Showing posts with label Boxing. Show all posts
Showing posts with label Boxing. Show all posts

Thursday, 22 April 2021

 Indian women create history at 2021 AIBA Youth Men’s and Women’s World Boxing Championships, end campaign with seven gold medals

Indian women create history at 2021 AIBA Youth Men’s and Women’s World Boxing Championships, end campaign with seven gold medals


New Delhi, April 23, 2021: Indian women boxers put up sensational performances as they created history at the 2021 AIBA Youth Men’s and Women’s World Boxing Championships and concluded their campaign on highly successful note with seven gold medals in Kielce, Poland on Thursday.

 

All the women finalists in action--Gitika (48kg) Naorem Babyrojisana Chanu (51kg), Poonam (57kg), Vinka (60kg), Arundhati Choudhary (69kg), T Sanamacha Chanu (75kg) and Alfiya Pathan (+81kg)— registered victories and finished on the top of the podium. Previously Indian women had won five gold medals during the 2017 edition of Youth World Championships held in Guwahati. India women’s team also finished as the No.1 team in the ongoing Championship ahead of Russia with seven gold medals.


Asian Youth Champion Sanamacha, who trains at boxing great MC Mary Kom’s academy in Imphal, added the historic sixth gold for India when she outperformed Kazakhstan’s Dana Diday 5-0 in the 75kg final. Later Young boxing sensation from Maharashtra Alfiya clinched the seventh gold for the country as she stunned a strong contender European Youth Champion Moldova’s Daria Kozorez 5-0 in the final.


“This has been an amazing effort from our youth boxers especially when the players had to be confined at home for most part of the last year and only make do with online training sessions. Our coaches and support staff did a stellar job despite the limitations and challenges. I congratulate all the winners on this unprecedented medal haul. This achievement is a testament of the talent we have in the upcoming generation of Indian boxing,” Boxing Federation of India President, Ajay Singh said while talking about the unprecedented medal haul by India at the AIBA Youth World Championships.


Earlier, Gitika led the country’s dominance and provided a perfect start for the day. The Haryana boxer, who came into the match beating two-time European Champion Italy’s Erika Prisciandaro, knocked down local favourite Natalia Kuczewska 5-0 in the women’s 48kg final and secured first gold medal for India at the on-going Championship.


The Asian Youth Champion Babyrojisana (51kg) and Poonam (57kg) further extended Indian winning momentum as the duo secured identical 5-0 victories to add two more gold medals. While Manipur boxer Babyrojisana looked in great touch during her flawless win against the European Junior Champion Russian Valeriia Linkova, Poonam also hit the aggressive mode from the word go and dominated her experienced opponent Sthelyne Grosy. With sharp and precise punches Poonam did not allow her opponent from France to score any point before completing an easy 5-0 triumph in the final bout.


Vinka (60kg) also produced a spectacular show as her punches, packed with a lot of power, were too strong for Kazakhstan boxer Zhuldyz Shayakhmetova. Referee had to stop the contest and declare Indian as the winner. Rajasthan boxer Arundhati added one more gold for Indian when she completed a fine 5-0 win against Polish boxer Barbara Marcinkowska in the 69kg final.


A 20-member Indian contingent had already created history by securing 11 medals at the on-going Youth World Championships bettering their previous best of 10 medals in 2018 edition. The only Indian men in the final, Sachin (56kg) will be in action tomorrow. Earlier in the men’s section Bishwamitra Chongthom (49kg), Ankit Narwal (64kg) and Vishal Gupta (91kg) won three bronze medals for the country with the semi-finals finish.


A 10-day biennial event, which had the men’s and women’s championship played together for the first time during the 2018 edition in Hungary, has witnessed high competition in presence of 414 boxers from 52 countries.  

Sunday, 7 March 2021

 India finish with 10 medals including one gold at Boxam International

India finish with 10 medals including one gold at Boxam International

New Delhi, March 07, 2021: Continuing his splendid run in the tournament Manish Kaushik clinched the gold medal as Indian boxers concluded their impressive campaign at the Boxam International Tournament with 10 medals in Castellon, Spain.

The 2018 Commonwealth Games silver medallist Kaushik, who returned into the ring for the first time after the Asian Olympic Qualifiers held in March last year, beat Denmark’s Nikolai Terteryan with a split 3-2 decision in the men’s 63kg summit bout. However, the World Championship bronze medallist Vikas Krishan went down fighting 4-1 against local favourite Ndiaye Sissokho to settle for silver medal in the men’s 69kg.

Meanwhile in the women’s category, Asian champion Pooja Rani lost to Word Championships bronze medallist USA’s Naomi Graham 5-0 in the 75kg final while young Jasmine, who was playing her maiden senior international tournament, showed great attacking display but couldn’t hold edge over 2019 European Champion Irma Testa of Italy and settle for a silver in the 57kg after going down 0-5 in the final.

The other five silver medals for the country were secured by Simranjit Kaur (60kg), Mohammed Hussamuddin (57), Ashish Kumar (75kg), Sumi Sangwan (81kg) and Satish Kumar (+91kg).

Ashish had to withdraw from the final after he was tested positive for COVI-19 while rest four boxers also withdrew from the tournament as precautionary measure because of their proximity to boxers who have turned positive.

Earlier Mary Kom settled for bronze after her semi-final exit. A 14-member (8 men and 6 women) Indian contingent had participated in the 35th edition of the Boxam International Tournament. The team will be reaching back in India on Monday afternoon.

Friday, 10 January 2020

डीएवी एनटीपीसी स्कूल के बॉक्सर करण सेन और तनीषा लंबा "खेलो इंडिया गेम्स" मैं बरसाएंगे पंच

डीएवी एनटीपीसी स्कूल के बॉक्सर करण सेन और तनीषा लंबा "खेलो इंडिया गेम्स" मैं बरसाएंगे पंच

फरीदाबाद : 10 जनवरी 2020  :  15  जनवरी से 22 जनवरी तक गुवाहाटी,असम में होने वाले हैं खेलो इंडिया यूथ नेशनल गेम्स मैं डीएवी एनटीपीसी स्कूल के दो बच्चे करण सेन और तनीषा लंबा अपने पंच बरसेंगे। स्कूल के दोनों बच्चे कई बार अपने जिले तथा अपने स्कूल का नाम रोशन कर चुके हैं। डीएवी एनटीपीसी स्कूल की प्रिंसिपल श्रीमती अलका अरोड़ा जी ने बताया की यह दोनों बच्चे खेलो इंडिया में अच्छा प्रदर्शन कर अपने जिले तथा स्कूल का नाम रोशन करेंगे। उन्होंने बताया करण सेन स्कूल का दसवीं क्लास का छात्र है और करण सेन ने इस साल आंध्र प्रदेश मैं हुई जूनियर नेशनल ने स्वर्ण पदक, हैदराबाद में हुई डीएवी नेशनल गेम्स में स्वर्ण पदक तथा मिजोरम में हुई स्कूल नेशनल गेम्स में स्वर्ण पदक जीत कर खेलो इंडिया के लिए अपना सिलेक्शन पक्का किया। उन्होंने बताया की तनीषा लांबा भी ग्यारहवीं क्लास की छात्रा है 

 तनीषा लंबा ने इस सालआंध्र प्रदेश मैं हुई जूनियर वूमेन नेशनल ने स्वर्ण पदक, पानीपत में हुई डीएवी नेशनल गेम्स में स्वर्ण पदक तथा दिल्ली में हुई स्कूल नेशनल गेम्स में रजत पदक जीत कर खेलो इंडिया के लिए अपना सिलेक्शन पक्का किया। डीएवी एनटीपीसी स्कूल के एच.ओ.डी. स्पोर्ट्स अंतर्राष्ट्रीय बॉक्सर डॉ.राजीव गोदारा ने बताया कि यह दोनों बच्चे उनके पास द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब सेक्टर 10 में प्रैक्टिस करते हैं। और डीएवी एनटीपीसी स्कूल के पास बड़ा ग्राउंड है और स्कूल में खेल से संबंधित सभी सुविधाएं मौजूद हैं जिसकी वजह से यहां के बच्चे नेशनल स्तर पर अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और इस साल स्कूल के कई बच्चों ने नेशनल स्तर पर कई पदक बटोरे।

Wednesday, 27 November 2019

द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के बॉक्सरो ने  2 स्वर्ण पदक और 3 रजत पदक जीते

द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के बॉक्सरो ने 2 स्वर्ण पदक और 3 रजत पदक जीते

फरीदाबाद, 28 नवंबर : मिजोरम मैं हुई 65 वी स्कूल नेशनल गेम्स बॉक्सिंग प्रतियोगिता में 2 स्वर्ण पदक तथा 3 रजत पदक जीत कर द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के बॉक्सरो ने किया अपने जिले का नाम रोशन और साथ ही साथ खेलो इंडिया का भी टिकट कटवाया।

65 वी स्कूल नेशनल गेम्स बॉक्सिंग प्रतियोगिता जोकि 19 नवंबर से 25 नवंबर तक मिजोरम राजधानी आइजोल के राजीव गांधी खेल स्टेडियम मैं कराई गई, जिसके अंदर अंडर 17 लड़को की बॉक्सिंग की प्रतियोगिता हुई जिसके अंदर फरीदाबाद के स्कूलों के बच्चों ने मेडल प्राप्त करें । अपने जिले का नाम रोशन किया जिले के सभी मेडलिस्ट खिलाड़ी सेक्टर 10 केएल मेहता स्कूल में स्थित द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते हैं तथा फरीदाबाद की बॉक्सिंग को बढ़ाने का श्रेय द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के कोच अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर राजीव गोदारा ओलंपियन व अर्जुन अवॉर्डी जय भगवान व उनके सह कोच अनिल व मुकेश का अहम योगदान है। द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई मेडल दिए हैं आज द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब में 500 के करीब खिलाड़ी प्रैक्टिस करते हैं 

जिनमें से कई सरकारी नौकरी प्राप्त कर चुके हैं। द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब की लड़को ने दो स्वर्ण पदक तथा तीन रजत पदक हासिल किये। जिसमे से 46-48 किलोग्राम भार वर्ग में डीएवी एनटीपीसी स्कूल करण सैन ने स्वर्ण पदक, 63 से 66 किलोग्राम भार वर्ग में डीएवी स्कूल बल्लभगढ़ के दीपांशु ने स्वर्ण पदक पर कब्जा किया। द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के बॉक्सरो ने तीन रजत पदक हासिल किए , जिनमें से 45 किलोग्राम भार वर्ग में डीएवीवी स्कूल सेक्टर 14 के अंशुल सरोहा ने रजत पदक, 70 से 75 किलोग्राम भार वर्ग में डीएवी पलवल के आकाश ने रजत पदक,80 से 85 किलोग्राम भार वर्ग में पलवल के दिप तेवतीया ने रजत पदक पर कब्जा किया ।

अंतर्राष्ट्रीय बॉक्सर राजीव गोदारा ने बताया कि जिन बच्चों ने 65 वी स्कूल नेशनल गेम्स में मेडल प्राप्त किया है । वह बच्चे सीधे खेलो इंडिया के लिए सिलेक्ट हो गए हैं ,जोकि जनवरी में गुवाहाटी के अंदर कराए जाएंगे और जो बच्चे खेलो इंडिया के अंदर मेडल प्राप्त करेंगे उन बच्चों को सरकार की तरफ से उच्च स्तरीय प्रैक्टिस सेंट्रो में भेजा जाएगा तथा 5 लाख की इनाम राशि दी जाएगी ।

Wednesday, 28 August 2019

गौतम भारद्वाज ने 31 वी सब जूनियर मैन बॉक्सिंग चैंपियनशिप प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता

गौतम भारद्वाज ने 31 वी सब जूनियर मैन बॉक्सिंग चैंपियनशिप प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता

फरीदाबाद : 29 अगस्त I डीएवी एनटीपीसी के गौतम भारद्वाज ने 31 वी सब जूनियर मैन बॉक्सिंग चैंपियनशिप जोकि दुर्गापुर वेस्ट बंगाल में 19 अगस्त से 25 अगस्त तक हुई प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतकर अपने जिले व स्कूल का नाम रोशन किया है गौतम भारद्वाज डीएवी एनटीपीसी स्कूल का कक्षा 9 का छात्र है डीएवी एनटीपीसी की प्रिंसिपल अलका अरोड़ा ने गौतम भारद्वाज का सम्मान किया तथा उसके उज्जवल भविष्य की कामना की डीएवी एनटीपीसी की प्रिंसिपल अलका अरोड़ा ने बताया की डीएवी एनटीपीसी के बहुत से खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय स्तर पर अपना नाम रोशन किया है और गौतम भारद्वाज 3 सितंबर को होने वाले हरियाणा स्कूल गेम्स मैं भी भाग लेगा और इसी स्कूल के करण सेन तनीषा लांबा व कशिश मेहता भी डीएवी एनटीपीसी की तरफ से हरियाणा स्कूल गेम्स में भाग लेंगे I 

 उन्होंने बताया की इसी साल अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर राजीव गोदारा ने इसी स्कूल में शारीरिक शिक्षा अध्यापक के तौर पर स्कूल को ज्वाइन किया है और राजीव गोदारा अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर की वजह से हमारा स्कूल बॉक्सिंग में तथा अन्य गेम्स में आने वाले समय में बहुत सारे मेडल हमारे स्कूल की शोभा बढ़ाएंगे और उन्होंने बताया की डीएवी एनटीपीसी स्कूल में बच्चों के लिए खेल की सभी सुविधाएं उपलब्ध है और खिलाड़ियों को जो भी सुविधाएं चाहिए होती हैं वह हम उन्हें जल्द से जल्द प्राप्त करवाते हैं और उनकी शिक्षा का भी बहुत ध्यान रखा जाता है ताकि उनके खेल में किसी प्रकार का अवरोध उत्पन्न ना हो डीएवी एनटीपीसी स्कूल प्रिंसिपल अलका अरोड़ा जीने खिलाड़ियों के लिए स्कूल में बहुत सारी स्कीम्स बना रखी है जोकि बच्चों की आर्थिक सहायता मैं भी सहयोग मिलता है

Saturday, 6 July 2019

 द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के मुक्केबाज हर्ष गिल बरसाएंगे सर्बिया मे पंच

द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के मुक्केबाज हर्ष गिल बरसाएंगे सर्बिया मे पंच

फरीदाबाद 6 जुलाई : एक बार फिर द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के मुक्केबाज हर्ष गिल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 8 जुलाई से 15 जुलाई तक में होने वाली गोल्डन ग्लव्स ऑफ वोजवोदिना अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग प्रतियोगिता में भारत देश का प्रतिनिधित्व करेंगे,जोकि वोजवोदिना, सर्बिया मे होगी। द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के हर्ष गिल ने अभी पिछले महीने मे हुई तीसरी यूथ नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप जोकि 8 जून से 15 जून तक रुद्रपुर( उत्तराखंड )में हरियाणा को एकलौता स्वर्ण पदक दिला कर अपने राज्य तथा जिले का नाम रोशन किया था,हर्ष गिल पिता का नाम लखविंदर गिल फरीदाबाद सेक्टर 11 का रहने वाला है इससे पहले हर्ष गिल कई बार राष्ट्रीय सतर पर काफी पदक हासिल किए है। हर्ष गिल ने स्कूल नेशनल गेम्स 2018 असम में हुई बॉक्सिंग प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता । ओपन नेशनल 2018 चंडीगढ़ मैं रजत पदक हासिल किया।

ऑल इंडिया साईं नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप 2018 रोहतक में हुई प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक हासिल किया। खेलो इंडिया गेम्स 2018 दिल्ली में रजत पदक हासिल किया । स्कूल नेशनल गेम्स 2017 देहरादून में कांस्य पदक हासिल किया तथा हर्ष गिल गवर्नर के द्वारा 2018 में गवर्नर पुरस्कार प्राप्त कर चुके हैं

अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर राजीव गोदारा जोकि द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के बॉक्सिंग कोच को हर्ष गिल पर पूरा विश्वास है कि आने वाले समय में वह भारत देश का नाम भी रोशन करेगा । उन्होंने कहा कि हर्ष गिल एक अच्छा खिलाड़ी है और जिस तरह से वह लगातार नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप में प्रदर्शन कर रहा है उसको देखते हुए वह ओलंपिक में भी भारत के लिए पदक जीतेगा। उन्होंने बताया की हर्ष गिल 8 जुलाई से 15 जुलाई तक में होने वाली गोल्डन ग्लव्स ऑफ वोजवोदिना अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग प्रतियोगिता में भाग लेगा,जोकि वोजवोदिना, सर्बिया और भारत के लिए पदक हासिल कर देश का नाम रोशन करेगा और आने वाली यूथ ओलंपिक और यूथ एशियन गेम्स में भारत के लिए पदक जीतकर अपने देश का नाम रोशन करेगा।

Monday, 21 January 2019

द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के बॉक्सरो ने खेलो इंडिया मे लहराया परचम

द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के बॉक्सरो ने खेलो इंडिया मे लहराया परचम

 फरीदाबाद 21 जनवरी : द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के बॉक्सरो ने एक बार फिर अपने जिले और क्लब का नाम रोशन किया । 13 जनवरी से 21 जनवरी को पुणे में हुई `खेलो इंडियाʼ नेशनल प्रतियोगिता में फरीदाबाद द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब ,डी.पी.एस. स्कूल, सेक्टर 11 के बॉक्सरो एक स्वर्ण पदक तथा तीन कांस्य पदक पर कब्जा किया।

91 किलोग्राम भार वर्ग में हिम्मत सिंह पिता का नाम बंसीलाल ने स्वर्ण पदक पर कब्जा किया हिम्मत सिंह मूल रूप से सदरपुर पलवल का रहने वाला है। हिम्मत सिंह दो बार यूथ नेशनल चैंपियन रह चुका है और दो बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एशियाई खेलों में भाग ले चुका है।
46 किलोग्राम भार वर्ग में अंशुल सरोहा पिता का नाम मुकेश सिंह सरोहा ने कांस्य पदक पर कब्जा किया । अंकुश सरोहा जो कि पर्वतीय कॉलोनी का रहने वाला है और इस साल स्कूल नेशनल गेम्स गुवाहाटी में कांस्य पदक किया था।

52 किलोग्राम भार वर्ग में हर्षित यादव पिता का नाम सुरेंद्र सिंह यादव ने कांस्य पदक पर कब्जा किया। हर्षित यादव मंझावली का रहने वाला है और इस साल उसने स्कूल नेशनल गेम्स गुवाहाटी में कांस्य पदक प्राप्त किया था।

70 किलोग्राम भार वर्ग में यतींद्र भारद्वाज पिता का नाम हरभजन भारद्वाज ने कांस्य पदक पर कब्जा किया। जितेंद्र भारद्वाज खेड़ी गांव का रहने वाला है और उसने भी गुवाहाटी स्कूल नेशनल गेम्स में रजत पदक हासिल किया।

फरीदाबाद की बॉक्सिंग को बढ़ाने का श्रेय द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के कोच अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर राजीव गोदारा ओलंपियन व अर्जुन अवॉर्डी जय भगवान व उनके सह कोच सुखविंदर व मुकेश का अहम योगदान है। द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई मेडल दिए हैं आज द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब में 500 के करीब खिलाड़ी प्रैक्टिस करते हैं और जिनमें से कई सरकारी नौकरी प्राप्त कर चुके हैं।

Thursday, 2 August 2018

Manav Rachna Joined BBA(G) Course Gaurav Solanki Gold Medalist

Manav Rachna Joined BBA(G) Course Gaurav Solanki Gold Medalist

FARIDABAD 3 AUGUST I We are very proud to announced that Gaurav Solanki Gold Medalist in Boxing in Commonwealth Games 2018 at Australia has joined Manav Rachna in BBA(G) Course. He is also a Gold medalist in youth Asian Championship at Bangkok, Thailand. It is a very proud privilege to have Gaurav Solanki in Manav Rachna. He has already brought glory to nation as well as himself & Family. Manav Rachna assured him full support to achieve height level performance. He was also presented with University Color by Dr. Amit Bhalla, Vice President, MREI.

Saturday, 10 February 2018

खेलों इंडिया में बॉक्सर हर्ष ने रजत व पुष्पेंद्र ने जीता कांस्य

खेलों इंडिया में बॉक्सर हर्ष ने रजत व पुष्पेंद्र ने जीता कांस्य

फरीदाबाद, 9 फरवरी : दिल्ली में चल रहे खेलो इंडिया तहत जिले के दो बॉक्सरों ने भी पदक जीत जिले का नाम रोशन किया है। इसमें बॉक्सर हर्ष गिल ने रजत व पुष्पेंद्र राठी ने कांस्य जीतने में सफल रहे। दोनों ही खिलाड़ी सैक्टर-11 स्थित द्रोणाचार्य बॉक्सिंग अकादमी के है।

अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग कोच राजीव गोदारा ने बताया कि इस प्रतियोगिता में हर्ष गिल ने 70-75 किलोग्राम भार वर्ग में पंजाब के बॉक्सर को चित करके रजत पदक अपने नाम किया। उन्होंने बताया कि देहरादून में संपन्न हुई स्कूल नेशनल बॉक्सिंग चौंपियनशिप में कांस्य और झज्जर में हुई हरियाणा राज्य बॉक्सिंग चौंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था। वहीं पुष्पेंद्र राठी ने 75-80 किलोग्राम भार वर्ग में हिस्सा लिया था। कांस्य पदक के लिए हुई फाइट में पुष्पेंद्र ने राजस्थान के मुक्केबाज को हराया। उन्होंने बताया कि पुष्पेंद्र ने सीबीएसई नेशनल बॉक्सिग चैंपियनशिप में स्वर्ण, और साल 2016 और 2017 में डीएवी नेशनल बॉक्सिग में दो स्वर्ण पदक जीते थे। पुष्पेंद्र और हर्ष के पदक जीतने पर डीपीएस सेक्टर-11 के चेयरमैन डॉ.नरेंद्र नागर और अर्जुन अवार्डी जय भगवान ने बधाई देते हुए कह कि हमारे पास कई अच्छे बॉक्सर है, जिन्होंने जिले का नाम रोशन किया है। इनके पदकों को बॉक्सिंग खेल में नया संचार आया है।

Thursday, 4 January 2018

 आकाश त्यागी ने पदक जीतकर किया तिगांव क्षेत्र का नाम रोशन : ललित नागर

आकाश त्यागी ने पदक जीतकर किया तिगांव क्षेत्र का नाम रोशन : ललित नागर

फरीदाबाद 4 जनवरी। पटना में आयोजित नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीतने वाले तिगांव क्षेत्र के गांव घरौंडा निवासी आकाश त्यागी के आज गांव पहुंचने पर ग्रामीणों ने फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया। इस मौके पर तिगांव विधानसभा क्षेत्र के विधायक ललित नागर ने स्वयं आकाश की हौंसला अफजाई करते हुए कहा कि उसकी इस उपलब्धि ने पूरे तिगांव क्षेत्र का नाम पूरे देश में रोशन किया है। भविष्य में भी वह ऐसे ही क्षेत्र का नाम रोशन करें, ऐसा वह उसे आर्शीर्वाद देते है। उन्होंने आकाश के पिता शशिभूषण व अन्य परिजनों को भी इस उपलब्धि पर बधाई दी। उपस्थितजनों को संबोधित करते हुए विधायक ललित नागर ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है, बस जरुरत है तो उन प्रतिभाओं को तराशने की। 

उन्होनें कहा कि कांग्रेस शासनकाल में शहरों के साथ-साथ ग्रामीण स्तर पर भी खेल प्रतियोगिता आयोजित होती थी और छुपी हुई प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करके बेहतर मंच उपलब्ध करवाए जाते थे परंतु पिछले तीन वर्षाे से भाजपा सरकार में खिलाडिय़ों की जमकर अनदेखी हो रही है, जो खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन करते है, उन्हें प्रोत्साहित करने की बजाए सरकार उनकी ओर ध्यान तक नहीं देती, यही कारण है कि आज हमारे प्रदेश में छुपी हुई प्रतिभाएं विलुप्त होती जा रही है। 

श्री नागर ने ग्रामीणों को विश्वास दिलाया कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर ग्रामीण क्षेत्रों में खेलों को बढ़ावा दिया जाएगा और छुपी प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करके बेहतर मंच उपलब्ध करवाया जाएगा। इस मौके पर सूरजपाल उर्फ भूरा, मास्टर राममूर्ति, ईश्वर दयाल, सुधीर त्यागी, रामेश्वर त्यागी, संजय मास्टर, धनेश शर्मा, बीर सिंह, विनोद पूर्व सरपंच, अजय त्यागी, अवनेश त्यागी, सतबीर त्यागी, रामचंद्र भाटी, गिर्राज भाटी, मनोज त्यागी, सुंदरलाल त्यागी सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे। 

Sunday, 12 November 2017

किकबॉक्सिंग चैम्पियनशिप में खिलाड़ियों ने दिखाया दमख़म

किकबॉक्सिंग चैम्पियनशिप में खिलाड़ियों ने दिखाया दमख़म

फरीदाबाद, 12 नवम्बर : सेक्टर 21 डी स्थित जीबीएन सीनीयर सेकेंडरी स्कूल में ड्रेगन मार्शल आर्ट अकादमी द्वारा पहला फरीदाबाद जिला किकबॉक्सिंग चैम्पियनशिप 2017 का आयोजन किया गया। किकबॉक्सिंग के उद्धघाटन अवसर पर मुख्य तकनिकी निर्देशक कराटे मास्टर गंगेश तिवारी मौजूद थे।फरीदाबाद जिला किकबॉक्सिंग चैम्पियनशिप का आयोजन राम भंडारी द्वारा किया गया। किकबॉक्सिंग के उद्धघाटन अवसर पर  कराटे मास्टर गंगेश तिवारी,राम भंडारी व सुनील राजपूत ने खिलाड़ियों से हाथ मिलकर चैम्पियनशिप की शुरुआत की। चैम्पियनशिप में लगभग 300 खिलाड़ियों ने भाग लिया। 

अवसर पर गंगेश तिवारी खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि  यह खेल शारीरिक विकास के साथ साथ आत्मरक्षा करने वाला खेल है अतः इस खेल को ज्यादा से ज्यादा खेलना चाहिए। जिससे वह अपने आप के साथ -साथ दुसरो की भी रक्षा कर सकें। फरीदाबाद जिला किकबॉक्सिंग चैम्पियनशिप में 30 किलो वजन वर्ग में अबीर सत्याजीत सिंह ने गोल्ड ,श्रीधर भंडारी को सिल्वर ,मुदित व चित्तूर वेंकटेश्वरन ने कस्य पदक प्राप्त किया। इसी तरह 35 किलो वजन वर्ग में नव्या ने गोल्ड ,अविका ने सिल्वर ,मनिका सेठी ने कस्य पदक प्राप्त किया।40 किलो वजन वर्ग में मनसा कौर ने गोल्ड ,महिमा ने सिल्वर ,वंशीखा सेठी ने कस्य पदक प्राप्त किया। 

45 किलो वजन वर्ग में रुजुल शर्मा ने गोल्ड ,सुरभि नागर ने सिल्वर ,भुवंशीखा व सुनीति ने कस्य पदक प्राप्त किया। 50 किलो वजन वर्ग में बादल ने गोल्ड ,धुरुव सक्सेना ने सिल्वर ,कमल कर्दम व हर्षल ने कस्य पदक प्राप्त किया। इसी तरह 55 किलो वजन वर्ग में बोधु सेषा ने गोल्ड ,साहिल पूरी ने सिल्वर पदक प्राप्त किया। चेम्पिनशिप में निर्णायक की भूमिका में दीपक शर्मा ,राजन ,संतोष थापा ,दुर्गा ,संगीता ,कामिनी सेठी ,यशानंद ,मनाली , रघुविंदर चौधरी,अंकित अग्रवाल ,जतिन की अहम भूमिका रही। चैम्पियनशिप में राम भंडारी ने कराटे मास्टर गंगेश तिवारी स्मृतिचिन्ह देकर सम्मानित किया। 

Sunday, 5 November 2017

बेटी ही देश का नाम रोशन करती है ; पूर्व मंत्री पंडित शिवचरण लाल शर्मा

बेटी ही देश का नाम रोशन करती है ; पूर्व मंत्री पंडित शिवचरण लाल शर्मा

फरीदाबाद 5 नवम्बर। फरीदाबाद डिस्ट्रिक बॉक्सिंग एसोसिशन के द्वारा फरीदाबाद में दो दिवसीय नौवीं नार्थ इण्डिया वूमेन बॉक्सिंग चैम्पियनशिप का पूर्व मंत्री प. शिव चरणलाल शर्मा ने किया।  शुभारंभ अवसर पर  प. शिवचरण लाल शर्मा ने कहा कि खेल वह माध्यम है जिससे हम आपसी सौहार्द एवं भाईचारे को बढ़ा सकते है। उन्होंने सभी खिलाडिय़ों को अपनी मुबारकबाद दी एवं उन्हें विजयश्री का अशीर्वाद दिया। 

4-5 नवम्बर तक आयोजित इस बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ, हिमाचल और जम्मू .कश्मीर की 44 महिला खिलाडियों ने भाग लिया जिसमे रोहतक जिले के रिठाला गांव की श्रुति ने गोल्ड मैडल जीता वहीँ हिमाचल की प्रिया टोकस ने सिल्वर मैडल जीता। खिलाडिय़ों में इस प्रतियोगिता को लेकर भारी उत्साह देखा गया। नार्थ इंडिया की इस प्रतियोगिता में जीतने वाले खिलाडी अब बैंगलोर में आयोजित होने वाले इंटरजोनाल वूमेन बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में हिस्सा लेंगे।

डिस्ट्रिक बॉक्सिंग एसोसेशन  के सेकेट्री दिनेश महाजन ने बताया की यहाँ दो दिवसीय सीनियर वूमेन बॉक्सिंग चैम्पियनशिप आयोजित करवाई गयी है। जिसमे 45 से 75 किलो भार वर्ग में 10 कैटागिरी के तहत मुकाबले करवाए गए। जिसमे रोहतक जिले के रिठाला गांव की श्रुति ने गोल्ड मैडल जीता वहीँ हिमाचल की प्रिया टोकस ने सिल्वर मैडल जीता। उन्होंने बताया की इस बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ, हिमाचल और जम्मू -कश्मीर की 44 महिला खिलाडियों ने भाग लिया। उन्होंने बताया की नार्थ इंडिया की इस प्रतियोगिता में जीतने वाले खिलाडी अब बैंगलोर में आयोजित होने वाले इंटरजोनाल वूमेन बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में हिस्सा लेंगे।

इस अवसर पर वूमेन बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में गोल्ड मैडल जीतने वाली रोहतक जिले के रिठाला गांव की श्रुति ने बताया की आज गोल्ड मैडल जीतकर उन्हें बेहद खुशी हो रही है और इस जीत का श्रेय वह अपने कोच को देना चाहेंगी। इस खिलाडी ने बताया की उसका लक्ष्य ओलम्पिक में सर्वश्रेष्ट प्रदर्शन करने का है। श्रुति ने बताया की उसे बॉक्सिंग के खेल में आये हुए चार साल हो चुके है और इस तरह की खेल प्रतियोगिताओ के आयोजन से खिलाडियों के खेल में निखार आता है। वहीँ उन्होंने कहा की खेलो में नाम रौशन करने के साथ साथ वह अपने बचाव में मनचलो को भी करारा जवाब दे सकती है।

प्रतियोगिता में सिल्वर मैडल जीतने वाली हिमाचल की बॉक्सर प्रिया टोकस ने बताया की उसने 48 किलो वर्ग भरा में सिल्वर मैडल जीता है  और वह दो बार नेशनल में खेलकर पोजीशन हासिल कर चुकी हैण् इस खिलाडी ने बताया की उसे लगा की बॉक्सिंग के खेल में उसका कैरियर बन सकता है सो इसी सोच और लक्ष्य को लेकर वह बॉक्सिंग के खेल में आयी। उन्होंने इसका श्रेय अपने माता पिता और कोच को दिया।

इस प्रतियोगिता में गोल्ड मैडल रोहतक रिठाला गांव की श्रुति ने हासिल किया, हिमाचल की प्रिया टोकस ने सिल्वर मैडल ने हासिल किया। 

इस अवसर पर फरीदाबाद डिस्ट्रिक बॉक्सिंग एसोसिशन  प्रधान मुनेश शर्मा और फरीदाबाद डिस्ट्रिक बॉक्सिंग एसोसिशन  जनरल सेक्टरी दिनेश महाजन ने बताया कि इस प्रतियोगिता के समापन अवसर पर भाई तेजपाल मुख्य अतिथि केे रूप में उपस्थित रहे व समापन अवसर पर राकेश ठक्कर आईएबीएफ सचिव एण्ड हरियाण स्टैेट बाक्सिंग एसोसिएशन सचिव ने किया। इस अवसर पर सी वी शर्मा चेयरमैन बीवीएम स्कूल, रोहतक सिंह शेखावत, अनिल फागना, दिनेश महाजन, राकेश यादव, सुनील शर्मा, प्रवीन तोमर आदि ने भी शिरकत की। 

Saturday, 14 October 2017

द्रोणाचार्य बॉक्सिंग अकादमी के बाॅकसर सागर नरवत ने विदेश में किया भारत का नाम रौशन

द्रोणाचार्य बॉक्सिंग अकादमी के बाॅकसर सागर नरवत ने विदेश में किया भारत का नाम रौशन

 फरीदाबाद:14 अक्टूबर (National24news) फिलीपींस के मशहूर प्रोफेशनल बॉक्सर मैनी पैकियाओ के गढ़ में भारत के सागर नर्वत ने वो कर दिखाया, जिसका सपना बड़े मुक्केबाज देखते हैं. विदेशी धरती पर अपनी पहली फाइट में सागर ने मेजबान देश के धाकड़ बॉक्सर जुन मामो को धूल चटा दी.
विदेशी धरती पर अपनी पहली फाइट के लिए उतरना सागर के लिए किसी भी लिहाज से आसान नहीं था. जुन मामो की गिनती फिलीपींस के दमदार बॉक्सर में होती है. उन्हें वहां के 'आइरन मैन' के नाम से जाना जाता है. इस दौरान दोनों के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली.

सागर ने इस मुकाबले को 39-37, 39-37, 38-38, 39-36 से जीत दर्ज की. फिसीपींस मे मामो को हराना बेहद मुश्किल काम था. उनका एक-एक पंच ऐसे लग रहा था, लेकिन सागर ने डिफेंस और अटैक से इस मुकाबले को जीत लिया. मुकाबला जीतने के बाद वो काफी अच्छा महसूस कर रहे हैं

सागर कड़ी मेहनत के बाद यह जीत हासिल हुई है. यह काफी मुश्किल फाइट थी. सागर ने अपने पंच सही टार्गेट में मारे, जिसकी वजह से उन्हें जीत हासिल हुई है. आने वाले समय में इस जीत की लय को बरकार रखने की कोशिश करेंगे. 
सागर नर्वत की इस जीत पर देश को गर्व है, 

Tuesday, 9 May 2017

Super Boxing League unveil teams and schedule for India’s first ever boxing league

Super Boxing League unveil teams and schedule for India’s first ever boxing league

Mumbai,9 May (National24news.com)The boxing fever is soon to grip India with its first ever Super Boxing League (SBL) to be held in New Delhi from July 7 to August 12, 2017. The league is being organised by British businessman Bill Dosanjh, also the founder and promoter of successful Super Fight League and professional boxing sensation & two-time world champion boxer, Amir Khan.

Eight teams comprising of 96 pugilists will come together for twelve league level matches from July 7-30, 2017 followed by two semi finals on the 5th and 6th August and the grand finale on the 12th August, 2017.

The eight teams of the inaugural edition of SBL are Mumbai Assassins, Delhi Gladiators, Haryana Warriors, Sher-E-Punjab, UP Terminators, North East Tigers, Maratha Yoddhas and Southern Super Kings.

“Today’s event represents a huge step towards delivering our vision of creating an inspirational international level of contact sports in India,” said Bill Dosanjh, Owner & Promoter, Super Boxing League. “Its a great feeling to see a concept taking shape and today we have eight teams with the best of industry partners owning them. I am thankful to all team owners for believing in our vision and joining hands in delivering something which will soon be a symbol of aspiration for many young pugilists across globe.”

The eight teams participating in Super Boxing League are owned by top corporate honchos. Aditya Munjal of Hero Cycles , Arjun Jain of White Fox and Shiva Vij an industrialist from Delhi will jointly own Delhi Gladiators, Nitin Jadhav of Gajanan Oil will own Mumbai Assassins, Jaskaran Puniyani and Navraj Jaura of the Jaura Group will own UP Terminators, Southern Super Kings will be owned by Abhinandan Balasubramaniam who is also the man behind India’s first futsal league, Premier Futsal. Ajeenkya Patil of the DY Patil Group will be owning Maratha Yoddhas, the team that comes from Pune, Amit Aggarwal of S&J Granulate Solutions Pvt. Ltd. will own North East Tigers. Besides these corporate houses, SBL has a team owner who is a farmer by profession but a sport lover by passion. Karan Devgan comes on board as the owner of Haryana Warriors.

Speaking at the occasion, professional boxer and promoter of SBL, Amir Khan said, “Long-term partnerships work best for both the brand and the team, where they draw from each other’s vigour. SBL is going to be a big leap in the history of boxing and I am confident that it will become one of the most coveted title in boxing in the years to come.”

Each team at the Super Boxing League will have a squad strength of 12 boxers, including six back up boxers. A team will have a mix of five male and one female boxer and can have a maximum of three international boxers. Each action-packed weekend of SBL will see the best of 6 bouts formats across six weight categories. A bout will have 4 rounds of 3 minutes each. 

SBL has roped in Sony Pictures Networks India as the broadcast partner for on-air as well as online streaming of the league. The league will be telecasted live on SONY ESPN and SONY ESPN HD at the prime time slot of 7-9:30pm over Friday, Saturday and Sunday and will be live streamed on SONY LIV.

The schedule of the matches is available on the website of Super Boxing League. For more information, please visit, www.superboxingleague.com.

Saturday, 8 April 2017

बॉक्सिंग प्रतिभा खंगालने को सबजूनियर-जूनियर ओपन नेशनल लीग फरीदाबाद में --राजीव गोदारा

बॉक्सिंग प्रतिभा खंगालने को सबजूनियर-जूनियर ओपन नेशनल लीग फरीदाबाद में --राजीव गोदारा

 बॉक्सिंग प्रतिभा खंगालने को सबजूनियर-जूनियर ओपन नेशनल लीग फरीदाबाद में
- जून में होगी, प्रदेश से कोई भी बॉक्सिंग खिलाड़ी ले सकेगा हिस्सा
- देश भर से 10 हजार से अधिक बॉक्सर इस ओपन नेशनल में आने की संभावना
- रूलर गेम्स बॉक्सिंग एसोसिएशन आॅफ इंडिया उठा रही इस प्रतियोगिता की जिम्मेदारी
- इंडियन बॉक्सिंग फैडरेशन ने दी है मंजूरी
- फाइनल में पहुंचने वाले बॉक्सर ओलंपिक तैयािरयों के लिए स्कवॉयड में होंगे शामिल
फरीदाबाद : 8 अप्रैल (National24News.com) बॉक्सिंग प्रतिभाओं को खंगाल ओलंपिक की तैयािरयों को बेहतर बॉक्सरों का स्कवॉयड बनाने को रूलर गेम्स बॉक्सिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया पहली ओपन सबजूनियर-जूनियर ओपन नेशनल लीग का आयोजन करने जा रही है। इंडियन बॉक्सिंग फैडरेशन ने भी इस लीग आयोजन को मंजूरी दे दी है। लीग का आयोजन फरीदाबाद में जून में किया जाएगा। कई भारवर्ग में इस लीग के तहत बॉक्सर अापस में भिडेंगे। रूलर गेम्स बॉक्सिंग एसोसिसएशन ऑफ इंडिया अधिकािरयों को अनुमान है कि इसमें 10 हजार बॉक्सर देश भर से जुट जाएंगे। लगभग एक हफ्ता इस लीग का आयोजन कराने की बात एसोसिएशन अधिकािरयों द्वारा कहीं जा रही है। अधिकारियों के अनुसार इस वर्ग में लीग का आयोजन ओलंपिक के लिए अच्छे बॉक्सरों को ऊपर लाकर विशेष ट्रेनिंग देकर तैयार करने को ही किया जा रहा है।
कोई भी बॉक्सर ले सकता सीधे एंट्री
इस नेशनल लीग में कोई भी बॉक्सर सीधे एंट्री ले सकता है। वह चाहे जिला-स्टेट से ही आगे क्यों न बढ़ा हो। इस लीग में सभी बॉक्सरों को खेलने का अधिकार दिया जा रहा है। अलग-अलग भारवर्ग में इस लीग के तहत बॉक्सर खेलेंगे। इसके लिए जल्द ही रूलर बॉक्सिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया एंट्री के लिए तििथ की घोषणा करेगी।  इस घोषणा के बाद ही एंट्री खुल जाएंगी। यह एंट्री ऑफ लाइन और ऑनलाइन दोनो प्रकार से की जा सकेंगी।
इसलिए रखी गई सबजूनियर-जूनियर नेशनल
पहले लीग का देश को जोन वाइज बांट कर अलग फॉर्मेट बनाया गया था। क्योंकि केवल चार साल ही अगले ओलंपिक के लिए हैं। और एक बेहतर टीम बनाने का दवाब फैडरेशन पर है। जोन वाइज बांट कर लीग कराने में समय ज्यादा लग जाता। फिर कम उम्र के बॉक्सरों की ही जरूरत है। जिन्हें आगे विशेष ट्रेनिंग दी जा सके। इसके लिए ही सबजूनियर-जूनियर कैटेगरी ओपन नेशनल लीग के लिए चुनी गई। इसमें अंडर-14, 17 व 19 आयुवर्ग के विभिन्न भारवर्ग में बॉक्सर अपना भाग्य आजमा सकेंगे।

फाइनल में पहुंचने वाले बॉक्सर होंगे स्कवॉयड में
इस लीग के विभिन्न भारवर्ग में फाइनल में पहुंचने वाले दोनो बॉक्सर स्कवॉयड में शामिल रहेंगे। उनकी विशेष ट्रेनिंग फिर इंडियन बॉक्सिंग फैडरेशन के बैनर तले चलेगी। इंटरनेशनल प्रतियोगिताओं में इन बाॅक्सरों को भेजना शुरू किया जाएगा।  इन बॉक्सरों के जरिए ही ओलंपिक कोटा प्राप्त करने की कोशिश फैडरेशन की रहेगी। उन्हें उम्मीद है कि इस योजना से वह अधिक से अधिक अच्छे बॉक्सरों को आगे लाने मे ंकामयाब रहेंगे। हालांकि इसके अलावा दूसरी नेशनल प्रतियोगिताओं पर भी फोकस फैडरेशन का रहेगा। उसमें से अगर कोई बॉक्सर आगे आता है। तो उसे भी स्कवॉयड में शामिल किया जाएगा। लेकिन फैडरेशन की नेशनल प्रतियोगिताओं में इस लीग के फाइनल में पहुंचे बॉक्सरों को सीधे एंट्री मिलेगी। उन्हें जिला और राज्यस्तर पर भाग नहीं लेना होगा।
कोट्स...
ओलंपिक की तैयािरयों को अच्छे बॉक्सरों को आगे लाने को ही इंडियन बॉक्सिंग फैडरेशन ने अोपन नेशनल लीग की जिम्मेदारी रूलर गेम्स बॉक्सिंग एसोसिएशन आॅफ इंडिया को सौंपी है। इसे जून में कराना तय किया गया है। सबजूनियर-जूनियर वर्ग में यह लीग होगी। कोई भी बॉक्सर इसमें खेल सकता है। एंट्री और आयोजन की जल्द ही तारीख निर्धारित कर घोषणा कर दी जाएगी। एंट्री ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनो प्रकार से ली जाएंगी।
राजीव गोदारा, महासचिव रूलर गेम्स बॉक्सिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया

Saturday, 1 April 2017