Showing posts with label World. Show all posts
Showing posts with label World. Show all posts

Thursday, 22 April 2021

 Indian women create history at 2021 AIBA Youth Men’s and Women’s World Boxing Championships, end campaign with seven gold medals

Indian women create history at 2021 AIBA Youth Men’s and Women’s World Boxing Championships, end campaign with seven gold medals


New Delhi, April 23, 2021: Indian women boxers put up sensational performances as they created history at the 2021 AIBA Youth Men’s and Women’s World Boxing Championships and concluded their campaign on highly successful note with seven gold medals in Kielce, Poland on Thursday.

 

All the women finalists in action--Gitika (48kg) Naorem Babyrojisana Chanu (51kg), Poonam (57kg), Vinka (60kg), Arundhati Choudhary (69kg), T Sanamacha Chanu (75kg) and Alfiya Pathan (+81kg)— registered victories and finished on the top of the podium. Previously Indian women had won five gold medals during the 2017 edition of Youth World Championships held in Guwahati. India women’s team also finished as the No.1 team in the ongoing Championship ahead of Russia with seven gold medals.


Asian Youth Champion Sanamacha, who trains at boxing great MC Mary Kom’s academy in Imphal, added the historic sixth gold for India when she outperformed Kazakhstan’s Dana Diday 5-0 in the 75kg final. Later Young boxing sensation from Maharashtra Alfiya clinched the seventh gold for the country as she stunned a strong contender European Youth Champion Moldova’s Daria Kozorez 5-0 in the final.


“This has been an amazing effort from our youth boxers especially when the players had to be confined at home for most part of the last year and only make do with online training sessions. Our coaches and support staff did a stellar job despite the limitations and challenges. I congratulate all the winners on this unprecedented medal haul. This achievement is a testament of the talent we have in the upcoming generation of Indian boxing,” Boxing Federation of India President, Ajay Singh said while talking about the unprecedented medal haul by India at the AIBA Youth World Championships.


Earlier, Gitika led the country’s dominance and provided a perfect start for the day. The Haryana boxer, who came into the match beating two-time European Champion Italy’s Erika Prisciandaro, knocked down local favourite Natalia Kuczewska 5-0 in the women’s 48kg final and secured first gold medal for India at the on-going Championship.


The Asian Youth Champion Babyrojisana (51kg) and Poonam (57kg) further extended Indian winning momentum as the duo secured identical 5-0 victories to add two more gold medals. While Manipur boxer Babyrojisana looked in great touch during her flawless win against the European Junior Champion Russian Valeriia Linkova, Poonam also hit the aggressive mode from the word go and dominated her experienced opponent Sthelyne Grosy. With sharp and precise punches Poonam did not allow her opponent from France to score any point before completing an easy 5-0 triumph in the final bout.


Vinka (60kg) also produced a spectacular show as her punches, packed with a lot of power, were too strong for Kazakhstan boxer Zhuldyz Shayakhmetova. Referee had to stop the contest and declare Indian as the winner. Rajasthan boxer Arundhati added one more gold for Indian when she completed a fine 5-0 win against Polish boxer Barbara Marcinkowska in the 69kg final.


A 20-member Indian contingent had already created history by securing 11 medals at the on-going Youth World Championships bettering their previous best of 10 medals in 2018 edition. The only Indian men in the final, Sachin (56kg) will be in action tomorrow. Earlier in the men’s section Bishwamitra Chongthom (49kg), Ankit Narwal (64kg) and Vishal Gupta (91kg) won three bronze medals for the country with the semi-finals finish.


A 10-day biennial event, which had the men’s and women’s championship played together for the first time during the 2018 edition in Hungary, has witnessed high competition in presence of 414 boxers from 52 countries.  

Sunday, 14 March 2021

Manika, Sutirtha make winning starts at World Singles Qualification Tournament

Manika, Sutirtha make winning starts at World Singles Qualification Tournament


 Mumbai, March 14, 2021: Ace India paddlers Manika Batra and Sutirtha Mukherjee began their quest for the 2021 Tokyo Olympics berth on winning note as the duo registered comfortable straight-set victories in their respective women's singles knockout stage-I opening round matches at the World Singles Qualification Tournament in Doha on Sunday.

The Commonwealth Games gold medallist Batra dominated Bulgaria’s Maria Yovkova during her 11-5, 11-7, 11-4, 11-0 win. While Mukherjee faced some resistance from her opponent Lisa Lung in the fourth game but it was too late for Italian as Mukherjee wrapped the game as well as the match 11-3, 11-5, 11-7, 12-10 in her favour.  

Meanwhile, Achanta Sharath Kamal and Gnanasekaran Sathiyan suffered defeats against Italian opponents in their respective men's singles opening matches. While Sathiyan lost to Mihai Bobocica 11-7, 11-6, 11-8, 11-5, seasoned campaigner Sharath also couldn’t manage hold edge over Niagol Stoyanov as he went down fighting 11-9, 6-11, 8-11, 4-11, 11-8, 10-12. Both the Indians had received bye in the opening round.

With four Indians participating in the ongoing qualification event, where a total of nine (four men and five women) places are up for grabs and scheduled from March 14-17. In the men’s category, players are split into three knockout rounds with the winner of each knockout round earning himself a place in the singles event at the Tokyo Olympics. While the losing finalist and semi-finalists from each of the three knockouts, will be drawn into another knockout stage and the winner will secure the remaining one spot.


For the women’s category, entries are split into four knockouts with the winner of each knockout securing a spot in singles at the Tokyo Olympics. However, losing finalist from each of the four knockouts will fight for the remaining single berth as they will participate in the second stage where they will be drawn into a final knockout and the winner will make it to the Olympics.

Later tonight in the women’s second round matches, Batra will take on Uzbekistan’s Rimma Gufranova while Sutirtha will face a challenge from Russian Polina Mikhailova.  
ENDS

Friday, 12 March 2021

एफआईए एवं मैट्रो अस्पताल फरीदाबाद ने संयुक्त रूप से शुरू किया स्वास्थ्य जागरूकता अभियान

एफआईए एवं मैट्रो अस्पताल फरीदाबाद ने संयुक्त रूप से शुरू किया स्वास्थ्य जागरूकता अभियान

 

फरीदाबाद, मार्च 13  I एफआईए एवं मैट्रो अस्पताल फरीदाबाद में कार्यरत विभिन्न उद्योगों एवं कंपनियों के कर्मचारियों को स्वास्थ्य जागरूक बनाए के लिए शुरू किया"एफआईए - मैट्रो स्वास्थ्य जागरूकता अभियान"

पदम विभूषण ,पदम भूषण बीसीरॉय से सम्मानित मैट्रो अस्पताल के चेयरमैन डॉक्टर पुरषोत्तम लाल ने बताया कि" विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार विश्व के बहुत सारे देशों में आधे से ज्यादा कर्मचारी अनौपचारिक क्षेत्र के उद्योगों में कार्यरत है, और यह सब किसी स्वास्थ्य बीमा या सुविधा के अंतर्गत नहीं आते।

एक अनुमान के मुताबिक विकास शील देशों में लगभग सवा करोड़ लोग हर साल नॉन कम्युनि के बल डिसीज़ आधारित लाइफ स्टाइल से जुड़ी बीमारियों से अपनी जान से हाथ धो बैठते है।"




फ़रीदाबाद इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के प्रेसिडेंट श्री बीआर भाटिया ने इस मौके पर बताया किएक कर्मचारी औसतन अपना एक तिहाई जीवन अपने कार्य स्थल पर गुजारता है।कर्मचारियों की सेहत का किसी भी देश की अर्थव्यवस्था का सीधा संबंध है।कार्य क्षेत्र पर उपस्थित विभिन्न प्रकार के जोखिम जैसे किगर्मी, शोर, धुल, रसायन, मशीन, स्ट्रेस इत्यादि बीमारियों को बढ़ाती है।कर्मचारी जोकि स्ट्रेस एवं इस परिस्तिथियों 




में कार्य के उपरांत उनके धूम्रपान करने, व्यायामना कर ने एवं अस्वस्थ भोजन कर ने की संभावना को बढ़ाते है।"

मैट्रो अस्पताल फरीदाबाद के मेडिकल डारेक्टर एवं डाइरेक्ट रइंटरवेंशनल का र्डियोलॉजिस्ट डॉनी रज जैन ने बताया कि"विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार हृदय रोग, सुनन ने की क्षमता में कमी, चर्मरोग, लंग कैंसर, उच्च रक्त चाप, मधुमेह आदि बीमारियां कार्य स्थल से जुड़ी हैं ।इस कारण यह बहुत भी जरूरी है कि कर्मचारी अपनी स्वास्थ्य जीवन शैली खान पान के प्रति जागरूक रहें। इसके लिए उन्हें अपनी दिन चर्या में सैर एवं व्यायाम, धूम्र पान पर सख्त रोक,अपने वजन पर कंट्रोल,४० साल से ऊपर के लोगों को साल में एक बार ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर एवं सामान्य ख़ून की जाँच जरूर कराए ।यदि शरीर के को ई दर्द, गांठ, साँस फूलना आदि का कोई लक्षण देखें तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें, क्योंकि समय पर लीस लाह ईलाज़ पर खर्च एवं जीवन दोनों को बचाता है।"






मैट्रो अस्पताल के सीओओ एवं मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ मंजिन्दर भट्टी ने बताया कि"इन्हीं तथ्यों को देखते हुए एफआईए फ़रीदाबाद इंडस्ट्रीज एसोसिएशन एवं मैट्रो अस्पताल फ़रीदाबाद ने फ़रीदाबाद में कार्यरत निजी क्षेत्र के कर्मचारियों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक बनाने के लिए स्वास्थ्य जागरूकता अभियान की शुरुआत की है।इस अभियान के अंतर्गत फ़रीदाबाद की निजी कंपनियों के कर्मचारियों की जांच मैट्रो अस्पताल के डॉक्टरों की टीम अगले साल में करेगी।फरीदाबाद में ४०० से ज्यादा उद्योग एवं इनमें  ४० लाख कर्मचारी काम करते है ।"

 

 

Wednesday, 10 March 2021

 Sharath loses in pre-quarters at WTT Star Contender Doha

Sharath loses in pre-quarters at WTT Star Contender Doha


Mumbai, March 11: Paddler Achanta Sharat Kamal’s impressive run at the WTT Star Contender Doha came to an end after the Indian suffered a 9-11, 8-11, 6-11 defeat at the hands of World No. 12 Dimitrij Ovtcharov in the men’s singles pre-quarterfinals match on Wednesday.

The World No. 32 Sharath, who surprised World No. 16 Germany’s Patrick Franziska in the last round, started the game well and gave a tough fight to his relatively higher-ranked German opponent as the first two games of the match went neck-to-neck before the London Olympics bronze medalist Ovtcharov turning the momentum in his favour. The German further capitalised on the 2-0 lead and wrapped up the match to enter the quarter-final stage.



With Sharath's defeat, Indian participation at the tournament came to an end. Earlier, Gnanasekaran Sathiyan and Manika Batra made second round exits in their respective singles categories.



Friday, 3 April 2020

जेसीबी इंडिया ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के लिए एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के साथ साझेदारी

जेसीबी इंडिया ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के लिए एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के साथ साझेदारी

 फरीदाबाद : 3 अप्रैल : अर्थमूविंग एवं कंस्‍ट्रक्‍शन इक्विपमेंट बनाने वाली देश की प्रमुख कंपनी, जेसीबी इंडिया लिमिटेड ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में मदद के लिए एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, फरीदाबाद के साथ साझेदारी की है। इस परियोजना को जेसीबी इंडिया के सीएसआर इनिशिएटिव से आंशिक रूप से वित्‍त घोषित  किया जाएगा। कंपनी पीपीई, दवाइयां, टेस्टिंग किट, सिक्युरिटी सूट्स तथा डॉक्टरों और स्वास्थ्य रक्षा में जुटे कर्मचारियों के लिए कंज्‍यूमेबल्‍स बनाने हेतु फंड जुटाने के लिए पूरी तरह से  प्रतिबद्ध है। इससे कोविड-19 प्रकोप के दौरान फरीदाबाद और आसपास के क्षेत्रों में इस बीमारी से प्रभावित मरीजों को पूरी तरह से मेडिकल सुविधाएं मुहैया कराने की तैयारियों में संयुक्त रूप से तेजी आएगी।  

जेसीबी इंडिया के सीईओ और प्रबंध निदेशक सुबीर कुमार चौधरी ने इस साझेदारी पर टिप्‍पणी करते हुए कहा, “हमने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने, उसके प्रभाव को कम से कम करने के लिए कई स्तरों पर एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के साथ मिलकर रणनीति बनाने की शुरुआत की है ताकि कोविड-19 से पीड़ित मरीजों की मदद की जा सके। कंपनी के मूल्यों को ध्यान में रख कर यह रणनीति अपने संचालन क्षेत्र के आसपास रहने वाले लोगों की मदद करने के लिए तैयार की गई है। हमें पूरा विश्वास है कि इस साझेदारी से फरीदाबाद के लोगों को कोरोनावायरस के इलाज के लिए जरूरी सहयोग मिलेगा, जहां भारत में हमारा मुख्‍यालय स्थित है। हम इस तरह की पहल को अन्य क्षेत्रों में भी करने के बारे में सक्रियता से सोच रहे हैं, जहां हमारी दूसरी फैक्ट्रियां स्थित हैं। एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज फरीदाबाद में सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल है, जिसकी क्रिटिकल केयर यूनिट सबसे बड़ी है जोकि हरियाणा से लेकर पलवल, होडल और मेवात तक को कवर करती है। इसलिए यह महत्‍वपूर्ण है कि कोरोना वायरस की संभावित थर्ड स्टेज में इस क्षेत्र के मरीजों को बेहतर इलाज के लिए इस अस्पताल में भेजा जाएगा।

एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक डॉ. एन. के. पांडे ने बताया, “हमने फिलहाल हमारे इमरजेंसी फ्‍लोर को कोविड-19 ट्राइएज और आइसोलेशन सेंटर में बदल दिया है (इस तरह यह वॉर्ड अस्पताल के बाकी विभागों से अलग है)। यहां कम, ज्‍यादा और बहुत ज्‍यादा गंभीर रूप से प्रभावित मरीजों के लिए अलग-अलग क्षेत्र हैं। इस क्षेत्र में कम से कम 14 दिन की शिफ्ट करने वाले सभी स्टाफ कर्मियों को आवासीय सुविधाएं भी मुहैया कराई जाएंगी। इस फ्लोर को आधुनिक मेडिकल उपकरणों और सपोर्ट सिस्टम जैसे वेंटिलेटर्स, सीपीएपी, बीआईपीएपी, डिफिब्रिलेटर्स, ब्रोकेंस्कोपी और एक्सरे जैसी सुविधाओं से पहले से ही लैस किया जा चुका है। केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए प्रभावी और गंभीर कदमों के अलावा हम यहां पर कोरोना वायरस के मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराने की तैयारी कर रहे हैं।” 

जेसीबी इंडिया के विषय में :
जेसीबी इंडिया लिमिटेड भारत में पिछले चार दशकों से अर्थमूविंग एवं कंस्‍ट्रक्‍शन इक्विपमेंट की अग्रणी विनिर्माता है। इसकी फरीदाबाद (बल्‍लभगढ़), पुणे और जयपुर में विनिर्माण सुविधायें हैं। कंपनी हमेशा से अपनी सभी फैक्ट्रियों के आसपास रहने वाले समुदायों के प्रति प्रतिबद्ध रही है। भारत में जेसीबी इंडिया ‘मेक इन इंडिया’ प्रोग्राम का प्रतीक है। वर्तमान में यह आठ श्रेणियों में 60 से ज्यादा अलग-अलग प्रॉडक्ट्स का निर्माण करती हैं। इन उत्‍पादों को 100 से ज्यादा देशों को निर्यात किया जाता है। जेसीबी का यूके से बाहर पुणे में सबसे बड़ा डिजाइन सेंटर है जहां ये भविष्‍य के लिए आकर्षक नई तकनीकों को विकसित करती है। यह उत्‍पादन में महिलाओं को शामिल करने में भी अग्रणी है और इसकी जयपुर फैक्‍ट्री में शॉप कर्मचारियों में लगभग 34 प्रतिशत महिलाएं हैं। अपनी सीएसआर पहलों के माध्‍यम से, जेसीबी इंडिया समुदायों के साथ भी काम कर रहा है ताकि एक बेहतर जिंदगी को बढ़ावा दिया जा सके। वर्ष 2000 में लेडी बैमफोर्ड चैरिटेबल ट्रस्‍ट (एलबीसीटी) सेट-अप ने अपनी बल्‍लभगढ़ फैक्‍ट्री के पास एक स्‍कूल की मदद कर कंपनी की सीएसआर यात्रा को आरंभ किया। लगभग दो दशक बाद कंपनी की सीएसआर पहलों ने तीन इन-हाउस फाउंडेशन और चार सस्‍टेनेबल डेवलपमेंट गोल्‍स का विस्‍तार किया, और उन समुदायों तक पहुंच बनाई जिसमें महिलायें, किशोर लड़कियां, बच्‍चे, गांव के कारीगर और युवा शामिल हैं।

ये पहलें 15 हजार से अधिक स्‍टूडेंट्स तक पहुंच बनाती हैं और उन्‍हें क्‍वालिटी एजुकेशन प्रदान करती हैं। साथ ही बाजार पहुंच एवं उत्‍पादन दक्षताओं के साथ 2,000 से अधिक कारीगरों एवं महिला समूहों को भी कवर करती हैं। इसके द्वारा 50 पंचायतों को भी सहयोग दिया जा रहा है और उन्‍हें गुणवत्‍तापूर्ण परियोजनाओं तक पहुंच मुहैया कराई जा रही है। जेसीबी इंडिया ने दो अग्रणी एवं अभिनव सीएसआर परियोजनायें भी शुरू की हैं, नीला हाउस, जोकि जयपुर में क्राफ्‍ट के लिए सेंटर ऑफ एक्‍सीलेंस हैं और साहित्‍य के लिए वार्षिक पुरस्‍कार – जेसीबी प्राइज़ फॉर लिट्रेचर जोकि भारतीय लेखकों द्वारा फिक्‍शन के प्रतिष्ठित कार्य का जश्‍न मनाता है। 

Saturday, 2 November 2019

Escorts Ltd. Q2 Profit up by 1.8% at ₹ 104.6 cr.

Escorts Ltd. Q2 Profit up by 1.8% at ₹ 104.6 cr.

New Delhi, November 3, 2019: Escorts Limited today reported a standalone profit of 104.6 crore in quarter ended September 30, 2019, up by 1.8 % as against a profit of 102.7 crore in the corresponding period last year. Revenue from operations at 1,323.9 crore in quarter ended September 2019 as against 1,398.4 crore in the corresponding period last year.

The standalone net profit for the first half year ending September 2019 at 192.1 crore as against a profit of 223.4 crore in the corresponding period last fiscal. Revenue from operations at 2,746.8 crore in first half ended September 2019 as against 2,909.6 crore in the corresponding period last fiscal.


Speaking on the results, Chairman and managing Director Mr. Nikhil Nanda said,

“Our new products across business lines, investments in distribution for wider reach & enhanced customer experience with technology upgrades has helped us foray strong in the current industrial pace. Our continuous cost optimization initiatives will offer us additional leverage for stronger revenue, profitability & increased share of market. We will continue to invest in R&D to create value for our customers across domestic and export geographies.”

SEGMENT WISE PERFORMANCE

Escorts Agri Machinery
Tractor sales were at 19,750 units in quarter ended September 2019 as against 20,553  units in the corresponding period last fiscal. Segmental revenue came at 995.6 crore in quarter ended September 2019 as against 1,043.3 crore in corresponding period last fiscal. This quarter on account of lower volume and unfavourable product mix, EBIT margins now stands at 10.3%.
For first half of current fiscal tractor volumes at 40,801 units as compared to 45,533 units in corresponding period last fiscal. Segmental revenue came at 2,087.7 crore in half year ended September 2019 as against 2,220.5 crore in corresponding period last fiscal. EBIT margin for first half of fiscal at 10.6% as compared to 14.4% in the corresponding period last fiscal.

Escorts Construction Equipment
Construction equipment sales volume for the quarter ended September 2019 were 945 machines as against 1,331 machines in corresponding period last fiscal. Segmental revenues came at 201 crore in quarter ending September 2019 as against 249.1 crore in corresponding period last fiscal. EBIT margin went up by 195 bps to 2.7% as against 0.7% in corresponding period last fiscal.
For first half of current fiscal construction equipment volumes at 2,012 units as compared to 2,676 units in corresponding period last fiscal. Segmental revenue came at 413.2 crore in half year ended September 2019 as against 495.1 crore in corresponding period last fiscal. EBIT margin for first half of fiscal went up by 105 bps to 2.6% as compared to 1.6% in the corresponding period last fiscal.



Railway Products Division
Revenue for the second quarter up by 19.6% at 126.7 crore as against 105.9 crore in the corresponding quarter. This quarter we have higher sales from new products and now EBIT margin stands at 19.1 % in quarter ended September’19.
For first half of current fiscal railways products segmental revenue went up by 26.2 % to 244.8 crore in half year ended September 2019 as against 194.01 crore in corresponding period last fiscal. EBIT margin for first half of fiscal at 19.5% as compared to 22.4% in the corresponding period last fiscal.
Order book for the division as at end of September’19 is around 500 crore that will get executed in the next 12~15 months.

The reviewed accounts of the second quarter and First six months ended 30th September 2019 has been approved by the Board of Directors of Escorts Limited.