Showing posts with label Sports. Show all posts
Showing posts with label Sports. Show all posts

Thursday, 13 December 2018

डेयरडेविल्स एक्स क्रिकेट क्लब ने मेवात अरावली क्रिकेट एसोसिएशन को  287 रन से हराया

डेयरडेविल्स एक्स क्रिकेट क्लब ने मेवात अरावली क्रिकेट एसोसिएशन को 287 रन से हराया

फरीदाबाद ( 14 दिसम्बर ) रावल क्रिकेट मैदान भूपानी पर आयोजित जिला क्रिकेट सीनियर दो दिवसीय लीग के मैच में डेयरडेविल्स एक्स क्रिकेट क्लब और मेवात अरावली क्रिकेट एसोसिएशन के बीच खेला गया । जिला क्रिकेट एसोसिएशन के महासचिव राजीव यादव ने बताया कि यह मैच 90-90 ओवर का है इस दो दिनी मैच में  मेवात अरावली क्रिकेट एसोसिएशन ने टीम पहले टॉस जीत कर गेंदबाजी करने का निर्णय लिया । डेयरडेविल्स एक्स क्रिकेट क्लब ने पहेले बल्लेबाजी करते हुए 77.2 ओवर में 10 विकेट पर  335 रन बनाए । टीम की और से बल्लेबाजी करते हुए कप्तान उदित मोहन ने  86 रन  , अनुभव आहूजा ने 76 रन ,दीपांश कुमार ने 28 रन और धीरू सिंह ने 27 रन बनाए और मेवात अरावली क्रिकेट एसोसिएशन की और गेंदबाजी करते हुए मोहमद सैफ ने 9 ओवर मैं 40 रन देकर 3 विकेट , योगंश ने 3 विकेट और फरीद खान ने 2 विकेट , सक्षम श्रीवास्तव ने 1 विकेट ली । 

मेवात अरावली क्रिकेट एसोसिएशन ने बल्लेबाजी करते हुए  26 .4 ओवर में 10  विकेट पर 48 रन बनाकर हार का सामना करना पड़ा । टीम की ओर से बल्लेबाजी करते हुए मोहमद सैफ ने 18 रन बनाए ,  योगंश ने 7 रन और फरीद खान ने भी 7 रन बनाए और डेयरडेविल्स एक्स क्रिकेट क्लब की और से गेंदबाजी करते हुए साहिल दत्ता  और क्रिशन डागर ने 3 -3 विकेट ली , कपिल राजपूत ने 2 विकेट और कुलदीप ठाकुर ने 1 विकेट ली ।

डेयरडेविल्स एक्स क्रिकेट क्लब के खिलाडी कप्तान उदित मोहन को मैन ऑफ़ दा मैच दिया गया I 

Wednesday, 12 December 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की विधि ने नेशनल गेम्स में जीता गोल्ड मैडल

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की विधि ने नेशनल गेम्स में जीता गोल्ड मैडल

फरीदाबाद 12 दिसंबर। रांची (झारखण्ड) के खेलगांव में 8 से 11 दिसंबर तक आयोजित 64 वें नेशनल स्कूल गे स -२०१८ आर्चरी टूर्नामेंट अंडर-17 में विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की कक्षा दसवीं की छात्रा विधि यादव ने रिकर्व राउण्ड (टीम इवेंट) में गोल्ड पर निशाना साध कर न केवल स्कूल बल्कि पूरे प्रदेश का नाम रोशन किया है। उक्त विचार प्रकट करते हुए स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव ने कहा कि विधि की सफलता पूरे समाज की बेटियों की सफलता है क्योंकि इससे साबित हो जाता है कि यदि बेटियों को समान अवसर मिलें तो वे सफलता के हर शिखर को छू सकती हैं। श्री यादव विधि के गोल्ड जीतकर वापिस लौटने के अवसर पर आयोजित स ाान समारोह के अवसर पर बोल रहे थे। 

इस अवसर पर विधि के लौटने पर उसका भव्य स्वागत किया गया। साथ ही आर्चरी कोच नीरज वशिष्ठ को भी स मानित किया गया। इस अवसर पर बात करते हुए विधि ने अपनी इस सफलता का श्रेय अपने अभिभावकों, कोच और स्कूल प्रबंधन को देते हुए कहा कि उनकी यह सफलता बिना इन सभी के आशीर्वाद और सहयोग के संभव नहीं थी। गौरतलब है कि रांची के खेलगांव में आयोजित 64 वें नेशनल स्कूल गे स आर्चरी टूर्नामेंट अंडर-17 प्रतियोगिता में  25 से ज्यादा राज्यों के खिलाडिय़ों ने हिस्सा लिया। 

यहां यह भी उल्लेखनीय है कि विधि से पहले भी विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के अनेक छात्र नेशनल लेवल पर स्वर्ण और अन्य पदक जीत चुके हैं जिसमें आर्ची यादव का सिलेक्शन तो प्रदेश की ओलंपिक टीम के लिए भी हुआ है। इसके अतिरिक्त स्कूल द्वारा संचालित क्रिकेट, कबड्डी एवं ताइक्वांडो अकादमी में भी छात्र बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस अवसर पर क्षेत्र के वरिष्ठ नेता एवं समाजसेवी राजेश नागर ने भी विधि को स मानित किया और बेहतर भविष्य की शुभकामनाएं दीं। समारोह में मु य रूप से स्कूल के डॉयरेक्टर दीपक यादव, श ाी यादव, अकादमी डॉयरेक्टर सीएल गोयल, प्रिंसिल कुलविंदर कौर एवं क्षेत्र के अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Sunday, 9 December 2018

किकबॉक्सिंग में फरीदाबाद जिले के खिलाडियों ने राष्टीय प्रतियोगिता में जीते दो स्वर्ण पदक

किकबॉक्सिंग में फरीदाबाद जिले के खिलाडियों ने राष्टीय प्रतियोगिता में जीते दो स्वर्ण पदक

फरीदाबाद  9 दिसंबर ।   'वाको राष्ट्रीय किकबॉक्सिंग महासंघ' की ओर से 02 से 05 दिसम्बर को खुदीराम अनुशीलन केन्द्र इंडोर स्टेडियम, कोलकाता, पश्चिम बंगाल मे चार दिवसीय "सीनियर राष्ट्रीय स्तरीय किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता" आयोजित की गई। 

'फरीदाबाद जिला किकबॉक्सिंग संघ' के संस्थापक महासचिव श्री संतोष कुमार अग्रवाल ने बताया की 'फरीदाबाद जिले की ओर से 07 खिलाड़ियों ने भाग लिया और हरियाणा राज्य का प्रतिनिधित्व करते हुए मैडल पर पंच लगाए जिनमे से सुयश पराशर एवं नितेश मुखिया का स्वर्ण पदक, सूरज का रजत, यश नरूला का कास्य पदक, आकाश नागर कास्य पदक, अरुण कास्य पदक, तरुण नागर ने भी कास्य पदक हासिल किया. हुए इन सभी खिलाडियो का शनिवार को फरीदाबाद स्टेशन पहुंचने पर बाबी नरूला एवं समस्त नीमका ग्राम वासियों ने खुशी  जाहिर कि और उनका फरीदाबाद में लोटने पर भव्य स्वागत किया.

किकबॉक्सिंग कोच पुलकित भरद्वाज का कहना हे की खिलाडियो ने अपने गाँव का ही नहीं बल्कि फरीदाबाद जिले और हरियाणा राज्य को भी बड़ी उपलबधी प्राप्त कराइ है। ये सभी खिलाडी सेक्टर-77 नीमका अकादमी फरीदाबाद के प्रशिक्षक पुलकित भरद्वाज की निगरानी में ट्रेनिंग लेते है।

हरियाणा किकबॉक्सिंग संघ के संस्थापक महासचिव श्री संतोष कुमार अग्रवाल ने बताया की हरियाणा प्रदेश की 13 सदस्यीय टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए चार स्वर्ण पदक, एक रजत पदक एवं पांच कांस्य पदक जीतकर फरीदाबाद के साथ साथ पुरे हरियाणा को गौरवान्वित किया है. 

1. साहिल भरद्वाज - स्वर्ण पदक - रोहतक 
2. कुसुम - स्वर्ण पदक - झज्झर  
3. सुयश पराशर - स्वर्ण पदक - फरीदाबाद 
4. नितेश मुखिया - स्वर्ण पदक - फरीदाबाद 
5. सूरज कुमार - रजत - फरीदाबाद 
6. यश नरूला - कास्य पदक - फरीदाबाद 
7. आकाश नागर - कास्य पदक - फरीदाबाद 
8. अरुण कुमार - कास्य पदक - फरीदाबाद 
9. तरुण नागर - कांस्य पदक - फरीदाबाद 
10. अजय कुमार - कांस्य पदक - झज्झर 
11. जसवंत सिंह - रेफ़री
12. कुलदीप कुमार - रेफ़री 
13. पुलकित भारद्वाज - कोच 

खिलाडियों की इस जीत पर हरियाणा किकबॉक्सिंग संघ की प्रदेश अध्यक्ष श्री आनंद मोहन शरण आई. ऐ. एस., संरक्षक श्री सतीश पराशर, फरीदाबाद जिला किकबॉक्सिंग संघ के अध्यक्ष श्री राज कुमार अग्रवाल संयुक्त सचिव श्री अनिल गुप्ता एवं श्री पवन कुमार नागपाल, सदस्यों में श्री अशोक चौधरी, श्रीपाल शर्मा, श्री नरेश चावला, श्री वीरभान शर्मा, श्री तरुण गुप्ता, श्री आनंद मेहता, श्री विकास अग्रवाल, श्री अजय अदलखा, श्री राजेश गोस्वामी, श्री अरुण बजाज ने बधाई दी है. 
केरल में नैशनल शूटिंग चैम्पियनशिप में पुष्पांजलि राणा, शौर्य सरीन और अर्पित गोयल समेत दिल्ली के निशानेबाज़ों का जलवा

केरल में नैशनल शूटिंग चैम्पियनशिप में पुष्पांजलि राणा, शौर्य सरीन और अर्पित गोयल समेत दिल्ली के निशानेबाज़ों का जलवा

केरल 9 दिसंबर । केरल की राजधानी त्रिवेंद्रम में चल रही नैशनल शूटिंग चैंपियनशिप में सीआरपीएफ की पुष्पांजलि राणा ने सिल्वर मेडल जीता है। दिल्ली की पुष्पांजलि ने सीआरपीएफ की टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए 25 मीटर पिस्टल ईवेंट में 577 स्कोर किया और फाइनल में जगह बनाई। 15 नवम्बर को शुरू हुई राष्ट्रीय निशानेबाज़ी प्रतियोगिता का 7 दिसम्बर को समापन हुआ। जिसमें देशभर से छह हजार से ज़्यादा निशानेबाज़ों ने हिस्सा लिया। 

25 मीटर पिस्टल के फाइनल मुकाबले में आठ शीर्ष निशानेबाज़ होते हैं। जिनमें एशियन गेम्स पदक विजेता राही सरनोबत, कॉमनवेल्थ पदक विजेता मनु भाकर, हिना सिद्धू भी शामिल थीं। फाइनल में कड़ा मुकाबला हुआ और महाराष्ट्र की राही सरनोबत ने 36 हिट्स मारकर गोल्ड मेडल जीता, पुष्पांजलि को 30 हिट्स मिले और मध्यप्रदेश की चिंकी यादव 20 हिट्स के साथ तीसरे स्थान पर रही। पुष्पांजलि अब अंतरराष्ट्रीय सेलेक्शन ट्रायल्स में हिस्सा लेंगी और नैशनल गेम्स के लिए भी उन्होंने जगह बना ली है। 

25 मीटर पिस्टल वुमन इवेंट के जूनियर मुकाबला हरियाणा की मनु भाकर के नाम रहा। मशहूर निशानेबाज़ जसपाल राणा की बेटी देवांशी राणा ने ओएनजीसी का प्रतिनिधित्व करते हुए रजत पदक जीता और उत्तराखंड की नेहा ने कांस्य पदक जीता। 

दिल्ली के जूनियर निशानेबाज़ों का भी खूब जलवा दिखा। शौर्य सरीन ने 50 मीटर फ्री पिस्टल इवेंट के जूनियर और सीनियर मुकाबलों में भाग लेते हुए 544 स्कोर किया, एक गोल्ड मेडल, तीन सिल्वर और एक ब्रॉन्ज़ मेडल जीता। 
फरीद अली, शौर्य सरीन एयर अर्पित गोयल की टीम ने 50 मीटर पिस्टल का सिल्वर मेडल जीता। जबकि शौर्य सरीन, अनमोल अरोड़ा और हर्ष गुप्ता की टीम सिविलियन मुकाबले में दूसरे और ओपन मुकाबले में तीसरे स्थान पर रही। 

25 मीटर स्टैंडर्ड पिस्टल इवेंट में फरीद अली, अर्पित गोयल और प्रशांत लकड़ा की टीम ने सिल्वर मेडल जीतकर दिल्ली का नाम रोशन किया। 
50 मीटर फ्री राइफल प्रोन वेटरन इवेंट में दिल्ली के डॉ मनजीत सिंह कंवर ने गोल्ड मेडल जीता। जबकि 10 मीटर पिस्टल वेटरन इवेंट में दिल्ली की निर्मल यादव ने स्वर्ण पदक जीता। 

पचास मीटर राइफल प्रोन इवेंट में दिल्ली के तरुण यादव ने अलग अलग कैटगरी में एक गोल्ड और एक सिल्वर मेडल जीता। नरेश कुमार शर्मा ने 50 मीटर राइफल पैरा इवेंट में गढ़ जीता। तो 10 मीटर पिस्टल पैरा इवेंट में पूजा अग्रवाल ने कांस्य पदक अपने नाम किया। 
दिल्ली के कई निशानेबाज़ अंतरराष्ट्रीय सेलेक्शन ट्रायल्स के लिये भी क़वालीफाई कर चुके हैं। जो 20 दिसम्बर से दिल्ली की डॉ कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में होंगे।

Thursday, 6 December 2018

रविंदर फागना स्पोर्ट्स प्रमोशन क्लब ने स्लेज हैमर क्रिकेट क्लब को 18 रन से हराया

रविंदर फागना स्पोर्ट्स प्रमोशन क्लब ने स्लेज हैमर क्रिकेट क्लब को 18 रन से हराया

फरीदाबाद, 6 दिसंबर, :  रावल क्रिकेट मैदान भूपानी पर आयोजित जिला क्रिकेट सीनियर दो दिवसीय लीग के मैच में रविंदर फागना स्पोर्ट्स प्रमोशन क्लब ओर स्लेज हैमर क्रिकेट क्लब  के बीच खेला गया । जिला क्रिकेट एसोसिएशन के महासचिव राजीव यादव ने बताया कि यह मैच 90-90 ओवर का है इस दो दिनी मैच में  रविंदर फागना स्पोर्ट्स प्रमोशन क्लब  ने टीम पहले टॉस जीत कर गेंदबाजी करने का निर्णय लिया । स्लेज हैमर  क्रिकेट क्लब ने पहेले बल्लेबाजी करते हुए 65.1 ओवर में 10 विकेट पर 141 रन बनाए । टीम की और से बल्लेबाजी करते हुए जसप्रीत ने  22 रन  , सुनील सेठी ने 20  रन , दीपक शर्मा ने 18 आज़म खान और कप्तान राहुल यादव 16 रन बनाए और रविंदर फागना स्पोर्ट्स प्रमोशन क्लब की और गेंदबाजी करते हुए नवल किशोर ने 4 विकेट , माणिक ने 3 विकेट और विवेक कुमार , दीपक भड़ाना ओर राजेश बघेल ने 1-1 विकेट ली । 

रविंदर फागना स्पोर्ट्स प्रमोशन क्लब ने बल्लेबाजी करते हुए 49 ओवर में 10  विकेट पर  159 रन बनाए । टीम की ओर से बल्लेबाजी करते हुए रोहताश सैनी ने 22 रन बनाए , नवल किशोर ने नाबाद 57 रन , दीपक भड़ाना ने 32 रन , माणिक ने 19 रन बनाए स्लेज हैमर क्रिकेट क्लब की और से गेंदबाजी करते हुए निशांत सिंह ने 6  विकेट ली , ऋषभ भारद्वाज ने 2 विकेट मनीष भाटी ओर दिलीप ने 1-1 विकेट ली  ।
पावरट्रैक के पीटी पैंथर्स बने एस्कॉर्ट्स प्रो कबड्डी लीग के विजेता

पावरट्रैक के पीटी पैंथर्स बने एस्कॉर्ट्स प्रो कबड्डी लीग के विजेता

फरीदाबाद, 6 दिसंबर, : एस्कॉर्ट्स प्रो कबड्डी लीग (नेशनल स्टाइल) – 2018 के फाइनल में पावरट्रैक यूनिट की पीटी पैंथर्स टीम ने एक रोमांचक मुकाबले में फार्मट्रैक यूनिट की टीम एफटी वॉरियर्स को हरा दिया। यह फाइनल मैच फरीदाबाद में स्पोर्ट्स कंपाउंड में 2 दिसंबर को खेला गया। लीग के फाइनल मैच को एस्कॉर्ट्स के एम्पलॉयी रिलेशंस डिपार्टमेंट की ओर से झंडी दिखाकर शुरु किया, जिसमें पीटी पैंथर्स और एफटी वॉरियर्स टीमों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला।

एस्कॉर्ट्स प्रो कबड्डी लीग (नेशनल स्टाइल) – 2018 की परिकल्पना एस्कॉर्ट्स कर्मचारियों में एकजुटता की भावना पैदा करने के उद्देश्य से की गई है। इस मुकाबले में 23 टीमों ने हिस्सा लिया, जिनमें एस्कॉर्ट्स लिमिटेड के विभिन्न विभागों के कर्मचारियों का समावेश रहा।

 लीग के फाइनल में पीटी पैंथर्स को विजेता टीम घोषित किया गया, जबकि टीम एफटी वॉरियर्स रनर अप रही। पीटी पैंथर्स के कैप्टन महेंद्र सिंह को मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया। फाइनल मैच के दौरान एस्कॉर्ट्स समूह के कर्मचारियों एवं कर्माचारी यूनियन सदस्यों की बड़ी संख्या में उपस्थिति देखी गई।


इस खेल में हिस्सा लेने की भावना को सराहते हुए श्री बलजीत सिंह डागर, ग्रुप हेड – एम्पलॉयी रिलेशंस, एस्कॉर्ट्स लिमिटेड ने कहा, “एस्कॉर्ट्स कबड्डी लीग में खिलाड़ियों के उत्साह और टीम भावना देखते हुए मुझे बेहद गर्व महसूस हुआ है। इस लीग के प्रत्येक सीज़न के साथ-साथ हमें सभी एस्कॉर्टियन्स के बीच सद्भावना के रिश्ते को आगे बढ़ाने की कोशिश करनी चाहिए। मैं आप सभी कर्मचारियों को इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेकर इसे सफल बनाने के लिए धन्यवाद देना चाहूंगा।”

वज़ीर सिंह डागर, प्रेसिडेंट, ऑल एस्कॉर्ट्स एम्पलॉयी यूनियन ने पूरे एस्कॉर्ट्स परिवार को एस्कॉर्ट्स कबड्डी लीग की सफलता पर शुभकामनाएं देते हुए भविष्य में ऐसे अन्य आयोजनों के लिए अपनी एवं अपनी टीम के पूरे सहयोग का वचन दिया। इस मौके पर बोलते हुए उन्होंने कहा, “बड़ी संख्या में अपनी टीम के सदस्यों द्वारा हिस्सा लिये जाने पर मुझे काफी खुशी हुई है। हमारे प्रत्येक कर्मचारी द्वारा दिखाए गए उत्साह एवं सकारात्मक भावना को देखना बेहद सराहनीय है। मुझे पूरा भरोसा है कि इस लीग का अगला सीज़न अधिक बड़ा और सफल होने वाला है।”


एस्कॉर्ट्स प्रो कबड्डी लीग के समापन पर श्री बलजीत सिंह डागर, ग्रुप हेड – एम्पलॉयी रिलेशंस, एस्कॉर्ट्स लिमिटेड और श्री वज़ीर सिंह डागर, प्रेसिडेंट, ऑल एस्कॉर्ट्स एम्पलॉयी यूनियन ने इसमें हिस्सा लेने वाली सभी कर्मचारियों तथा इस आयोजन को सफल बनाने हेतु योगदान देने वाली सभी कर्मचारियों को भी धन्यवाद दिया।


एस्कॉर्ट्स समूह देश के अग्रणी इंजीनियरिंग समूहों में से एक है जो कि कृषि मशीनों, मैटेरियल हैंडलिंग, निर्माण उपकरणों, रेलवे उपकरण जैसे उच्च विकास क्षेत्रों में गतिविधियां संचालित करता है। समूह ने अपने उत्पादों और प्रक्रिया नवीनीकरण के द्वारा अपने संचालन के पिछले सात दशकों में 50 लाख ग्राहकों से भी अधिक का विश्वास जीता है। एस्कॉर्ट्स कृषि मशीनीकरण, रेलवे तकनीक के आधुनिकिकरण में क्रांति की अगुवाई करते हुए और भारतीय निर्माण क्षेत्र के स्वरूप के बदलाव में शामिल होकर ग्रामीण और शहरी भारत में रहने वाले लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने के लिए प्रयत्नशील है।

Sunday, 2 December 2018

अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति ने किकबॉक्सिंग खेल को दी मान्यता : संतोष अग्रवाल

अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति ने किकबॉक्सिंग खेल को दी मान्यता : संतोष अग्रवाल

फरीदाबाद 2 से 5 दिसंबर 2018 तक खुदीराम इंडोर स्टेडियम, कोलकाता पश्चिम बेंगाल में आयोजित होने वाली "राष्ट्रीय सीनियर किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता" में हरियाणा प्रदेश की किकबॉक्सिंग टीम में फरीदाबाद जिले से 7 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं।

'हरियाणा किकबॉक्सिंग संघ' के संस्थापक महासचिव संतोष कुमार अग्रवाल ने बताया की इस राष्ट्रीय प्रतियोगिता में फरीदाबाद जिले से आकाश नागर, नितेश मुख्या, सूरज कुमार, अरुण बैसला, तरुण नागर, यश नरूला, एवं सुयश पराशर शामिल है।

जिले के खिलाड़ियों ने इससे पूर्व भी राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में कई पदक जीतकर जिले को गौरवान्वित किया है।

'राष्ट्रीय किकबॉक्सिंग महासंघ' के अध्यक्ष श्री संतोष कुमार अग्रवाल ने यह भी बताया की विश्व स्तर पर खेलों की शीर्ष संस्था "अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति" ने अभी पिछले दिनों किकबॉक्सिंग खेल को खेल के रूप में अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक स्तर पर मान्यता दे दी है, इससे इस खेल के प्रति भारतीय खिलाड़ियों में रुझान बढ़ा है।

Thursday, 29 November 2018

टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस का मानव रचना ने किया स्वागत

टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस का मानव रचना ने किया स्वागत

 फरीदाबाद 29 नवंबर । लिएंडर पेस एक प्रख्यात भारतीय टेनिस खिलाड़ी है, जिनको सर्वश्रेष्ठ डबल्स और मिश्रित युगल खिलाड़ियों में से एक माना जाता है, इन्होने प्रत्येक अनुशासन में ग्रैंड स्लैम हासिल किया है।

लिएंडर ने आठ युगल और दस मिश्रित युगल ग्रैंड स्लैम खिताब जीते हैं। 2010 में उनके मिश्रित युगल विंबलडन के खिताब ने उन्हें तीन दशक में विंबलडन खिताब जीतने वाला पूर्ण विश्व में दूसरा खिलाड़ी (रॉड लावर के बाद) बनाया।

सबसे सफल पेशेवर टेनिस टेनिस खिलाड़ियों में से एक, उन्हें 1996 - 97  में भारत के सर्वोच्च खेल सम्मान, राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार मिला है; 1990  में अर्जुन पुरस्कार; 2001 में पद्मश्री पुरस्कार और जनवरी 2014 में भारत में टेनिस में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए पद्म भूषण का तीसरा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भी मिला है ।

लिएंडर ने मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल तथा मानव रचना शैक्षणिक संस्थान का दौरा किया | उनके साथ डॉ अमित भल्ला, उपाध्यक्ष, मानव रचना शैक्षणिक संस्थान; श्री सरकार तलवार, खेल अध्यक्ष, मानव रचना स्पोर्ट्स अकैडमी; सुश्री ममता वाधवा, अध्यक्ष प्रिंसिपल, मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर 14 , ऐस शूटर श्री रंजन सोढ़ी और कई अन्य वरिष्ठ गणमान्य व्यक्ति भी थे ।



लिएंडर ने स्कूल के उन छात्रों के प्रति बहुत रुचि दिखाई, जो टेनिस के बारे में जानने व अपना करियर बनाने के लिए बेहद उत्सुक थे। न सिर्फ ये उन्होंने छात्रों को कुछ टिप्स भी दिए | उन्होंने स्कूल के प्रदर्शन क्षेत्र का भी दौरा किया और सुलेख और चित्रकला कक्षाओं में भाग लिया।

 उन्होंने शूटिंग में 10 पर 10 स्कोर हासिल किया और हमारे युवा खिलाड़ियों के साथ टेबल टेनिस खेला।

 मानव रचना के दो छात्र- जिया रावत और नवीन कपूर जिन्होंने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने पदों को सुरक्षित किया है, उन्हें श्री लिएंडर पेस द्वारा पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के दौरे पे लिएंडर ने स्पोर्ट्स साइंस सेंटर का विशेष दौरा किया तथा वहां मौजूद तकनिकी सुविधाओं की भी सराहना की | मानव रचना स्पोर्ट्स साइंस सेंटर में विस्तृत प्रदर्शन विश्लेषण का भी उन्होंने उपयोग किया एवं उससे काफी प्रभावित हुए ।

यह उन सभी लोगों के लिए एक अद्भुत अनुभव था जो इस महान खिलाड़ी से मिले और मानव रचना निश्चित रूप से इस स्मृति को संजो के रखेगा।

Tuesday, 27 November 2018

हाॅमर्टन ग्रामर स्कूल में अंतर सोसायटी प्रतियोगिताएं सम्पन्न

हाॅमर्टन ग्रामर स्कूल में अंतर सोसायटी प्रतियोगिताएं सम्पन्न

फरीदाबाद 27 नवंबर । हाॅमर्टन ग्रामर स्कूल में लगभग एक सप्ताह तक चलने वाली हाॅरमनी अंतर सोसायटी का जोरदार समापन हुआ जिसमें जोर शोर से भाग ले रही 65 ;पैंसठद्ध सोसायटी के लगभग साढ़े पांच सौ खिलाड़ियों ने हाॅमर्टन ग्रामर को इस तरह का आयोजन कराने के लिए हार्दिक धन्यवाद किया।

ज्ञात हो कि हाॅमर्टन ग्रामर में साईकिल रेस, एथलेटिक्स, बैडमिंटन, टेबल टेनिस और लाॅन टेनिस में कई वर्गो में प्रतियोगताएं आयोजित की गई थी, जिसमें एक सौ बत्तीस लोगों को पुरस्कार से सम्मानित किया गया। साथ में सबसे ज्यादा खिलाड़ियों द्वारा पुरस्कार और प्रतिभागी होने के कारण एक चल-आॅल ओवर निवर्स ट्राॅफी भी सैक्टर 21सी फरीदाबाद की क्रिएटिव हट सोसायटी को प्रदान की गई। पुरस्कार वितरण समारोह हाॅमर्टन ग्रामर स्कूल की निदेशक श्रीमती राजिन्द्र कौर, वरिष्ठ प्रबंध निदेशक श्री राजदीप सिंह, गवर्निग सोसायटी के प्रतिष्ठित सदस्य बिग्रेडियर ;रिटा.द्ध एन.एन. माथुर तथा अशोक नेहरा के कर कमलों से हुआ। कार्यक्रम का समापन स्वल्पाहार से हुआ। श्री राजदीप सिंह ने सभी अतिथियों प्रतिभागियों को हार्दिक धन्यवाद देते हुए अगले वर्ष चतुर्थ अंतर सोसायटी प्रतियोगिता में भी इस उत्साह के साथ मिलने की कामना की।

Sunday, 28 October 2018

फरीदाबाद के खिलाड़ियों ने गोल्डन ग्लोबल कराटे कप पर जमाया कब्ज़ा

फरीदाबाद के खिलाड़ियों ने गोल्डन ग्लोबल कराटे कप पर जमाया कब्ज़ा

फरीदाबाद, 29 अक्टूबर  : रावल बी एस के स्कूल सेक्टर 56 में शोतोकान कराटे फेडरेशन ऑफ हरियाणा द्वारा गोल्डन कराटे कप चैंपियनशिप का आयोजन किया गया। इस चैंपियनशिप में हरियाणा से कई जिलों के लगभग 250 बच्चों ने भाग लिया। चैंपियनशिप के मुख्यअतिथि आईविंस के निर्देशक आनंद सिंह मौजूद थे। मुख्य तकनीकी निदेशक इंटरनेशनल रेफरी कराटे मास्टर गंगेश तिवारी ने आए हुए सभी अतिथियों का फूल माला से स्वागत किया और सभी खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाया।

 इस अवसर पर आईविंस के निर्देशक आनंद सिंह ने कहाकि एक समय था जब लोग बच्चों को यह कहते थे की पढ़ोगे लिखोगे बनोगे नवाब खेलोगे कूदोगे तो होगे खराब। तो यह सब पुरानी बातें थी लेकिन अब समय बदल चुका है बच्चों को  पढ़ाई के साथ साथ उनके मां-बाप खेलकूद में भी हिस्सा दिलवाए। तांकि वह पढ़ाई के साथ खेलकूद भी में भी अपने मां बाप का रोशन कर सकें। उन्होंने कहा कि एक समय था जब भारत सोने की चिड़िया कलाई जाती थी और आज हमारे भारत देश के खिलाड़ी जब बाहर देशों से गोल्ड लेकर भारत आते हैं तो लगता है कि 1 दिन फिर आएगा जिस दिन भारत सिर से सोने की चिड़िया कहलाएगा। 

इस अवसर पर उन्होंने सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी। कराटे मास्टर गंगेश तिवारी ने कहाकि खिलाड़ियों को नियमित रूप से कराटे का अभ्यास करना चाहिए ताकि अधिक से अधिक मेडल जीतकर खिलाड़ी जिले में प्रदेश और देश का नाम रोशन कर सकें। इस अवसर पर स्कूल की प्रिंसिपल श्रीमती दीप्ती माथुर ने कहाकि खिलाड़ी मन और दिमाग से खेलें और जब खिलाड़ी मन और दिमाग से खेलता है तो वह अवश्य पुरस्कार का भागीदारी बनता है। खिलाडी को कभी भी गुस्से में आकर नहीं खेलना चाहिए उससे वह दूसरे खिलाडी को चोटिल कर सकता है। उन्होंने कहाकि खेलो से मानसिक विकास होता है कराटे एक ऐसा माध्यम है जिससे खिलाड़ी व स्वयं की रक्षा कर सकता है और निडरता के साथ दूसरों पर हो रहे अत्याचार को भी रोक सकता है।चैम्पियनशिप में विभ्भिन आयु वर्गों में खिलाड़ियों ने गोल्ड,सिल्वर और ब्रॉन्ज़ मैडल जीते। गोल्डन कराटे कप चैंपियनशिप में फरीदाबाद ने ऑल ओवर गोल्डन ग्लोबल कराटे कप पर अपना कब्ज़ा जमाया। 


इस मौके  पर शोतोकान कराटे फेडरेशन ऑफ हरियाणा के महासचिव प्रदीप गुप्ता , स्पोट्स इंचार्ज ज्ञान चंद डागर,धर्मेंद्र,योगेश गोदारा, रणवीर शर्मा ,राजन रॉय,सलमान अली ,अधिवक्ता एच एस तंवर, सुरेंद्र खोरीवाल,नासिर हुसैन,फ़िशान खान,मास्टर प्रिंस,सूरज साकेत ,बलविंद्र गर्ग ,दिनेश रावत ,चंद्र बोस ,रोहित ठाकुर,मनोज बेनीवाल सहित अन्य कोचों ने निर्णायक की भूमिका निभाई। 

Monday, 15 October 2018

एशियन पैरा गेम खिलाड़ी दिव्यांशी सतीजा मैडल जीतकर देश का नाम रौशन किया

एशियन पैरा गेम खिलाड़ी दिव्यांशी सतीजा मैडल जीतकर देश का नाम रौशन किया

फरीदाबाद 16 अक्टूबर ।  हाल ही में इंडोनेशिया के जकार्ता में सम्पन हुई एशियन पैरा गेम में 15 साल की दिव्यांग छात्रा दिव्यांशी सतीजा ने तैराकी में सिल्वर और ब्रॉन्ज मैडल जीतकर सबसे कम उम्र की पहली भारतीय खिलाड़ी होने का गौरव हासिल किया है. इस छात्रा ने सौ मीटर बटर फ्लाई में सिल्वर और सौ मीटर फ्री स्टाइल तैराकी प्रतियोगिता में ब्रॉन्ज मैडल हासिल किया है. इस उपलब्धि को लेकर आज समाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने उसके स्कूल समारोह में पहुंचकर उसे सम्मानित किया और कहा इस खिलाड़ी ने एशियन पैरा गेम में मैडल जीतकर हरियाणा और देश का नाम रौशन किया है जिसे सम्मानित करते हुए उन्हें ख़ुशी और गर्व महसूस हो रहा है. 

फरीदाबाद के आयशर स्कूल में ढोल नगाड़ो के साथ दिव्यांग खिलाड़ी दिव्यांशी सतीजा का जोरदार स्वागत किया गया. दरअसल हाल ही में इंडोनेशिया के जकार्ता में सम्पन हुई एशियन पैरा गेम में 15 साल की दिव्यांग छात्रा दिव्यांशी सतीजा ने तैराकी में सिल्वर और ब्रॉन्ज मैडल जीतकर सबसे कम उम्र की पहली भारतीय खिलाड़ी होने का गौरव हासिल किया है. इस छात्रा ने सौ मीटर बटर फ्लाई में सिल्वर और सौ मीटर फ्री स्टाइल तैराकी प्रतियोगिता में ब्रॉन्ज मैडल हासिल किया है. इस ख़ास मौके पर समाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने उसके स्कूल समारोह में पहुंचकर उसे सम्मानित किया। पत्रकारों से बातचीत करते हुए केंद्रीय राज्य मंत्री कृषणपाल गुर्जर ने कहा की इस स्कूल की बच्ची दिव्यांशी सतीजा ने एशियन पैरा गेम्स में दो मैडल जीतकर हरियाणा और देश के गौरव को बढ़ाया है इस बच्ची को सम्मानित करके उन्हें ख़ुशी और गर्व महसूस हो रहा है. उन्होंने कहा की हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल सरकार की खेल नीति का ही यह नतीजा है जहाँ हरियाणा के खिलाड़ियों का दबदबा खेलो में बढ़ा है इसलिए मैं हरियाणा को खेलो की खान कहु तो कोई अतिशोक्ति नहीं होगी। आज हरियाणा के खिलाड़ियों को मैडल हासिल करने पर नौकरी और भारी भरकम रकम दी जा रही है. वहीँ उन्होंने कहा की हमारे विभाग में पैरा ओलम्पिक खिलाड़ियों के लिए बहुत सी छात्रवृतियां और सुविधाएं मौजूद है. हमारे विभाग ने दिव्यांगों के लिए बहुत योजनाए बना रखी है. जिन पर मोदी सरकार तेज़ी से काम कर रही है. 

वहीँ इंडोनेशिया के जकार्ता में सम्पन हुए एशियन पैरा गेम्स तैराकी में दो मैडल जीतकर देश की पहली कम उम्र की खिलाड़ी बनने का गौरव हासिल करने वाली 15 वर्षीय दिव्यांग तैराक दिव्यांशी सतीजा ने बताया की उसने सौ मीटर बटर फ्लाई में सिल्वर और सौ मीटर फ्री स्टाइल तैराकी प्रतियोगिता में ब्रॉन्ज मैडल हासिल किया है. जिसकी उसे बेहद ख़ुशी है और अब वह इससे भी बड़े रिकॉर्ड बनाना चाहती है. इस खिलाड़ी ने बताया की उसकी बड़ी बहन भी नेशनल रेकॉर्ड होल्डर है और जब वह मात्र दो साल की थी तो बहन की सफलता पर चियर करते हुए वह पानी में गिर गयी थी लेकिन फिर वह अपने आप ही हाथ पाँव मारकर ऊपर आ गयी।  तब से वह तैराकी की प्रेक्टिस करने लगी. जिसका नतीजा आज देखने को मिला। इस सफलता का श्रेय उसने अपने माता पिता - बड़ी बहन , टीचर्स और प्रिंसिपल को दिया जिन्होंने उसे हमेशा उत्साहित किया। 

वहीँ इस दिव्यांग खिलाड़ी की नेशनल रिकॉर्डधारी बड़ी बहन दिव्या ने कहा की वह अपनी लाइफ में नेशनल रिपोर्द से आगे नहीं बढ़ पायी लेकिन उसकी  छोटी बहन ने यह कर दिखाया और उसे विश्वास है की उसकी बहन अब और भी बड़े कीर्तिमान स्थापित करेगी।

Friday, 5 October 2018

जि़ला स्तरीय कराटे प्रतियोगिता में जीवा की छात्राओं ने स्वर्ण पदक जीता

जि़ला स्तरीय कराटे प्रतियोगिता में जीवा की छात्राओं ने स्वर्ण पदक जीता

फरीदाबाद ,5 अक्टूबर । जीवा पब्लिक स्कूल कीछात्राओं ने खेल जगत में अपना वर्चस्व कायम करते हुए एक और कीर्तिमान स्थापित किया। दिनांक 30 सितंबर को ‘मावी मॉर्डन पब्लिक स्कूल’ संजय एंक्लेव पार्ट 1 में आयोजित एक शोतोकान कराटे प्रतियोगिता में विद्यालय कीछात्राओं ने अपनी प्रतिभा का परिचय देते हुए स्वर्ण और रजत पदक प्राप्त किया। इस प्रतियोगिता में जि़ले के कई बड़े विद्यालयों ने भी भाग लिया। इस कड़ी स्पर्धा में भी जीवा की छात्राओं ने अपनी कुशलता का परिचय दिया। विद्यालय की ओर से दो छात्राओं ने भाग लिया एवं दोनों छात्राओं में से एक ने स्वर्ण तथा एक ने रजत पदक प्राप्त किए। कार्यक्रम का आयोजन शोतोकान कराटे ट्रेनिंग सेंटर के सौजन्य से हुआ।

इस कार्यक्रम में जि़ले के विभिन्न विद्यालयों के अनेक छात्रों ने भाग लिया। इस स्पर्धा में भाग लेने वाले स्कूलों के नाम इस प्रकार से हैं :- मावी मार्डन पब्लिक स्कूल, मार्डन बी0 पी0 स्कूल, गार्वमेंट गल्र्स सिनियर सै0 - 22, गावर्मेंट स्कूल सै0 - 8, मार्डन आर्या स्कूल भी उपस्थित हुए। प्रतियोगिता में विद्यालय की कक्षा आठवीं की छात्रा आरती चंदीला ने स्वर्ण पदक तथा कक्षा तीसरी की आलिया गौतम ने रजत पदक प्राप्त किया। 

इस अवसर पर विद्यालय के अध्यक्ष ऋषिपाल चौहान ने विद्यालय के सभी छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि खेलकूद से छात्रों में अनुशासन की भावना भी जागृत होती है क्योंकि एक अच्छा खिलाड़ी सबसे पहले अनुशासन के नियमों को ही सीखता है। श्री चौहान ने कराटे कोच सचिन को उनके प्रशंसनीय कार्य के लिए बधाई दी। इस अवसर पर स्कूल की उपाध्यक्षा श्रीमती चंद्रलता चौहान ने भी छात्रों को खेलकूद की विशेषताओं से अवगत कराया। विद्यालय की प्रधानाचार्या श्रीमती देविना निगम ने भी सभी विजेता छात्रों को बधाई दी और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। 




Saturday, 29 September 2018

अंतर्राष्ट्रीय किकबॉक्सिंग खिलाडियों को प्रदेश अध्यक्ष आनंद मोहन शरण ने किया सम्मानित

अंतर्राष्ट्रीय किकबॉक्सिंग खिलाडियों को प्रदेश अध्यक्ष आनंद मोहन शरण ने किया सम्मानित

फरीदाबाद, 29 .सितंबर । अरावली गोल्फ क्लब, फरीदाबाद में 'हरियाणा किकबॉक्सिंग संघ' की '19 वीं वार्षिक साधारण सभा' की एक बैठक 'हरियाणा किकबॉक्सिंग संघ' के प्रदेश अध्यक्ष श्री आनंद मोहन शरण आई. ऐ. एस. की अध्यक्षता में संपन्न हुई.

इस बैठक में इन निम्नलिखित विषयों पर चर्चा की गई: 
1 . दिनांक 12 से 14 अक्टूबर 2018 तक फरीदाबाद में 'तीसरी चीफ मिनिस्टर्स ट्रॉफी हरियाणा प्रदेश किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता' एवं 'तीसरी हरियाणा प्रीमियर लीग प्रोफ़ेशनल किकबॉक्सिंग' को करवाने पर विचार विमर्श किया गया.

2 . 'हरियाणा किकबॉक्सिंग संघ' के महासचिव श्री संतोष कुमार अग्रवाल ने विस्तार से वर्ष 2017-18 में संस्था द्वारा किये गए कार्यों को बताया.

3 . 'हरियाणा किकबॉक्सिंग संघ' के प्रदेश अध्यक्ष श्री आनंद मोहन शरण आई. ऐ. एस. ने ग्रामीण एवं जिला स्तर पर किकबॉक्सिंग खेल को बढ़ाने के लिए कहा और प्रदेश के अंतर्राष्ट्रीय किकबॉक्सिंग खिलाडियों को सम्मानित भी किया जिनमें प्रमुख हैं: 

1. मोनल कुकरेजा - स्वर्ण पदक - विश्व कप किकबॉक्सिंग रूस
2. पुलकित भरद्वाज - रजत पदक - विश्व कप किकबॉक्सिंग रूस
3. कुसुम - रजत पदक - सर्बियन ओपन कप - सर्बिआ 
4. कुलदीप कुमार - प्रतिभागी - वर्ल्ड चैंपियनशिप - हंगरी 
5. निकुंज धवन - प्रतिभागी - वर्ल्ड चैंपियनशिप - हंगरी 

इस अवसर पर  'हरियाणा किकबॉक्सिंग संघ' के संरक्षक श्री सतीश पराशर, वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री आनंद मेहता, श्री राज कुमार अग्रवाल, उपाध्यक्ष श्री पवन अग्रवाल, श्री अजय अदलखा, श्री अरुण बजाज, संयुक्त सचिव श्री अनिल गुप्ता, श्री पवन कुमार नागपाल, कोषाध्यक्ष श्री विकास अग्रवाल, कार्यकारिणी सदस्य श्री तरुण कुमार गुप्ता, श्री एस. एन. बंसल, श्री अशोक चौधरी, श्री पवन जाखड़, श्री प्रमोद टिबरेवाल, श्री अशोक गोयल, श्री आर. पी. सिंह, श्री वीरभान शर्मा, श्री अजय अग्रवाल, श्री अशोक जोशी, श्री दीपक टांटिया उपस्थित थे. 

Wednesday, 26 September 2018

अंकुर और श्रेयसी ने बढ़ाया मानव रचना का मान, अर्जुन अवॉर्ड किया अपने नाम

अंकुर और श्रेयसी ने बढ़ाया मानव रचना का मान, अर्जुन अवॉर्ड किया अपने नाम

फरीदाबाद, 26 सितंबर: मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज के दो छात्रों को अर्जुन अवॉर्ड से नवाजा गया है। एमबीए के छात्र अंकुर मित्तल और श्रेयसी सिंह को इस अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। निशानेबाज अंकुर मित्तल ने हाल ही में आईएसएसएफ वर्ल्ड चैम्पियनशिप की डबल ट्रैप स्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल कर करियर की सबसे बड़ी जीत दर्ज की थी। इससे पहले अंकुर ने गोल्ड कोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ खेलों में कांस्य पदक अपने नाम किया था। श्रेयसी सिंह को भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रतिष्ठित अर्जुन अवार्ड से सम्‍मानित किया। आपको बता दें, श्रेयसी ने गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड अपने नाम किया था। अंकुर और श्रेयसी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय डबल ट्रैप इवेंट्स में भारत का प्रतिनिधित्व करती आ रहे हैं।

मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के उपाध्यक्ष डॉ. अमित भल्ला ने दोनों खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा, हमें बहुत खुशी है छात्रों को देश के प्रतिष्ठित अवॉर्ड में से एक अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है। हम उम्मीद करते हैं आने वाले खेलों में भी दोनों छात्र जीत का परचम लहराएंगे और देश की झोली मेडल्स से भर देंगे।

मानव रचना परिवार की ओर से अंकुर और श्रेयसी को ढेर सारी बधाई।

Friday, 21 September 2018

हरियाणा रणजी टीम में दा क्रिकेट गुरुकुल के चार क्रिकेटर टीम मैं शामिल

हरियाणा रणजी टीम में दा क्रिकेट गुरुकुल के चार क्रिकेटर टीम मैं शामिल

फरीदाबाद, 21 सितंबर। हरियाणा रणजी टीम में फरीदाबाद दा क्रिकेट गुरुकुल के चार क्रिकेटर टीम मैं शामिल I मोहित शर्मा , राहुल तेवतिया , अरुण चपराना और प्रमोद चंदीला का चयन किया गया है। ये चारो खिलाडी दा क्रिकेट गुरुकुल मैं प्रक्टिस करते है , ये चारो खिलाड़ियों को असम के खिलाफ चेन्नई मैं आज से शुरू होने वाले रणजी के मैच में हरियाणा टीम में जगह दी गई है। जिला क्रिकेट एसोसिएशन एग्जुक्यूटिव प्रेजीडेंट रजत भाटिया ने दोनो क्रिकेटरों को चयन की बधाई देने के साथ बेहतर प्रदर्शन की शुभकामनाएं दी हैं। 

इंडिया ए एवं हरियाणा रणजी टीम के प्रमुख कोच विजय यादव ने बताया कि इन चारो क्रिकेटरों ने बीते साल भी हरियाणा के लिए बेहतर प्रदर्शन किया। इस बार राहुल तेवतिया पटोदी टीम के कप्तान थे। तो चपराना ने वन-डे और टी-20 में कमाल का प्रदर्शन किया। रणजी में बेहतर टैंपरामेंट की जरूरत होती है। इसलिए दोनो को अच्छा खेल दिखाना होगा। तभी वह आगे बढ़ सकेंगे। गौरतलब है कि चारो खिलाडी मोहित शर्मा ,राहुल तेवतिया ,अरूण चपराना और प्रमोद चंदीला विजय यादव के ही शिष्य हैं। अरुण चपराना एक मीडियम पेसर के साथ एक अच्छे बल्लेबाज भी हैं। जबकि प्रमोद चंदीला एक मिडल आर्डर मैं बल्लेबाजी करते हैं। विजय यादव ने बताया कि फरीदाबाद के मोहित शर्मा और राहुल तेवतिया  पहले ही टीम में शामिल हैं। इन चारो की टयूनिंग अगर बेहतर बैठी तो हरियाणा नॉकआउट में जरूर पहुंचेगा। उन्होने बताया कि कई मौकों पर इन तीनों ने अपनी टयूनिंग साबित भी की है। इसलिए इनसे हरियाणा टीम के बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद है।

Thursday, 20 September 2018

दा क्रिकेट गुरुकुल के हरियाणा स्टेट कैंप अंडर 19 में तीन खिलाडियों का चयन

दा क्रिकेट गुरुकुल के हरियाणा स्टेट कैंप अंडर 19 में तीन खिलाडियों का चयन

फरीदाबाद,20 सितम्बर । अंडर 19  कैंप में फरीदाबाद से हरियाणा स्टेट अंडर 19 कैंप में  सचिन चौधरी , हर्षवर्धन सिंह , आयुष नेगी शामिल है रोहतक में 21 सितम्बर से लगने वाले हरियाणा अंडर 19 कैंप में फरीदाबाद के 3 खिलाडी को शामिल किया गए है।  जिला क्रिकेट एसोसिएशन एग्जीक्यूटिव प्रेसीडेंट रजत भाटिया ने  बताया कि सचिन चौधरी का चयन अंडर-19 इंटर डिस्ट्रिक में सबसे जायदा रन बनाने के चलते किया गया है। इसके अलावा इस कैंप में फरीदाबाद के 3 खिलाडी हर्षवर्धन सिंह , सचिन चौधरी ,आयुष नेगी । जिला क्रिकेट एसोसिएशन एग्जीक्यूटिव प्रेसीडेंट रजत भाटिया ने कैंप के लिए खिलाड़ियों को बधाई दी है।

 सचिन चौधरी राइट हैंड ओपनर बल्लेबाज और विकेट कीपर हैं। सचिन चौधरी ने अंडर-19 इंटर डिस्ट्रिक और लोकल क्रिकेट में भी काफी छाप छोड़ रखी है। वह धमाकेदार पारी खेलने के लिए जाने जाते है। सचिन चौधरी , हर्षवर्धन सिंह , आयुष नेगी , द क्रिकेट गुरुकुल मैं लेवल ए कोच अनिकेत उपाध्याय के अंडर में कोचिंग प्राप्त कर रहे हैं   अनिकेत ने बताया कि यह तीनो खिलाडियों ने रात को भी इंडोर मैं बल्लेबाजी की प्रैक्टिस की है । 

इंडिया ए एवं हरियाणा रणजी कोच के प्रमुख कोच विजय यादव का कहना है कि 3 खिलाडियों हरियाणा स्टेट टीम में भी जगह बनाने की पूरी उम्मीद है। यह कैंप उनके आगे बढ़ने की सीढ़ी है। प्रेसीडेंट रजत भाटिया ने बताया कि सभी खिलाड़ियों को कैंप के लिए सूचित कर दिया गया है। वह यहां से रवाना हो गए हैं। 
   

दा क्रिकेट गुरुकुल 

सचिन चौधरी :- राइट हैंड ओपनर बल्लेबाज है 
आयुष नेगी :- राइट हैंड ओपनर बल्लेबाज है  
हर्षवर्धन सिंह :- लेग सिपिनर 

Wednesday, 12 September 2018

रावल डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन  ( डीसीए )  का ग्राउंड बनकर हुआ तैयार : रजत भाटिया

रावल डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन ( डीसीए ) का ग्राउंड बनकर हुआ तैयार : रजत भाटिया

भूपानी में रावल डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन  ( डीसीए )  का ग्राउंड बनकर हुआ तैयार, ग्राउंड में बनाई गई पांच विकेट 
-ग्राउंड में बनाई गई 80 यार्ड की बाउंड्री : रजत भाटिया 

-तेज गेंदबाजों के लिए बनाई गई ग्रासी विकेट   

7.5 एकड़ मैं बना   रावल डिस्ट्रिक क्रिकेट एसोसिएशन का क्रिकेट मैदान 

फरीदाबाद 12 सितंबर  : तीन माह के भीतर रावल डिस्ट्रिक क्रिकेट एसोसिएशन ने भूपानी गांव में अपना नया ग्राउंड तैयार कर लिया है। 7.5 एकड़ में बनाए गए इस ग्राउंड में पांच विकेट बनाई गई है। इस ग्राउंड में मिनी स्टेडियम का रूप दिया गया है। यह जिले का सबसे बड़ा मैदान होगा । डीसीए प्रेजीडेंट रजत भाटिया ने बताया कि ग्राउंड पर विकेट तैयार होने के बाद सभी ट्रायल और टूर्नामेंट ग्राउंड पर ही करवाए जाएंगे। 

इंडिया ए एवं हरियाणा रणजी के प्रमुख कोच विजय यादव के अनुसार ग्राउंड को नेशनल लेवल के मैचों के अनुसार तैयार किया गया है। और तेज गेंदबाजों के लिए बनाई गई ग्रासी विकेट ताकि खिलाडिय़ों को ऐसी विकेट पर खेलकर नया अनुभव होगा ।  

इंटरनेशनल स्तर का बनाया गया मैदान 

रजत भाटिया ने बताया कि इस मैंदान को इंटरनेशनल स्तर पर बनाया जाएगा ,इस मैंदान मैं 80 यार्ड ( गज ) की बॉण्डरी है और ड्रेसिंग रूम और पवेलियन और आदि की सुविधाए भी रखी और पिच का निर्माण ग्रासी स्तर पर कराया गया ताकि गेंदबाजो और बल्लेबाजो को तेज पिच का अनुभव कराए जा सके । 

3 महीने मैं तैयार हो गया मैदान 

रजत भाटिया ने बताया कि इस पूरे मैंदान को 3 महीने मैं पूरा हो जाएगा तैयार, इस मैंदान पर 5 पिच बनाई गई है और हर प्रकार की पिच पर सिखने का अनुभव क्रिकेटरों को देगी I

महासचिव राजीव यादव ने बताया कि मैदान का निर्माण होने के बाद डिस्ट्रिक लीग मैच और डिस्ट्रिक्ट ट्रॉयल भी अपने मैदान पर ही होंगे । अब डिस्ट्रिक की कोई भी एक्टिविटी अपने मैदान पर ही करेगी । वैसे हमारे क्रिकेटर आगे निकल कर आ रहे हैं। और हरियाणा की ओर से बेहतर प्रदर्शन भी कर रहे हैं।

Sunday, 9 September 2018

 मानव रचना में एमबीए का छात्र अंकुर मित्तल ने कोरिया में चल रही ISSF World शूटिंग चैंपियनशिप में जीता गोल्ड

मानव रचना में एमबीए का छात्र अंकुर मित्तल ने कोरिया में चल रही ISSF World शूटिंग चैंपियनशिप में जीता गोल्ड

फरीदाबाद, 9 सितंबर: मानव रचना शैक्षणिक संस्थान से एमबीए कर रहे छात्र अंकुर मित्तल ने शूटिंग चैंपियनशिप में गोल्ड पर निशाना लगाया है। साउथ कोरिया के चैंग्वॉन में चल रही आईएसएसएफ वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड जीतकर अंकुर ने देश के साथ-साथ मानव रचना का परचम लहराया है। अंकुर ने मेन्स डबल ट्रैप शूटिंग में शारदुल विहान और असद मोहम्मद के साथ ब्रॉन्ज मेडल भी जीता है।

मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के अध्यक्ष डॉ. प्रशांत भल्ला ने अंकुर को गोल्ड मेडल जीतने पर बधाई दी। उन्होंने बताया कि, मानव रचना हमेशा से ही खिलाड़ियों का साथ देता है। खेलों में आगे रहने वाले छात्रों को स्पेशल ट्रेनिंग दी जाती है, ताकि वह विदेशों में तिरंगा लहरा सकें।

आपको बता दें, इससे पहले भी अंकुर देश के लिए कई मेडल लेकर आया है।

Thursday, 30 August 2018

बदी से नेकी की ओर ले जाने वाला अनोखा मानवता-ई-ओलम्पियाड

बदी से नेकी की ओर ले जाने वाला अनोखा मानवता-ई-ओलम्पियाड

चंडीगड़ : 31 अगस्त I हे ईश्वर ! हमें बुराई से अच्छाई की ओर ले चलो। हे ईश्वर ! हमें अंधकार से प्रकाश की ओर ले चलो। हे ईश्वर ! हमें मृत्यु से मोक्ष की ओर ले चलो। नि:संदेह वेद-शास्त्र के इस कथन से तो हम सब भली-भांति परिचित ही है, परन्तु इस कथन को चरितार्थ कर, मानव-धर्म से पतित इंसानों को पुन: अच्छाई के मार्ग पर प्रशस्त करने की तरफ कदम बढ़ाया है सतयुग दर्शन ट्रस्ट द्वारा निर्मित मानवता विकास क्लब के निष्काम युवा सदस्यों ने। 

आप सब को यह जानकर हैरानी होगी कि ट्रस्ट द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित मानवता-ई-ओलम्पियाड ने आज यहाँ-वहाँ, जहाँ-तहाँ यानि कोचिंग सेन्टरों व स्कूलों में पढ़ रहे छात्र-छात्राओं में, कालेजों में व विभिन्न अन्य शिक्षण संस्थानों में शिक्षा ग्रहण कर रहे युवाओं में, मॉलों में, पार्कों में व बाजारों में सैर-सपाटा कर रहे इंसानों में, ओद्योगिक क्षेत्रों में व पेशेवर व्यवसायों में कार्यरत लोगों में, समाज से कटे हुए लाचार, अंध, अपंग, अनाथ बच्चों में व वृद्धाश्रमों में निवास कर रहे असहाय वृद्धों में, मानवता अपना कर एक अच्छा इंसान बनने की ऐसी उमंग जाग्रत कर दी है कि आज हर कोई, चाहे वह बाल हो या युवा हो, प्रौढ़ हो या वृद्ध हो, नेता हो या मंत्री हो, गायक हो या कलाकार, सब के सब 15 मिनिट की इस परीक्षा द्वारा, अपने वर्तमान नैतिक स्तर का जायज़ा ले, भौतिक पढ़ाई के साथ-साथ आत्मिक ज्ञान प्राप्ति की अनिवार्य आवश्यकता को स्वीकारने के लिए विवश हो गए हैं। 

उनके अनुसार यह परीक्षा कोई साधारण परीक्षा नहीं है अपितु यह परीक्षा तो वह परीक्षा है जो आत्मनिरीक्षण द्वारा, जन्म-जन्मांतरों से मानव मन में गहनता से छाए हुए अज्ञानमय अंधकार को भेद कर, आत्मज्योति के प्रकाश में, ख़ुद का खुद से परिचय कराने वाली है यानि मानव का उसके निज मानव धर्म मानवता से परिचय करा, आत्मसाक्षात्कार के सुनहरी मार्ग पर प्रशस्त करने वाली है। अन्य शब्दों में वर्तमान कलुषित नकारात्मक वातावरण में, सात्विकता से भरपूर सकारात्मक व उच्च विचारों के रूप में प्रवाहित हो रही इस परीक्षा की निर्मल अवधारणा ने, संसार में भटके हुए हर मानव के मन को इस तरह तरंगित कर दिया है कि सहज ही ह्मदय परिर्वतन की अभिलाषा उसके मन में जाग्रत हो गई है और वह बदी का रास्ता छोड़ नेकी की राह पर चलने के लिए तत्पर हो गया है। इस तरह पवित्रता की वाइबरेशनस यानि प्रकम्मपन इस परीक्षा के माध्यम से हर ह्मदय को झंकृत कर रहा है और प्रत्येक के मन में बुराई का रास्ता छोड़ पूर्णत: सदाचारी बनने की उमंग व उत्साह जाग्रत कर रहा है। सबकी जानकारी हेतु अब तक लगभग साढ़े 5 लाख सजन आनलाइन आयोजित इस परीक्षा को दे चुके हैं और अविचारी चलन त्याग कर विचार में आने के लिए तत्पर हो गए हैं। 

निश्चित ही इन अभूतपूर्व प्रयासों एवं प्राप्त हुई आशातीत सफलता को देखकर यह ज्ञात होता है कि परमेश्वर समय रहते ही हम जीवों के अन्दर आत्मिक ज्ञान प्राप्ति की अभिलाषा जाग्रत कर, बुरे से अच्छा इंसान बनने के लिए प्रेरित कर रहे हैं और विचार, सत्-जबान, एक दृष्टि, एकता, एक अवस्था में आकर  सतवस्तु में प्रवेश करने का आवाहन् दे रहे हैं। अत: ईश्वर के हुक्म की मननकारी करते हुए हम सबके लिए बनता है कि हम परमेश्वर द्वारा दर्शाए इस मार्ग का तहे दिल से अनुसरण करें और तद्नुकूल न केवल विचारसंगत जीवने जीने की कला सीखें अपितु उस कला के समुचित वर्त-वर्ताव द्वारा युग परिवर्तन के महत्त्वपूर्ण कार्य में भी निष्कामता से अपना भरपूर सहयोग दें। इस तरह फिर उस परमपिता परमात्मा का संग प्राप्त कर व समभाव नजरों में कर सजन वृत्ति अपनाए और समदर्शिता अनुरूप, परस्पर सजन भाव का व्यवहार करते हुए शांतिपूर्वक पावन जीवन जीते हुए सबके लिए कल्याणकारी साबित हो। 

अंत में सजनों अगर यह समाचार पढ़ने के पश्चात् अगर आप सब के मन में भी ऐसा सदाचारी, धर्मशील इंसान बनने की इच्छा जाग्रत हुई है और आप अपनी इस अभिलाषा को पूरा कर मानव जाति के उत्थान के निमित्त चलाए जा रहे इस प्रयोजन में अपना योगदान देना चाहते हो तो आज ही आनलाइन आयोजित इस परीक्षा को वेबसाइट www.humanityolympiad.org  पर जाकर अंग्रेजी एवं हिंदी किसी भी माध्यम में सम्पन्न करें और परोपकार की भावना से ओत-प्रोत हो सबसे भी कराएं । इस तरह लैपटॉप , स्मार्टफोन, टी.वी., ई-गेजेटस व अन्य आकर्षण इनाम पाने के हकदार बनें। सबकी जानकारी हेतु पुरस्कार वितरण समारोह दिनाँक 7 सितम्बर 2018, विश्व समभाव दिवस के शुभावसर पर फरीदाबाद, गाँव भूपानि स्थित ट्रस्ट के विशाल सभागार में सम्पन्न होगा। समभाव-समदृष्टि तथा मानवता के विषय में उचित मार्गदर्शन प्राप्त करने हेतु सभी से निवेदन है कि वह अवश्य ही घर-परिवार व सगे-सम्बन्धियो सहित इस आयोजन में सम्मिलित हो व अपना स्थान प्रात: साढे नौ बजे तक अवश्य ग्रहण कर लें। 

Thursday, 23 August 2018

एसीपी अमन यादव ने विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया

एसीपी अमन यादव ने विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया

फरीदाबाद 24 अगस्त । विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में चार दिवसीय 64वीं एसजीएफआई डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता का शुभारम्भ हो गया  जिसमें सीबीएसई और हरियाणा बोर्ड से संबद्ध स्कूलों के छात्र हिस्सा ले रहे हैं। प्रतियोगिता का शुभारम्भ  श्री अमन यादव , ए सी पी तिगांव द्वारा तीर चला कर किया गया। श्री यादव ने इस अवसर पर सभी खिलाडियों को खेल  भावना को बनाये रखते हुए अपना बेहतर प्रदर्शन करने की बात कही। इस अवसर पर  स्कूल के डॉयरेक्टर दीपक यादव ने कहा कि जिला शिक्षा विभाग, हरियाणा सरकार द्वारा संचालित इस चार दिवसीय ६४वीं एसजीएफआई डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता  का आयोजन 23 अगस्त से 26 अगस्त तक स्कूल के परांगण में होगा।  

प्रतियोगिता में ब्यॉज एवं गर्ल्स  दोनों श्रेणी में इवेंट होने है । इसमें अंडर-14 आयुवर्ग, अंडर-17 आयुवर्ग और अंडर-19 आयुवर्ग में बॉयज व गर्ल्स कैटिगरी के रिकर्व राउंड व इंडियन राउंड खेले जाएंगे ।  प्रतियोगिता में होने वाले इवेंट सुबह 9:00 बजे से शाम 3:30 तक चलेंगे। इस दौरान बच्चों के अभिभावकों के लिए भी वहां उपस्थित रहने के विशेष इंतजाम किए गए हैं ताकि वे अपने बच्चों का हौंसला बढ़ा सकें। 


प्रतियोगिता को संचालित करने के लिए शिक्षा विभाग द्वारा आर्चरी कोच नीरज वशिष्ठ को जिम्मेदारी दी गई है। आज  मुख्य रूप से गर्ल्स के लिए आर्चरी  इवेंट हुए  जिसमें जिले के स्कूलों से 150 से अधिक गर्ल्स ने  हिस्सा लिया और अपनी प्रतिभा प्रदर्शित की । प्रतियोगिता का सुपरविजन अस्सिटेंट एजुकेशन ऑफिसर स्पोटर्स बुद्धिराम धनखड़ कर रहे हैं।  गौरतलब है कि इससे पहले भी विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में अनेक प्रकार की राज्य और जिला स्तरीय प्रतियोगिताएं कराई जा चुकी हैं। 

स्कूल द्वारा 8वें सीबीएसई क्लस्टर गेमों का भी सफल आयोजन किया जा चुका है। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल को जिला स्तरीय आर्चरी प्रतियोगिता को होस्ट करने का दूसरी बार अवसर मिला है। इस अवसर पर मुख्या रूप से धर्मपाल यादव चेयरमैन  विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, हरबीर एईओ,  जिला पार्षद विक्रम सिंह, जिला पार्षद सुरजीत अधाना, राजू वर्मा, मुकेश यादव, हेम अधाना, बेघराज नागर, रविश्वर त्यागी, जीतराम, रामी सरपंच,बलवीर यादव  अकादमिक डायरेक्टर  सीएल  गोयल, डायरेक्टर शम्मी यादव, प्रिंसिपल कुलविंदर कौर व अन्य गणमान्य लोग उपस्तिथ थे।