Showing posts with label India News. Show all posts
Showing posts with label India News. Show all posts

Saturday, 28 January 2023

Hero ISL 2022-23: Bengaluru FC edge past Chennaiyin FC 3-1

Hero ISL 2022-23: Bengaluru FC edge past Chennaiyin FC 3-1

 

Chennai, : Bengaluru FC beat Chennaiyin FC with a 3-1 scoreline at the Sree Kanteerava Stadium in Bengaluru on Saturday in the Hero Indian Super League 2022-23.

Despite Chennaiyin FC starting the match brightly and displaying a strong attacking intent, Bengaluru FC struck thrice inside the first half.

The home side opened the scoring against the run of play when Roy Krishna’s long ball caught the visitors’ defence off guard and allowed Sivasakthi Narayanan to slot the ball home and put his side in front in the 15th minute.

Chennaiyin had the opportunity to equalise in the 20th minute when Ninthoinganba Meetel’s cross found Petar Sliskovic but his header narrowly missed the target. Three minutes later, Narayan bagged his second of the match after taking advantage of the opposition’s defensive error in the 23rd minute and Rohit Kumar further added a third in the 30th minute to further extend the hosts before the break.

Chennaiyin’s decision of making three changes at half-time paid off as substitute Edwin Vanspaul pulled one goal back at the hour mark. Jiteshwor Singh played a smart pass to find Vanspaul who scored his first league goal of the ongoing season with a thumping left-footed finish in the top corner in the 59th minute.

This goal helped Chennaiyin gain momentum and their attacking surges saw them come close to scoring a second on multiple occasions. But they failed to find the back of the net as the southern derby finished in favor of Bengaluru FC.

Speaking on his side’s defensive mistakes and fight for a top-six finish, Chennaiyin’s head coach Thomas Brdaric said, “We conceded three goals in the first half after inviting the opponent with our errors. In the second half, we changed ourselves and won the half 1-0. However, we are not close anymore to sixth place but we have to fight as we still have the hope that with 15 points we'll be able to reach our targets.”

Chennaiyin FC will now host Odisha FC at the Jawaharlal Nehru Stadium on February 2 while Bengaluru FC will travel to face ATK Mohun Bagan on February 5.

Friday, 2 December 2022

 सीआरपीएफ की पुष्पांजलि ने दी मनु भाकर को कड़ी टक्कर, 25 मीटर पिस्टल में जीता सिल्वर

सीआरपीएफ की पुष्पांजलि ने दी मनु भाकर को कड़ी टक्कर, 25 मीटर पिस्टल में जीता सिल्वर

नई दिल्ली : मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में 65वीं नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप के पिस्टल स्पर्धाओं के मुकाबले चल रहे हैं. गुरुवार को इस प्रतियोगिता के 25 मीटर पिस्टल मुकाबले का फाइनल मैच काफी रोमांचक रहा. CRPF का प्रतिनिधित्व कर रहीं दिल्ली की निशानेबाज़ पुष्पांजलि राणा और हरियाणा की ओलंपियन निशानेबाज़ मनु भाकर के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला. मनु भाकर ने 33 हिट्स के साथ इस इवेंट का स्वर्ण पदक जीता और पुष्पांजलि को 27 हिट्स मारने के बाद रजत पदक जीतने में कामयाबी मिली. जबकि 21 हिट्स के साथ हरियाणा की ही विभूति भाटिया ने इस मुकाबले का कांस्य पदक हासिल किया।


25 मीटर पिस्टल महिला स्पर्धाओं में दिल्ली की टीम ने 3 पदक जीते... बालेश देवी ने मास्टर व्यक्तिगत स्पर्धा में रजत पदक जीता... कामाक्षी कुमार, खुशी कपूर और नाम्या कपूर ने जूनियर राष्ट्रीय टीम का कांस्य पदक जीता... कामाक्षी कुमार , ख़ुशी कपूर और प्रार्थना खन्ना ने जूनियर सिविलियन टीम सिल्वर मेडल जीता... यशोधरा राजे सिंधिया (खेल मंत्री, मध्य प्रदेश) ने पदक विजेताओं को सम्मानित किया, और हौसला अफ़ज़ाई की..

केरल की राजधानी तिरुअनंतपुरम में चल रहे राइफल इवेंट में भी दिल्ली के निशानेबाज़ अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. मनमोहन सिंह ने , 10 मीटर राइफल मास्टर मेन इवेंट में रजत पदक जीता.. भारतीय जूनियर पिस्टल शूटिंग टीम के कोच और दिल्ली स्टेट राइफल एसोसिएशन के सचिव राजीव शर्मा ने कहा कि इस बार राष्ट्रिय निशानेबाज़ी प्रतियोगिता में दिल्ली के निशानेबाज़ बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि दिल्ली की आद्या त्रिपाठी ने व्यक्तिगत जूनियर महिला ट्रैप स्पर्धा के फाइनल मुकाबले में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 16 अंकों के स्कोर के साथ कांस्य पदक जीता है, तमिलनाडु की नीला राजा बालू ने 24 अंकों के साथ रजत पदक पर कब्ज़ा किया और राजस्थान की मानवी सोनी को कड़े मुकाबले में 23 अंकों के स्कोर के साथ रजत पदक पर संतोष करना पड़ा. इस स्पर्धा के क़्वालीफिकेशन राउंड में आद्या त्रिपाठी 115 अंकों के स्कोर के साथ सबसे आगे थीं.

ट्रैप महिला टीम इवेंट में दिल्ली की कीर्ति गुप्ता, आद्या त्रिपाठी और आशिमा खन्ना की टीम ने 328 अंकों के स्कोर के साथ गोल्ड मेडल जीता है, मध्य प्रदेश की मनीषा कीर, प्रगति दुबे और नीरू की टीम ने 326 अंकों के साथ कड़े मुकाबले में सिल्वर मेडल हासिल किया, तो वहीं हरियाणा की किरण, सुहण्या सिंह और भावना चौधरी की टीम ने 320 के स्कोर पर कांस्य पदक जीता

Sunday, 10 April 2022

15वें मानव रचना कॉरपोरेट क्रिकेट चैलेंज : एडिडास के खिलाफ फाइनल मैच मारुति सुजुकी ने जीता

15वें मानव रचना कॉरपोरेट क्रिकेट चैलेंज : एडिडास के खिलाफ फाइनल मैच मारुति सुजुकी ने जीता

 

फरीदाबाद, 9 अप्रैल, 2022: फरीदाबाद, 9 अप्रैल, 2022: मानव रचना कॉरपोरेट क्रिकेट चैलेंज कप के 15वें संस्करण का भव्य समापन श्री चेतन शर्मा - पूर्व भारतीय क्रिकेटर और अध्यक्ष, वरिष्ठ चयन समिति, बीसीसीआई की गरिमामयी उपस्थिति में हुआ। मारुति सुजुकी ने एडिडास के खिलाफ शानदार सिक्सर के साथ फाइनल मैच जीता। 


समापन के दौरान डॉ. प्रशांत भल्ला - अध्यक्ष, MREI; डॉ. संजय श्रीवास्तव - एमडी, MREI; श्री सरकार तलवार - निदेशक,स्पोर्ट्स, MREI और मानव रचना के अन्य वरिष्ठ गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।


डॉ. एम.एम. कथूरिया, ट्रस्टी MREI आज फाइनल मैच के उद्घाटन समारोह में विशेष अतिथि के रूप में शामिल हुए। उन्होंने फ़िनलिस्ट्स को टूर्नामेंट के दौरान उनके शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई दी और उन्हें फाइनल के लिए शुभकामनाएं दीं।


एडिडास ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फैसला किया। टीम ने 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 288 रन बनाए। मारुति सुजुकी की टीम ने 17.2 ओवर में 226 रन बनाकर मैच जीत लिया। मारुति सुजुकी टीम से श्री गौरव सैनी को 'मैन ऑफ द मैच' घोषित किया गया,उन्हें टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ के रूप में भी  सम्मानित किया गया, टीम एचसीएल से श्री हिमांशु वशिष्ठ सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज़ बने। टूर्नामेंट में एडिडास के श्री योगेश राणा को टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया और जेसीबी क्रिकेट टीम ने ‘द फेयर प्ले’ ट्रॉफी जीती।


चैंपियंस ट्रॉफी को मारुति सुजुकी क्रिकेट टीम ने अपने नाम कर लिया।


श्रोताओं को संबोधित करते हुए श्री. चेतन शर्मा ने डॉ ओ पी भल्ला के समय से मानव रचना के साथ अपने लंबे जुड़ाव को याद किया और साझा किया कि मानव रचना उनके लिए एक परिवार की तरह है। उन्होंने कहा, "क्रिकेट के मैदान पर वापस आना हमेशा खुशी की बात होती है और मैं मानव रचना के मैदान की प्रशंसा करता हूं क्योंकि यहां का क्रिकेट मैदान इस तरह के टूर्नामेंट के लिए अति उत्तम है।"


इस साल दिल्ली-एनसीआर के 28 प्रमुख कॉरपोरेट ने टूर्नामेंट में हिस्सा लिया जिनमें आज तक (दिल्ली) सहित हीरो मोटोकॉर्प (गुरुग्राम); मारुति सुजुकी (गुरुग्राम); जेसीबी इंडिया लिमिटेड (बल्लभगढ़); एस्कॉर्ट्स कंस्ट्रक्शन एंड इक्विपमेंट लिमिटेड (फरीदाबाद); एसीई (फरीदाबाद); होंडा कार (ग्रेटर नोएडा); सर्वोदय अस्पताल (फरीदाबाद); एनएचपीसी (फरीदाबाद); होंडा मोटरसाइकिल (गुरुग्राम); भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (दिल्ली); आईआईएफएल-वेल्थ (दिल्ली); एडिडास (गुरुग्राम); मेटाफैब (फरीदाबाद); टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज़; मीडिया XI; वेव इंफ्राटेक; इंडियन ऑयल (आर एंड डी); नॉर-ब्रेमसे (पलवल); एक्सेंचर, केपीएमजी, डाबर इंडिया और मानव रचना एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस (फरीदाबाद); एचडीएफसी बैंक (दिल्ली), गेट्स इंडिया, एसईसी-आरजेएमटी इंजीनियरिंग प्राइवेट लिमिटेड, एकॉर्ड अस्पताल और एचसीएल (नोएडा) शामिल थे।


मानव रचना के 15वें कॉरपोरेट क्रिकेट टूर्नामेंट में कुल 55 मैच खेले गए जिसमें 7 समूहों में टीमों को विभाजित किया गया तथा प्रत्येक समूह में 4-5 टीमें थी। पहले चरण में लीग मैच खेले गए जिसके बाद नॉकआउट मैच, क्वार्टर फाइनल, और सेमिफाइनल मैच हुए।


Monday, 21 March 2022

राष्ट्रीय शिक्षा नीति को आगामी 2025 तक पूरी तरह लागु करने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य होगा

राष्ट्रीय शिक्षा नीति को आगामी 2025 तक पूरी तरह लागु करने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य होगा

 चण्डीगढ़, 21 मार्च- हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने कहा है कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति को आगामी 2025 तक पूरी तरह लागु करने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य होगा। श्री दत्तात्रेय सोमवार को नई दिल्ली में राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद से शिष्टाचार मुलाकात के दौरान प्रदेश में क्रियान्वित की जा रही विकासकारी योजनाओं के बारे में चर्चा कर रहे थे। श्री दत्तात्रेय ने आज ही उप-राष्ट्रपति श्री वेंकैया नायडू से भी शिष्टाचार भेंट की। 
                                                                                                                                                      

उन्होंने बताया कि प्रदेश की सभी शिक्षण संस्थाओं में राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के मानदंडों के अनुरूप सभी तरह की ढांचागत सुविधाएं उपलब्ध करवा दी गई हैं। मुलाकात के दौरान उन्होंने बताया कि प्रदेश के विश्वविद्यालयों ने गुणवत्ता के उच्च मानकों को छूआ है और प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों में छात्रों के लिए रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम शुरू किए गए हैं। इसी उद्देश्य से हरियाणा में देश का पहला ‘‘श्री विश्वकर्मा कौशल विकास विश्वविद्यालय‘‘ भी स्थापित किया गया है।

उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार का राष्ट्रीय शिक्षा नीति को 2030 तक लागू करने का लक्ष्य है, परन्तु हरियाणा का लक्ष्य इसे 2025 तक ही लागू करने का है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में केजी से लेकर पीजी तक की शिक्षा एक ही परिसर में देने की अवधारणा पर कार्य किया जा रहा है। प्राइवेट स्कूलों की तर्ज पर सुविधाएं देने के लिए प्रदेश में 138 नये सरकारी मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल खोले गये हैं। राज्य में उत्कृष्टता केंद्रों के रूप में 1418 सरकारी मॉडल संस्कृति प्राथमिक विद्यालयों की स्थापना भी की है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों में इन्क्यूबेशन सेंटर स्थापित कर दिए गए हैं। इतना ही नहीं पाँच जिलों के राजकीय महाविद्यालयों में भी इन्क्यूबेशन केंद्र सफलतापूर्वक स्थापित किये गए हैं और इस वर्ष अन्य 17 जिलों में भी इन्क्यूबेशन केंद्र स्थापित किये जायेंगे ।

श्री दत्तात्रेय ने प्रदेश में कोविडरोधी टीकाकरण की भी जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में 12 से 14 आयु के बच्चों का कोर्बवैक्स टीकाकरण अभियान गत 16 मार्च को उनके द्वारा ही शुरू किया गया है। इसके साथ-साथ कोविड टीकाकरण अभियान पहले से ही पूरी सफलतापूर्वक चल रहा है। इस अभियान के तहत अभी तक चार करोड़ 16 लाख से अधिक कोरोनारोधी डोज दी चुकी है, जिनमें से पहली डोज 2 करोड़ 30 लाख से अधिक तथा दूसरी डोज एक करोड़ 83 लाख से अधिक को दी जा चुकी है। प्रदेश में अब तक 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को अढ़ाई लाख से अधिक ऐतिहातन खुराक दी जा चुकी है। उन्होंने बताया कि हरियाणा में टीकाकरण का कार्य राष्ट्रीय औसत से भी आगे बढ़ा है। प्रदेश में बेहतर टीकाकरण के चलते कोविड रोकथाम में सहायता मिली है।

महिला सशक्तिकरण, सुरक्षा कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए श्री दत्तात्रेय ने बताया कि प्रदेश में वित्त वर्ष 2021-22 में 3884 स्वयं सहायता समूहों को 3.88 करोड़ रुपये का रिवाॅल्विंग फण्ड उपलब्ध करवाया गया। महिलाओं के लिए व्यक्तिगत ऋण योजना के तहत सब्सिडी की दर 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 25 प्रतिशत की गई है। स्टार्ट-अप ग्राम उद्यमशीलता कार्यक्रम में 1238 स्वयं सहायता समूह महिला उद्यमों का गठन किया गया है और उद्यम स्थापित करने के लिए 5 करोड़ 25 लाख रुपये वित्तीय सहायता दी गई है।

श्री दत्तात्रेय ने कहा कि प्रदेश सरकार महिलाओं को सुरक्षित वातावरण उपलब्ध करवाने के साथ-साथ उन्हें आर्थिक, सामाजिक व राजनीतिक रूप से भी सशक्त करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। पंचायतीराज संस्थाओं के आगामी चुनावों में महिलाओं को 50 प्रतिशत प्रतिनिधित्व देने का निर्णय लिया गया है। आज हरियाणा में महिलाएं हर क्षेत्र में आगे बढ़कर प्रदेश का ही नहीं बल्कि देश का नाम रोशन कर रही है।

Saturday, 12 February 2022

 मानव रचना कॉरपोरेट क्रिकेट चैलेज के 15वें  संस्करण की हुई शुरुआत

मानव रचना कॉरपोरेट क्रिकेट चैलेज के 15वें संस्करण की हुई शुरुआत

फरीदाबाद 12 फरवरी 2022मानव रचना कॉरपोरेट क्रिकेट चैलेज के 15वें  संस्करण की आज ज़ोरों-शोरों से शुरुआत हुई जिसमें दिल्ली-एनसीआर की कुल 28 कॉरपोरेट क्रिकेट टीमें हिस्सा ले रही हैं। टूर्नामेंट का उद्घाटन डॉअमित ल्लाउपाध्यक्षमानव शिक्षण संस्थान (MREI) द्वारा, 28 कॉपरेट टीमों के प्रतिनिधि  डॉसंजय श्रीवास्तवएमडी, MREI, श्री सरकार तलवारनिर्देशकखेल, MREI, तथा अन्य गणमान्य अतिथियों की उपस्थिति में किया गया।

पहला लीग मैच Accenture और Aaj Tak के बीच खेला गयातथा Aaj Tak ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया। Accenture ने बल्लेबाजी करते हु 20 ओवर में 3 विकेट गवाकर 263 रन बनाए। वहीं Aaj Tak ने 17.2 ओवर में 1 विकेट गवाकर 267 रन बनाकर जीत हासिल की। Aaj Tak के श्री इमरान ने 46 बॉल में 122 रन बनाकर  ‘मैन ऑफ  मैच’ का दक हासिल किया। 

मानव रचना के संस्थापक डॉओपी भल्ला की याद में शुरू किया गया कॉरपोरेट क्रिकेट चैलेज इस विश्वास का पालन करता है कि खेल प्रतिभागी खिलाड़ियों में उत्साह पैदा करेगा।

टूर्नामेंट का उद्घाटन करते हुएडॉअमित भल्ला ने भाग लेने वाली टीमों को बधाई दी और कहा, 'हम सभी खिलाड़ियों को एक सुनहरा अवसर देने के लिए अपने स्पोर्ट्स इंफ्रास्ट्रक्चर में इज़ाफ़ा करने की दिशा में काम कर रहे हैं।उन्होंने खिलाडियों के त्साह और निष्पक्ष खेल की सराहना संबोधित करते हुए कहा, 'नैतिक वातावरण इस टूर्नामेंट की ताकत है'

इस साल दिल्ली-एनसीआर के 28 प्रमुख कॉरपोरेट इस टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे हैं जिनमें Aaj Tak (दिल्लीसहित हीरो मोटोकॉर्प (गुरुग्राम); मारुति सुजुकी (गुरुग्राम); जेसीबी इंडिया लिमिटे (बल्लभगढ़); एस्कॉर्ट्स कंस्ट्रक्शन एंड इक्विपमेंट लिमिटेड (फरीदाबाद); एसीई (फरीदाबाद); होंडा कार (ग्रेटर नोएडा); सर्वोदय अस्पताल (फरीदाबाद); एनएचपीसी (फरीदाबाद); होंडा मोटरसाइकि (गुरुग्राम); भारतीय राष्ट्री राजमार्ग प्राधिकरण (दिल्ली); आईआईएफएल-वेल्थ (दिल्ली); Adidas (गुरुग्राम); मेटाफैब (फरीदाबाद); टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेजमीडिया XI; वेव इंफ्राटेकइंडियन ऑयल (आर एंड डी); नॉर-ब्रेमसे (पलवल); Accenture, केपीएमजीडाबर इंडिया और मानव रचना एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस (फरीदाबाद); एचडीएफसी बैंक (दिल्ली), गेट्स इंडियाएसईसी-आरजेएमटी इंजीनियरिंग प्राइवेट लिमिटेडएकॉर्ड अस्पताल और एचसीएल (नोएडाशामिल हैं।

पहले दिन का दूसरा मैच एस्कॉर्ट्स कंस्ट्रक्शन एंड इक्विपमेंट लिमिटेड और IIFL-वेल्थ (दिल्लीके बीच खेला गया, और तीसरा मैच HCL और Adidas के बीच खेला जाएगा |

मानव रचना के 15वें कॉरपोरेट क्रिकेट टूर्नामेंट में कुल 55 मै खेले जाएंगे जिसमें 7 समूहों में टीमों को विभाजित किया गया है तथा प्रत्येक समूह में 4-5 टीमें हैं। पहले चरण में लीग मैच खेले जाएंगे जिसके बाद नॉकआउट मैक्वार्टर फाइनलसेमिफाइनल  फाइनल मैच होंगे। क्रिकेट चैलेंज कप का आखिरी मैच 23 अप्रैल 2022 को खेला जाएगा।


Monday, 17 January 2022

सिंधु ने चालिहा को हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई

सिंधु ने चालिहा को हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई

नई दिल्ली : बीते साल दिसंबर में स्पेन में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले भारत के लक्ष्य सेन ने अपने ही देश के एचएस प्रणय पर जीत के साथ भारतीय बैडमिंटन के शीर्ष सितारों में से एक के रूप में अपनी स्थिति को मजबूत किया, जबकि शीर्ष वरीयता प्राप्त पीवी सिंधु ने शुक्रवार को अश्मिता चालिहा पर एक शानदार जीत के साथ योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन 2022 के सेमीफाइनल में अपना स्थान सुरक्षित किया।

 
योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन 2022, एचएसबीसी बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर टूर्नामेंट का हिस्सा है और इस साल इसका आयोजन केडी जाधव इंडोर स्टेडियम में हो रहा है।
 
 एकल क्वार्टर फाइनल में सेन ने एक गेम से पिछड़ने के बाद पुरुष प्रणय को ठीक एक घंटे में 14-21, 21-9, 21-14 के अंतर से हराया। दिन के दो ऐसे मुकाबलों, जिनमें भारतीय ही आमने-सामने थे, में सिंधु ने महिला एकल वर्ग में चालिहा को 21-7, 21-18 से हराया, जबकि आकर्षी कश्यप ने मालविका बनसोड को 21-12, 21-15 से हराया। बनसोड ने पूर्व विश्व नम्बर-1 साइना नेहवाल को पहले राउंड में हराकर सबका ध्यान अपनी ओर खींचा था।
 
 सेन बनाम प्रणय निश्चित रूप से दिन का सबसे बड़े मैचों मे से एक था। और दोनों खिलाड़ियों ने खेल के स्तर, प्रयास और आक्रामकता के मामले में देखने वालों को निराश नहीं किया। युवा खिलाड़ी सेन ने अपने ट्रेडमार्क आक्रमणकारी प्रवृत्ति के साथ शुरुआत की और बहुत जल्द ही शुरुआती बढ़त ले ली।
 
 लेकिन प्रणय ने धीरे-धीरे अपने खेल का स्तर उठाया। उनके डाउन द लाइन स्मैश ने सेन के गेम प्लान को नुकसान पहुंचाया और तीसरे सीड सेन गलतियां करने लगे। एक समय स्कोर 13-13 था और इस समय तक दोनों के बीच अंतर पैदा करने वाली कोई बात नहीं थी। बाद में हालांकि प्रणय ने अगले नौ में से आठ अंक लेकर गेम अपने नाम किया।
 
अगर सेन इस स्तर पर कोई दबाव महसूस कर रहे थे, तो उन्होंने दूसरे गेम की शुरुआत में अपने दृष्टिकोण में यह नहीं दिखाया और 3-0 की बढ़त बना ली। प्रणय दूसरी तरफ लगातार गलतियां कर रहे थे। एक समय सेन ने 4-12 की बढ़त ले ली थी और इससे प्रणय उबर नहीं सके।
 
 प्रणय ने हालांकि निर्णायक मुकाबले की शुरुआत 6-1 की बढ़त के साथ की। यह अगला प्वाइंट था, जिसने शायद मैच की दिशा बदल दी। सेन ने अपने प्रतिद्वंद्वी से स्मैश की झड़ी के बीच खुद को बचाते हुए क्रॉस कोर्ट ड्राइव के साथ अंक हासिल किया।
 
 सेन ने ड्रिबल पर शटल को नेट से थोड़ा दूर रखकर और प्रणय के शरीर पर बहुत अधिक आक्रमण करके अगले 11 में से 9 अंक जीते।
 
प्रणय ने हालांकि स्कोर को 12-12 से बराबर करने में सफलता हासिल की लेकिन वह आगे गति को बनाए नहीं रख सके क्योंकि सेन ने रैलियों के दौरान अधिक धैर्य दिखाया और उन्होंने इसका अधिकतम लाभ उठाया।
 
 मैच के बारे में सेन ने कहा, "पहले गेम में हम दोनों वास्तव में तेजी से खेल रहे थे और आक्रामकता भी थी। दूसरे गेम के बाद हमने और अधिक रैली करना शुरू किया और मैं काफी सहज महसूस कर रहा था।”
 
लक्ष्य का सामना अब कल मलेशिया के एनजी त्जे योंग से होगा।
 
 दिन के दूसरे बड़े मैच में, चालिहा के खिलाफ जीत हासिल करने के लिए सिंधु काफी जल्दी में दिखाई दे रही थीं। पहले तो उन्होंने शुरुआती गेम को 21-7 से जीत लिया। लेकिन अगर वह यह सोच रही थीं कि दूसरे गेम में भी उन्हें आसाम जीत मिल जाएगी तो वह गलत थीं क्योंकि चालिहा बिना लड़ाई के आत्मसमर्पण करने के लिए तैयार नहीं थी।
 
 चालिहा को लंबे समय से देश में अगली पीढ़ी के शटलरों के बीच एक विशेष प्रतिभा माना जाता है और असम की इस 22 वर्षीय खिलाड़ी ने अपने कुछ शानदार आक्रमण कौशल का प्रदर्शन करते हुए अपनी बेहद मशहूर भारतीय प्रतिद्वंद्वी को दबाव में डाल दिया।
 
हालांकि, सिंधु ने अपने अनुभव के दम पर दूसरे गेम में 15-15 से स्कोर बराबर किया। सिंधु ने अपनी प्रतिद्वंद्वी को कोर्ट पर हर ओर दौड़ाया औऱ इस दौरान चालिहा ने शटल को गेम में बनाए रखने के लिए जंप और डाईव की मदद से अपना पूरा प्रयास झोंका लेकिन वह अंततः मुकाबले को तीसरे गेम में नहीं ले जा सकीं।
 
 सिंधु का सामना अब थाईलैंड की सुपनिदा कटेथोंग से होगा, जिन्हें तेज बुखार के कारण सिंगापुर की जिया मिन येओ के मैच से हटने के बाद क्वार्टर फाइनल में वाकओवर मिला था।
 
इससे पहले, कश्यप ने टूर्नामेंट में बनसोड का शानदार सफर समाप्त किया। साइना नेहवाल को पहले दौर में परेशान करने वाली बनसोड शुरू से ही नर्वस दिखीं और उनकी प्रतिद्वंद्वी ने अपने अच्छे खेल से यह सुनिश्चित किया कि वह कभी भी सहज ना हो पाएं।
 
कश्यप ने सामान्य से अधिक आक्रामक होकर चीजों को मिश्रित किया और बनसोड को बहुत सारी बेजां गलतियां करने के लिए मजबूर किया। दूसरे गेम के अंत में बनसोड लंबी रैलियों में प्रतिद्वंद्वी को उलझाने का प्रयास करती दिख रहीं थीं लेकिन तब तक वह 10-18 से पीछे हो चुकी थी और तब तक उनकी वापसी को लेकर बहुत देर हो चुकी थी।
 
कश्यप का सामना अब दूसरी वरीयता प्राप्त बुसानन ओंगबामरुंगफान से होगा, जिन्होंने दूसरे क्वार्टर फाइनल में अमेरिका के लॉरेन लैम को 21-12, 21-8 से हराया।
 
पुरुष एकल वर्ग में विश्व चैंपियन लोह कीन यू ने रूस के सर्गेई सिरंत को 21-16, 21-13 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई।
 
 पुरुष युगल में, शीर्ष वरीयता प्राप्त मोहम्मद अहसान और हेंड्रा सेतियावान ने नॉर्वे के टोर्जस फ़्लैटन और वेगार्ड रिखीम पर 21-12, 21-14 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। दूसरी वरीयता प्राप्त भारत के सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी ने भी सिंगापुर के ही योंग काई टेरी और लोह कीन हेन को 21-18, 21-18 से हराकर अंतिम- दौर में चरण में प्रवेश किया।
 
 भारतीय जोड़ी अब आठवीं वरीयता प्राप्त फैबियन डेलरू और विलियम विलेगर के फ्रांसीसी संयोजन से भिड़ेगी, जिन्होंने एक अन्य क्वार्टर फाइनल मुकाबले में आयरलैंड के जोशुआ मैगी और पॉल रेनॉल्ड्स को 21-9, 23-21 के अंतर से हराया।
 

Tuesday, 31 August 2021

 प्रीति दहिया और तीन अन्य युवा महिलाओं ने भारत की झोली में डाले स्वर्ण पदक

प्रीति दहिया और तीन अन्य युवा महिलाओं ने भारत की झोली में डाले स्वर्ण पदक

नई दिल्ली, 31 अगस्त, 2021 : प्रीति दहिया और तीन अन्य युवा महिला मुक्केबाज 2021 एएसबीसी एशियाई युवा और जूनियर मुक्केबाजी चैंपियनशिप के अंतिम दिन चैम्पियन बनकर उभरीं। इनकी स्वर्णिम सफलता की बदौलत भारत ने दुबई में आयोजित की गई इस महाद्वीपीय प्रतियोगिता में 14 स्वर्ण सहित कुल 39 पदक अपनी झोली में डाले।


 भारत इससे पहले खेले गए जूनियर इवेंट में आठ स्वर्ण, पांच रजत और छह कांस्य पदक सहित कुल 19 पदक पहले ही जीत चुका था। युवा मुक्केबाजों ने प्रतिष्ठित कॉन्टिनेंटल इवेंट में भारत की तालिका में 20 और पदक (छह स्वर्ण, नौ रजत और पांच कांस्य) जोड़े। खास बात यह रही कि पहली बार इस इवेंट के माध्यम से जूनियर और युवा दोनों आयु वर्ग के मुकाबले साथ-साथ खेले गए।



 बिश्वमित्र चोंगथम (51 किग्रा) ने एशियाई चैंपियनशिप में युवा पुरुष वर्ग में पिछले सात वर्षों में भारत का पहला स्वर्ण जीता और विशाल (80 किग्रा) ने पदक तालिका में एक और सोने का तमगा जोड़ा। इसी तरह नेहा (54 किग्रा) ने युवा महिला वर्ग में देश को स्वर्ण पदक दिलाया। उनका मुकाबला सोमवार की देर रात खेला गया। वह 3-2 से विभाजित निर्णय से कजाकिस्तान की ऐशागुल येलुबायेवा के खिलाफ जीत हासिल करने में सफल रही।



 बाद में, प्रीति दहिया ने 2021 युवा विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता कजाकिस्तान की ज़ुल्दिज़ शायाखमेतोवा के खिलाफ 60 किग्रा भार वर्ग के फाइनल में इसी तरह की जीत के साथ एक और स्वर्ण पदक भारत की झोली में डाला। इसके बाद स्नेहा कुमारी (66 किग्रा) और खुशी (75 किग्रा) ने भी अपने-अपने फाइनल में जीत हासिल करते हुए स्वर्ण पदक जीता। स्नेहा ने रेफरी स्टॉपिंग द कॉन्टेस्ट (आरएससी) के माध्यम से स्थानीय दावेदार रहमा अलमुर्शिदी पर जीत दर्ज की जबकि  खुशी ने कजाकिस्तान की डाना दीडे को हराया।



 बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीएफआई) अध्यक्ष अजय सिंह ने कहा, “यह हमारे जूनियर और युवा मुक्केबाजों के लिए एक शानदार प्रदर्शन रहा है। 39 पदक जीतना एक सराहनीय उपलब्धि है और यह केवल भारत में हमारे पास मौजूद मुक्केबाजी प्रतिभा की गहराई को दर्शाता है। एक महासंघ के रूप में, हम देश भर से अधिक से अधिक युवाओं की पहचान करने और उन्हें बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध हैं, ताकि उन्हें विशिष्ट स्तर पर भविष्य के चैंपियन के रूप में तैयार करने के लिए सर्वोत्तम कोचिंग और मार्गदर्शन सुनिश्चित किया जा सके। मुझे यकीन है कि इतने बड़े टूर्नामेंट में प्राप्त मूल्यवान अनुभव इन मुक्केबाजों को अपने लिए एक मजबूत रास्ता तय करने में मदद करेगा। बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीएफआई) की ओर से, मैं एक बार फिर सभी विजेताओं और कोचों और सहयोगी स्टाफ को इस सफल अभियान के लिए बधाई देता हूं, और उन्हें भविष्य के टूर्नामेंट के लिए शुभकामनाएं देता हूं।“


इस बीच अंतिम दिन अन्य युवा मुक्केबाज विश्वनाथ सुरेश (48 किग्रा), निवेदिता कार्की (48 किग्रा), तमन्ना (50 किग्रा), सिमरन वर्मा (52 किग्रा), प्रीति (57 किग्रा), खुशी (63 किग्रा), वंशज (64 किग्रा), जयदीप रावत (71 किग्रा) और तनीशबीर कौर संधू (81 किग्रा) ने देश के लिए रजत पदक जीते।


इससे पहले एक महिला सहित पांच मुक्केबाजों ने सेमीफाइनल में पहुंचकर युवा वर्ग में कांस्य पदक जीता था। पुरुषों में, दक्ष सिंह (67 किग्रा), दीपक (75 किग्रा), अभिमन्यु लौरा (92 किग्रा) और अमन सिंह बिष्ट (92+ किग्रा) ने कांस्य पदक हासिल किया, जबकि लशु यादव (70 किग्रा) ने महिला वर्ग में कांस्य पदक जीता।


 युवा वर्ग में 20 पदकों के साथ, भारत ने 2019 में मंगोलिया के उलानबटार में हासिल किए गए पांच स्वर्ण सहित 12 पदकों के अपने पिछले संस्करण के पदकों की संख्या को भी बेहतर बनाया।



 युवा वर्ग में स्वर्ण पदक विजेताओं को 6,000 अमेरिकी डॉलर जबकि रजत और कांस्य पदक विजेताओं क्रमशः 3,000 अमेरिकी डॉलर और 1,500 अमेरिकी डॉलर का पुरस्कार दिया गया। हालांकि, जूनियर स्पर्धा में स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक विजेताओं को क्रमशः 4,000 अमेरीकी डालर, ,000 अमेरीकी डालर और 1,000 अमेरीकी डालर से सम्मानित किया गया।



 चैंपियनशिप में इस साल कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान और किर्गिस्तान जैसे मजबूत मुक्केबाजी देशों ने हिस्सा लिया। इससे इस प्रतिष्ठित आयोजन में प्रतिस्पर्धा के स्तर में इजाफा देखा गया। महामारी के कारण युवा मुक्केबाज लम्बे समय से रिंग में प्रतिस्पर्धा नहीं कर पा रहे थे लेकिन इस आयोजन ने एशियाई स्तर पर होनहार युवा प्रतिभाओं को रिंग में उतरकर अपनी क्षमता का आकलन करने का बेहतरीन मौका प्रदान किया।

Thursday, 22 April 2021

 Indian women create history at 2021 AIBA Youth Men’s and Women’s World Boxing Championships, end campaign with seven gold medals

Indian women create history at 2021 AIBA Youth Men’s and Women’s World Boxing Championships, end campaign with seven gold medals


New Delhi, April 23, 2021: Indian women boxers put up sensational performances as they created history at the 2021 AIBA Youth Men’s and Women’s World Boxing Championships and concluded their campaign on highly successful note with seven gold medals in Kielce, Poland on Thursday.

 

All the women finalists in action--Gitika (48kg) Naorem Babyrojisana Chanu (51kg), Poonam (57kg), Vinka (60kg), Arundhati Choudhary (69kg), T Sanamacha Chanu (75kg) and Alfiya Pathan (+81kg)— registered victories and finished on the top of the podium. Previously Indian women had won five gold medals during the 2017 edition of Youth World Championships held in Guwahati. India women’s team also finished as the No.1 team in the ongoing Championship ahead of Russia with seven gold medals.


Asian Youth Champion Sanamacha, who trains at boxing great MC Mary Kom’s academy in Imphal, added the historic sixth gold for India when she outperformed Kazakhstan’s Dana Diday 5-0 in the 75kg final. Later Young boxing sensation from Maharashtra Alfiya clinched the seventh gold for the country as she stunned a strong contender European Youth Champion Moldova’s Daria Kozorez 5-0 in the final.


“This has been an amazing effort from our youth boxers especially when the players had to be confined at home for most part of the last year and only make do with online training sessions. Our coaches and support staff did a stellar job despite the limitations and challenges. I congratulate all the winners on this unprecedented medal haul. This achievement is a testament of the talent we have in the upcoming generation of Indian boxing,” Boxing Federation of India President, Ajay Singh said while talking about the unprecedented medal haul by India at the AIBA Youth World Championships.


Earlier, Gitika led the country’s dominance and provided a perfect start for the day. The Haryana boxer, who came into the match beating two-time European Champion Italy’s Erika Prisciandaro, knocked down local favourite Natalia Kuczewska 5-0 in the women’s 48kg final and secured first gold medal for India at the on-going Championship.


The Asian Youth Champion Babyrojisana (51kg) and Poonam (57kg) further extended Indian winning momentum as the duo secured identical 5-0 victories to add two more gold medals. While Manipur boxer Babyrojisana looked in great touch during her flawless win against the European Junior Champion Russian Valeriia Linkova, Poonam also hit the aggressive mode from the word go and dominated her experienced opponent Sthelyne Grosy. With sharp and precise punches Poonam did not allow her opponent from France to score any point before completing an easy 5-0 triumph in the final bout.


Vinka (60kg) also produced a spectacular show as her punches, packed with a lot of power, were too strong for Kazakhstan boxer Zhuldyz Shayakhmetova. Referee had to stop the contest and declare Indian as the winner. Rajasthan boxer Arundhati added one more gold for Indian when she completed a fine 5-0 win against Polish boxer Barbara Marcinkowska in the 69kg final.


A 20-member Indian contingent had already created history by securing 11 medals at the on-going Youth World Championships bettering their previous best of 10 medals in 2018 edition. The only Indian men in the final, Sachin (56kg) will be in action tomorrow. Earlier in the men’s section Bishwamitra Chongthom (49kg), Ankit Narwal (64kg) and Vishal Gupta (91kg) won three bronze medals for the country with the semi-finals finish.


A 10-day biennial event, which had the men’s and women’s championship played together for the first time during the 2018 edition in Hungary, has witnessed high competition in presence of 414 boxers from 52 countries.  

Saturday, 27 March 2021

रविंद्र फागना क्रिकेट अकादमी ने एंज़ल क्रिकेट अकादमी को 7 विकेट से हराया

रविंद्र फागना क्रिकेट अकादमी ने एंज़ल क्रिकेट अकादमी को 7 विकेट से हराया

फरीदाबाद : 28 मार्च I  सूरजकुंड इंटर्नैशनल गल्स क्रिकेट टूर्नामेंट मैच में रविंद्र फागना क्रिकेट अकादमी (पाली) ने एंज़ल क्रिकेट अकादमी (फ़रीदाबाद) टीम को 7 विकेट से हराया  I  यह मुकाबला रविंदर फागना क्रिकेट अकादमी सिथत मैदान पर खेला गया I इस मौके पर बीसीसीआई कोच धर्मेंदर फागना ने बताया की यह मैच 20-20 ओवर का था ये मैच रविंद्र फागना क्रिकेट अकादमी (पाली) ओर एंज़ल क्रिकेट अकादमी (फ़रीदाबाद) टीम के साथ खेला गया एंज़ल क्रिकेट अकादमी (फ़रीदाबाद) ने टॉस जीत कर  पहले बल्लेबाज़ी करने का निर्यण लिया टीम की ओर बल्लेबाजी करते हुए टीम ने 20 ओवर में 6 विकेट पर 171 रन बनाए टीम की और बल्लेबाजी करते हुए प्राज्ञा रावत ने 50 रन ,प्राशवी ने 38 रन ओर हिमांशी ने 29 रन बनाए    रविंद्र फागना क्रिकेट अकादमी (पाली) की और से गेंदबाजी करते हुए इशाबेल ओर अंचल ने 2-2 विकेट,वंदना सेन ओर सीमा ने 1-1 विकेट लिए ,


इस लक्ष्य का पीछा करते हुए रविंद्र फागना क्रिकेट अकादमी (पाली) टीम ने 16.3 ओवर में 3 विकेट में 172 रन बनाकर लक्स को हासिल किया टीम की और से बल्लेबाजी करते हुए रीमा सिसोदिया ने 89 रन,नीतिका करहाना ने 52 रन ओर आरती ने 18 रन बनाए एंज़ल क्रिकेट अकादमी (फ़रीदाबाद) की ओर से गेंदबाज़ी करते हुए अदिति ने 2 विकेट ओर  प्राशवी ने 1 विकेट लिया मेन ऑफ़ दा मैच का पुरस्कार रीमा सिसोदिया को दिया गया (रविंद्र फागना क्रिकेट अकादमी (पाली)  (रीमा सिसोदिया ने 49 बॉल में 7 चोंके 8 छक्के लगाकर 89 रन बनाए)

 मानव रचना (MREI) ने एशियन अस्पताल को  2 रनों से हराया 

मानव रचना (MREI) ने एशियन अस्पताल को 2 रनों से हराया 

फरीदाबाद 28 मार्च 2021: मानव रचना कैंपस में 14वें मानव रचना कॉरपोरेट किक्रेट चैलेंज का आखिरी मैच में मानव रचना (MREI) ने एशियन अस्पताल से जीता। एमआरईआई (MREI) और एशियन अस्पताल के बीच फाइनल मैच में डॉ. प्रशांत भल्ला, अध्यक्ष, एमआरईआई(MREI), डॉ. अमिल भल्ला, उपाध्यक्ष, एमआरईआई(MREI), डॉ. एम.एम कथूरिया, ट्रस्टी, मानव रचना, और मानव रचना के डीन और अन्य गणमान्य अतिथि शामिल हुए।


मानव रचना के ओपी भल्ला फाउंनडेशन ने विजेता टीम को एक लाख रुपये की राशि समेत चैंपियन ट्रॉफी से सम्मानित किया। मानव रचना ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने के लिए चुना और टीम ने 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 241 रन बनाए। एशियन अस्पताल की टीम 20 ओवर में 238 रन ही बना सकी। मानव रचना से निखिल को ‘मैन ऑफ द मैच’ घोषित हुए जिन्हें मानव रचना ओपी भल्ला फाउंनडेशन की तरफ से 21 हजार रूपये से सम्मानित किया गया वहीं मानव रचना के सचिन को टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के रूप में सम्मानित किया गया, एशियन अस्पताल के नीरज टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज बने, मानव रचना के निखिल दिवाकर को टूर्नामेंट की सवश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया, ‘रर्नर अप’ की ट्राफी एशियन अस्पताल को मिली ।


एमआरईआई(MREI) के अध्यक्ष डॉ. प्रशांत भल्ला ने कहा कि यह खेल कॉरपोरेट जगत से जुड़ने का सुनहरा मौका देता है और खिलाड़ियों में उत्साह और बंधन पैदा करते है। कॉरपोरेट किक्रेट चैलेज 2021 मानव रचना के संस्थापक डॉ. ओपी भल्ला की याद में शुरू किया गया था। जिसमें इस साल किक्रेट कॉरपोरेट चैलेंज में 25 कॉरपोरेट टीम (दिल्ली और एनसीआर) से शामिल हुई जिसमें मारुति सुजुकी (गुरुग्राम), हीरो मोटोकॉर्प(गुरुग्राम), जेसीबी (फरीदाबाद), एस्कॉटर्स कंस्ट्रक्शन (फरीदाबाद), आकाश दर्शन(दिल्ली), एसीई(फरीदाबाद), होंडा कार्स(ग्रेटर नोएडा), आजतक(दिल्ली), एशियन अस्पताल(फरीदाबाद), सर्वोदय अस्पताल(फरीदाबाद), एनएचपीसी(फरीदाबाद), होंडा मोटरसाइकिल (गुरुग्राम), भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्रधिकरण(दिल्ली), IIFL-वेल्थ(दिल्ली), एडिडास(गुरुग्राम),डीडी न्यूज (दिल्ली),मेटाफब(फरीदाबाद), टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज(TCS), इरॉन इंटरनेशनल, प्रेस क्लब ऑफ इंडिया, एचपीएल, ग्लेन इंडिया, वेव इन्फ्राटेक, आर्किटेक्ट स्पोटर्स ट्रस्ट और मानव रचना MREI (फरीदाबाद) शामिल थे।14वें क्रिकेट कॉरपोरेट क्रिकेट कप 2021 में 51 मैच खेले गए जिसमें 6 समूहों में प्रत्येक समूह 4-5 टीमों के साथ बांटा गया था जिसमें पहले चरण में लीग मैच खेले गए और फिर नॉकआउट मैच। हर सूमह में से 2 टीम नॉकआउट मैचों के लिए क्वालीफाई हुई थी।

Saturday, 20 March 2021

ट्रांसफार्मेशन करने वाले शिक्षा महारथियों को गुरु द्रोणाचार्य अवार्ड

ट्रांसफार्मेशन करने वाले शिक्षा महारथियों को गुरु द्रोणाचार्य अवार्ड


फरीदाबाद :20 मार्च  ।  हरियाणा एडुकेटर्स क्लब ने देर रात होटल रेडिसन ब्ल्यू में गुरु द्रोणाचार्य अवॉर्ड का आयोजन किया। जिसमें ट्रांसफार्मेशन करने वाले शिक्षा महारथियों को यह अवॉर्ड प्रदान किए गए। मुख्य अतिथि सीबीएसई के डिप्टी सेके्रटरी एफिलिएशन श्री विजय यादव ने इस पहल का स्वागत किया। उन्होंने स्कूल एफिलिएशन : रीइंजीनियर्ड ऑटोमेशन सिस्टम विषय पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि आज के समय में सीबीएसई स्टेट ऑफ द आर्ट तकनीक का प्रयोग कर रही है जिससे शिक्षा संस्थान चलाने वालों को पहले से अधिक सुविधा महसूस हो रही है। उन्होंने बताया कि आज सीबीएसई में स्कूलों की संबंद्धता, पुनर्संबद्धता, अपगे्रडेशन आदि सभी कार्यों को पूरी तरह से ऑनलाइन कर दिया गया है। जिसके कारण आज एक भी एप्लीकेशन उनके विभाग में पेंडिंग नहीं है। श्री यादव ने बताया कि हम पूरी कोशिश करेंगे कि अकारण किसी स्कूल प्रबंधन को परेशानी न हो।


इस अवसर पर फरीदाबाद के एसडीएम श्री परमजीत सिंह चहल ने शिक्षा क्षेत्र से जुड़े व्यक्तियों द्वारा गुरु द्रोणाचार्य अवॉर्ड के आयोजन करने को बड़ी विशिष्ट पहल बताया। उन्होंने शिक्षकों की जिम्मेदारी की प्रशंसा की। वहीं जिला शिक्षा अधिकारी श्रीमती रितु चौधरी ने शिक्षा विभाग और शिक्षा संस्थाओं को एक दूसरे का पूरक बताते हुए भविष्य में पूर्व की भांति अधिक सहयोग के काम करने की बात कही। कार्यक्रम में पलवल के शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल, महिला थाना प्रभारी श्रीमती नेहा राठी भी प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

क्लब के अध्यक्ष रमेश डागर ने कहा कि शिक्षक अपना पूरा जीवन देश का भविष्य बनाने में बिता देता है, लेकिन अपने मनोरंजन की ओर वह सोच भी नहीं पाता है। उसे लगता है कि लोग क्या कहेंगे। ऐसे ही विचार के साथ हरियाणा एडुकेटर्स क्लब की नींव रखी गई। क्लब अपने सदस्यों के मनोरंजन के लिए न केवल कैंपों का आयोजन करता है बल्कि उनके योगदान के लिए उनकी सराहना भी करता है। आज का गुरु द्रोणाचार्य अवॉर्ड कोरोना काल में उनके द्वारा किए गए ट्रांसफार्मेशन फेज को बखूबी निभाने के लिए दिए जा रहे हैं। कार्यक्रम में फरीदाबाद सहित गुरुग्राम, पलवल, साहिबाबाद आदि एनसीआर शहरों से भी सदस्यों ने भागीदारी की। 

इससे पूर्व कार्यक्रम में पहुंचे सभी अतिथियों एवं सदस्यों का क्लब की ओर से भव्य स्वागत किया गया। इस आयोजन में हरियाणा एडुकेटर्स क्लब के कोर्डिनेटर अनिल रावल, महासचिव गौरव पाराशर, कोषाध्यक्ष दीपक यादव, सचिव राखी वर्मा आदि की प्रमुख भूमिका रही। वहीं कार्यक्रम का संचालन सीवी सिंह ने किया।