय प्रतियोगिताएं में पदक जीतना शुरू कर दिया है यह एक अच्छा संकेत है. यदि एशिया महाद्वीप की बात की जाए तो पिछले दो वर्षों में 'भारतीय टीम' का अंतर्राष्टीय प्रतियोगिताओं में पुरे एशिया महाद्वीप 



Thursday, 20 June 2019

फरीदाबाद ने पलवल को 8 विकेट से हराया

फरीदाबाद ने पलवल को 8 विकेट से हराया

फरीदाबाद, 20 मई : भूपानी रावल क्रिकेट मैदान पर इंटर डिस्ट्रिक्ट  पटौदी ट्रॉफी  क्रिकेट मैच प्रतियोगिता का आयोजन हुआ और डीसीए फरीदाबाद और पलवल टीम के बीच मैच खेला गया  इस मौके पर डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन के प्रेसिडेंट रजत भाटिया और महासचिव राजीव यादव ने टीम को जीत की शुभकामनाएं दी डीसीए फरीदाबाद टीम के लेवल ए कोच सुनील चौधरी भी उपस्थित थे । 

यह मैच 50 - 50 ओवर का था I पलवल डिस्ट्रिक्ट टीम ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का निर्यण लिया  पलवल डिस्ट्रिक्ट टीम की ओर से बल्लेबाजी करते हुए टीम ने 49.3 ओवर में 10 विकेट पर 182 रन बनाए टीम की और बल्लेबाजी करते हुए अरुण पवार  ने 42 रन , ऋषभ ने  74 रन बनाए , धर्मेन्द्र ने 21 रन  बनाए । 

 फरीदाबाद टीम की और से गेंदबाजी करते हुए रवि बल्हारा ने 3 विकेट , अरुण चपराना ने 2 विकेट , दिनेश कबीरा , राहुल तेवतिया ओर राहुल डागर ने 1 - 1 विकेट ली । इस लक्ष्य का पीछा करते हुए फरीदाबाद की टीम ने  37 ओवर में  2  विकेट पर 183 रन  बना कर जीत हासिल की टीम की और से बल्लेबाजी करते हुए  राहुल दलाल ने 46 रन , आकाश अंतिल ने  72 रन , अनुभव आहूजा ने 36 रन , बनाए I पलवल  की और से गेंदबाजी करते हुए कृष्ण ने 1 विकेट , रोबिन ने 1 विकेट ने ली  । फरीदाबाद डिस्ट्रिक्ट टीम ने 8 विकेट से मैच जीता ।
क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ एन सी आर गुड़गांव टीम ने रेवाड़ी टीम को 6 विकेट से हराया

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ एन सी आर गुड़गांव टीम ने रेवाड़ी टीम को 6 विकेट से हराया

फरीदाबाद 20 जून  : : गुरुग्राम टेरी क्रिकेट मैदान पर इंटर डिस्ट्रिक्ट  पटौदी ट्रॉफी  क्रिकेट मैच प्रतियोगिता का आयोजन हुआ और क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव और  रेवाड़ी टीम के बीच मैच खेला गया I  क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव के सेक्रेटरी श्री ओ पी तनेजा ने बताया कि टीम के खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करके टीम को मजबूती दे रहे हैं इस मैच उपस्थित प्रेसीडेंट  श्री यू एस मान  , कोच तेजेन्द्र मान , रजनीश गौतम , प्रमोद सैनी थे । यह मैच 50 - 50 ओवर का था I रेवाड़ी डिस्ट्रिक्ट टीम ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी  करने का निर्यण लिया रेवाड़ी डिस्ट्रिक्ट टीम की ओर से बल्लेबाजी करते हुए टीम ने  50  ओवर में 9 विकेट पर  269 रन बनाए टीम की और बल्लेबाजी करते हुए जितेंद्र ने 46  रन , कमल सैनी ने 45 रन बनाए , कपिल कुमार   ने 38 रन , प्रियतोष ने 59 रन ,विकास यादव ने नाबाद 25 रन बनाए । 

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव टीम की और से गेंदबाजी करते हुए हितेश शर्मा ने 2 विकेट ,सुमित कुमार और जतिन सैनी ने 2 -2 विकेट ली , विनीत शर्मा ने 1ली । 

इस लक्ष्य का पीछा करते हुए क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव की टीम ने   49 ओवर में  4  विकेट पर 273   रन बना कर जीत हासिल की  टीम की और से बल्लेबाजी करते हुए कपिल ने 76 रन , विजयंत साहू ने 45 रन , कुलदीप देवतवाल ने  74  रन ओर सुमित कुमार ने  50  रन ।  रेवाड़ी की और से गेंदबाजी करते हुए राहुल यादव ने 2 विकेट ,  विशाल यादव और जितेंद्र ने 1- 1 विकेट ली । क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ  एन सी आर गुड़गांव  ने यह मैच 6 विकेट से जीता ।

Tuesday, 14 May 2019

Homeopathic Doctor In Faridabad For Hairloss Alopecia Areata : Dr. Abhishek Kasana

Homeopathic Doctor In Faridabad For Hairloss Alopecia Areata : Dr. Abhishek Kasana


Homeopathic Doctor In Faridabad For Hairloss Alopecia Areata

डॉ.अभिषेक कसाना M.D होम्योपैथी (Homeopathic Doctor In Faridabad)

एलोपेशिया आरैटा सलाह देता है: -एएस डॉ। अभिषेक के अनुसार, होम्योपैथिक उपचार के लिए सख्त व्यक्तिगतकरण की आवश्यकता होती है। अपने होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह के बिना कोई दवा न लें।

एलोपेशिया एरियाटा हेयर लोस
  • कारण,
  • लक्षण,
  • उपचार,
  • होम्योपैथी दवा और
  • खालित्य areata के होम्योपैथिक उपचार।
एलोपेशिया एरेटा को गंजे क्षेत्रों को बनाने वाले गोल पैच में अचानक बालों के झड़ने की विशेषता है। यह एक अत्यधिक अप्रत्याशित त्वचा रोग है जो खोपड़ी और शरीर के अन्य हिस्सों पर हो सकता है।

अन्य ऑटोइम्यून विकारों के साथ कुछ समानताओं के कारण, यह सुझाव दिया जाता है कि एलोपेसिया अरीता एक ऑटोइम्यून बीमारी है। बालों का झड़ना आमतौर पर खोपड़ी पर गंजापन के एक या अधिक छोटे, गोल, चिकने पैच से शुरू होता है जो खोपड़ी पर कुल बालों के झड़ने में प्रगति कर सकता है।

एलोपेशिया आरैटा का विभेदक निदान
  • तिन्या कैपिटास
  • कर्षण द्वारा खालित्य
  • खालित्य जन्मजात
  • एनाफिलेक्टिक द्वारा प्रेरित रासायनिक ट्राइकोटिलोमेनिया
  • इफ्लुवियम एलोपेसिया
  • Trichodystrophies
  • ल्यूपस एरिथेमेटोसस
  • Pseudopelade
  • काई
  • planopilaris
  • बुलर स्क्लेरोडर्मा
  • पेम्फिगॉइड
  • उपदंश
  • फॉलिकुलिटिस अलोपेसिया
  • नियोप्लास्टिक कूपिक श्लेष्मा
एलोपेसिया अरेटा जेनेटिक ग्रैनुलोमैटस विकारों की पूर्वसूचना एटियलजि - परिवार के इतिहास में ऑटोइम्यून रोग के साथ सहयोग की संभावना बढ़ जाती है - (थायराइड रोग, एडिसन रोग, विटिलिगो) एक ऑटोइम्यून उत्पत्ति का सुझाव देता है; एनाजोन हेयर फॉलिकल में और उसके आसपास लिम्फोसाइटिक घुसपैठ की उपस्थिति अतिरिक्त प्रमाण है। एलोपेसिया अरीटा अन्य ऑटोइम्यून बीमारियों से अलग है, जिसके परिणामस्वरूप लक्ष्य अंग के कार्य का पूर्ण नुकसान नहीं होता है, लेकिन बाल कूप की गतिविधि के एक अस्थायी परिवर्तन में, जो सामान्य में वापस आ सकता है। इससे पता चलता है कि लक्ष्य वृद्धि कारक या उसके रिसेप्टर को नियंत्रित कर सकता है।

कारण

सूक्ष्मजीव, तंत्रिकाजन्य उत्तेजना, भावनात्मक तनाव और खराब मैथुन कौशल की पहचान संभावित कारणों या ट्रिगर के रूप में की गई है।

एलोपेशिया आरैटा क्लिनिकल प्रेजेंटेशन के लक्षण और लक्षण बालों के झड़ने के छोटे-छोटे गोल पैच से लेकर क्रॉनिक लॉस तक भिन्न होते हैं, स्कैल्प, भौंहों, पलकों, नाक, दाढ़ी और शरीर के बालों की कुल नॉनसर्किंग, स्पॉन्टेनियस रिमिशन देख सकते हैं।

खालित्य Areata मनोवैज्ञानिक रूप से दर्दनाक हो सकता है। एक अज्ञात ट्रिगर के कारण हेयर फॉलिकल एनाजेन, डायस्ट्रोफिक एनाजेन हेयर, कैटजेन या हेयर टेलोजेन चरण बदलते हैं।

नाखून का डंक लग सकता है। अन्य ऑटोइम्यून बीमारियों जैसे कि हाशिमोटो के थायरॉयडिटिस और विटिलिगो के साथ संबंध की एक उच्च घटना बताई गई है।

खालित्य आर्यता के मामले में अनुसंधान विस्तृत इतिहास और शारीरिक परीक्षण नैदानिक उद्देश्यों के लिए महत्वपूर्ण उपकरण हैं; अंग विशिष्ट एंटीबॉडी का प्रदर्शन किया जा सकता है। किसी अन्य विकार को बाहर करने के लिए स्कैल्प बायोप्सी उपयोगी हो सकती है।

एलोपेशिया आरैटा का उपचार इस स्थिति के लिए उपचार के विकल्पों की एक किस्म उपलब्ध है, यदि छोटे बालों के झड़ने की पहचान पैच, यह बेहतर है कि प्रतीक्षा करें और बालों को अपने आप वापस बढ़ने दें। अन्य उपचार विकल्पों में मुख्य रूप से शामिल हैं: मजबूत सामयिक स्टेरॉयड के आवेदन, एक स्टेरॉयड का इंजेक्शन, मिनोक्सिडिल का उपयोग बालों के विकास को बढ़ावा देने के लिए किया गया है और कुछ मामलों में स्वभाव परिणाम दिखाया गया है।

बालों के विकास को प्रोत्साहित करने के लिए, बालों के झड़ने की साइट पर एक संपर्क जिल्द की सूजन, या जलन पैदा करने के लिए एक अन्य प्रकार का उपचार तैयार किया गया है। इन मामलों में रिलैप्स के साथ फोटो कीमोथेरेपी भी टेंपररी परिणाम दे सकती है।

अलोपेसिया अरेटा का आभा होम्योपैथिक उपचार: - होम्योपैथी चिकित्सा की सबसे लोकप्रिय समग्र प्रणालियों में से एक है। डॉ.अभिषेक कसाना एम। डी। आभा होम्योपैथी के अनुसार, होम्योपैथी एलोपेसिया अरीटा और अन्य ऑटिइम्यून रोगों के लिए सर्वश्रेष्ठ उपचार प्रदान करती है। एलोपेशिया आरैटा के लिए सर्वश्रेष्ठ होम्योपैथिक दवा का चयन एक समग्र दृष्टिकोण के उपयोग के माध्यम से वैयक्तिकरण के सिद्धांत और लक्षणों की समानता पर आधारित है। यह एकमात्र तरीका है जिसके माध्यम से आप उन सभी संकेतों और लक्षणों को दूर कर सकते हैं जो रोगी पूर्ण स्वास्थ्य की स्थिति से पीड़ित हैं। होम्योपैथी का लक्ष्य न केवल एलोपेसिया आरिएटा के उपचार के लिए है, बल्कि इसके अंतर्निहित कारण और व्यक्तिगत संवेदनशीलता को संबोधित करना है। उपचारात्मक दवाओं के संबंध में, खालित्य areata के उपचार के लिए कई उपचार उपलब्ध हैं जिन्हें दावों के कारण, संवेदनाओं और तौर-तरीकों के आधार पर चुना जा सकता है। व्यक्तिगत उपाय और उपचार के चयन के लिए, रोगी को अपने पास के सर्वश्रेष्ठ होम्योपैथिक चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए, या साइबर क्लिनिक की नियुक्ति का विकल्प चुनना चाहिए।


Alopecia areata के लिए कुछ सर्वश्रेष्ठ होम्योपैथिक दवा:

  • फेरम फॉस - एनीमिया के कारण सिर से बालों का झड़ना
  • एसिडम का आटा - बुजुर्गों की खालित्य या समय से पहले उम्र के साथ उपदंश, पैच में बालों का झड़ना, टाइफाइड बुखार के कारण बालों का गिरना
  • सीपिया - गर्भावस्था के दौरान बालों का झड़ना, दाद जैसे क्षेत्रों में, रूसी खोपड़ी की गंधक सल्फर - स्तनपान कराने वाली महिलाओं में बाल गिरते हैं, जब अच्छी तरह से चयनित दवाएं राहत देने में विफल रहती हैं।
  • सेलेनियम मिले - सिर, भौहें, पलकें और शरीर के अन्य हिस्से से बालों का झड़ना
  • नैट्रम म्यूर - बच्चे के जन्म के बाद बालों का झड़ना, एक बच्चे को उसके नर्सिंग से, पुराने सिरदर्द के बाद बालों का झड़ना
  • Mancinella - एक गंभीर तीव्र बीमारी के बाद बालों का झड़ना 
  • Vinca मामूली - बालों का झड़ना, मजबूत और अच्छी तरह से परिभाषित, परिचालित पैच जो नरम खोपड़ी को छोड़ देते हैं और सफेद या भूरे बाल सफेद ऊन जैसे गंजे क्षेत्रों में बढ़ सकते हैं।
  • फोस एसिड - एलोपेशिया आरैटा के लिए उल्लेखनीय उपाय, बालों का झड़ना एक गंभीर बीमारी के बाद गिरता है, बाल झड़ते हैं, भौंहें और पलकें गिरती हैं
  • लच्छी दाढ़ी के बाल झड़ते हैं - बाल झड़ते हैं
  • कार्बो वेग - गर्भावस्था के दौरान बाल गिरना

हमारे अन्य लेख बताते हैं कि होम्योपैथी के साथ इसका इलाज कैसे किया जाता है और एलोपेसिया अरीता के लिए सर्वश्रेष्ठ संकेतित होम्योपैथिक उपचार नीचे दिए गए हैं।


आभा होम्योपैथिक मेडिकल फाउंडेशन, फरीदाबाद, दिल्ली- NCR, भारत 31 अप्रैल 2018 और 17 अगस्त, 2018

© होम्योपैथिक मेडिकल फाउंडेशन ऑरा। सर्वाधिकार सुरक्षित।

ई-मेल: aurahomoeopathy@gmail.com

एलोपेशिया आरैटा सलाह देता है: -एएस डॉ। अभिषेक के अनुसार, होम्योपैथिक उपचार के लिए सख्त व्यक्तिगतकरण की आवश्यकता होती है। अपने होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह के बिना कोई दवा न लें।